विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

प्रियंका गांधी ने सीएम योगी को लिखा पत्र, कोरोना महामारी के प्रकोप को नियंत्रित करने के तरीके सुझाए

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के मरीज मिलने का सिलसिला थम नहीं रहा है। शुक्रवार की सुबह आगरा में पांच नए मामले सामने आए हैं। यूपी में संक्रमितों की संख्या 427 पहुंच गई है।

10 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

इटावा

शुक्रवार, 10 अप्रैल 2020

राशन कार्ड, पेंशन, जनधन खाता नहीं तो लें 1000 रुपये

इटावा। जिन्हें शासन की किसी भी योजना का लाभ नहीं मिल रहा है, लॉकडाउन के दौरान मुख्यमंत्री गरीब कल्याण मद से उनकी मदद की जा रही है। अभी तक जिले भर में 902 लोगों को एक-एक हजार रुपये दिए जा चुके हैं। जिला प्रशासन जरूरतमंदों की जानकारी भी पंचायत और निकाय कर्मियों के जरिये करा रहा है।
सीडीओ राजा गणपति आर ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान सरकार मुफ्त राशन दे रही है। इसके अलावा वृद्धा, विधवा और विकलांग पेंशन के साथ अतिरिक्त धनराशि, जनधन खाते में पैसा और किसान सम्मान निधि के पैसे भी भेज चुकी है। 15 अप्रैल से सभी कार्डधारकों को प्रति यूनिट 5 किलो चावल के साथ दाल भी मुफ्त दी जाएगी। अब ऐसे लोगों की तलाश कराई जा रही है, जिनको किसी भी योजना का लाभ नहीं मिलता है। यानी जिनके पास न राशन कार्ड है और न ही पेंशन ही मिलती है। ग्रामीण क्षेत्रों में किसी भी योजना का लाभ न मिलने वाले गरीबों की तलाश ग्राम प्रधान, पंचायत सचिव और लेखपालों के माध्यम से कराई जा रही है। इसी तरह नगरीय क्षेत्र में निकाय के अधिकारियों को लगाया गया है। सभासद भी अपने क्षेत्र के ऐसे जरूरतमंदों की सूचना विवरण बनाकर ईओ को दे सकते हैं। सीडीओ ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्र के जरूरतमंदों का सत्यापन पंचायत सचिव करेंगे। बीडीओ से प्रमाणित होकर उसका ब्योरा जिला प्रशासन को आएगा। इसके बाद जरूरतमंद को लॉकडाउन की अवधि तक प्रति महीने एक हजार रुपये दिए जाएंगे। इसी तरह नगरीय क्षेत्र में ईओ प्रमाणित कर जिला प्रशासन को जरूरतमंद का ब्योरा भेजेंगे। सीडीओ ने बताया कि अभी तक ग्रामीण क्षेत्र में 691 और नगरीय क्षेत्रों में 211 लोगों को मुख्यमंत्री गरीब कल्याण मद से पैसा दिया जा चुका है।
गांवों में लोगों को किसी भी योजना का लाभ नहीं मिला रहा है और वह गरीबी की श्रेणी में है तो अपने ग्राम प्रधान पंचायत सचिव से संपर्क करें। पंचायत सचिव उनका ब्योरा बीडीओ को तक पहुंचाएंगे। बीडीओ उसे प्रमाणित करेंगे। अगर प्रधान, पंचायत सचिव और बीडीओ सुनवाई न करें तो अपने एसडीएम को फोन लगाएं। ऐसे लोग बीडीओ, एसडीएम को फोन कर अपनी जानकारी दे सकते हैं। इसके अलावा कंट्रोल रूम के नंबर 05688-259697, 9045032394,9045253394 नंबरों पर भी फोन कर सकते हैं।
जिलाधिकारी जेबी सिंह ने कहा कि जिन गरीबों को राशन, पेंशन, जनधन खाते में पैसा जैसी सरकारी मदद मिल चुकी है वह लोग मुख्यमंत्री गरीब कल्याण मद से पैसा लेने के लिए बिल्कुल फोन न करें। अगर किसी ने बेवजह फोन पर परेशान किया तो उसके खिलाफ कार्रवाई भी हो सकती है। अगर किसी अन्य तरह की दिक्कत हो तो कंट्रोल रूम पर फोन कर सकते हैं।
... और पढ़ें

नहीं माने लोग, पुलिस ने बनाया मुर्गा

इटावा। शासन-प्रशासन की रोक के बाद भी बुधवार को शहर के अंदर लोग बाइक और स्कूटी के लेकर फर्राटे भरते दिखे। चौराहों पर तैनात पुलिस ने कई वाहनों के ट्यूब सूजे घुसेड़कर पंक्चर कर दिए। बाइक से बेवजह घूमते कुछ लोगों पर लाठियां भी चटकीं। एएसपी सिटी शहर के प्रमुख मार्गों पर घूमते रहे और माइक लेकर लोगों से घरों में रहने की नसीहत दी। मंगलवार को जिले भर में पांच लोगाें के खिलाफ लॉकडाउन के उल्लंघन का मुकदमा दर्ज किया गया।
जिला प्रशासन के निर्देश हैं कि बुधवार से दोपहिया वाहनों की आवाजाही नहीं होगी। घरों से पैदल निकलकर ही जरूरी काम निपटाए जा सकते हैं। इसके बाद भी सुबह से ही न सिर्फ सड़कों पर बाइक और स्कूटी दौड़ने लगी बल्कि कइयों पर दो लोग बैठे दिखे। जिन्हें शहर के शास्त्री चौराहा, नौरंगाबाद, पचराहा, रामगंज चौराहा, नयाशहर चौराहा, बस स्टैंड पर पुलिस कर्मियों ने रोका और घर से बाहर आने का कारण पूछा।
शास्त्री चौराहे पर एएसपी क्राइम महेश अत्रि मौजूद रहे। दोपहर करीब 12 बजे नौरंगाबाद चौराहे की ओर से एक एंबुलेंस आई। जिसे रोककर चेक किया। हालांकि उसमें कोई बैठा हुआ नहीं मिला। एएसपी सिटी रामयश सिंह कचहरी रोड पर माइक लेकर लोगों को घरों में रहने की नसीहत देते रहे। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन का सख्ती से पालन करना है। सुबह 11 बजे तक तभी बाहर आएं जब कोई बेहद जरूरी काम हो। इस दौरान सीओ सिटी वैभव पांडेय व पुलिस बल बेवजह टहलते लोगों को घरों को भेजते रहे।
पुलिस के रोकने के बाद भी जब लोग नहीं माने तो चौराहों पर मौजूद पुलिस बल ने दोपहिया गाड़ियों के टायर ट्यूब पंचर करना शुरू कर दिए। सिपाही हाथ में लिए डंडों से बाइक या स्कूटी सवार लोगों को रोकते रहे और साथी सिपाही सूजे घुुसेड़ते रहे। शास्त्री चौराहा, रामगंज व नया शहर आदि स्थानों पर पुलिस ने कई गाड़ियों के टायर ट्यूब पंक्चर कर दिए। इसी तरह नेविल रोड पर शाहकमर स्कूल के पास एक बाइक पर जाते दो युवकों को पुलिस ने रोका। युवकों ने बाहर आने के बहाने बनाए तो पुलिस ने उन पर डंडे चटकाए। पुलिस की इस सख्ती की बात मोहल्लों में पहुंचने पर लोग बाहर आने से कतराते रहे।
उधर, लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की कार्रवाई जारी है। मंगलवार को कोतवाली में मड़ैया शिवनरायन के धर्मेंद्र को पक्काबाग तिराहे से, वैदपुरा क्षेत्र के पुथु गांव निवासी दिनेश को चौराहे से, ऊसराहार क्षेत्र के कदमपुर गांव निवासी प्रदीप को एक गांव से, सिविललाइन क्षेत्र के कांशीराम कालोनी टीबी अस्पताल के पास निवासी कुलदीप को लुहन्ना चौराहे से और सैफई क्षेत्र के अमरसीपुर गांव निवासी मयंक को स्टेडियम से पकड़ा गया। इन सभी के खिलाफ धारा 144 का उल्लंघन करने और सरकार के आदेश की अवहेलना की रिपोर्ट दर्ज की गई।
लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराने के लिए बुधवार सुबह से ही पुलिस सड़कों पर दिखी। कई मार्गों पर बैरीकेड करके वाहनों की आवाजाही के लिए रोका गया। इसके बाद भी जब तमाम लोग सड़कों पर घूमते दिखे तो ऐसे लोगों के साथ पुलिस सख्ती से पेश आई। बाइक या स्कूटी से आने वालों की गाड़ियों के चालान काटे। कुछ लोगों को कड़ी धूप में मुर्गा बनाया। पुलिस ने सख्त रुख दिखाते हुए चेतावनी दी कि लॉकडाउन का उल्लंघन किया तो और सख्त कदम उठाए जाएंगे। इसलिए लोग घरों में रहें और तभी निर्धारित समय में निकलें, जब बेहद जरूरी काम हो। बहाना करने वालों को छोड़ा नहीं जाएगा।
... और पढ़ें

बीकानेर से लौटे युवकों को किया क्वारंटीन

इटावा: दो महिलाओं समेत तीन बदमाशों ने जिला समाज कल्याण अधिकारी के घर में की लूटपाट, रिपोर्ट दर्ज

इटावा में जिला समाज कल्याण अधिकारी के सरकारी आवास में घुसकर दो महिलाओं समेत तीन बदमाशों ने मारपीट करते हुए 55 हजार रुपए, तीन अंगूठी और दो मोबाइल लूट लिए। सिविल लाइन थाना में घटना की रिपोर्ट दर्ज कराई गई है।

जिला समाज कल्याण अधिकारी शिशुपाल सिंह ने बताया कि बुधवार 8 अप्रैल कि सुबह करीब 10 बजे ट्रांजिट हॉस्टल स्थित उनके सरकारी आवास में एक युवक घुस आया। उसने पेंशन से संबंधित बात की और दो महिलाओं को बुला लिया।

इसके बाद अचानक युवक ने उन पर हमला बोल दिया। जमीन पर गिरा कर तीनों ने मारपीट की और चादर से गला घोटने का प्रयास किया। युवक ने तमंचा निकालकर डराया धमकाया और चाबी लेकर अलमारी में रखे 55 हजार रुपए निकाल लिए। उनकी तीन अंगूठियां और दो मोबाइल छीन लिए।

लूटपाट के बाद तीनों लोग घर के दरवाजे कि बाहर से कुंडी चढ़ाकर भाग गए। बदमाशों के निकलते ही उन्होंने जोर जोर से दरवाजा खटखटाया। जिसकी आवाज सुनकर पड़ोस में रह रहे नगरपालिका के अवर अभियंता ने आकर कुंडी खोली।
 
जिला समाज कल्याण अधिकारी ने बताया कि इस घटना से वह काफी से डर गए थे। बाग में सिविल लाइन थाना पुलिस को इसकी सूचना दी। जिस पर पुलिस ने लूट की धारा 394 के तहत रिपोर्ट दर्ज कर ली है। सिविल लाइन थाना प्रभारी मदन गोपाल गुप्ता ने बताया कि पुलिस मामले की जांच कर रही है।
... और पढ़ें
सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर

तार से टकराया पक्षी, चिंगारी से 20 बीघा गेहूं जला

इटावा। बिजली की हाईटेंशन लाइन के तार से पक्षी के टकराने से निकली चिंगारी ने दो किसानों की खेतों में खड़ी करीब 20 बीघा गेहूं की फसल जलाकर नष्ट कर दी। थाना पुलिस की सूचना पर पहुुंचे दमकल कर्मियों ने आग बुझाई। ग्रामीणों ने आग लगने की सूचना क्षेत्र के लेखपाल को दे दी है।
चौबिया थाना क्षेत्र के बरालोकपुर गांव के किशनपुरा मार्ग स्थित खेतों से बिजली की हाईटेंशन लाइन गुजरी हुई है। खेतों में इस समय गेहूं की पकी हुई फसल खड़ी है। बृहस्पतिवार को दोपहर के वक्त कुछ किसान खेतों पर मौजूद थे। उन्होंने बताया कि अचानक कोई पक्षी हाईटेंशन लाइन से टकरा गया। इससे चिंगारी निकलकर नीचे गेहूं की फसल पर गिरी और पल भर में फसल ने आग पकड़ ली। अवधेश कुमार दुबे पुत्र प्रेमशंकर के 13 बीघा और सुदीश कुमार दुबे पुत्र रंजनलाल के 7 बीघा खेत में खड़ी गेहूं की फसल जलकर नष्ट हो गई। खेत में खड़े पेड़ों को भी आग ने अपनी चपेट में ले लिया।
आग के विकरालता को देखकर अन्य किसानों में हड़कंप मच गया। तमाम किसानों ने आपसी सहयोग से आग को बुझा लिया। हालांकि
इसी बीच सूचना मिलने पर थाना प्रभारी निरीक्षक जीवाराम यादव और दमकल गाड़ी भी आ गई। दमकल कर्मियों ने खेत में जहां तहां जलती आग को पानी डालकर शांत किया। पीड़ित किसान सुदीश के पुत्र जीतू ने बताया कि बरालोकपुर क्षेत्र के लेखपाल लाल बहादुर को आग से हुए फसल के नुकसान की जानकारी दे दी है।
... और पढ़ें

गरीबों का सर्वे करने गई लेखपाल से अभद्रता

इटावा। किसी भी योजना का लाभ न पाने वालों की सर्वे करने आलमपुर विभौली गांव गईं लेखपाल के साथ ग्रामीण ने अभद्रता कर दी। लेखपाल ने इसकी सूचना थाने और तहसील प्रशासन को दी है। शाम तक पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की थी।
प्रदेश शासन ग्रामीण और नगरीय क्षेत्रों में किसी भी योजना का लाभ न पाने वालों का सर्वे करा रहा है। ऐसे लोगों को लाकडाउन के दौरान एक हजार रुपये मासिक दिए जाएंगे। भरथना तहसील में तैनात लेखपाल रीतू देवी गुरुवार दोपहर बाहर सर्वे करने आलमपुर विभौली गांव गईं थीं। लेखपाल गांव में सर्व कर रही थीं, इसी बीच एक ग्रामीण आया और लेखपाल से अभद्रता करने लगा। ग्रामीण ओलावृष्टि से सरसों फसल का कम मुआवजा दिलाने की बात को लेकर विवाद कर रहा था। महिला लेखपाल ने थाने जाकर ग्रामीण की शिकायत की, साथ ही तहसील के अधिकारियोेें को भी बताया। तहसीलदार गजराज सिंह ने बताया कि लेखपाल के साथ ग्रामीण ने अभद्रता की है। जिलाधिकारी जेबी सिंह ने बताया कि लेखपाल से अभद्रता की जानकारी मिली। मामले की जांच कराकर अभद्रता करने वाले के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। एसडीएम इंद्रजीत ने बताया कि लेखपाल की लिखित शिकायत मिली है, जांच करा रहे हैं। कोतवाल बलराज शाही ने बताया कि अभी लेखपाल की तहरीर नहीं मिली है, तहरीर मिलने पर ओ की कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

जमातियों के सपंर्क में आए 12 लोगों को कोरोना नहीं

इटावा। आगरा के जमातियों के संपर्क में आए सभी 12 लोगों में कोरोना के लक्षण नहीं मिले हैं। सैफई पीजीआई भेजे गए सैंपल की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। अभी एहतियातन एक दो दिन सभी को आइसोलेशन वार्ड में ही रखा जाएगा।
आगरा के चार जमाती सात से 11 मार्च तक शहर कोतवाली क्षेत्र तकिया और चितभवन की मस्जिदों में रुके थे। इसके बाद ये जमाती औरैया फिर आगरा लौट गए। आगरा में हुई जांच में एक जमाती कोरोना पाजिटिव पाया गया। जमातियों के संपर्क में शहर के दो और चितभवन के 10 लोग आए थे। कोरोना पाजिटिव मिले जामती के यात्रा इतिहास के आधार पर 12 लोगों को सात अप्रैल को जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करा कर सैंपल जांच के लिए पीजीआई सैफई भेजे गए थे।
जिलाधिकारी जेबी सिंह ने बताया कि गुरुवार दोपहर बाद पीजीआई से सभी 12 की जांच रिपोर्ट आ गई। रिपोर्ट में जमातियों के संपर्क में आए किसी भी व्यक्ति में कोरोना के लक्षण नहीं पाए गए हैं। सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई है। एहतियातन अभी उन्हें एक दो दिन आइसोलेशन वार्ड में रखा जाएगा।
... और पढ़ें

पका भोजन बांटा तो दर्ज होगा मुकदमा : डीएम

इटावा। जिले में कहीं भी कोई पका भोजन नहीं बाट सकता है, भोजन बांटने के लिए जिलाधिकारी से अनुमति लेना जरूरी होगा। बिना अनुमति भोजन बांटने वालों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया जाएगा।
जिलाधिकारी जेबी सिंह ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान जरूरतमंदों की मदद करना अच्छा काम है लेकिन पका भोजन बांटने में दिक्कतें हैं। सुबह का बना भोजन खराब होने से लोग बीमार भी हो सकते हैं। ऐसी आशंका को देखते हुए ही पका भोजन बांटने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। जिले की सीमा के भीतर कोई भी सरकारी, अर्द्धसरकारी कर्मचारी संगठन, सरकारी अर्द्धसरकारी विभाग, समाजसेवी संगठन, एनजीआई, धार्मिक संगठन या अन्य किसी भी माध्यम से पका भोजन नहीं बांटे। अगर किसी जरूरतमंद की मदद करनी है तो आटा, दाल, चावल, तेल, सब्जी, फसल आदि दिए जा सकते हैं। राशन वितरण में सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखना जरूरी है। अगर किसी ने भीड़ लगाकर राशन बांटा तो उसके खिलाफ भी लाक डाउन उल्लंघन के तहत मुकदमा दर्ज कराया जाएगा। जिलाधिकारी ने कहा कि अगर कोई संस्था पका भोजन बांटना चाहती है तो वह जिला प्रशासन को आवेदन देकर अनुमति ले। आवेदन में उसे ये बताना जरूरी होगा कि कहां भोजन पकाया जाएगा और किसी क्षेत्र में बांटा जाएगा। प्रशासन पूरी पड़ताल के बाद अनुमति देने पर विचार करेगा।
... और पढ़ें

शहर के 6000 लोगों को चाहिए कल्याण मद से मदद

इटावा। डूडा में पंजीकृत 1418 फेरी वाले एवं अन्य श्रमिकों को शासन की मुख्यमंत्री गरीब कल्याण मद योजना से एक एक हजार रुपये की धनराशि दी जाएगी। इस सूची में शामिल श्रमिकों के बैंक खातों की डिटेल मांगी गई है। अभी तक 460 पात्रों की सूची जिला प्रशासन के पास भेजीे जा चुकी है। अन्य पात्रों का पूरा विवरण मिलते ही सूची भेजी जाएगी। इसके अलावा अभी तक इस योजना में 6000 आवेदन अलग से आए हैं। इन आवेदकों की जांच की जा रही है।
शासन ने कोराना वायरस के संक्रमण को लेकर चल रहे लॉकडाउन को देखते हुए ऐसे श्रमिकों को किसी भी योजना का लाभ नहीं ले रहे हैं। उन्हें मुख्यमंत्री गरीब कल्याण मद से केवल एक बार 1000 रुपये की सहायता राशि देने का निर्णय लिया है। इस योजना में 30 मार्च तक आवेदन मांगे गए थे। योजना में बड़ी संख्या में आवेदन प्राप्त हुए। नगर पालिका के राजस्व एवं कर विभाग के अधिकारी इन आवेदन पत्रों का ब्यौरा तैयार करने में जुटे हैं।
ईओ नगर पालिका अनिल कुमार ने बताया कि डूडा ने एक सर्वे किया था। इसमें फेरी वाले तथा अन्य श्रमिक जो योजनाओं से वंचित हैं। उनकी सूची तैयार की थी। सूची में शामिल 1418 श्रमिकों को इस योजना से लाभांवित किया जा रहा है। इसके अलावा नए आवेदकों की जांच के बाद उनके पात्रों के खातों मेें धनराशि भेजी जाएगी।
... और पढ़ें

सख्ती का असर, सड़कों पर कम दिखे दोपहिया वाहन

इटावा। शहर की सड़कों पर बृहस्पतिवार को बेहद कम संख्या में दोपहिया वाहन नजर आए। सुबह के 11 बजे तक जो भीड़भाड़ दिखती रही है। उसमें काफी कमी दिखी। इस कार्रवाई के अलावा लॉकडाउन के उल्लंघन में बुधवार को चार मुकदमा भी दर्ज हुए।
एक दिन पहले बुधवार को पुलिस ने दोपहिया वाहनों के ट्यूब में सूजा घुसेड़कर पंक्चर कर दिए थे। लोगों ने बेवजह सड़क पर निकलने से परहेज किया। जो इक्का दुक्का लोग साइकिल, बाइक या स्कूटी से आते-जाते दिखे। पुलिस उनसे भी पूछताछ करती रही। उधर, लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर बुधवार को चार लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई।
पुलिस प्रशासन ने सुबह 11 बजे तक बेहद जरूरी काम होने पर बाहर निकलने की अनुमति दी हुई है। डीएम ने सख्त आदेश दिए हैं कि लोग बाइक या स्कूटी की बजाय पैदल निकलें और काम करके तत्काल घर चले जाएं। बुधवार को जब लोगों ने इस आदेश के पालन में कोताही बरती तो पुलिस ने अपना काम किया। पहले तो ऐसे लोगों को समझाया गया। जब लोगों ने अनसुनी की तो उनके दोपहिया वाहनों के ट्यूब सूजे से पंक्चर किए गए।
पुलिस की इसी सख्ती की वजह से बृहस्पतिवार को सुबह के वक्त भी सड़क पर मामूली आवाजाही रही। खानपान और मेडिकल स्टोर के अलावा अन्य दुकानों को खोलने की मनाही रही। शहर के झम्मनलाल कलारी के पास एक नाई की दुकान में कई लोगों को बैठा देख पुलिस ने दुकानदार को जमकर हड़काया और तत्काल दुकान बंद करवाई। नया शहर चौकी पर तैनात पुलिस बल तकरीबन हर आने जाने वाले से सवाल करता रहा। इसी दौरान एक युवक साइकिल से गुजरा। चौकी इंचार्ज के पूछने पर उसने अपना घर भरथना चौराहे के पास बताया। पुलिस ने उठक बैठक लगवाई और चेतावनी के साथ घर जाने को कहा।
इस कार्रवाई के अलावा लॉकडाउन के उल्लंघन में बुधवार को चार मुकदमा भी दर्ज हुए। जसवंतनगर थाना में सुगंधनगर गांव के ब्रह्मपाल को छिमारा रोड से, भरथना थाना में मोतीगंज मोहल्ला के ओमप्रकाश को दुकान खोलने से, चौबिया थाना में गणेशपुर गांव के राजीव को गांव में घुमने से, कोतवाली में बैरून टोला के मोहम्मद इकबाल को मोहल्ले से पुलिस ने पकड़ा और धारा 144 व सरकार के आदेश की अवहेलना करने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया।
... और पढ़ें

पांच और लोगों जिला अस्पताल के आईसोलेशन वार्ड में भर्ती

इटावा। जिला महिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में पांच और कोरोना संदिग्धों को भर्ती कराया गया है।
दीपक पुत्र बलवीर और मनीष कुमार पुत्र अमर सिंह निवासी सराय नरोत्तम उझियानी बुधवार करीब साढ़े आठ बजे लाए गए। ग्राम उदयपुरा से आबिर खां को गुरुवार दोपहर एक बजे लाया गया। आबिर 28 मार्च को मेरठ से अपने गांव आया था। सभी के सैंपल जांच के लिए सैफई भेजे गए हैं। इसके पहले आगरा के जमातियों के संपर्क में आए 12 और आठ अन्य लोगों को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया था। इन लोगों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे लेकिन अभी तक रिपोर्ट नहीं आई है।
जिला अस्पताल की आयुष विभाग की ओपीडी में बृहस्पतिवार को करीब 60 मरीज आए। इन्हें डॉ. दीपक गुप्ता एवं डॉ. शांतनु निगम ने देखा। कुछ मरीज बाहर से आए इनमें दिल्ली से एजाज, दिल्ली से ही सरताज, करौली (राजस्थान) से योगेंद्र जो बुधवार को आया। पं.बंगाल से आए फिरोज चौधरी और उनकी पुत्री बेबी चौधरी भी जांच कराने आए। बंगाल से आए युवक प्रशांत दुबे ने बताया वह पहली अप्रैल को इटावा आया था। ग्वालियर रोड निवासी युवक ने बताया वह बंगाल सामान से लदी गाड़ी खाली कराने गया था। खांसी होने पर जांच कराने आए हैं।
जिला अस्पताल में आने-जाने वालों को सैनिटाइज करने के लिए जिला पंचायत के सहयोग से टनल बनाया गया है। टनल गेट के एक किनारे बनाया गया है। ज्यादातर लोग टनल के बजाए बगल से निकल रहे हैं। सीएमएस डॉ.एसएस भदौरिया ने बताया कि सभी लोग टनल से ही निकलें इसके लिए गेट में दो लोगों की ड्यूटी लगाएंगे।
... और पढ़ें

दुकानदार सामान की मूल्य सूची जरूर लगाएं

इटावा। जसवंतनगर कस्बे में खाद्य सुरक्षा की टीम ने दुकानदारों से मूल्य सूची टांगने के लिए कहा है। निर्देश न मानने वालों के खिलाफ कार्रवाई की चेतावनी दी है।
खाद्य सुरक्षा अधिकारी डॉ. मोहर सिंह कुशवाह ने बाजारों में घूमकर चेतावनी दी। हालांकि ज्यादातर दुकानदारों ने सूची पहले से ही लगा रखी थी। टीम की ओर से सभी से अनिवार्य रूप से मास्क पहनकर ही घर से बाहर निकलने व सोशल डिस्टेंस का पालन करने की सलाह भी दी गई। आटा, सब्जी, फल विक्रेताओं को भी मास्क पहनकर ही सब्जी बेचने की कड़ी हिदायत दी गई। इटावा से आई खाद्य सुरक्षा की टीम में बांट-माप अधिकारी विकास त्रिपाठी, शैलेंद्र सिंह आदि शामिल रहे।
... और पढ़ें

24 घंटे हो रहे हैं सैफई में कोविड-19 आरटी पीसीआर स्क्रीनिंग टेस्ट

इटावा । चिकित्सा विश्वविद्यालय सैफई में कोविड-19 स्क्रीनिंग जांच विश्वविद्यालय के माइक्रोबायोलॉजी विभाग 24 घंटे में की जा रही है। यहां 10 जिलों के कोरोना संदिग्ध मरीजों के सैंपल जांच के लिए आ रहे हैं।
विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. (डॉ.) राजकुमार ने बताया कि हर दिन जांच के लिए आने वाले नमूने बढ़ रहे हैं। इसे देखते हुए तीन शिफ्ट में लगातार 24 घंटे आरटी पीसीआर स्क्रीनिंग टेस्ट किए जा रहे हैं। पिछले कुछ दिनों से प्रतिदिन औसतन 40 से 50 सैंपल की जांच की जा रही थी। अब प्रतिदिन लगभग 90 का आंकड़ा पहुंच चुका है। 26 मार्च से अब तक विश्वविद्यालय में 276 स्क्रीनिंग टेस्ट किए जा चुके हैं। 15 टेस्ट पॉजिटिव पाए गए हैं। कुलपति राजकुमार ने बताया कि बताया की विश्वविद्यालय में सात अप्रैल से स्क्रीनिंग टेस्ट के साथ-साथ कंफर्मेटरी टेस्ट भी किए जा रहे हैं। अब तक कुल 10 कंफर्मेटरी टेस्ट किए गए हैं। इसमें नौ टेस्ट पॉजिटिव पाए गए।
चिकित्सा अधीक्षक डॉ. आदेश कुमार ने बताया कि वर्तमान में ज्यादा से ज्यादा कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों का टेस्ट करके पता लगाना ही गेम चेंजर साबित होगा। उन्होंने बताया कि विश्वविद्यालय में आईसीएमआर के नियमानुसार पर्याप्त मात्रा में स्क्रीनिंग एवं कंफर्मेटरी टेस्टिंग किट उपलब्ध है। कोविड-19 से संबंधित सभी जरूरी सुविधाएं, दवाइयां तथा सामग्री पर्याप्त मात्रा में शासन ने उपलब्ध करा दी हैं। साथ ही इलाज कर रही मेडिकल टीम भी पूरी तरह से प्रशिक्षित एवं पूर्णता सक्षम है। उन्होंने बताया की जनसामान्य को कोरोना वायरस से डरने की बिल्कुल जरूरत नहीं है बल्कि यह आवश्यक है की खांसी, जुकाम, बुखार, सांस फूलने की समस्या जैसे लक्षण दिखने पर विश्वविद्यालय के फ्लू ओपीडी आकर मरीज दिखाएं एवं जरूरी जांच कराएं।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं
Redwood global school 6x8 col

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us