विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा
Astrology Services

नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Coronavirus in UP Live Updates: प्रदेश में 80 संक्रमित, लखनऊ में 9 दिनों से नहीं मिला कोई मरीज

शासन और प्रशासन संक्रमण के चेन को तोड़ने के लिए लगातार कोशिश कर रहा है। लोगों से भी हर वक्त घरों में रहने की अपील की जा रही है।

30 मार्च 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

गाजीपुर

सोमवार, 30 मार्च 2020

पुलिस ने वाहन से मजदूरों को भेजवाया घर

मैनपुर की मुसहर बस्ती के 32 परिवारों को 10 दिनों की खाद्य सामग्री और मास्क वितरित

करंडा/देवकली। वाराणसी मंडल के आयुक्त दीपक अग्रवाल, आईजी विजय सिंह मीणा, जिलाधिकारी ओमप्रकाश आर्य, पुलिस अधीक्षक डा. ओपी सिंह, मुख्य विकास अधिकारी श्रीप्रकाश गुप्ता, उप जिलाधिकारी सदर प्रभाष कुमार ने मैनपुर ग्राम की मुसहर बस्ती के 32 परिवारों को 10 दिनों की खाद्य सामग्री एवं मास्क वितरित किया। जिलाधिकारी ने बताया कि जिले में कोई भी गरीब मजदूर भूखा न रहे इसके लिए प्रतिदिन खाद्य सामग्री का वितरण किया जा रहा है।
उन्होंने बताया कि पूरे जिले में ऐसे लोगों को चिन्हित किया गया है, जो रोज कमाते हैं, रोज खाते हैं। ऐसे परिवारों को प्रतिदिन उपजिलाधिकारी एवं अन्य स्वयंसेवी संगठनों के माध्यम से राहत सामग्री उपलब्ध कराई जा रही है और उनसे अपील भी की जा रही है की वह एक दूसरे से दूरी बनाकर रहें। अपने-अपने घरों में रहें एवं बाहर न जाएं। जिलाधिकारी ने जिले के लोगों से अपील किया कि इस महामारी की रोकथाम के लिए लोग अपने-अपने घरों में कैद रहें। यही एक उपाय है, इसे गंभीरता से लें जिससे इस तरह की बीमारी एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति तक न पहुंचे। दस दिनों की खाद्य सामग्री में पांच किलो चावल, दो किलो दाल, पांच किलो आटा, एक किलो तेल, एक पैकेट रिफाइंड, एक किलो नमक, एक पैकेट धनिया, डेटॉल, रिन साबुन, सेनेटाइजर एवं पांच किलो आलू का वितरण कर घरों में ही रहने की अपील की गई।
... और पढ़ें

ट्रेन से कटकर महिला की मौत

सेवराई। दानापुर-पंडित दीनदयाल उपाध्याय रेल खंड के भदौरा रेलवे स्टेशन के होम सिग्नल के पास शुक्रवार की सुबह ट्रेन की जद में आने से एक अज्ञात महिला की मौत हो गई। सूचना पर पहुंची जीआरपी ने शव को कब्जे ले लिया। शाम को जीआरपी चौकी पहुंचे परिजनों ने महिला की शिनाख्त की।
मालूम हो कि दानापुर-पंडित दीनदयाल उपाध्याय रेल खंड के भदौरा रेलवे स्टेशन के होम सिग्नल के पास सुबह करीब साढ़े सात बजे किसी ट्रेन की जद में आकर एक लगभग 40 वर्षीय महिला की मौत हो गई। दुर्घटना के बाद मौके पर ग्रामीणों की भीड़ लग गई। लोगों ने इसकी जानकारी रेलवे स्टेशन पर दी। सूचना पर पहुंची जीआरपी ने शव को कब्जे में ले लिया। ग्रामीणों ने बताया कि उक्त महिला बृहस्पतिवार की देर शाम से ही रेलवे लाइन के इधर-उधर घूम रही थी। इस संबंध में जीआरपी चौकी इंचार्ज दिलीप कुमार सिंह ने बताया कि मृतका की शिनाख्त करने का प्रयास जारी था। इसी दौरान शाम को करीब चार बजे महिला के परिजन चौकी पर पहुंचे। उन्होंने मृतका की शिनाख्त रेवतीपुर थाना क्षेत्र के हसनपुरा निवासी सरोज देवी (40) पत्नी अभिमन्यु राम के रूप में की। लिखा-पढ़ी के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। उन्होंने बताया कि पूछताछ में परिवार के लोगों ने बताया कि महिला बृहस्पतिवार की दोपहर घर से निकली थी। हम लोग उसकी इधर-उधर तलाश कर रहे थे।
... और पढ़ें

कोरोना एलर्ट: जिले भर में तैयार हैं 2

गाजीपुर। स्वास्थ्य महकमा भी कोरोना वायरस से लड़ने के लिए पूरी तरह से कमर कस चुका है। इसके मद्देनजर निजी एवं सरकारी चिकित्सालयों को मिलाकर जिले भर में कुल 280 बेड का आइसोलेशन वार्ड बनाया जा चुका है। इसी प्रकार 42 आईसीयू भी आरक्षित किए गए हैं। कोरोना से संबंधित किट खरीदने के लिए विभिन्न मदों से प्राप्त 48 लाख रुपए का बजट भी जारी हो गया है।
कोरोना वायरस वैश्विक महामारी के रूप में शुमार हो चुका है जिसको देखते हुए देश में 14 अप्रैल तक लाकडाउन किया गया है। जिले में इस प्रकार के मरीजों की संभावना को देखते हुए आइसोलेशन वार्ड बनाए गए है। जिला अस्पताल के द्वितीय तल पर एक दस बेड का तथा एक 12 बेड का कुल 22 बेड के दो आइसोलेशन वार्ड बनाए गए हैं। सैदपुर स्थित वर्ल्डग्रीन हास्पीटल में छह बेड आईसीयू और 40 बेड का आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है। इसी प्रकार दुल्लहपुर स्थित आरएस हास्पिटल में नौ बेड का आईसीयू और 40 बेड आइसोलेशन, लाइफ केयर हास्पिटल जमानिया रोड नौ बेड का आईसीयू और 50 बेड का आइसोलेशन, शम्मे हुसैनी हास्पिटल गंगा ब्रिज आठ बेड का आईसीयू और 40 बेड आइसोलेशन के साथ ही शम्मे गौसिया माइनारिटी आयुर्वेदिक मेडिकल कालेज सहेड़ी में 10 बेड आईसीयू और सौ बेड का आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है। जिला सर्विलांस एवं प्रतिरक्षण अधिकारी डा. उमेश कुमार ने बताया कि विधायक निधि तथा अन्य मदों से जिले को 48 लाख रुपये की धनराशि जिला प्रशासन के माध्यम से मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय को प्राप्त हुई है। इस धनराशि से मास्क, सेनेटाइजर, ग्लव्स, किट एवं अन्य जरूरी सामान खरीदने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है।बृजबिहारी
... और पढ़ें

जिले में 477 विदेशियों सहित पांच हजार लोगों की हुई जांच

गाजीपुर। जिले में विदेशों और देश के अन्य राज्यों से आने वाले लोगों की जांच को लेकर जिला प्रशासन पूरी तरह से सतर्क है। जिले में विदेशों से आने वाले कुल 477 लोगों और देश के अन्य प्रांतों से आने वाले 5014 लोगों की जांच का काम पूरा कर लिया गया है। अभी भी छिटपुट बाहरी लोगों के आने का क्रम बना हुआ है और उनकी भी जांच चल रही है। जिले में ऐसे लोगों की सूची बनाई गई थी और प्रथम चरण का काम पूरा कर लिया गया।
कोरोना वायरस की बढ़ती संख्या में बाहर से आए लोगों की भूमिका को लेकर चिंता जताते हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री ने ऐसे जिलों को सतर्क किया था। इसमें गाजीपुर भी शामिल था। इसके बाद, स्थानीय प्रशासन ने इसे काफी गंभीरता से लिया और ऐसे लोगों की सूची तैयार कराई। शुरुआती दौर में ऐसे करीब दो हजार बाहरी लोगों को जिला अस्पताल में बुलाकर स्क्रीनिंग की गई। कोरोना वायरस को लेकर इन सभी लोगों तथा परिवार की स्क्रीनिंग और जांच होनी है। लॉकडाउन हो जाने के बाद ब्लाकवार टीमों का गठन कर घर-घर जाकर उनकी जांच कर उन्हें जरूरी एहतियात बरतने को कहा जा रहा है। इसके लिए कुल 16 टीमें बनाई गई थी। सूचना के लिए स्वास्थ्य विभाग से जुड़े आशा एनएनएम के साथ ही आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को भी लगाया गया है। अभी भी बाहरी लोगों के आने का क्रम बना हुआ है। रविवार की भोर में सिधौना बार्डर पर 152 लोगों की जांच की गई। मिर्जापुर स्वास्थ्य केंद्र के एमवाईसी आरपी यादव और फार्मासिस्ट देवेंद्र पांडेय द्वारा क्षेत्र के गहनी, चकफरीद, बहरियाबाद, टांड़ा, सुल्तानपुर, डोरा सहित कई गांवों में बाहरी लोगों की जांच की गई। एआरओ बलराम चौधरी और बीपीएम सोनल श्रीवास्तव भी दर्जनों गांवों में बाहरी लोगों की जांच कर रही है।
... और पढ़ें

शार्ट सर्किट से लगी आग से पांच झोपड़ियां राख

सेवराई। दिलदारनगर थाना क्षेत्र के उसिया ग्रामसभा में स्थित मायापुरी बस्ती में शनिवार की रात शार्ट सर्किट से आग लगने से दो भाइयों की पांच झोपड़ियां जलकर राख हो गई। इस घटना में जहां 20 मुर्गियों की मौत हो गई। वहीं दस हजार नगदी सहित हजारों का सामान आग की भेंट चढ़ गया।
मालूम हो कि सेवराई तहसील क्षेत्र के उसिया ग्रामसभा स्थित मायापुरी बस्ती निवासी जंगबहादुर राम की झोपड़ी में शनिवार की रात करीब दस बजे शार्ट सर्किट से आग लग गई। जब तक लोग आग बुझाने की कोशिश करते, तब तक बगल में स्थित उसके भाई बगेसर राम की झोपड़ी से भी आग की लपटें उठने लगी। परिवार के लोग किसी तरह जान बचाकर बाहर भागे और आग-आग का शोर मचाने लगे। आवाज सुनाकर पास-पड़ोस के लोग घरों से निकलकर मौके पर पहुंच गए। लोगों ने मोटर चलाकर और हैंडपंप के सहारे काफी प्रयास के बाद आग पर काबू पाया। इस घटना में दो भाइयों की पांच झोपड़ियां राख में तब्दील हो गई। 20 मुर्गियों का जहां मौत हो, वहीं दो बछड़े झुलस गए। आग बुझाने में बिंदा देवी पत्नी बगेसर एवं उनका पुत्र जय कुमार (17) भी झुलस गया। साइकिल, बर्तन, दो कुंतल अनाज और दस हजार नगदी सहित हजारों का गृहस्थी का सामान जलकर नष्ट हो गया। सूचना पाकर पहुंचे हल्का लेखपाल सिद्धनारायन उपाध्याय ने उच्चधिकारियों को घटना की जानकारी दी। सामाजिक कार्यकर्ता सोहेल खान राजू ने पीड़ित परिवार को सहायता मुहैया कराई। उप जिलाधिकारी विक्रम सिंह ने बताया कि घटना की सूचना मिली है। पीड़ित परिवार को भोजन और राशन की व्यवस्था तत्काल करा दी गई है। हर संभव सहायता उपलब्ध कराई जाएगी।
... और पढ़ें

विवाहिता ने फांसी लगाकर आत्महत्या की

खानपुर। थाना क्षेत्र के उचौरी गांव में एक विवाहिता ने शुक्रवार की दोपहर परिवार में कहासुनी होने से नाराज होकर दुपट्टा से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
थाना प्रभारी निरीक्षक सुनील सिंह ने बताया कि गहमर थाना क्षेत्र के करहिया गांव निवासी नाजिया (30) की शादी नौ फरवरी 2019 को उचौरी गांव निवासी समीर से हुई थी। शुक्रवार को किसी बात को लेकर नाजिया के परिवार वालों से कहासुनी हुई। इसके बाद उसने कमरे में पंखा से दुपट्टा के सहारे लटककर आत्महत्या कर लिया। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को नीचे उतरवाकर कब्जे में ले लिया। उन्होंने बताया कि विवाहिता के मायके वालों ने इस मामले में कोई तहरीर नहीं दी। शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया गया।
... और पढ़ें

प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाएंगे मौसमी फल और हरी सब्जिया

गाजीपुर। कोरोना वायरस का खौफ बढ़ता ही जा रहा है। इसको लेकर लोग हर प्रकार के जतन और प्रयास कर रहे हैं। बैक्टीरिया के प्रभाव से व्यक्ति जल्दी बीमार पड़ जाता है। इससे बचाव के लिए शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने को लेकर चिकित्सा जगत से जुड़े लोग अलग-अलग सलाह दे रहे हैं। उनका कहना है कि विटामिन-सी से भरपूर मौसमी फलों के सेवन करने के साथ ही कुछ घरेलू नुस्खे भी अपनाया जा सकता है। चिकित्सकों का कहना है कि घरेलू तथा रोजमर्रा की वस्तुओं का प्रयोग कर हम जहां शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा सकते हैं वहीं नीम की पत्ती, फिटकरी आदि का प्रयोग कर साफ-सफाई भी रख सकते हैं।
दिन भर में शरीर को इस प्रकार का भोजन देना चाहिए जिससे शरीर की उर्जा बनी रहे। संतुलित और विटामिन युक्त आहार का सेवन करना चाहिए। दूध में हल्दी डालकर पीने से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता काफी बढ़ जाती है- डा. प्रगति कुमार
रोटी, चावल के साथ ही हरी सब्जियों के अपने अलग-अलग गुण हैं। पौष्टिक भोजन से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। खाना खाने के कम से कम आधा घंटा बाद पानी का प्रयोग करें जिससे पाचन शक्ति ठीक रहे। - डा. तपिश
मौसमी फलों के प्रयोग से शरीर को अतिरिक्त ऊर्जा मिलती है। बासी फलों की अपेक्षा ताजा संतरा, केला, मुसम्मी, नीबू , पपीता के साथ ही हरी सब्जियों आदि का सेवन प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए काफी है- डा. शरद कुमार वर्मा
तुलसी और नीम का पत्ता, फिटकिरी, दालचीनी, अदरक, काली मिर्च आदि सेहत के लिए काफी गुणकारी है। शरीर की बैक्टीरिया को समाप्त करने के लिए इनका अलग-अलग प्रकार से प्रयोग किया जाना चाहिए - डा. वीरभद्र मिश्र
... और पढ़ें

खरीददारी के लिए दुकानों पर भीड़ न लगाएं

कासिमाबाद। जिलाधिकारी ओमप्रकाश आर्य एवं पुलिस अधीक्षक डा. ओमप्रकाश सिंह ने तहसील के विभिन्न क्षेत्रों में भ्रमण कर लोगों से जिले में लागू लॉकडाउन को सफल बनाते हुए घरों में ही रहने की अपील की। अधिकारी रौजा होते हुए कठवामोड़ पहुंचे। वहां से कासिमाबाद कस्बा, धरवारकला एवं अन्य क्षेत्रों में लॉकडाउन का पालन होने की उपजिलाधिकारी से जानकारी ली तथा स्थलीय निरीक्षण किया। उन्होंने जनता से अपील किया कि लोग घरों में बने रहे तथा किराना, सब्जियों एवं रोजमर्रा की वस्तुओं की खरीददारी के लिए दुकानों पर दो से अधिक व्यक्तियों की संख्या में भीड़ न लगाएं। मौके पर उपजिलाधिकारी कासिमाबाद रमेश मौर्या, तहसीलदार कासिमाबाद एवं पुलिस बल उपस्थित थे। ... और पढ़ें

.. तो फेल हो जाएगा लाकडाउन का मकसद

मुहम्मदाबाद। स्थानीय नगर में शनिवार को सामान खरीदने की छूट के दौरान लॉकडाउन पूरी तरह से तार-तार हो गया। नगर में सरकार की तरफ से लाकडाउन के दौरान लोगों को घरों से बाहर नहीं निकलने और प्रशासन द्वारा पुलिस की देखरेख में आवश्यक वस्तुओं एवं सब्जी ठेले पर डोर-टू-डोर पहुंचाने की घोषणा नगर में कहीं दिखाई नहीं दिया। इसका नतीजा यह हुआ कि प्रशासन की ओर से यूसुफपुर बाजार में सुबह सात से 11 बजे तक फुटकर दुकानदारों द्वारा खरीदने के लिए सब्जी की थोक मंडी लगने के दौरान बाजार की सभी दुकानें सामान्य दिनों की तरह खुलीं। किराना, चूड़ी, जूता चप्पल तक की दुकानें खुली और लोगों की दुकानों में काफी भीड़ लगी। लॉकडाउन की धज्जियां उड़ गईं और पुलिस प्रशासन मूकदर्शक बना रहा। बाजार में लगी भीड़ को देखकर लोग कहते सुने गए कि इस तरह से लोगों को छूट दी जाएगी तो कुछ लोगों की गलती का खामियाजा सबको भुगतना पड़ेगा और लॉकडाउन का मकसद पूरी तरह से फेल हो जाएगा। ... और पढ़ें

चौथे दिन हुई मां कूष्मांडा की आराधना

गाजीपुर। चैत्र नवरात्र के चौथे दिन शनिवार को शहर सहित ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों ने घरों में मां कूष्मांडा की आराधना की। घरों में श्रद्धालुओं द्वारा किए जा रहे पूजन-अर्चन की आवाज बाहर तक सुनाई देती रही। कोरोना वायरस की वजह से देवी मंदिरों का कपाट बंद होने से सन्नाटा पसरा रहा।
इस वर्ष कोरोना वायरस की वजह से लाकडाउन होने से जिले के मां कामाख्या धाम, रेवतीपुर स्थित मां भगवती, करीमुद्दीनपुर स्थित कष्टहरणी भवानी, मुहम्मदाबाद तहसील स्थित मनोकामना देवी, अमवा की सती मइया, सैदपुर स्थित मां काली मंदिर, देवकली के चकेरी धाम स्थित दुर्गा मंदिर, शादियाबाद स्थित टड़वा भवानी, बहादुरगंज स्थित मां चंडी, दिलदारनगर स्टेशन स्थित सायर माता सहित अन्य प्रसिद्ध देवी मंदिरों का कपाट बंद है। इससे श्रद्धालुओं को निराशा हुई है। श्रद्धालु सुबह शाम घरों में ही मां दुर्गा के पूजन-अर्चन का कार्य कर रहे हैं। घरों से देवी के पूजन-अर्चन की आवाज सुनाई दे रही है। दुल्लहपुर, मरदह, बिरनो, जंगीपुर, सादात, भीमापार, खानपुर, औड़िहार, सैदपुर, देवकली, नंदगंज, करंडा, बहरियाबाद, शादियाबाद, जखनिया, गहमर, सेवराई, रेवतीपुर, सुहवल, दिलदारनगर, जमानिया, मतसा, कासिमाबाद, मुहम्मदाबाद, भांवरकोल, सिधागरघाट, बहादुरगंज, कठवामोड़ संवाददाता के अनुसार चौथे दिन भी लोगों ने घरों में मां दुर्गा का पूजन-अर्चन किया।
... और पढ़ें

कोरोना: तीनों भरती मरीजों की रिपोर्ट निगेटिव

गाजीपुर। कोरोना वायरस को लेकर जिले में पूरी तरह से सतर्कता बरती जा रही है। विदेशों और देश के विभिन्न राज्यों से आए करीब 12 हजार लोगों की स्क्रीनिंग और प्रथम चरण की जांच का काम करीब-करीब पूरा हो गया है। सभी को जरूरी एहतियात बरतने को कहा जा रहा है। इधर, जिला अस्पताल के कोरोना वार्ड में आए तीनों संदिग्ध मरीजों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। एक को छोड़ कर, दो को देर रात तक घर भेज दिए जाने की संभावना है। इसके एक दिन पहले यहां से आठ को घर भेजा गया था। इस समय अस्पताल में एक भी मरीज नही हैं। जिले में करीब 42 संदिग्ध मरीज हैं, जिनकी निगरानी चल रही है।
कोरोना के कहर और लॉकडाउन के बाद विदेशों तथा देश के विभिन्न राज्यों से जिले में आए करीब 12 हजार लोगों की जांच के प्रथम चरण का काम पूरा कर लिया गया है। इसके लिए शहर तथा ब्लाक स्तर पर स्वास्थ्य विभाग की 19 टीमें बनाई गई हैं, जो घर-घर जाकर जांच कर रही है। ऐसे करीब दो हजार व्यक्तियों की जिला अस्पताल में भी स्क्रीनिंग की जा चुकी है। इसमें लोग कोरोना प्रभावित देशों कुवैत, ईरान, सिंगापुर, थाईलैंड, सऊदी अरब, दुबई के अलावा देश के मुंबई, सूरत, चेन्नई, कोलकाता, पटना आदि हिस्सों से आए थे। इनसे परिवार तथा गांव के अन्य लोगों को भी संक्रमण का खतरा था। अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. उमेश कुमार ने बताया कि गांव-गांव स्तर पर कंट्रोल रूम के नंबरों की सूचना दे दी गई है। काल करने पर तुरंत टीम मौके पर पहुंच जाएगी।
जिला अस्पताल में बना 12 बेड का नया आइसोलेशन वार्ड
गाजीपुर। जिला अस्पताल में 10 बेड का एक कोरोना वार्ड तो था ही अभी गंभीर स्थिति को देखते हुए 12 बेड का एक और अइसोलेशन वार्ड बना दिया गया है। इसके अलावा, जिले के 15 निजी अस्पतालों को भी हाई अलर्ट किया गया है। इनमें कोरोना के लिए अलग से वार्ड बनाए रखने तथा औषधि का स्टाक बनाए रखने का निर्देश दे दिया गया है। अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा. प्रगति कुशवाहा ने बताया कि कोरोना के लक्षण या संदिग्ध स्थिति को देखते हुए जिले के संजीवनी हास्पिटल, आस्था हास्पिटल, नर्सिंग होम प्रकाशनगर, मां राधिका देवी चिकित्सालय रौजा, सिंह हास्पिटल, धनरावती हास्पिटल जखनियां, वर्ल्डग्रीन हास्पिटल सैदपुर, अमन सर्जिकल सेंटर प्रकाश नगर, लाइफ लाइन आमघाट सहकारी कालोनी, शम्मे हुसैनी हास्पिटल, चंद्र ललित हास्पिटल, राज नर्सिंग होम बड़ीबाग, आरएस हास्पिटल देवा आदि में संपर्क किया जा सकता है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं
DIWALI COOPAN
CHHAT COOPAN

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us