विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा
Astrology Services

नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

बिजनौर

सोमवार, 30 मार्च 2020

कृष्णा कॉलेज में शुरू होंगी ऑनलाइन क्लास

कृष्णा कॉलेज में शुरू होंगी ऑनलाइन क्लास
बिजनौर। कृष्णा ग्रुप ऑफ कॉलेजेस ने विद्यार्थियों के लिए ऑनलाइन क्लास का शुभारंभ कर दिया है। छात्र-छात्राएं कॉलेज के शिक्षकों द्वारा बताए गए टाइम टेबल के अनुसार सुबह दस से शाम चार बजे तक लाइव आकर अपने विषय के संबंधित शिक्षक से ऑनलाइन पढ़ सकते हैं। ग्रुप के चेयरमैन मनोज कुमार ने बताया कि ऑनलाइन टीचिंग का उद्देश्य घर पर बैठे छात्र-छात्राओं को परीक्षा की तैयारी कराने के साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजीटल इंडिया अभियान से जोड़ना है। लॉ कॉलेज के प्राचार्य परवेज अहमद खान ने बताया कि ऐसे में छात्रों को इस समय का फायदा उठाना चाहिए। कृष्णा फार्मेसी कॉलेज के प्राचार्य अभिनव रॉउट, पॉलीटेक्निक के प्राचार्य अभिषेक चौधरी, फार्मेसी के प्राचार्य साजिद अली, कंप्यूटर साइंस विभाग के विभागाध्यक्ष विपिन कुमार शर्मा, समाज कार्य विभाग के सहायक प्रवक्ता अमित राजपूत व लॉ विभाग के विभागाध्यक्ष प्रदीप राठौर आदि ने छात्र-छात्राओं से ऑनलाइन क्लासेज का लाभ उठाने का आह्वान किया है।
... और पढ़ें

दो दिन में जिला अस्पताल में 750 लोगों की जांच

बिजनौर। जिला अस्पताल में बाहर से आने वाले मरीजों की जांच का सिलसिला जारी है। चिकित्सकों के अनुसार शनिवार रात लगभग साढ़े 12 बजे तक करीब 350 मरीज देखे गए और लगभग 400 मरीजों ने चेकअप कराया। सभी मरीज दिल्ली, मेरठ, गाजियाबाद, नोएडा आदि जनपदों से आए थे। चिकित्सकों ने सभी को जांच के बाद दवाई देकर 14 दिन तक अपने घरों में रहकर ही आराम करने की सलाह दी।
शनिवार की रात दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद, मेरठ आदि स्थानों से रोडवेज की बसें जिला अस्पताल पहुंची। डा. अंकित चौधरी के साथ चीफ फार्मासिस्ट नरेश रुडोला, आनंदप्रकाश और एस.के. अमोली ने रात साढ़े 12 बजे तक करीब 350 मरीजों की थर्मल स्कैनर से जांच कर दवाई दी। उन्होंने बताया कि किसी में भी कोरोना के संभावित लक्षण नहीं पाए गए। रविवार सुबह लगभग 400 मरीजों की थर्मल स्कैनर से जांच की गई। फिजीशियन डा. राधेश्याम वर्मा, डा. रामकुमार, फार्मासिस्ट राम सिंह और आनंदप्रकाश ने मरीजों की जांच कर दवाई देकर घर भेज दिया। सीएमएस ज्ञानचंद ने बताया कि लॉकडाउन से लेकर अब तक जिला अस्पताल में करीब डेढ़ हजार लोगों की थर्मल स्कैनर से जांच हो चुुकी है। इन्हें दवाई देकर अपने घरों में ही आइसोलेट रहने की सलाह दी गई है।
... और पढ़ें

बिजनौर: पेड़ से लटका मिला युवक का शव, परिजनों ने जताई हत्या की आशंका

बिजनौर के चांदपुर जलीलपुर क्षेत्र के जंगल में गांव निवासी पांच दिन से लापता युवक का शव पेड़ से लटका मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया है। परिजन हत्या की आशंका जता रहे हैं।

ग्राम नारनौर निवासी प्रकाश सिंह का 30 वर्षीय पुत्र अंतराम सिंह बुधवार को घर से जंगल के लिए निकला था। परिजनों ने बताया कि शाम को वह जंगल से घर नहीं लौटा। परिजनों को चिंता हुई तो उसकी तलाश की। काफी तलाश के बाद भी अंतराम का कहीं पता नहीं चला।

रविवार को गांववासियों के साथ परिजन उसकी तलाश कर रहे थे। काले बाहे के पास अपने खेत के पास एक गन्ने के खेत में पेड़ पर उसका शव लटका मिला। परिजनों की सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया। कोतवाली निरीक्षक अजय कुमार ने बताया कि मामला आत्महत्या का लग रहा है। पोस्टमार्टम की रिपोर्ट के बाद ही हकीकत का पता चल सकेगा।
... और पढ़ें

असम में परिवारों के लिए जाएगी बिजनौर की चीनी

असम में परिवारों के लिए जाएगी बिजनौर की चीनी
बिजनौर। कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में लगाए गए लॉकडाउन के चलते घरों में मौजूद असम के लोगों के लिए जिले से चीनी जाएगी। स्योहारा चीनी मिल को असम के लिए 25 हजार क्विंटल चीनी पहुंचाने का ऑर्डर मिला है। मिल द्वारा जल्दी ही यह चीनी वहां भिजवाई जाएगी। बाकी चीनी मिलें की सप्लाई अभी बंद है। स्योहारा चीनी मिल को विशेष परिस्थितियों में माल सप्लाई करने को कहा गया है।
वैश्विक महामारी कोरोना से पूरा विश्व एकजुट होकर लड़ रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरे देश को 14 अप्रैल तक लॉकडाउन कर दिया है। सभी से कोरोना के खिलाफ लड़ाई में घर बैठकर लड़ाई लड़ रहे हैं। असम में लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराया जा रहा है। लॉक डाउन में सभी को घरों पर ही खाद्यान्न व अन्य जरूरी सामग्री उपलब्ध कराई जा रही है। चीनी भी जरूरत में से एक है। असम में घरों में मौजूद परिवारों को सभी सामग्री के साथ-साथ चीनी भी उपलब्ध कराने का निर्णय लिया है। इस वजह से स्योहारा चीनी मिल को ऑर्डर दिया गया है। स्योहारा चीनी मिल को डीएम रमाकांत पांडेय ने रैक भरने के लिए श्रमिकों की अनुमति दे दी है। मिल द्वारा 20 से 25 हजार क्विंटल चीनी रैक में भरकर भिजवाई जाएगी, जिसे असम की जनता को वितरित किया जाएगा। जिला गन्ना अधिकारी यशपाल सिंह के अनुसार स्योहारा चीनी मिल को रैक ले जाने की अनुमति मिल गई है। जल्दी ही रैक आसाम के लिए रवाना कर दी जाएगी। अगर कोई और राज्य जिले से चीनी की आपूर्ति की मांग करता है तो उसे भी चीनी आपूर्ति कराने की पूूरी कोशिश की जाएगी।
... और पढ़ें

सैकड़ों श्रमिकों का उत्तराखंड दिशा से पलायन जारी

तड़के ही रोडवेज पर पहुंच रहे श्रमिक
नजीबाबाद। उत्तराखंड से श्रमिकों का नजीबाबाद से होकर पलायन का सिलसिला जारी है। हरिद्वार, देहरादून के श्रमिकों के साथ अब उत्तराखंड की सीमा पर स्थित अन्य प्रदेशों के श्रमिक भी पैदल नजीबाबाद पहुंचने लगे हैं। रविवार तड़के बड़ी संख्या में उत्तराखंड से पलायन कर रहे श्रमिक और उनके परिवारों के नजीबाबाद रोडवेज परिसर में जमा होने पर एसडीएम संगीता और डिपो प्रभारी दोजी लाल ने रोडवेज बसों से बरेली, शाहजहांपुर, लखीमपुर खीरी, लखनऊ दिशा के लिए रवाना कराया। रोडवेज डिपो से दोपहर तक करीब एक दर्जन बसें श्रमिकों को लेकर गंतव्य के लिए रवाना हो चुकी थी। श्रमिकों का नजीबाबाद आने का सिलसिला जारी है।
बॉर्डर पर छोड़े जा रहे थे श्रमिक
नजीबाबाद। उत्तराखंड से श्रमिकों के पैदल आने के साथ कुछ वाहनों द्वारा भी नजीबाबाद सीमा में श्रमिकों को उतारे जाने की सूचना पर एसडीएम टीम के साथ बॉर्डर पर पहुंची और वाहन चालकों को जमकर हड़काया। उन्होंने वाहनों में सवार सभी श्रमिकों को नजीबाबाद क्षेत्र में न छोड़कर सीधे उनके गंतव्य तक पहुंचाने को कहा।
मजदूरों ने पलायन किया तो नपेंगे भट्ठा मालिक
नजीबाबाद। एसडीएम ने समस्त भट्ठा मालिकों को भट्ठे पर काम करने वाले मजदूरों को पलायन न करने देने के निर्देश दिए हैं। एसडीएम ने कहा कि जरूरत पड़ने पर उचित दूरी बनाकर मजदूरों से काम लिया जा सकता है, लेकिन भट्ठा मजदूरों को खाना न मिलने तथा उन्हें पलायन के लिए विवश करने की खबर मिलती है तो सख्त कार्रवाई की जाएगी।
मध्य प्रदेश के लोगों का एसडीएम ने रोका पलायन
नजीबाबाद। रोडवेज बसों का संचालन होते ही खानाबदोश लोग भी अपने घर जाने के लिए निकल पड़े। एसडीएम ने नजीबाबाद के ग्राम पंचायत धनौरा क्षेत्र से सिंगरौली (मध्य प्रदेश) जाने के लिए रोडवेज पहुंचे कई परिवारों को लॉकडाउन का पालन करने के निर्देश देते हुए वापस भेजा। एसडीएम ने कहा कि उन्हें खाने पीने आदि किसी प्रकार की परेशानी नहीं होने दी जाएगी।
... और पढ़ें

नगीना चौक पर लॉक डाउन में फंसे यात्रियों की भारी भीड़ृ, प्रशासन व्यवस्था में लगा

धामपुर। लॉकडाउन के पांचवें दिन भी नगीना चौराहे पर गंतव्य को जाने के लिए यात्रियों का रविवार को जबरदस्त जमावड़ा लगा है। इन यात्रियों की हालत बद से बदतर है। कोई चंडीगढ़ से पैदल आ रहा है, कोई देहरादून से। रास्ते में कोई वाहन नहीं मिला। यदि कोई वाहन मिला तो उसने उनकी जेबों को खाली कर डाला। अब उनके पास अपने घरों तक के लिए जाने को पैसे भी नहीं है। वह कैसे जाएं, उनकी समझ में नहीं आ रहा है। ऐसे लॉकडाउन से तो भगवान उन्हें उठा ले तो ज्यादा अच्छा है।
कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन में घर लौटने के लिए धामपुर के नगीना चौक पर दिनरात यात्रियों का जमावड़ा लगा रहता है। शासन के आदेश पर शनिवार को धामपुर रोडवेज बस डिपो की 17 बसों को यात्रियों को बरेली और दिल्ली तक भिजवाया गया था। रविवार को बसों की संख्या बढ़ाकर 20 कर दिया गया। दिक्कत यह है कि लॉकडाउन के चलते डिपो के अधिकांश चालक और परिचालक घरों से नहीं निकल रहे हैं। इसलिए गैर डिपो से बसें मंगाई जा रही हैं। रविवार को एसडीएम धीरेंद्र सिंह और एआरएम एलके त्रिवेदी ने धामपुर नहटौर, और स्योहारा में फंसे लोगों का जायजा लिया। 12 बसों को बरेली और आठ बसों को खचाखच भरवाकर दिल्ली भिजवाया। देर रात यहां यात्रियों की भारी भीड़ जमा थी।
... और पढ़ें

फंसे श्रमिकों का घर वापसी का सिलसिला जारी

फंसे श्रमिकों का घर वापसी का सिलसिला जारी
बिजनौर। लॉकडाउन के बाद से जिले में फंसे लोगों का अपने घरों के लिए जाने का सिलसिला जारी रहा। रविवार को बिजनौर डिपो से कुल 11 बसें विभिन्न स्थानों के लिए भेजी गई।
बिजनौर डिपो के बस स्टेशन प्रभारी अरविंद शर्मा के अनुसार रविवार को यात्रियों की आवाजाही विभिन्न स्थानों के लिए जारी रही। सुबह से ही लोग बस स्टैंड पर आने शुरू हो गए थे। उन्होंने बताया कि यहां से दोपहर तक कुल 11 बसें विभिन्न स्थानों के लिए भेजी गई हैं। यहां से बिजनौर डिपो की पांच बसें बरेली और पांच बसें गाजियाबाद के लिए भेजी गई हैं, जबकि एक बस वाया नजीबाबाद से होकर मुरादाबाद के लिए रवाना की गई। उन्होंने बताया कि जिला प्रशासन के निर्देश पर बसों का आवागमन इसी तरह जारी रहेगा। जहां पर जैसी आवश्यकता होगी यात्रियों की उपलब्धता के हिसाब से वहीं पर बस से भेज दी जाएगी। उन्होंने बताया कि इस दौरान रोडवेज बस स्टैंड पर मेडिकल टीम और पर्याप्त संख्या में पुलिस बल तैनात रहा। बस स्टैंड प्रभारी अरविंद शर्मा के अनुसार सभी लोगों की थर्मल स्क्रीनर से जांच के बाद ही बसों में बैठाया जा रहा है।
... और पढ़ें

ऑनलाइन पूरा करें पाठयक्रम

बिजनौर में पैदल जाता एक मुस्लिम परिवार।

हम अपराजिता हैं, हर मोर्चे पर लड़ना जानते हैं

‘हम अपराजिता हैं, हर मोर्चे पर लड़ना जानते हैं’
नजीबाबाद। कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव से पूरा देश चिंतित है। भय के वातावरण के बीच महिला चिकित्सक और स्वास्थ्यकर्मी कोरोना वायरस की जंग जीतने के लिए तत्पर हैं। अपनी सुरक्षा के साथ मरीजों के इलाज में जुटी हैं। सोशल डिस्टेंस की हिदायत के साथ मरीजों के इलाज में जुटी स्वास्थ्यकर्मी का एक ही लक्ष्य है सेवाभाव। उनका कहना है कि हम अपराजिता हैं हर मोर्चे पर लड़ना और सफल होना हम बखूबी जानते हैं।
- महिला चिकित्सालय प्रभारी डॉ. कुमुद का कहना है कि समाज को कोरोना से बचाना हमारा कर्तव्य है। हमें कोरोना की महामारी रोकने के लिए अपने समाज को चिकित्सीय परामर्श के साथ सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराना होगा तभी हम स्वयं और देश हित को सर्वोपरि रख सकते हैं।
सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के आइसोलेशन वार्ड पर तैनात चिकित्सक अरुणिमा सक्सेना कहती हैं कि कोरोना वायरस जैसी भयावह स्थिति हो या कोई भी संक्रामक रोग चिकित्सक का दायित्व है हर परिस्थिति में रोगी को इलाज देना और स्वयं को रोग से सुरक्षित रखना।
महिला चिकित्सालय पर तैनात स्टाफ नर्स ज्योति कहती हैं कि हम रोगी की सेवाभाव के संकल्प के साथ इस पेशे से जुड़े हैं। कोरोना वायरस हो या कोई भी गंभीर बीमारी रोगियों का इलाज हमारा कर्तव्य है। जिसे हम बेखौफ रोगियों के बीच रहकर स्वयं को सुरक्षित रखकर पूरा कर रहे हैं।
मरीजों के बीच सेवारत नर्स सलमा बेेबी कहती हैं कि कोरोना वायरस से बचाव के लिए मास्क, सैनिटाइजेशन के साथ सोशल डिस्टेंसिंग के साथ हम अपनी ड्यूटि निभाते हैं और मरीजों को भी घरों पर रहकर कोरोना की जंग जीतने के लिए प्रेरित करते हैं।
नजीबाबाद- स्टाफ नर्स सलमा बेबी।
नजीबाबाद- स्टाफ नर्स सलमा बेबी।- फोटो : NAZIBABAD
नजीबाबाद-डा.अरुणिमा सक्सेना।
नजीबाबाद-डा.अरुणिमा सक्सेना।- फोटो : NAZIBABAD
नजीबाबाद- डा. कुमुद
नजीबाबाद- डा. कुमुद- फोटो : NAZIBABAD
... और पढ़ें

खेत पर काम कर रहे दो लोगों पर गुलदार ने किया हमला, दहशत

गुलदार के हमले से बीएसएफ जवान सहित दो घायल
नजीबाबाद(बिजनौर)। गुलदार ने किसान पुत्र बीएसएफ के जवान सहित दो लोगों पर जानलेवा हमला किया। गुलदार के हमले से खेत पर काम कर रहे दोनों किसान जख्मी हो गए।
गांव समीपुर स्थित आकाशवाणी नजीबाबाद के ट्रांसमीटर के पीछे खेत पर काम कर रहे छुट्टी पर आए गांव समीपुर निवासी बीएसएफ के जवान मनोहर सिंह और गंगाराम पर गुलदार ने हमला कर दिया। रविवार को प्रात: लगभग 10 बजे दोनों खेत पर काम कर रहे थे। अचानक आकाशवाणी नजीबाबाद के ट्रांसमीटर के पीछे झाड़ियों में से निकले गुलदार ने उन पर हमला बोल दिया। दोनों किसानों के शोर मचाने पर गुलदार भाग गया। ग्राम पंचायत समीपुर के ग्रामप्रधान के पति प्रमोद सिंह के घायल भाई बीएसएफ जवान मनोहर सिंह और गंगाराम को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र समीपुर में उपचार दिलाया गया। ग्राम प्रधान के पति प्रमोद और ग्रामीणों ने बताया आकाशवाणी ट्रांसमीटर के पीछे काफी समय से गुलदार देखा जा रहा था। कोरोना वायरस प्रकोप के भय के चलते गुलदार के हमले से घटनास्थल के निकट समीपुर तथा आसपास के ग्रामीणों में दहशत फैल गई। एसडीएम संगीता ने वन अधिकारियों को क्षेत्र में गुलदार होने की संभावना को देखते हुए पिंजड़ा लगाने के निर्देश दिए।
... और पढ़ें

जरूरतमंदों के लिए बनवाया खाना

जरूरतमंदों के लिए बनवाया खाना
बिजनौर। लॉक डाउन में दूसरे प्रदेशों से पलायन करके अपने घरों को जा रहे परिवारों की मदद के लिए व्यापारी नेता रजनीश अग्रवाल ने साथियों के साथ मिलकर खाने के 200 पैकेट बनवाए। इन पैकेट को जरूरतमंदों को बांटने के लिए तहसीलदार धर्मेंद्र सिंह को दिया गया। इस दौरान सुशील शर्मा, विभोर अग्रवाल, विपुल अग्रवाल, राजेश राणा, नाहर सिंह, नृपेंद्र शर्मा, नरेंद्रपाल सिंह, राकेश रस्तोगी, डा.आरके अग्रवाल, राजकुमार गोयल आदि का सहयोग रहा।
चलते रहेंगे कोल्हू व क्रेशर
बिजनौर। जिले में 70 से ज्यादा क्रेशर व 600 से ज्यादा कोल्हू चलते हैं। लॉक डाउन के चलते इनके संचालन पर संकट के बादल खड़े हो गए थे। अब प्रशासन ने इनके संचालन को हरी झंडी दे दी है। जिला गन्ना अधिकारी यशपाल सिंह ने बताया कि किसान मिलों में गन्ना बेच सकते हैं। सहायक चीनी आयुक्त डीपी मौर्य ने बताया कोल्हू व क्रेशर संचालक अपने यहां सैनिटाइजर रखें। किसानों व कर्मचारियों के हाथ बार बार साबुन या सैनिटाइजर से साफ कराएं।
... और पढ़ें

पुलिस ने लॉक डाउन का उल्लंघन करने के आरोप में 12 का चालान किया

शेरकोट। कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन के उल्लंघन में पुलिस ने रविवार को 12 लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की। एसओ संजय कुमार पांचाल का कहना है कि सख्ती के बाद भी लोग लॉकडाउन का उल्लंघन करने से बाज नहीं आ रहे है। पुलिस ने रविवार को 12 लोगों को गिरफ्तार कर चालान किया है। आरोपियों में मोहल्ला शेखान निवासी दयाराम पुत्र बलदेव, फईम पुत्र नसीम, मोहल्ला मनिहारान निवासी खुर्शीद पुत्र अमीर, शुऐब पुत्र शकील, कामिल पुत्र साबिर, मोहल्ला खुराड़ा निवासी कमरुद्दीन पुत्र यामीन, सलमान पुत्र उसमान, सदाकत पुत्र शराफत, पुखराज पुत्र हरि किशन सैनी, मोहल्ला कायस्थान निवासी ओसामा पुत्र शाकिर, थाना क्षेत्र के ग्राम उमरपुर पालकी निवासी रोहितास पुत्र बल्लू सिंह, सुरेंद्र पुत्र विक्रम सिंह शामिल है। उधर एसओ ने बताया कि उन्हें सूचना मिली कि मोहल्ला निकम्माशाह निवासी मनोज सिंह पुत्र दलीप सिंह के घर में खाने का सामान नहीं है। पुलिस ने उसके घर जाकर राशन किट वितरण किया। ... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us