विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा
Astrology Services

नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Coronavirus in Uttar Pradesh Live Updates: यूपी में एक दिन में 14 नए मरीज, अब तक 65 लोग कोरोना संक्रमित

यूपी में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। शनिवार को एक ही दिन 14 नए मरीज सामने आने के साथ ही प्रदेश में संक्रमितों की संख्या 65 हो गई है।

28 मार्च 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

देवरिया

रविवार, 29 मार्च 2020

देवरिया: लॉकडाउन के दौरान पुलिस के सामने तलवार लेकर खड़ी हुई महिला, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

कमरे में फंदे से लटका मिला शव

कमरे में फंदे से लटकता मिला युवक
बरहज थानाक्षेत्र के गोपवापार गांव का रहने वाला था मजदूर
संवाद न्यूज एजेंसी
बरहज। क्षेत्र के गोपवापार गांव में संदिग्ध परिस्थिति में एक मजदूर की मौत हो गई। उसका शव कमरे में छत की कुंडी में फंदे के सहारे लटकता मिला। मजदूर की मौत से घर में कोहराम मच गया।
गोपवापार गांव निवासी रामेश्वर उर्फ टिल्लू (30) बरहज में ठेला चलाकर परिवार की जीविका चलाता था। परिवारवालों के अनुसार रामेश्वर कोरोना से हुए लॉकडाउन के कारण घर पर था। पत्नी गुलैची किसी काम से गांव में गई थी। बच्चे रोशनी (10), गोलू (08) दरवाजे पर खेल रहे थे। इसी दौरान वह किसी बात से परेशान होकर कमरे में फंदे पर लटक गया। इससे उसकी मौत हो गई। कुछ देर बाद गुलैची जब घर वापस आई तो पति को फंदे से लटका देख शोर मचाने लगी। शोर सुनकर आसपास के लोगों की भीड़ जुट गई। हालांकि, मौत की वजह स्पष्ट नहीं हो पा रही है। लोग कुछ भी कहने से परहेज कर रहे हैं। इस संबंध में प्रभारी थानाध्यक्ष रामप्रकाश राय ने बताया कि ऐसी कोई सूचना नहीं है। पता कराता हूं।
... और पढ़ें

एसडीएम-सीओ से भिड़े अंधभक्त, तलवार से प्रहार

एसडीएम-सीओ से भिड़े अंधभक्त, तलवार से प्रहार
सदर कोतवाली के पुरवां गांव का मामला, वर्षों से है अंधविश्वास का धंधा
12 लोगों को गिरफ्तार कर पुलिस ने गंभीर धाराओं में केस दर्ज किया
संवाद न्यूज एजेंसी
देवरिया। नवरात्र के प्रथम दिन मेहड़ापुरवां में एक कथित दुर्गा देवी के वहां लगी भीड़ को हटाने पहुंची पुलिस और प्रशासन की टीम से लोग उलझ गए। दुर्गा देवी बनी महिला ने तलवार से एसडीएम और सीओ पर प्रहार कर दिया। संयोग ही रहा कि किसी को चोट नहीं लगी। बाद में पहुंची फोर्स ने कथित दुर्गा देवी के साथ ही 12 लोगों को गिरफ्तार कर लिया। गंभीर धाराओं में केस दर्ज कर सभी को जेल भेज दिया गया।
सदर कोतवाली के मेहड़ापुरवां में परिषदीय शिक्षक शिव प्रसाद यादव की पत्नी सुभद्रा देवी वर्षों से अंधविश्वास का धंधा चलाती है। दूर-दूर से महिला और पुरुष यहां आते हैं। उनको यहां ठीक करने का दावा किया जाता है। कई महिलाओं और लड़कियों को एक ही कमरे में बंद कर दिया जाता है। बुधवार की सुबह जिला प्रशासन को सूचना मिली कि यहां काफी भीड़ है। एसडीएम दिनेश मिश्र और सीओ सिटी निष्ठा उपाध्याय के नेतृत्व में टीम वहां पहुंची। करीब 100 की संख्या में मौजूद महिला-पुरुषों ने विरोध शुरू कर दिया। दुर्गा देवी का रूप धारण की सुभद्रा देवी तलवार से इन लोगों पर वार कर दी। संयोग ही रहा कि तलवार किसी को लगा नहीं। बाद में पहुंची फोर्स ने कड़ाई कर 12 लोगों को पकड़ लिया। एसआई अंजनी कुमार की तहरीर पर सदर कोतवाली पुलिस ने मेहड़ापुरवां की सुभद्रा देवी, उनके पति शिव प्रसाद यादव, बेटे अवनीश यादव, बहू मानवी यादव, गांव निवासी उषा देवी, रिया राजभर निवासी अंडिला, मईल, पूजा भारती निवासी छितौनी, हाटा, कुशीनगर, नेहा यादव निवासी रामपुर खुर्द, रामपुर कारखाना, जोखू चौहान निवासी बढ़या बुजुर्ग, सदर कोतवाली, सुभाष सिंह निवासी डिघवा, रामपुर कारखाना, देवा यादव निवासी विशुनपुर भरत राय, रामपुर कारखाना और विकास कुमार निवासी धतुरा खास, गौरीबाजार के खिलाफ बलवा, हत्या के प्रयास, अंध विश्वास फैलाने, आर्म्स एक्ट, सेवेन सीएलए एक्ट और पर्यावरण संरक्षण अधिनियम के तहत केस दर्ज कर लिया। आवश्यक कार्रवाई पूर्ण कर सभी को जेल भेज दिया गया। इस बाबत सीओ सिटी निष्ठा उपाध्याय ने बताया कि केस दर्ज कर जेल भेज दिया गया है।
शिक्षक निलंबित
देवरिया। बैतालपुर क्षेत्र के पूर्व माध्यमिक विद्यालय धतुरा खास के सहायक अध्यापक शिव प्रसाद यादव को निलंबित कर दिया गया है। बीएसए प्रकाश नारायण श्रीवास्तव ने बुधवार को बताया कि उक्त शिक्षक पुरवामेहड़ा में अपने निवास स्थान पर अपनी पत्नी की ओर से एकत्रित भीड़ का झांड़-फूंक करते हुए पाया गया। प्रशासन ने मना किया तो अधिकारियों से वह उलझ गया। कोरोना संक्रमण से बचाने को प्रधानमंत्री सहित मुख्यमंत्री जनता का सहयोग मांग रहे हैं। ऐसे में अनावश्यक भीड़ जुटाने, आडंबर फैलाने एवं महामारी के रोकथाम में सहयोग नहीं करने पर उन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाता है।
... और पढ़ें

गंडक नदी में मिला युवक का शव

गंडक नदी में मिला युवक का शव
तरकुलवा (देवरिया)। स्थानीय थानाक्षेत्र के बघाड़ा महुआरी गांव के पास छोटी गंडक नदी में शुक्रवार की शाम 30 वर्षीय युवक का शव मिला। लोगों की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। शव की शिनाख्त नहीं हो सकी है।
तरकुलवा थानाक्षेत्र के बघाड़ा महुआरी गांव के कुछ लोग गंडक नदी की तरफ गए थे। लोगों ने नदी में युवक का शव देखा। जानकारी होते ही मौके पर लोगों की भीड़ जुट गई। लोगों ने इसकी जानकारी पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने लोगों की मदद से शव को नदी से बाहर निकलवाया। शव से दुर्गंध उठ रही थी। इससे यह चर्चा होने लगी कि युवक की मौत दो-तीन दिन पहले हुई होगी। पुलिस ने स्थानीय लोगों से शव के शिनाख्त की कोशिश की, लेकिन सफलता नहीं मिल सकी। इसके बाद आवश्यक कार्रवाई पूर्ण कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस हुलिया के हिसाब से शिनाख्त करने में जुटी है। इस संबंध में थानाध्यक्ष नरेंद्र प्रताप राय ने बताया कि युवक करीब 30 वर्ष का है। शव का जल्द ही शिनाख्त कर लिया जाएगा।
... और पढ़ें

किशोरी से छेड़खानी, उलाहना पर पिता को पीटा

किशोरी से छेड़खानी, उलाहना पर पिता को पीटा
गौरीबाजार इलाके के एक गांव का है मामला, पिता का चल रहा उपचार
संवाद न्यूज एजेंसी
देवरिया/गौरीबाजार। पहले मनबढ़ युवक ने किशोरी संग छेड़खानी की। उलाहना देने गए किशोरी के पिता की पिटाई कर दी। मामला गौरीबाजार थानाक्षेत्र के एक गांव का है। घायल पिता का जिला अस्पताल में उपचार कराया जा रहा है। पीड़ित ने गौरीबाजार पुलिस को सूचना दे दी है, लेकिन आरोपी पुलिस के हाथ नहीं लगा है।
गौरीबाजार थानाक्षेत्र के एक गांव की रहने वाली 14 वर्षीय किशोरी शुक्रवार को किसी काम से गांव के बाहर गई थी। उसे अकेला देखकर गांव के ही मनबढ़ युवक ने छेड़खानी करने लगा। किसी तरह उनके चंगुल से बचकर घर पहुंची किशोरी ने परिवारवालों को आपबीती बताई। इसके बाद उसके परिवार के लोग युवक के परिवारवालों से उलाहना देने पहुंचे। वहां दोनों पक्षों में कहासुनी हो गई। गांववालों ने बीच-बचाव कर मामला शांत कराया। शुक्रवार की देर शाम किशोरी के पिता गांव के समीप के चौराहे से लौट रहे थे। उसी दौरान मनबढ़ युवक ने साथियों संग गोलबंद होकर उसपर हमला कर दिया। इससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। सूचना मिलने पर परिवारवाले उन्हें सीएचसी ले गए। प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल रेफर कर दिया। यहां उसका उपचार चल रहा है। इस बाबत गौरीबाजार थाना प्रभारी विजय सिंह गौर ने बताया कि जानकारी मिली है। पीड़ित का उपचार कराया जा रहा है। मामले में केस दर्ज कर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

रुद्रपुर में कोरोना का संदिग्ध मिलने से हड़कंप

रुद्रपुर में कोरोना का संदिग्ध मिलने से हड़कंप
रुद्रपुर (देवरिया)। तहसील क्षेत्र के एक गांव में कोरोना का संदिग्ध मिलने से हड़कप मचा है। शनिवार को सीएचसी पर जांच कराने आए युवक में कोरोना के लक्षण पाए जाने पर चिकित्सकों ने जिला अस्पताल पहुंचा दिया। वह एक सप्ताह पहले मुंबई से लौटा है। उसे सर्दी, खासी के साथ गले में खरास की शिकायत है।
सीएचसी के अधीक्षक डॉ. धर्मेंद्र सिंह ने बताया कि एक व्यक्ति का बेटा मुंबई में काम करता था। वह सात दिन पहले घर लौटा है । शनिवार को तबीयत खराब होने पर वह सीएचसी पर इलाज कराने आया। मरीज की जांच करने वाले चिकित्सक के अनुसार उसमें कोरोना के प्राथमिक लक्षण पाए जाने पर जिला अस्पताल भेजवा दिया गया। अब वह जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में रहेगा। उसके खून का नमूना जांच के लिए भेजा जाएगा। उन्होंने कहा कि युवक को सर्दी, खांसी, बुखार और गले में खिचखिच की शिकायत है। सांस लेने में तकलीफ हो रही थी। मरीज कुछ ही दिन पहले मुंबई से लौटा है, इसलिए कोरोना की जांच जरूरी लग रही है। उधर मरीज के देवरिया रेफर होने के बाद गांव में दहशत का माहौल है। गांव वालों ने पूरे गांव को सैनिटाइज करने की मांग की है। गांव वालों के अनुसार मुंबई से आने के बाद वह गांव के कई लोगों से मिलकर हालचाल ले रहा था।
... और पढ़ें

दुश्वारियों का सफर, भूखे-प्यासे लौट रहे घर

दुश्वारियों का सफर, भूखे-प्यासे लौट रहे घर
देवरिया। लॉकडाउन में काम बंद हुआ तो मुंबई, गुजरात, दिल्ली, केरल से लोग घर भागने लगे। इसी बीच 21 दिन का लॉकडाउन होने से जो जहां था वहीं फंस गया। जिसे ट्रेन, बस एवं अन्य साधन मिला तो वे पहुंच गए, बाकी फंस गए। उनके सामने भोजन का संकट पैदा हो गया। ऐसे में हजारों की संख्या में लोग पैदल ही अपने घरों को निकल पड़े। कोई रेलवे लाइन पकड़कर निकला तो कोई बच्चों को गोद में लेकर पैदल ही परिवार के साथ चल पड़ा। ऐसे लोगों को रास्ते में पुलिस ने जगह-जगह रोका जरूर, लेकिन उन्होंने जब भोजन और रकम नहीं होने का हवाला दिया तो पुलिस ने उन्हें छोड़ दिया। घर जाने के लिए लोग 300 से 500 किमी की पैदल दूरी तय कर रहे है। कहीं ट्रक, बस मिल गया तो उनकी दूरी कम हो गई। प्राइवेट वाहन ऐसे लोगों को लिफ्ट नहीं दे रहे हैं।
उधर, गोरखपुर और दिल्ली से पैदल आ रहे राहगीरों को बैतालपुर पुलिस चौकी पर दरोगा और पुरवा चौराहा पर स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों ने भोजन कराया। हेल्थ चेकअप के बाद जाने दिया गया। राजस्थान जाने और लखनऊ से आने वाले का सहायता लोगों ने किया। सिवान जिले के रघुनाथपुर थानाक्षेत्र के अमवारी गांव निवासी अजय सिंह, धीरज सिंह और रंजीत सिंह दिल्ली के एक कंपनी में पाइप फीटर का काम करते हैं। लॉकडाउन के कारण वह दिल्ली में फंस गए थे और घर आने के लिए परेशान थे। आनंद बिहार से ट्रक से किसी तरह शनिवार सुबह गोरखपुर पहुंचे। कोई साधन नहीं मिलने पर तीनों पैदल चल पडे़। बैतालपुर चौकी पर मौजूद चौकी इंचार्ज राकेश पांडेय ने युवकों को रोका और उन्हें भोजन कराया। कुछ देर आराम करने के बाद युवक गंतव्य को निकल पड़े। मैरवा के रहने वाले श्रीराम, सुनील और विवेक दिल्ली से 26 मार्च को पैदल चले। बरेली तक आए थे तो एक ट्रक मिल गया, ट्रक से लखनऊ आए, लखनऊ से टैंकर में छिपकर गोरखपुर बस्ती पहुंचे। बस्ती से तीनों युवक पैदल घर जा रहे थे। पुरवा चौराहा पर लोगों ने इन्हें रोका और स्वास्थ्य विभाग को सूचना दिया। डॉक्टरों ने टीम ने इनका स्क्रीनिंग किया। सब कुछ ठीक मिला। प्रसन्न श्रीवास्तव ने तीनों युवकों को भोजन कराया। वहीं देवरिया से राजस्थान जा रहे गोपाल, धनश्याम, संपत्ति और हीरा को लोगों ने ठौर दिया और दोनों वक्त भोजन कराने की बात कहीं। यह लोग रूके हुए हैं। लखनऊ से पैदल आ रहे बलिया व भोजपुर जिले के मनीष चौहान को भी लोगों ने भोजन कराया। रेडक्रॉस सोसायटी के रविकांत मणि भी युवकों के साथ शहर में भ्रमण कर ठहरे हुए लोगों को भोजन कराया।
... और पढ़ें

ई-पॉश मशीन से राशन नहीं बांटेंगे कोटेदार

दिल्ली से पैदल आ रहे लोगों को देवरिया पहुंचने भोजना कराया गया।
ई-पॉश मशीन से राशन नहीं बांटेंगे कोटेदार
देवरिया। गरीबों को फ्री में राशन देने में ई-पॉश मशीन रोड़ा बन रहा है। कोटेदार कोरोना वायरस का हवाला देते हुए मैनुएल तरीके से राशन देने की जिद पर अड़े हैं। जबकि विभागीय अफसर ऐसा कोई आदेश नहीं आने की बात कह रहे हैं। समय से रहते इसका समाधान नहीं निकाला गया तो आगे मामला फंस सकता है। जिले में 101957 मनरेगा मजदूर और 73 हजार मजदूरों को जिला पूर्ति विभाग ने चिन्हित किया है।
कोरोना वायरस को लेकर एक अप्रैल से मनरेगा मजदूरों, ठेला खोमचे वालों को फ्री में राशन देने का फरमान जारी किया है। जिला पूर्ति विभाग इसे देखते हुए कोटेदारों के गोदाम तक राशन पहुंचाने में जुट गया है। इसके लिए अतिरिक्त वाहनों और कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई। कोरोना के खौफ से कोटेदार ई-पॉश मशीन पर अंगूठा बिना लगाए राशन देने की बात कह रहे है। कोटेदारों का कहना है कि सभी सरकारी कार्यालयों में बॉयोमेट्रिक सिस्टम से लगने वाली हाजिरी बंद कर दी गई है। ऐसे में कोटेदार अंगूठा क्यों लगवाएंगे। इससे भी तो कोरोना फैलने का खतरा है। कोटेदारों ने मैनुअल वितरण आदेश की मांग की है। ऐसा नहीं होने पर राशन वितरण नहीं करने की चेतावनी दी है। शासन के मानक के अनुसार जिला पूर्ति विभाग ने करीब 1.74 लाख मनरेगा मजदूर और ठेले खोमचे वालों की सूची तैयार की है, जिन्हें फ्री में राशन दिया जाएगा।
कोरोना वायरस एक दूसरे के संपर्क में आने से फैलता है। इस लिए कोटेदार ई-पॉश मशीन से राशन वितरण नहीं करने का निर्णय लिए हैं। गरीबों की जान खतरे में किसी भी कीमत पर नहीं डालेंगे। प्रशासन को मैनुअल वितरण का आदेश देना चाहिए। शासन से मैनुअल राशन वितरण के लिए कोई आदेश नहीं मिला है। ई-पॉश मशीन के जरिए राशन वितरण किया जाएगा। आगे कोई आदेश आता है तो उसका पालन कराया जाएगा। दुकानों पर सेनिटाइजर और साबुन की व्यवस्था की जाएगी।
- विनय कुमार सिंह, जिला पूर्ति अधिकारी
... और पढ़ें

महामारी पर भारी पड़ रही भूख और बीमारी

महामारी पर भारी पड़ रही भूख और बीमारी
रुद्रपुर(देवरिया)। कोरोना जैसी खतरनाक माहामारी से लड़ रहें लोगों को भूख और बीमारी से जान जाने का खतरा सता रहा है। लॉकडाउन के तीसरे दिन से ही गरीबों के घर चूल्हा जलने का आसार कम हो रहा है। सरकारी इमदाद और राशन का वितरण नहीं होने से बांसफोड़ और मुसहर बस्तियों में खाने के लाले पड़ रहे हैं। रुद्रपुर के लुअठई में सड़क के किनारे बसे बांसफोड़ों का परिवार भोजन के संकट से जूझ रहा है। बस्ती में बच्चे भूख से बिलबिला रहे हैं।
शुक्रवार को सुबह बांसफोड़ बस्ती में भूख से परेशान बच्चों को बासी चावल खाकर भूख शांत करनी पड़ी। लुअठई में सड़क किनारे बांसफोड़ जाति के 17 लोगों का परिवार रहता है। यहां करीब 100 लोगों के भोजन की व्यवस्था बांस की खांची, सूप आदि बनाकर परिवार के मर्दो को करनी पड़ती है। लॉक डाउन होने से इनका धंधा पूरी तरह ठप है। रोज कमाकर खाने वाले इन कामगारों ने तीन दिन का राशन जमा किया था। अब राशन खत्म हो गया है। हाथ में फूटी कौड़ी भी नहीं कि दोबारा राशन खरीद सकें। छोटे बच्चे दूध के लिए तड़प रहें हैं। बस्ती में नवजात शिशुओं की माताएं उन्हें दूध भी नहीं पिला पा रही है। भोजन नहीं मिलने से माताओं का दूध भी नहीं उतर रहा। तीन माह तक गरीबों को फ्री राशन की घोषणा अभी जमीन पर नहीं उतर पाई है। बस्ती के सुखलाल, जगलाल, बबलू, जोगिंदर, हरिकेश आदि ने कहा कि लॉक डाउन होने से बांस के बने सामान के खरीदार नहीं आ रहे हैं। पुलिस के डर से कोई घर से नहीं निकल रहा। बहुत बुरा दिन आ गया है। छांगुर, बिहड़ और गोबरी ने कहा कि कोरोना के पहले भूख से जान जा सकती है। लोग भूख से बीमार हो रहें हैं। उनको दवाई भी नहीं मिल रही। राशन पानी और दवाई नहीं मिली तो गरीबों की झोपड़ी से लाशें निकलने लगेंगी। इस बाबत एसडीएम ओमप्रकाश ने कहा कि मुफ्त राशन का वितरण जल्द शुरू हो जाएगा। आपूर्ति विभाग को निर्देश दिया गया है। किसी को भूखा नहीं सोने दिया जाएगा।
... और पढ़ें

लॉकडाउन से घबराने की जरूरत नहीं

लॉकडाउन से घबराने की जरूरत नहीं
देवरिया। कोरोना वायरस को लेकर किए गए लॉकडाउन से घबराने की जरूरत नहीं है। जिला प्रशासन से लोगों की जरूरतों को पूरा करने की कोशिश में जुटा है। इसके लिए कंट्रोल रूम बनाया गया है, जहां से जरूरतमंदों की जरूरतें पूरी होगी। आज प्रस्तुत है तीन सवालों के जवाब...
सवाल: एक
सामान्य बीमार होने पर आपके मन में प्रश्न होगा कि किससे सहयोग मांगे और संपर्क करें।
उत्तर: सामान्य बीमार होने पर आप अपने नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर संपर्क करें। सभी सीएचसी, पीएचसी पर इमरजेंसी सेवा चल रही हैं। अस्पताल पर पहुंचने वाले रोगी का इलाज मौजूद डॉक्टर करेंगे। ज्यादें दिक्कत होने पर आप सीएमओ कार्यालय के कंट्रोल रूम के नंबर पर 0568222749, 8601477477, 9936681530 पर संपर्क कर सकते हैं।
सवाल: दो
आपके यहां विदेश या गैर प्रांतों से कोई आए तो क्या करें।
उत्तर: इससे घबराने की जरूरत नहीं है। आप दूरी बनाएं रखें। अगर कोई संदेह हो तो जिला अस्पताल में कोरोना ओपीडी संचालित हो रहा है। उससे कहें कि जाकर जांच करा लें। 10 से 2 बजे दिन तक वह आकर अपना चेकअप और डॉक्टर से सलाह ले सकता है। इसके अलावा वह अपने नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर भी संपर्क कर सकता है। सीएमओ कंट्रोल रूम के नंबर 8601477477, 9936681530 पर सूचना दें सकतें है।
सवाल: तीन
नगरीय क्षेत्र में दूध-सब्जी और राशन की जरूरत होने पर क्या करें।
उत्तर: किसी तरह की कोई कमी नहीं है। अगर आपको कोई दिक्कत हो तो डीएम कार्यालय में बनाए गए कंट्रोल रूम 05568- 222505, 220926, 222261, 9450494933 पर संपर्क कर अपने मोहल्ले के खाद्य सामग्री विक्रेताओं का नंबर लेकर सामान मंगा सकते हैं। 24 घंटे यह नंबर चालू रहेगा।
सीएचसी, पीएचसी प्रभारियों का नंबर
दिक्कत होने पर जिले के ब्लॉक स्तरीय सीएचसी, पीएचसी पर लोग संपर्क कर सकते हैं। मझगांवा डॉ. मार्कंडेय प्रसाद 7007427710, महेन डॉ. हरेंद्र प्रसाद 9455828603, पथरदेवा डॉ. अरविंद कुमार सिंह 9450232666, देसही देवरिया डॉ. ओमप्रकाश 9839059652, गौरीबाजार डॉ. रतन लाल 9450556133, बैतालपुर डॉ. बीपी सिंह 9451631711, रामपुर कारखाना डॉ. शंभू प्रसाद 9670795524, रुद्रपुर डॉ. धर्मेंद्र सिंह 9452450588, भलुअनी डॉ. सत्येंद्र राव 7905388335, बरहज अजय पाल 9936664878, भागलपुर डॉ. रंजीत कुशवाहा 9648282628, भटनी डॉ. एनपी सिंह 9415320108, सलेमपुर डॉ. अतुल कुमार 90990002926, लार डॉ. बीबी सिंह 7408951058, भाटपाररानी डॉ. मुरारी राय 7081672435, बनकटा डॉ. मनीष कुमार सिंह 9935763547, तरकुलवा डॉ. अमित कुमार 8795630715 पर लोग संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा सीएमओ कार्यालय में बनाए गए कंट्रोल रूम का नंबर 0568222749, 8601477477, 9936681530 पर कोरोना से जुड़ी जानकारी दे सकते हैं।
... और पढ़ें

बाहर से आए 2256 लोग, निगरानी में जुटा स्वास्थ्य महकमा

बाहर से आए 2256 लोग, निगरानी में जुटा स्वास्थ्य महकमा
देवरिया। कोरोना का संकट गहराने के बाद जिले में 2256 लोग दाखिल हुए हैं। ये वही लोग हैं जो देश विदेश में रहकर जीवन यापन कर रहे थे। कोरोना के चलते रोजगार प्रभावित होते ही इन्होंने अपने गांव नगर का रुख कर लिया है। यह आंकड़े अभी 23 मार्च तक के हैं। बीते चार दिनों में सैकड़ों की संख्या में अन्य लोग जनपद की सीमा में दाखिल हुए हैं। जिनका स्पष्ट आंकड़ा जिला प्रशासन को नहीं मिल पाया है। लॉक डाउन होने के बाद भी लोग पैदल, मालगाड़ी व ट्रकों पर सवार होकर रोजाना गांव आ रहे हैं।
बाहर से आए ज्यादातर लोगों की तबीयत खराब है। कोई थकान के चलते तो कोई रास्ते में दूषित जल पीने से बीमार है। कई लोगों को देर सबेर खाना मिलने के कारण सर्दी, खांसी व गले में परेशानी हो रही है। कोरोना जैसे लक्षण मिलने के कारण परिजन उहापोह की स्थिति में हैं। सामाजिक बहिष्कार के डर से वह जांच कराने से भी बच रहे हैं।
सीडीओ शिवशरणप्पा ने बताया कि बीडीओ के नेतृत्व में विभिन्न ग्राम पंचायतों में गठित की गई कमेटी गांवों में बाहर से आने वाले लोगों पर पैनी नजर बनाए हुए है। पंचायत सचिव, एएनएम व आंगनबाड़ी कार्यकर्ता देश विदेश से आए लोगों की सूची तैयार कर रहे हैं। इन्हें नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र भेजकर जांच कराई जा रही है। जांच में रिपोर्ट निगेटिव मिलने के बावजूद इनपर ध्यान दिया जा रहा है।
... और पढ़ें

रेलवे ट्रैक पकड़ गोरखपुर से समस्तीपुर जा रहे है 20 मजदूर

रेलवे ट्रैक के रास्ते गोरखपुर से समस्तीपुर जा रहे 20 मजदूर
भटनी (देवरिया)। रेलवे ट्रैक के रास्ते यूपी से बिहार पलायन हो रहे मजदूरों का सिलसिला रुकने का नाम नही ले रहा है। शुक्रवार करीब एक बजे एक जत्थे में 20 मजदूर रेलवे लाइन के रास्ते बिहार की तरह जा रहे थे। नोनापार गांव के सामने लोगों ने उन्हें रोका तो उन्होंने अपनी पीड़ा बताई। गांव के युवकों ने सभी को नाश्ता और भोजन कराकर इसकी जानकारी प्रशासन को दी है।
बिहार के रहने वाले बहुत से लोग यूपी में काम के सिलसिले आकर फंस गए हैं। शुरू में वे सभी कहीं रुक कर स्थिति से अवगत हुए है लेकिन वे अब अपने शहर की तरफ पलायन कर गए हैं। सड़कों पर पुलिस द्वारा रोकने पर मजदूर रेलवे लाइन को ही अपना रास्ता बना लिए हैं। शुक्रवार दोपहर में 20 मजदूरों का जत्था रेलवे ट्रैक पकड़ बिहार जा रहा था। लोगों के रोकने पर उन्होंने बताया कि वे गोरखपुर में सड़क निर्माण में कार्य करते थे। लेकिन काम बंद होने से भोजन के संकट उत्पन्न हो गए हैं। इसलिए अपने घर को लौट रहे है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं
Coupon
Coupon
Coupon
Coupon

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us