विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा
Astrology Services

नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Coronavirus In Uttar Pradesh Live: नोएडा में चार और संक्रमित मरीज मिले, यूपी में संख्या बढ़कर हुई 70

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस का कहर देश में लगातार बढ़ता जा रहा है। रविवार को कोरोना से जम्मू-कश्मीर और गुजरात में एक-एक लोगों की मौत हो गई। वहीं, यूपी में भी लगातार संक्रमिता का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है।

29 मार्च 2020

विज्ञापन

Sp baghpat said

28 मार्च 2020

विज्ञापन

हमीरपुर

रविवार, 29 मार्च 2020

घर-घर सब्जी और राशन पहुंचाने की तैयारी, 25 वार्डों में 50 ट्रैक्टर-ट्राली से की जाएगी आपूर्ति

मौदहा। लॉकडाउन से हो रही परेशानियों को देखते हुए प्रशासन ने घर-घर सब्जी और राशन पहुंचाने की तैयारी की है। इसके लिए 50 ट्रैक्टर-ट्राली की व्यवस्था की गई है। वहीं बुधवार को कुछ लोग बेवजह सड़कों पर निकले तो उपजिलाधिकारी अजीत परेश व सीओ सौम्या पांडेय ने एक दर्जन से अधिक बाइक सवारों को पकड़ा। अधिकारियों ने चेतावनी दी कि आगे कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
एसडीएम ने बताया नगर क्षेत्र के 25 वार्डों में सब्जी की आपूर्ति के लिए 50 ट्रैक्टर-ट्राली की व्यवस्था की है। प्रत्येक वार्ड में दो-दो ट्राली सब्जियां भेजी जाएगी। कहा अनाज की पूर्ति की तैयारी शुरू कर दी है। कोटेदारों के माध्यम से घरों तक राशन पहुंचाने की व्यवस्था शुक्रवार तक अमल में लाई जाएगी। उन्होंने कहा लॉकडाउन के चलते कोई भी व्यक्ति चाहे किसान हो या मजदूर घरों से बाहर नहीं जाएंगे। अति आवश्यक कार्य से ही लोग घरों से बाहर निकलेंगे। खेतीबाड़ी का कार्य भी नहीं किया जाएगा। फसलें बर्बाद होने से बड़ी चीज है जीवन की रक्षा।
बर्बाद फसलों का सरकार स्वयं आंकलन कर रही है। राठ प्रतिनिधि के अनुसार लॉकडाउन में खरीदारी को लेकर होने वाली भीड़भाड़ को रोकने के लिए शुक्रवार से संपूर्ण लॉकडाउन लागू किया जा रहा है। जिसमें सिर्फ दवा की दुकानें खुलीं रहेंगीं। एसडीएम अशोक कुमार कहा 27 मार्च से 14 अप्रैल तक पूरी तरह से लॉकडाउन है। सब्जी व राशन की दुकानें भी बंद रहेंगी। आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति के लिए सुबह 8 बजे से 11 बजे तक घर-घर पहुंचाने की व्यवस्था है।
कोरोना से बचाव को सांसद ने दिए 81 लाख
हमीरपुर। कोरोना जैसी महामारी से बचाव को सांसद पुष्पेंद्र सिंह चंदेल ने इमरजेंसी वार्ड बढ़ाने और ब्लड की जांचों के लिए सांसद निधि से 81 लाख रुपये की धनराशि दी है। निधि से संसदीय क्षेत्र के हमीरपुर एवं महोबा जिलों को तीस-तीस लाख व तिंदवारी विधानसभा क्षेत्र के लिए 21 लाख रुपये की धनराशि दी है। इससे इमरजेंसी वार्ड बढ़ाने, वार्डों की मरम्मत, नए वार्डों के निर्माण तथा अन्य चिकित्सीय कार्य कराए जाएंगे। सीडीओ आरके सिंह ने कहा जैसे ही सांसद निधि से धनराशि के अवमुक्त करने का पत्र मिलेगा तत्काल कार्रवाई की जाएगी।
पुलिस ने भूखे गरीबों को दिया राशन
हमीरपुर। मौदहा क्षेत्र के फत्तेपुर और शिवपुरी में टेंट के नीचे डेरा डाले बाहर से आए मजदूर भूखे-प्यासे बैठे रहे। इनमें कई छोटे बच्चे हैं। इस मामले की सूचना कोतवाल आरसी त्रिपाठी को जैसे ही मिली। उन्होंने तत्काल उपनिरीक्षक देवीदीन को पत्र भेजकर मदद करने को कहा। सिपाहियों को लेकर मदद को पहुंचे दरोगा ने स्थानीय लोगों की मदद से राशन खरीदकर सामग्री मुहैया कराई। वहीं सदर कोतवाली पुलिस ने दिल्ली से आए भूखे 34 मजदूरों को खाना दिया।
... और पढ़ें

लापता युवक का घर के पास मिला शव, परिजनों ने हत्या कर शव फेंकने की जताई आशंका

राठ। मंगलवार रात दोस्तों के साथ घर में पार्टी करने के बाद गायब हुए युवक का शव गुरुवार सुबह घर के बाहर सड़क पर मिला। सूचना पर पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है। युवक के पिता ने अपहरण के बाद हत्या कर शव फेंकने का आरोप लगाया है।
कोतवाली क्षेत्र के बड़ा सरसई गांव निवासी अमर सिंह ने बताया उसके चचेरे भाई रमेश कुशवाहा (21) पुत्र दुलीचंद्र ने 24 मार्च की रात अपने कुछ दोस्तों के साथ पार्टी की थी। पार्टी के बाद ही वह लापता हो गया था। जब देर रात तक उसका पता नहीं चला तो परिजनों ने तलाश शुरू की। बुधवार शाम उसके पिता ने गुमशुदगी की सूचना दी।
उसके अगले दिन गुरुवार तड़के रमेश का शव घर के सामने पड़ा मिला। शव नीला पड़ा था, परिजनों ने करंट लगाकर हत्या की आशंका जताई है। रमेश के पिता कंधीलाल का आरोप है कि पुत्र की हत्या के बाद शव को घर के पास फेंका गया है। रमेश तीन भाइयों में दूसरे नंबर का था। उनके नाम करीब 18 बीघा कृषि भूमि है। रमेश खेती में हाथ बंटाने लगा था।
रमेश का छोटा भाई अमरचंद्र पढ़ाई कर रहा है। युवक का शव मिलने से परिवार में कोहराम मचा है। कोतवाल मनोज शुक्ला ने कहा युवक की करंट लगने से मौत हुई है। शव का पोस्टमार्टम कराया जाएगा। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर मौत की वजह स्पष्ट होगी। तहरीर मिलने पर मुकदमा दर्ज किया जाएगा।
मृतक रमेश कुशवाहा की फाइल फोटो।
मृतक रमेश कुशवाहा की फाइल फोटो।- फोटो : HAMIRPUR
... और पढ़ें

एंबुलेंस न मिलने पर सड़क किनारे लेटी रही मरीज महिला

हमीरपुर। इलाज कराने आई महिला को एंबुलेंस नहीं मिली। बेहोशी की हालत में वह सड़क किनारे लेटी रही। जानकारी होने पर सीएमओ ने एंबुलेंस आने पर मरीजों को घर भेजने की बात कही।
ललपुरा के कुम्हुपुर निवासी घनश्याम ने बताया उसकी पत्नी रश्मी की हालत ठीक न होने पर 108 एंबुलेंस से सदर अस्पताल आए थे। वापस जाने से एंबुलेंस कर्मियों ने मना कर दिया। जिस पर वह पत्नी व पुत्री को लेकर बीएसए कार्यालय के बाहर बैठ गया।
हालत गंभीर होने पर वह सड़क किनारे गिर गई। उसने 102 एंबुलेंस सेवा को फोन किया, लेकिन मदद नहीं मिली। सीएमओ डा. आरके सचान ने कहा मामले की जानकारी है। एंबुलेंस प्रभारी को सूचित कर दिया है। एंबुलेंस आने पर मरीज को घर भेजा जाएगा।
दो संदिग्धों को भेजा सदर अस्पताल
मौदहा। बाहर से आए लोगों की जानकारी स्वास्थ्य विभाग व पुलिस को दी जा रही है। गुरुवार को दो संदिग्ध युवकों को जांच के लिए सदर अस्पताल भेजा गया है। अधिशासी अधिकारी राजेश वर्मा ने बताया ऐसे लोगों की सूची बनाई गई है, जो कुछ दिनों में बहार से आए हैं। सीएचसी अधीक्षक डा. अनिल सचान ने बताया एक युवक सऊदी अरब से आया था। जबकि दूसरा हाल ही में मुंबई से आया है। बीमारी होने के लक्षण मिले तो इलाज होगा।
... और पढ़ें

हत्याकांड का आज खुलेगा राज

भरुआसुमेरपुर। रेलवे स्टेशन के समीप बंधी के अंदर निजी नलकूप में हुई हत्या का खुलासा रविवार को होगा। हत्या से जुड़े कुछ अहम सुराग पुलिस के हाथ लगे हैं।
22 मार्च को सेवानिवृत्त पुलिस कर्मी रणविजय सिंह के निजी नलकूप में एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। रणविजय सिंह की सूचना पर एसपी श्लोक कुमार पहुंचे थे। थानाध्यक्ष श्रीप्रकाश यादव को हत्या के खुलासे के लिए दिशा निर्देश दिए थे।
पुलिस ने नलकूप मालिक सहित कई लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में रखा था, लेकिन इस हत्याकांड का कोई सुराग नहीं लगा था। पुलिस लगातार इस हत्याकांड की गुत्थी सुलझाने में लगी रही।
पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार अब पुलिस इस हत्याकांड के खुलासे के करीब पहुंच गई है। पुलिस को कुछ सुराग हाथ लगे हैं। सूत्रों का कहना है कि इस हत्याकांड का खुलासा रविवार को किया जा सकता है।
... और पढ़ें

परदेसियों की मदद को बढ़े हाथ, खिला रहे खाना, अस्पतालों में करा रहे जांच

हमीरपुर। पौथिया में दूसरे प्रदेशों से चलकर पैदल घरों को जा रहे मजदूरों को ललपुरा एसओ रीता सिंह, दरोगा दिलीप कुमार, प्रधान आनंद अशोक सचान, रामलखन के सहयोग से खाना खिलाया गया। उधर कोतवाल श्याम प्रताप पटेल ने मजदूरों व असहायों को खाना खिलाया।
मौदहा प्रतिनिधि के अनुसार नोएडा से पैदल चलकर महोबा के तगारी जा रहे दो युवक सुनील व धीरज की सीएचसी में जांच कराई गई। ये दोनों कुछ यात्रा बस से करने के बाद पैदल चल रहे हैं। उधर यमुना पुल पार कानपुर नगर में निर्माणाधीन पावर प्लांट में काम बंद होने से 13 मजदूर अपने घर मैहर, सतना के लिए पैदल चल दिए।
भैसमरी प्रधान जीपी वाजपेयी ने उन्हें बिस्कुट व नमकीन के पैकेट देकर रवाना किया। सरीला प्रतिनिधि के अनुसार जरिया पुलिस ने फरीदाबाद से पैदल चलकर गांव जा रहे एक दर्जन लोगों को थाने में भोजन कराया।
रविदास मंदिर समिति ने की मदद
राठ। पड़ाव चौराहा स्थित रविदास मंदिर धर्मशाला में सिद्धार्थनगर के पांच मजदूर फंसे
हैं। जिनके पास राशन नहीं है। इसकी जानकारी होने पर शनिवार को जिला रविदास कमेटी के संरक्षक डॉ. महेश प्रताप, पूर्व विधायक डॉ. अंबेश कुमारी ने मजदूरों को राशन, सब्जी आदि उपलब्ध कराई। कहा लॉकडाउन में खाने पीने का पूरा प्रबंध किया जाएगा। संवाद
पुलिस ने उपलब्ध कराई राशन सामग्री
हमीरपुर। जलालपुर के कुपरा निवासी रमेश कुमार ने डीआईजी दीपक कुमार के ट्वीटर पर पोस्ट कर कहा कि वह गुजरात में है। लॉकडाउन की वजह से घर नहीं आ सका। उसके घर में राशन नहीं है और उसकी मां रमादेवी बीमार हैं। इस पर डीआईजी ने रमेश को आश्वस्त कर व्यवस्था कराने की बात कही। डीआईजी ने पूरे प्रकरण से एसपी श्लोक कुमार को अवगत कराया।
जिस पर जलालपुर एसओ विनोद कुमीार राय रमेश के घर पहुंचे और जरूरत के हिसाब से सब्जी व अन्य खाद्य वस्तुएं उपलब्ध कराई। वहीं भरुआसुमेरपुर में भूखे प्यासे पैदल आने वाले राहगीरों को समाजसेवियों व पुलिस ने भोजन कराया। पूर्व सभासद सुनील मिश्रा ने हाईवे पर राहगीरों को लंच पैकेट वितरित किए। उद्योग नगरी पुलिस चौकी में एसओ श्रीप्रकाश यादव ने राहगीरों को भोजन कराया। उधर विकासखंड क्षेत्र के टेढ़ा गांव के प्रधान प्रतिनिधि सौरभ सिंह ने ग्रामीणों को कोरोना के प्रति जागरूक कर असहाय, गरीबों की आर्थिक सहायता की।
उधर, राठ प्रतिनिधि के अनुसार लॉकडाउन में गरीबों की मदद को व्यापार मंडल सामने आया है। शनिवार को वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से हुई बैठक की अध्यक्षता जिलाध्यक्ष केजी अग्रवाल ने की। जिसमें तय हुआ जिले में जितने परिवारों को खाने पीने की समस्या होगी उन्हें व्यापार मंडल प्रशासन की मदद से राहत सामग्री उपलब्ध कराएगा।
राठ मार्ग पर पैदल जाते मजदूर।
राठ मार्ग पर पैदल जाते मजदूर।- फोटो : HAMIRPUR
पैदल जा रहे मजदूरों को भोजन देती ललपुरा थानाध्यक्ष रीता सिंह।
पैदल जा रहे मजदूरों को भोजन देती ललपुरा थानाध्यक्ष रीता सिंह।- फोटो : HAMIRPUR
... और पढ़ें

कहीं सब्जियों के लाले, कहीं सड़ने की नौबत, सब्जी बेचने बाहर नहीं ले जा पा रहे किसान

हमीरपुर। लॉकडाउन के दौरान जिले में अधिकांश जगह सब्जियों के लाले पड़े हैं। वहीं बेतवा और यमुना नदियों के किनारे बारी में लगी सब्जियों उठान न होने से सड़ने की कगार पर पहुंच रहीं हैं। इससे उठान न होने से सैकड़ों किसान बेहद परेशान हैं। बारियों के पास करेला, लौकी, टमाटर, कद्दू, ककड़ी, खीरा, भिंड़ी जैसी सब्जियां डंप हैं। सब्जी की बारी लगाए भेड़ी निवासी गुलशन निषाद ने बताया तीन दिन से करीब 30 क्विंटल सब्जी तोड़कर रखी है। मंडियों में ले जाने के लिए कोई साधन नहीं मिल रहा है। जिससे सब्जियां खराब हो रहीं हैं।
गुलशन ने बताया बाजार में करेला 40 रुपये प्रति किलो बिक जाता था, लेकिन लॉकडाउन के चलते उसका सारा धंधा चौपट है। गुलशन जैसे सैकड़ों किसान इन दिनों बेतवा और यमुना नदी के किनारे हजारों बीघे रेत में सब्जी की बारी लगाए हैं।
जिनकी तैयार सब्जी निकलकर शहरों में नहीं पहुंच पा रहे हैं। किसानों ने बताया सब्जी का काम तीन महीने गर्मियों में करते हैं। इसी से पूरे परिवार का भरण पोषण होता है। सब्जी के बाहर न जा पाने से पीली पड़ रही है। बताया सरकार को इस ओर भी ध्यान देना चाहिए। बड़े शहरों में सब्जी पहुंचने से भाव भी कंट्रोल में रहेंगे, वहीं उनका व्यवसाय भी चलता रहेगा।
इस मामले में अपर जिलाधिकारी विनय प्रकाश श्रीवास्तव ने बताया इस काम की जिम्मेदारी डीएसओ को दी गई है। जिस किसी को सब्जी बेचना है वह उन्हीं से संपर्क करें, साधन की व्यवस्था कराई जाएगी। किसी किसान का नुकसान नहीं होने दिया जाएगा। वहीं बाजार में सब्जी पहुुंचने से लोगों को भी राहत मिलेगी।
हमीरपुर में बारी के पास पैक रखी हरी सब्जियां।
हमीरपुर में बारी के पास पैक रखी हरी सब्जियां। - फोटो : HAMIRPUR
हमीरपुर में बेतवा नदी किनारे बारी में लगा कद्दू का ढेर।
हमीरपुर में बेतवा नदी किनारे बारी में लगा कद्दू का ढेर।- फोटो : HAMIRPUR
... और पढ़ें

पाइप लाइन फटी, मकान में घुसा पानी

हमीरपुर। पेयजल की मेन लाइन ध्वस्त होने से एक मकान में पानी भर गया। वहीं आधे से अधिक शहर के लोगों को गंदा पानी छानकर पीना पड़ा। रहुनियां धर्मशाला निवासी कालीदीन गुप्ता के मकान के सामने सड़क किनारे पेयजल की मुख्य लाइन क्षतिग्रस्त हो गई।
जिससे श्यामजी अवस्थी के मकान में पानी भर गया। पानी के सीलन से उनकी कच्ची दीवार दरक गई। हुआ यह कि शनिवार सुबह करीब नौ बजे जल संस्थान की टीम ने जेसीबी से खुदाई की थी। जिससे बिजली का केबल कटते बची। बाद में बिजली आपूर्ति बंद कराकर मजदूरों से खुदाई शुरू कराई गई। पाइप लाइन कटने से आधे शहर में पेयजल के लिए लोगों ने हैंडपंपों का सहारा लिया।
... और पढ़ें

हैलो..पुलिस कंट्रोल रूम, मेरे पास पैसे नहीं हैं, परिवार भूखा है, हरकत में आई पुलिस, घर पहुंचाया राशन

पाइप लाइन लीकेज से घर में भरा पानी।
हैलो...पुलिस कंट्रोल रूम। मैं एक दुकान पर काम करता था। जहां से प्रतिदिन मिलने वाली मजदूरी से परिवार का भरण पोषण होता था। लॉकडाउन के चलते दुकान बंद होने पर अब पेट भरना मुश्किल हो रहा है। पूरा परिवार भूखा है। हमीरपुर जिले में यूपी 112 में जब ये सूचना मिली तो पुलिस तुरंत हरकत में आई।

कोतवाल मनोज शुक्ला के निर्देशन में थाना राठ व यूपी 112 के कर्मचारियों ने अपने स्तर से राशन की व्यवस्था की। कोतवाली के कांस्टेबल उमाशंकर शुक्ला व अंशुल ने गुलाब नगर मोहल्ला निवासी सुखदेव सोनी के घर पहुंच कर राशन उपलब्ध कराया। साथ ही आश्वासन दिया कि अगर दोबारा जरूरत पड़े तो बेफिक्र होकर कॉल कर लेना। पुलिस प्रशासन आपके साथ है। यह सुनकर पूरा परिवार आश्वस्त हुआ। 
 
... और पढ़ें

गरीब परिवारों की मदद को बढ़े हाथ

हमीरपुर। लॉकडाउन में फंसे तमाम परिवारों और राहगीरों को शुक्रवार को समाजसेवियों और पुलिस ने हाथ बढ़ाए हैं। बाहरी राज्यों से आए ट्रक चालकों और खलासी को भी पुलिस ने भरपेट भोजन खिलाकर मानवता की मिसाल पेश की है। उधर बाहरी जनपदों से आए मजदूरों को होटल खुलवाकर प्रशासन ने भोजन कराकर वाहनों से घर पहुंचाया।
लॉकडाउन के बीच शहर स्थित चौरादेवी मंदिर में प्रदर्शनी के कार्यकर्ता पिछले तीन दिनों से फंसे हैं। इनके पास खाने पीने का इंतजाम न होने पर गुरुवार को सागर गुप्ता ने सोशल मीडिया में मदद मांगी। सोशल मीडिया में जानकारी होने पर सिपाही गौरव भदौरिया, नगर व्यापार मंडल के अध्यक्ष धीरू गुप्ता, मकबूल साबरी, अमित त्रिपाठी व रजुवन दीक्षित ने शुक्रवार को एक दर्जन लोगों को राशन सामग्री का इंतजाम कराया। सभी लोगों को सैनिटाइजर भी दिया गया। उधर सुमेरपुर थाने के इंस्पेक्टर श्रीप्रकाश यादव ने बाहरी राज्यों से आए तीन दिनों से फंसे ट्रक चालकों और उनके परिचालकों (खलासी) को फैक्टरी एरिया चौकी पर आपस में चंदा कर भोजन सामग्री उपलब्ध कराई। भोजन के पैकेट पाते ही यह लोग पुलिस जिंदाबाद के नारे लगाते रहे। इधर तमाम मजदूरों को भी स्थानीय लोगों ने चंदा कर राशन सामग्री दी है।
... और पढ़ें

लॉकडाउन का उल्लंघन पर सात के खिलाफ मुकदमा

हमीरपुर। लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर शहर कोतवाली में आठ तो मौदहा में सात लोगों के खिलाफ अलग अलग मुकदमे दर्ज किए गए हैं। कोतवाल श्यामप्रताप पटेल ने बताया कि लोगों को समझाने के बाद भी मान नहीं रहे हैं। जिसके चलते आठ युवकों पर दो अलग अलग उल्लंघन के मुकदमे दर्ज किए गए है। उन्होंने लोगों से लॉकडाउन का पालन कर घरों में ही रहने की अपील की है। मौदहा प्रतिनिधि के अनुसार गुरुवार की देर शाम डीएम व एसपी मुख्य मार्गों पर भ्रमण कर पुलिस को सख्ती से लॉकडाउन लागू करने के निर्देश दिए। जिसके चलते शुक्रवार को पुलिस ने सात युवकों का धारा 144 के उल्लंघन के मामले में गिरफ्तार कर 188 के तहत मामला दर्ज किया है। इनमें गणेश प्रसाद, फहीम, नोखे लाल, शिवलाल, जितेंद्र सिंह, धर्मेंद्र सिंह व बौरा हैं। कोतवाल राजेशचंद्र त्रिपाठी ने बताया कि लगातार दो दिन से लोगों को समझाया जा रहा है। लेकिन लोग लॉकडाउन का उल्लंघन कर रहे हैं। जिसके चलते यह कार्रवाई की गई।
वहीं, गुरुवार को देर शाम नियमों का उल्लंघन कर जनरल स्टोर खोलने पर पुलिस ने दुकानदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। कस्बा इंचार्ज सतीश कुमार की ओर से पंजीकृत कराए गए मुकदमे में बताया गया कि कस्बे के मैथिलीशरण गुप्त मार्ग में दुकानदार सत्यनारायण गुप्ता प्रशासन द्वारा तय किए गए समय के बाद भी दुकान खोल कर सामान की बिक्री कर रहा था। नियमों का उल्लंघन करने पर पुलिस ने दुकानदार के खिलाफ आईपीसी की धारा 188 के तहत अभियोग पंजीकृत किया है। पुलिस की इस कार्रवाई से दुकानदारों में हड़कंप मच गया है और ज्यादातर दुकानदार समय अवधि खत्म होने के पूर्व भी दुकानों के शटर गिराने लगे हैं।
... और पढ़ें

कोरोना वायरस से न घबराएं, खुद बचें औरों को बचाएं: सीएमओ

हमीरपुर। कोरोना वायरस से लोगों को बचाने और इस मुश्किल दौर से हर किसी को उबारने के लिए शासन प्रशासन द्वारा हरसंभव प्रयास जारी हैं। डाक्टरों द्वारा भी बताया जा रहा है कि कोरोना का कोई मुकम्मल इलाज अभी नहीं है। इसलिए हर किसी को बेहद सावधानी बरतने की जरूरत है। सावधानी बरतकर ही कोरोना को मात दी जा सकती है।
सीएमओ डा.आरके सचान ने कहा कि कोरोना को लेकर हमें तीन महत्वपूर्ण बिंदुओं पर फोकस करना है। पहला यदि आप विदेश से लौटे हैं, दूसरा यदि आप दूसरे राज्य या शहर से गांव लौटे हैं और तीसरा यदि आप सामान्य नागरिक हैं तो क्या जरूरी सावधानी बरतनी है। बताया कि वैश्विक महामारी कोरोना के दौरान विदेश से आने वालों को बताया जा रहा है कि आप घबराएं नहीं। 14 दिनों तक घर के एक अलग कमरे में परिवार वालों से दूर रहें। इस तरह से आप अपने साथ परिवार वालों को भी कोरोना से बचा सकते हैं। जिस कमरे में रह रहे हैं उसमें एक लीटर पानी में 30 ग्राम ब्लीचिंग पाउडर मिलाकर पोंछा लगाएं। इस दौरान परिवार वालों के साथ ही किसी अन्य से भी हाथ मिलाने और गले मिलने से बचें। विदेश से लौटने के 28 दिनों के भीतर यदि खांसी, बुखार या सांस लेने में तकलीफ जैसे कोई भी लक्षण दिखें तो तत्काल स्वास्थ्य विभाग के टोल फ्री नंबर-1800 180 5145 अथवा मुख्य चिकित्साधिकारी कार्यालय के नंबर 05282-225491 पर संपर्क करें। इस आपात स्थिति में दूसरे राज्यों और शहरों से लौटने वालों को भी यही सलाह दी जा रही है कि वह 14 दिन तक अपने परिवार के साथ घर पर ही रहें। धार्मिक स्थल, आयोजन, शादी व सामाजिक समारोह में कतई न जाएं। बुखार और खांसी होने पर केवल पैरासीटामाल लें और घर पर आराम करें।
... और पढ़ें

मंडलायुक्त व डीआईजी ने लॉकडाउन का लिया जायजा

अज्ञात वृद्ध की शव फेंके जाने से मची सनसनी

बिवांर। पिछले गुरुवार की शाम महेरा और खड़ेहीलोधन के गांव के हार में एक वृद्ध की हत्या कर शव खेत में फेंक दिया गया। अपन खेत गए किसान ने शव पड़े होने की सूचना पर पुलिस पहुंची। शव की पहचान कराने को आसपास के गांवों में प्रयास किया। लेकिन वृद्ध की पहचान न होने पर पुलिस ने शव को सदर अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया है। घटना की सूचना पर अपर पुलिस अधीक्षक एसके सिंह व सीओ मौदहा सौम्या पांडेय ने भी घटना स्थल का निरीक्षण किया।
गुरुवार शाम करीब साढ़े सात बजे थानाक्षेत्र के महेरा व खड़ेही लोधन गांवों के बीच नहरिया के पास करीब 65 वर्षीय अज्ञात वृद्ध का शव मिलने से सनसनी फैल गई। शरीर पर सफेद धोती-कुर्ता व पीली सदरी था। किसी ने उसकी धारदार हथियार से कहीं बाहर हत्या कर शव को महेरा निवासी कामता निषाद के खेत में फेंक दिया। फसल कटाई करने गए लोगों ने शव को पड़ा होने की सूचना पर आसपास के ग्रामीण घटनास्थल पर पहुंच गए। इसके बाद खड़ेहीलोधन प्रधान ने थानाध्यक्ष राजेश कुमार वर्मा को शव पड़े होने की सूचना दी। थानाध्यक्ष ने बताया कि शिनाख्त के लिए आसपास के गांवों में संपर्क किया जा रहा है। बताया कि राठ मार्ग से कुछ दूर महेरा की ओर नहर के किनारे कहीं बाहर वृद्ध की हत्या कर शव फेंका गया है। कहा कि वाहन के निशान भी मिले हैं। शव की शिनाख्त कराए जाने के लिए सदर अस्पताल के मोर्चरी हाउस में शव रखवाया गया है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us