विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विनायक चतुर्थी पर कराएं मुंबई के सिद्धि विनायक में पूजा विघ्नहर्ता हरेंगे सारे विघ्न : 27-फरवरी-2020
Astrology Services

विनायक चतुर्थी पर कराएं मुंबई के सिद्धि विनायक में पूजा विघ्नहर्ता हरेंगे सारे विघ्न : 27-फरवरी-2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

सीएए विरोधः अलीगढ़ में लगे पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे, शहर में तनाव

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में हुए उपद्रव के चौथे दिन बुधवार को भी शहर में जबरदस्त तनाव और अफवाहों का दौर कायम रहा।

27 फरवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

बस्ती

गुरूवार, 27 फरवरी 2020

बस्ती में चलती कार बनी आग का गोला, छात्रों ने ऐसे बचाई जान, देखें वीडियो...

बस्ती: डेढ़ लाख का इनामी बदमाश फिरोज पठान एसटीएफ से मुठभेड़ में ढेर, पुलिस को कई साल से थी तलाश

छह दिसंबर को हुई आईसीआईसीआई बैंक लूटकांड के मास्टर माइंड फिरोज पाठन को एसटीएफ व बस्ती पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया। पुलिस व अपराधी के बीच कई राउंड गोलियां चली। जिसमें पुलिस की गोली का शिकार पठान हो गया।

बताया जा रहा है कि सोमवार की सुबह छह बजे लालगंज थाना क्षेत्र के सुहेला गांव के पास एनकाउंटर हुआ, एसपी हेमराजमीणा ने बताया कि रविवार की रात्रि में मुखबिर से सूचना मिली कि उक्त अपराधी लालगंज कस्बे में मौजूद है। जानकारी मिलते ही पुलिस टीम हरकत में आ गई। सुबह पांच बजे ही पुलिस ने कस्बे की घेराबंदी कर दी थी, जिससे अपराधी भाग न पाए।

इसी बीच एक बाइक पर सवार दो संदिग्ध पुलिस को महादेवा से लालगंज की ओर जाते दिखे, पुलिस टीम ने उन्हें रोकने का प्रयास किया तो वो भागने लगे, पुलिस टीम पीछा करते हुए सुहेला गांव के पास पहुंची, जहां पर पीछे बैठा युवक बाइक से गिर गया, इस बीच बाइक चालक मौके का फायदा उठाते हुए भाग निकला।

बाइक से गिरने के बाद युवक ने पुलिस टीम पर फायरिंग करना शुरू कर दिया। जिसके बाद पुलिस टीम ने भी जवाबी फायरिंग शुरू कर दी, जिससे युवक को तीन गोलियां लगी। इस बीच एसटीएफ का एक सिपाही भी घायल हो गया।

घायल युवक के जेब से मिले डीएल से उसकी पहचान फिरोज उर्फ इरफान पठान के तौर पर, जो आईसीआईसीआई बैंक लूट कांड का मास्टर माइंड था। उसके पास से एक कार्बाइन,  315 बोर  का कट्टा, एक पिस्टल बरामद हुआ है।

एसपी ने बताया कि घायल पठान को सीएचसी कप्तानगंज ले जाया गया, जहां डाक्टर ने गंभीर स्थिति देखते हुए जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। जिसे एंबुलेंस से जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। एसपी ने बताया कि पठान पर गोरखपुर से एक लाख और प्रयागराज रेंज से 50 हजार का इनाम था। फिरोज के एनकाउंटर में शामिल एसटीएफ टीम को एसीएस होम अवनीश अवस्थी ने दो लाख रुपये का इनाम और प्रशस्ति पत्र देने की घोषणा की है।

इसे भी पढ़ें...
कई बैंकों की लूट में शामिल था इनामी बदमाश फिरोज पठान, पुलिस की गोली का ऐसे बना शिकार ... और पढ़ें

कई बैंकों की लूट में शामिल था इनामी बदमाश फिरोज पठान, पुलिस की गोली का ऐसे बना शिकार

फर्नीचर खरीद में खेल की आशंका, डीएम ने तलब की फाइल

फर्नीचर खरीद में खेल की आशंका, डीएम ने तलब की फाइल
महर्षि वशिष्ठ मेडिकल कॉलेज में खरीदे गए तीन करोड़ के फर्नीचर
डीएम ने कहा- फाइल की जांच कर वास्तविकता जानेंगे
संवाद न्यूज एजेंसी
बस्ती। महर्षि वशिष्ठ मेडिकल कॉलेज में फर्नीचर खरीद को लेकर एक बार फिर सवाल खड़ा हो गया है। कॉलेज में करीब तीन करोड़ की हुई खरीद को कॉलेज प्रशासन नियमानुसार बता रहा है, मगर डीएम आशुतोष निरंजन ने कॉलेज प्रशासन से फर्नीचर खरीद की फाइल तलब की है।
प्रदेश में पांच नए मेडिकल कॉलेजों की स्थापना के बाद उनमें संसाधनों की जरूरतों को शासन पूरा कर रहा है। बस्ती सहित पांच मेडिकल कॉलेजों में फर्नीचर खरीद के लिए चालीस करोड़ रुपये आवंटित किए गए। फर्नीचर खरीद का टेंडर एक निजी कंपनी को दिया गया है। बताया जा रहा है कि इस कंपनी ने अपने रसूख के बल पर काम हासिल किया है। बस्ती मेडिकल कॉलेज में शासन ने फर्नीचर के लिए पांच करोड़ रुपये अवमुक्त किए हैं, जिनमें से तीन करोड़ की खरीद अब तक की जा चुकी है। खरीद के लिए तय निजी कंपनी के ऊपर आरोप के बाद कॉलेज प्रशासन ने खरीद का ब्योरा खंगालना शुरू कर दिया है। मीडिया में खबर आने के बाद डीएम ने इस पर गंभीरता से मंथन शुरू कर दिया। नतीजतन मेडिकल कॉलेज संपूर्ण ब्योरा एकत्रित कर फाइल डीएम को देने की तैयारी कर रहा है।
प्रधानाचार्य डॉ. नवनीत कुमार ने कहा कि शासनादेश के मुताबिक पांच करोड़ के फर्नीचर की खरीद की जानी है। इसमें से तीन करोड़ रुपये के फर्नीचर खरीदे जा चुके हैं। सभी फर्नीचर जैम पोर्टल के माध्यम से नामचीन कंपनियों से खरीदे गए हैं। सामान का ब्योरा ऑनलाइन है। इसकी फाइल बनाकर डीएम को दी जाएगी। डीएम आशुतोष निरंजन ने कहा कि कॉलेज के प्रधानाचार्य से बात हुई है। उन्होंने बताया है कि सभी खरीद शासनादेश के मुताबिक हुई है। फिर भी फाइल मंगाकर देखा जाएगा कि खरीद विधिसम्मत है अथवा नहीं।
... और पढ़ें

पर्चा आउट : केंद्र व्यवस्थापक सहित पांच पर केस

पर्चा आउट : केंद्र व्यवस्थापक सहित पांच पर केस
दुबौलिया (बस्ती)। यूपी बोर्ड परीक्षा के दौरान राकेश कुमार मिश्र मीरा देवी इंटर कॉलेज केवटली से इंटर अर्थशास्त्र का प्रश्नपत्र आउट हो गया। प्रश्नपत्र का लिफाफा परीक्षा के नौ दिन पहले 24 फरवरी की शाम को ही खुल गया। मामले की जानकारी होने पर सोमवार की देर रात एक बजे डीआईओएस डॉ. बृजभूषण मौर्या ने केंद्र पर छापा मारा। रात में ही केंद्र व्यवस्थापक समेत पांच के खिलाफ केस दर्ज कराने की तहरीर दी।
तहरीर में बताया कि 24 फरवरी की शाम को उक्त केंद्र पर इंटरमीडिएट नागरिक शास्त्र एवं रसायन विज्ञान की परीक्षा होनी थी। नागरिक शास्त्र का संकेतांक 323 एवं रसायन विज्ञान का संकेतांक 347 था। इस केंद्र पर इंटर अर्थ शास्त्र संकेतांक 329 का कोई भी छात्र पंजीकृत नहीं था। केंद्र पर इंटर अर्थ शास्त्र संकेतांक 329 का पैकेट, जिसकी परीक्षा तीन मार्च-2020 को होनी थी को 24 फरवरी-2020 की शाम को ही खोल दिया गया। इससे परीक्षा की शुचिता और पवित्रता प्रभावित हुई। प्रश्नपत्र के ऊपरी लिफाफे पर साक्षी के रूप में राम पूजन लिपिक, कुसुम मिश्रा सहायक अध्यापक, सौरभ शुक्ला सहायक अध्यापक के हस्ताक्षर थे। प्रश्नपत्र को समय से पहले खोलने के आरोप मे अंजनी देवी (प्रधानाचार्य) केंद्र व्यवस्थापक, राहुल मिश्रा परीक्षा प्रभारी, राम पूजन लिपिक, कुसुम शुक्ला सहायक अध्यापक, सौरभ शुक्ला सहायक अध्यापक के खिलाफ यूपी सार्वजनिक परीक्षा अधिनियम के तहत केस दर्ज कराया गया है। इस संबंध में थानाध्यक्ष दुबौलिया ब्रह्मा गोंड ने कहा कि तहरीर के आधार पर मंगलवार की देर रात केस दर्ज कर लिया गया है।
... और पढ़ें

सोशल मीडिया पर अंग्रेजी का पेपर वायरल

सोशल मीडिया पर अंग्रेजी प्रश्न पत्र की हल कॉपी वायरल
बस्ती। प्रशासन की सतर्कता के बावजूद नकल माफिया के हौसले बुलंद हैं। दुबौलिया क्षेत्र के राकेश कुमार मिश्र-मीरा देवी इंटर कॉलेज केवटली में सोमवार को इंटरमीडिएट नागरिक शास्त्र की जगह अर्थशास्त्र का पेपर का बंडल खोल दिया गया। यह मामला अभी निपटा भी नहीं था कि बुधवार को इंटरमीडिएट अंग्रेजी का पेपर आउट होने की सूचना प्रकाश में आई। सोशल मीडिया पर दोपहर 12 बजे अंग्रेजी प्रश्नपत्र की लिखी कापी वायरल होने लगी।
कप्तानगंज प्रतिनिधि के अनुसार सोशल मीडिया पर अंग्रेजी प्रश्नपत्र की हल कापी वायरल होने के बाद रामप्यारे चौधरी इंटर कॉलेज रेहरवा में ज्वाइंट मजिस्ट्रेट प्रेम प्रकाश मीणा ने दूसरी पाली में छापा मार दिया। अचानक हुई इस कार्रवाई से अफरातफरी मच गई। ज्वाइंट मजिस्ट्रेट प्रेम प्रकाश मीणा ने केंद्र का कोना- कोना चेक किया। इस दौरान उन्होंने सीसीटीवी फुटेज से कापियों से मिलान भी किया। ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने कहा कि जांच में कई तरीकों से नकल कराने के मामले प्रकाश में आए हैं। इस प्रकरण में विद्यालय के प्रबंधक की भूमिका संदिग्ध पाई गई है। कक्ष निरीक्षक व स्कूल प्रबंधक के खिलाफ नियमानुसार एफआईआर दर्ज कराने की प्रक्रिया चल रही है। उधर, थानाध्यक्ष सौदागर राय ने बताया कि अभी इस मामले में कोई तहरीर नहीं मिली है। तहरीर मिलने पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

बस्ती: दोस्त को फोन कर कहा- खा लिया हूं जहर, वजह हैरान करने वाली है

उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले में कप्तानगंज क्षेत्र के परिवारपुर गांव में एक युवक ने पारिवारिक कलह के चलते जहर खा लिया। हालत बिगड़ने पर दोस्त को फोन कर कहा कि उसने जहर खा लिया है। गांव निवासी 35 वर्षीय भूपेंद्र कुमार महराजगंज के त्रिलोकपुर गांव के निकट ढाबा चलाते थे। बुधवार की सुबह 10 बजे गांव के कुटी पर जाकर जहर खा लिया।

 कुछ देर बाद जब हालत बिगड़ने लगी तो उसने फोन कर दोस्त से जहर खाने की बात कही। सूचना पर परिजन जब गांव के कुटी पर पहुंचे तो वह बेहोशी हालत में पड़ा था। आननफानन में परिजन उसे जिला अस्पताल ले गए। जहां इलाज के दौरान दोपहर 12 बजे उसकी मौत हो गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। घटना को लेकर पूरे गांव में मातम का माहौल है।

भूपेंद्र की मौत से उजड़ गया परिवार
कप्तानगंज के परिवारपुर गांव के भूपेंद्र की मौत से उसका पूरा परिवार उजड़ गया। 80 वर्षीय पिता बलवंत सिंह काफी दिनों से बीमार हैं। माता सिंधावती सिंह की मौत 30 साल पहले हो चुकी है। भूपेंद्र का पालन-पोषण दादी सुरसती सिंह ने किया था। छोटे चाचा केसर सिंह की भी मौत आठ वर्ष पूर्व संदिग्ध परिस्थितियों में हो गई थी।

बीमार पिता, दादी और विधवा चाची सहित परिवार के आठ लोगों का गुजारा भूपेंद्र की बदौलत चलता था। परिवार आर्थिक तंगी से गुजर रहा था। चार माह पहले भूपेंद्र ने गांव के कुछ लोगों के सहयोग से त्रिलोकपुर में एक छोटा सा ढाबा खोला था। उसी से पूरे परिवार का खर्च चलता था। घर की हालत कुछ सुधरने लगी थी।

शादी की बात भी चल रही थी। लेकिन अचानक से भूपेंद्र ने इतना बड़ा कदम उठा लिया। लोगों को समझ नहीं आ रहा है कि आखिर उसने जहर क्यों खाया। इकलौते बेटे का शव देखकर पिता बलवंत सिंह दहाड़े मार-मार कर रो रहे हैं। जिंदगी के अंतिम पड़ाव पर पहुंची दादी कलेजे के दुकड़े का शव देखकर बेहोश हो जा रही थीं। गांव के अखिलेश सिंह, बब्बू सिंह, पप्पू सिंह, विजयपाल भी भूपेंद्र की मौत से सदमे में हैं। इन लोगों को भी ञनहीं पता था कि भूपेंद्र से साथ इतनी जल्द छूट जाएगा।
... और पढ़ें

दस वर्ष से जरायम की दुनिया में सक्रिय था पठान, पहली पत्नी से 20 वर्ष पहले हो चुका है तलाक

प्रतीकात्मक तस्वीर।
पुलिस मुठभेड़ में मारा गया फिरोज पठान के गिरफ्तार गुर्गों ने पुलिस के सामने कई राज उगले हैं। उनके अनुसार पठान दस वर्षों से जरायम की दुनिया में सक्रिय था। लूट की घटना को अंजाम देने के बाद वह भांजे इरशाद की मदद से मुंबई भागकर कुछ दिन वहीं ठिकाना बनाना था। लूट के धन कहां और कैसे खर्च होने यह भांजा ही तय करता था।

उसकी पहली पत्नी रेहाना निवासी पूरखास थाना सराय अकील जिला कौशांबी से करीब 20 वर्ष पूर्व तलाक हो चुका है। इसके बाद उसने मुंबई में शादी डॉट काम के माध्यम से ज्योति रामजग दूबे उर्फ हिना पठान निवासी थाणे मुंबई से प्रेम विवाह किया। दूसरी पत्नी के साथवह रीगल अपार्टमेंट मीरा रोड भयंदर थाणे मुंबई में रहता था। दिसंबर-2019 में उसने इस आवास को छोड़कर दूसरे पते किंजल सोसायटी बिल्डिंग मुंबई में रहने लगा।

एसपी हेमराज मीणा ने बताया कि फिरोज की पहचान एक विलासिता पूर्ण जीवन जीने वाले व्यक्ति के रूप में मुंबई में रही है। मुंबई में ही इस जिले की घटना में संलिप्त अजय यादव निवासी बतौरिया थाना खेसरहा सिद्धार्थनगर से परिचय हुआ। यह इसी परिचय के आधार पर सितंबर-2019 में सिद्धार्थनगर आया और किराए का कमरा लेकर वहीं से एचडीएफसी बैंक फरेंदा (महराजगंज) एवं आईसीआईसीआई बैंक बस्ती में घटना को अंजाम दिया।

एसपी ने बताया कि दोनों बदमाशों ने थाना चरवा कौशांबी में एक ग्राहक सेवा केंद्र से लूट की घटना, एक व्यापारी से बाइक की लूट एवं थाना सराय अकील में ग्राहक सेवा केंद्र में लूट की है। सहअभियुक्त विजय कश्यप ने पूछताछ में बताया कि वर्ष-2011 में वह फिरोज पठान के साथ मुंबई से फिरोज के रवि सिंह नामक दोस्त के बुलाने पर सूरत (गुजरात) में एक सोना व्यापारी से लूट करने गया था।

घटना से पूर्व ही दोनों पकड़े गए थे। फिरोज का भतीजा वसीम अहमद एवं साला गुड्डू भी पकड़ा गया है, जो वर्तमान में जिला कारागार प्रयागराज में निरुद्ध हैं। वह हर घटना में नए साथियों को साथ में रखता था। लूट का अधिकतम हिस्सा वह अपने पास रखता था। एसपी ने बताया कि तीन माह में 30 से अधिक मोबाइल नंबरों का उसने इस्तेमाल किया।
... और पढ़ें

बस्ती: फिरोज पठान के बाद एसटीएफ के निशाने पर सलमान उर्फ बटन, कई केस में है वांछित

एचडीएफसी बैंक फरेंदा में हुई लूट का आरोपी सलमान उर्फ बटन अब एसटीएफ के निशाने पर है। जल्द ही वह भी एसटीएफ की गिरफ्त में होगा। उसे पकड़ने के लिए कई जिलों में सूत्रों को सक्रिय किया गया है। पुलिस कॉल डिटेल भी खंगाल रही है। करीबियों एवं रिश्तेदारों पर भी नजर रखी जा रही है।

सोमवार की अलसुबह एसटीएफ एवं बस्ती पुलिस ने आईसीआईसीआई बैंक में लूटकांड के मास्टर माइंड फिरोज पठान को मुठभेड़ में मार गिराया था। लूटकांड में शामिल सात लोगों को पुलिस ने पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है, लेकिन सलमान उर्फ बटन फरार चल रहा है।

पुलिस उस तक न पहुंच पाए इसके लिए वह तरह-तरह के हथकंडे अपना रहा है। बटन सिद्धार्थनगर के बतौरिया का रहने वाला है। उसने एचडीएफसी बैंक से सात लाख 65400 रुपये की लूट की घटना को अंजाम दिया था। उसपर 25 हजार रुपये का इनाम भी घोषित है। एसटीएफ के सीओ डीके शाही का कहना है कि जल्द ही वांछित चल रहे सलमान उर्फ बटन को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। टीम लगी हुई है, कभी भी कामयाबी मिल सकती है।
... और पढ़ें

ट्रिन-ट्रिन-ट्रिन, फिर तलाक-तलाक-तलाक...

ट्रिन-ट्रिन-ट्रिन, फिर तलाक-तलाक-तलाक...
नगर बाजार (बस्ती)। ट्रिपल तलाक बिल पास होने के बाद भले ही मुस्लिम महिलाएं राहत महसूस कर रही हों, लेकिन अब भी बहुत से ऐसी महिलाएं हैं, जो तलाक का शिकार हो रही हैं। ऐसा ही एक मामला नगर थानाक्षेत्र के कन्हौली गांव में सामने आया है। यहां की एक महिला ने पति पर दहेज की खारित तलाक देने का आरोप लगाया है।
कन्हौली की 32 वर्षीय हसीना खातून ने एसपी को प्रार्थना पत्र देकर कहा कि उसका निकाह 16 मार्च-2019 को लालगंज थानाक्षेत्र के ग्राम जिभियांव निवासी एक व्यक्ति से मुस्लिम रीति-रिवाज से हुआ था। परिजनों ने दहेज में 21 हजार रुपये देनमेहर, बाइक, वॉशिंग मशीन, कूलर, अलमारी, फ्रिज, सोने का झाला, हार सहित अन्य सामान देकर उसे विदा किया था। निकाह के कुछ दिन तक तो सबठीक चला, लेकिन बाद में दहेज के लिए ससुराली उसे मारने-पीटने लगे। घर बनवाने के लिए पांच लाख रुपये की और मांग की जाने लगी। जब दहेज नहीं मिला त2ो पति ने फोन पर तलाक दे दिया। इस संबंध में पुलिस अधीक्षक हेमराज मीणा ने कहा कि मामला संज्ञान में है। जांच के निर्देश दे दिए गए हैं।
... और पढ़ें

पीडब्ल्यूडी में ठेके में खेल से एमएलसी खफा

पीडब्ल्यूडी में ठेके में खेल से एमएलसी खफा
बस्ती। जिले में पीडब्ल्यूडी के कार्य प्रणाली को शासन तक सवाल उठाए जा रहे हैं। यहां पात्रता को दर किनार कर चहेतों को काम देने व फर्जी अनुभव प्रमाण पत्र आदि का आरोप लगाते हुए एमएलसी देवेंद्र सिंह ने प्रमुख अभियंता को कड़ा पत्र लिखा था। शिकायत के बाद कार्रवाई न होने से क्षुब्ध एमएलसी ने प्रमुख अभियंता को कड़ा पत्र लिखते हुए कार्रवाई की मांग की है।
लंबे समय से पीडब्ल्यूडी के अभियंताओं पर कभी फंड डायवर्जन तो कभी अपात्रों को पात्र बनाकर ठेका दिए जाने का मामला खूब रंग पर है। इसे लेकर शासन ने जांच भी कराई, मगर कार्रवाई के नाम पर महज औपचारिकता पूरी कर दी गई। हालांकि कुछेक मामलों में शासन ने सख्त तेवर दिखाए, मगर लोक निर्माण विभाग में ई-टेंडरिंग में अपात्रता के खेल को अब भी रोक नहीं लग सकी है। ऐसे में अब भी ई-टेंडरिंग में मनमाने ढंग से ठेका बांटा जा रहा है। अब इस पर एमएलसी देवेंद्र सिंह ने भी सवाल उठाने शुरू कर दिए हैं।
प्रमुख सचिव लोक निर्माण विभाग को लिखे पत्र में विधायक ने कहा है कि जिले के पीडब्ल्यूडी के निर्माण खंड में शासन के निर्धारित ई-टेंडरिंग प्रक्रिया की निविदा में नियम व शासनादेश का खुला उल्लंघन हो रहा है। एक्सईएन व एसई पर आरोप लगाया है कि दोनो अधिकारियों में दुरभिसंधि के माध्यम से चहेते ठेकेदारो को उपकृत किया जा रहा है। ई-टेंडरिंग प्रक्रिया में निर्धारित मानकों को दर किनार करते हुए फर्जी अनुभव प्रमाण पत्र व ब्रिड कैप्सिटी का सहारा लेकर मनचाहे ठेकेदारों को कार्य देकर तमाम पात्र ठेकेदारों को अपात्र घोषित किया जा रहा है। एमएलसी ने मामले में गंभीरता व जनहित को ध्यान में रखकर सभी निविदा की उच्चस्तरीय जांच कराए जाने व जिम्मेदारों पर कार्रवाई को कहा है।
एमएलसी प्रतिनिधि हरीश सिंह ने पत्रों की पुष्टि करते हुए कहा है कि प्रमुख सचिव लोक निर्माण विभाग को एक्सईएन निर्माण खंड व अधीक्षण अभियंता के खिलाफ पत्र लिखकर ई-टेंडरिंग में हुए खेल के जांच की मांग की गई है।
... और पढ़ें

पठान का शव लेने बस्ती पहुंचा भांजा

पठान का शव लेने बस्ती पहुंचा भांजा
देर रात हुआ पोस्टमार्टम, भांजे के साथ बस्ती के भी पहुंचे थे दो लोग
मंगलवार की सुबह पांच बजे सौंपा गया शव
संवाद न्यूज एजेंसी
बस्ती। पुलिस मुठभेड़ में ढेर बैंक लूटकांड के मास्टर माइंड फिरोज पठान का शव लेने उसका भांजा इमरान रजवान प्रयागराज से बस्ती पहुंचा। सूत्रों के अनुसार उसके साथ बस्ती के दो लोग भी पोस्टमार्टम हाउस पर पहुंचे थे।
आईसीआईसीआई बैंक लूटकांड के मास्टर माइंड प्रयागराज के घूमनगंज थानाक्षेत्र का रहने वाले फिरोज पठान सोमवार की सुबह लालगंज थानाक्षेत्र के सोहिला गांव के पास पुलिस की गोली का शिकार हो गया था। उसके शव को पोस्टमार्टम के लिए रात में भेज गया। सोमवार की देर रात हुए पोस्टमार्टम के बाद उसके शव को मंगलवार की सुबह लगभग पांच बजे उसके भांजे को सौंप दिया गया। इस संबंध में अपर पुलिस अधीक्षक पंकज ने बताया कि मृतक का भांजा शव लेने आया था। उसे शव को सौंप दिया गया।
... और पढ़ें

आफत बनी बारिश, फसलें चौपट

आफत बनी बेमौसम बारिश, फसलें चौपट
बस्ती। मौसम का मिजाज लगातार बदल रहा है। आफत बनी बारिश किसानों को चिंता में डाल दिया है। एक दिन पहले हुई बारिश को कृषि विशेषज्ञ फायदेमंद बता रहे थे, लेकिन मंगलवार को वैज्ञानिकों ने इसे आफत करार देते हुए बताया कि और बारिश हुई तो फसलें तबाह हो जाएंगी।
सोमवार की रात तेज हवा के साथ हुई झमाझम बारिश ने सबकी चिंता बढ़ा दी है। खेतों में पानी लग हुआ है। अगेती फसलें बर्बाद होने के कागार पर पहुुंच गई हैं। प्रगतिशील किसान परमानंद सिंह ने बताया कि शनिवार को हुई बारिश से फसलों को मिला-जुला फायदा हुआ था, लेकिन सोमवार की बारिश ने काफी नुकसान पहुंचाया है। आलू एवं अगेती सरसों पक तैयार हो चुकी थी। किसान चार-पांच दिनों में इसकी कटाई करने की सोच रहे थे कि बारिश ने पूरा खेल ही बिगाड़ दिया। किसान राममूर्ति मिश्रा ने बताया कि पूरी फसल जमींदोज हो चुकी है। फसल जमीन पर गिरने से उत्पादन और उत्पादकता दोनों प्रभावित होगी। कृषि विज्ञान केंद्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. आरवी सिंह ने बताया कि नमी बढ़ने से कीटों का प्रकोप बढ़ेगा। किसान फसलों की नियमित निगरानी करें और रोग-व्याधि की आशंका में विशेषज्ञों की सलाह जरूर लें।
सब्जियों को ज्यादा नुकसान
जायद सीजन के लिए किसान आजकल लौकी, नेनुवा, तरोई, कद्दू, खीरा, भिंडी, तरबूज, खरबूज, खीरा, ककड़ी आदि की पौध लगा रहे हैं। बारिश अधिक होने के कारण पौध सड़ सकते हैं। फल उत्कृष्टता केंद्र प्रभारी अधिकारी व वैज्ञानिक सुरेश कुमार ने बताया कि जायद सीजन के लिए किसानों को करीब 25 हजार से अधिक पौध तैयार कर वितरित किया गया है। बारिश से जायद सीजन की सब्जियों की खेती अधिक प्रभावित होगी।
दिनभर ठप रही डमरुआ की बिजली आपूर्ति
बस्ती। विद्युत उपखंड अमहट के तहत आने वाले डमरुआ उपकेंद्र की 33 केवी लाइन मंगलवार सुबह से ही ब्रेकडाउन में रही। खेतों में पानी भरा होने से शाम छह बजे फाल्ट खोजा जा सका।
सोमवार रात हुई बारिश के कारण डमरुआ उपकेंद्र की 33 केवी लाइन ब्रेकडाउन हो गई। इससे 26 सौ घरों को मंगलवार पूरा दिन बिजली नहीं मिली। बिजली न होने से उपभोक्ताओं के राजमर्रा कार्य प्रभावित रहे और घरों में पानी नहीं आया। गिदही 220 केवी ट्रांसमिशन से डमरुआ उपकेंद्र को बिजली आपूर्ति दी जाती है। करीब 22 किलोमीटर लंबी लाइन का मंगलवार को आठ इंसुलेटर पंचर हो गया। जिसे ढूंढने में बिजलीकर्मियों को पूरा दिन लग गया। उपखंड अधिकारी मनोज यादव ने बताया कि लाइन ज्यादा लंबी है और खेतों से होकर गुजरती है। बारिश के कारण खेतों में पानी भरा हुआ है। जिससे खंभों पर चढ़ना काफी मुश्किल हो रहा था। बताया कि करमा देवी महाविद्यालय के पास नदी किनारे आठ इंसुलेटर नमी के कारण पंचर हो गए थे। जिसे बदलकर आपूर्ति बहाल कर दी गई है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं
Coupan
Coupan
Coupan
Coupon

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us