विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
एक माह तक वृंदावन बिहारी जी मंदिर में कराएं चन्दन तुलसी इत्र सेवा , मिलेगा नौकरी व व्यापार से जुड़े समस्याओं का समाधान
Puja

एक माह तक वृंदावन बिहारी जी मंदिर में कराएं चन्दन तुलसी इत्र सेवा , मिलेगा नौकरी व व्यापार से जुड़े समस्याओं का समाधान

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

सद्भाव के साथ घरों में रहकर मनाई ईद, फोन पर दी बधाई

सद्भाव के साथ घरों में रहकर मनाई ईद, फोन पर दी बधाई
हापुड़। ईद-उल-फितर का पर्व सोमवार को जिले में घरों में रहकर ही सद्भाव और परंपरागत ढंग से मनाया गया। ईदगाह और मस्जिदें सूनी रही। लोगों ने घरों में रहकर ही मुल्क में अमनो अमान की दुआ की। लोगों ने फोन पर ही एक दूसरे को ईद की बधाई दी।
लॉकडाउन के चलते ईद- उल- फितर पर पुलिस और जिला प्रशासन द्वारा को सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गए थे। सुबह सवेरे से ही ईद की नमाज अदा करने को लेकर मुस्लिम समुदाय के लोगों में उत्साह बना हुआ था। लेकिन ईदगाह पूरी तरह से सूनी रही। इस दौरान यहां पुलिस बल तैनात रहा।
नियमों का उल्लंघन न हो इसके लिए डीएम अदिति सिंह, एसपी संजीव सुमन व अन्य अधिकारियों के साथ जदीद पुलिस चौकी पर पहुंच गए। यहां मौजूद अधिकारियों ने धर्म गुरुओं से घरों में रहकर ही नमाज करने की अपील की। जिसका असर भी दिखायी दिया। लोगों ने घरों ने में रहकर ही ईद की नमाज पढ़ी और फोन पर एक दूसरे को ईद की मुबारकबाद दी। लॉकडाउन का पालन कराने के लिए सड़कों पर पुलिस मुस्तैद रही। बुलंदशहर रोड पर विशेष रूप से सतर्कता बरती गयी।
सुरक्षा के रहे पुख्ता बंदोबस्त
- ईदगाह पर सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए थे। पुलिस व पीएसी के जवान तैनात किए गए थे। एसपी संजीव सुमन ने भी सुबह के समय ईदगाह का दौरा किया। एलआईयू भी ईदगाह पर मुस्तैद रही। ईद के दिन हजारों की संख्या में भीड़ से गुलजार रहने वाली ईदगाह पूरी तरह से सूनी रही। दिन के समय भी शहर की मिश्रित आबादी वाले इलाकों में पुलिस की मोबाइल गाड़ी और लेपर्ड मोटरसाइकिलों पर सवार जवान गश्त कर रहे थे। पुलिस ने इस बात का विशेष ध्यान रखा कि लॉकडाउन का किसी भी स्थिति में उल्लंघन न होने पाए।
कोरोना से संक्रमित मुस्लिम मरीजों ने मनायी ईद
हापुड़। ईद के मुबारक त्योहार पर रविवार को जिला अस्पताल में भर्ती कोरोना से संक्रमित 21 मुस्लिम मरीजों ने नमाज अदा कर, ईद मनायी। एक दूसरे को मिठाई खिलाई। चिकित्सकों ने भी मरीजों के बीच आकर उन्हें बधाई दी। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर नमाज अदा की गई।
दस्तोई रोड स्थित जिला अस्पताल को कोविड-19 अस्पताल बनाया गया है। इस अस्पताल में 36 कोरोना संक्रमित मरीज भर्ती हैं। रविवार को देशभर में ईद का त्योहार मनाया गया। ऐसे में चिकित्सकों ने अस्पताल में भर्ती मुस्लिम मरीजों के लिए भी बेहरत व्यवस्था तैयार की।
अस्पताल परिसर में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर, मुस्लिम मरीजों ने नमाज अदा की। चिकित्सकों ने भी मरीजों को बधाई दी।
अस्पताल के टीम प्रभारी डॉ. अतुल आनंद ने बताया कि मुस्लिम मरीजों ने पारंपरिक ढंग से ईद का त्योहार मनाया। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराया गया।
... और पढ़ें

कोरोना महामारी को लेकर चार श्रेणियों में बांटे कोविड अस्पताल

कोरोना महामारी से चलते चार श्रेणियों में बांटे कोविड अस्पताल
हापुड़। कोरोना महामारी को लेकर कोविड अस्पतालों को चार श्रेणियों में बांटा गया है। मरीजों की स्थिति को देखते हुए उन्हें इन अस्पतालों में भर्ती कराया जाएगा। फिलहाल जिले के किसी मरीज में कोरोना के लक्षण देखने को नहीं मिले हैं, सिर्फ जांच में ही उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आ रही है। जिला अस्पताल में 250 बेड का कोविड वार्ड चालू कर दिया गया है।
कोरोना को लेकर जिले में तैयारियां युद्धस्तर पर पूरी कर ली गई हैं। मरीजों की स्थिति को देखते हुए चार श्रेणियों में अस्पतालों को बांटा गया है। इनमें ऐसे मरीज जो सामान्य दिख रहे हैं और उनकी रिपोर्ट निगेटिव है, उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया जाएगा। वहीं, जिनमें हल्के लक्षण हैं उन्हें लेवल वन के अस्पताल में भर्ती कराया जाएगा, हापुड़ सीएचसी को इसके लिए तैयार किया गया है। ऐसे मरीज जिनमें लक्षण हैं और वह बुजुर्ग या बच्चे हैं उन्हें लेवल टू में भर्ती कराया जाएगा, इस श्रेणी में मेडिकल कॉलेजों को रखा गया है। वहीं, जिन मरीजों की हालत खराब है, उनके लिए लेवल थ्री अस्पताल निर्धारित किए गए हैं, फिलहाल जिले में इन अस्पतालों की सुविधा नहीं है, ऐसे मरीजों को बाहर शिफ्ट किया जाएगा। राहत की बात यह है कि जिले के अंदर किसी भी मरीज में लक्षण नहीं है, सभी सामान्य मरीज हैं। इसलिए इन्हें जिला अस्पताल में ही भर्ती कराया गया है।
कोट
मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. रेखा शर्मा ने बताया कि मरीजों की स्थिति के हिसाब से अस्पतालों को श्रेणियों में बांटा गया है। फिलहाल जिले में मरीज सामान्य स्थिति वाले हैं, किसी भी मरीज ही हालत गंभीर नहीं है।
... और पढ़ें

लू का प्रकोप, हीट स्ट्रॉक को लेकर अलर्ट

लू का प्रकोप, अस्पतालों में उमड़ने लगी मरीजों की भीड़
हापुड़। गर्म हवाओं के प्रकोप से मंगलवार को झुलसा देने वाली गर्मी का एहसास हुआ। लू से हीट स्ट्रोक का खतरा काफी बढ़ गया है। जिले का अधिकतम तापमान भी 44 डिग्री दर्ज किया गया। ऐसे में लोगों को घरों से निकलने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। उधर, बदलते मौसम में मरीजों की तादात बढ़ी है। ऐसे मरीज चिकित्सकों के पास पहुंच रहे हैं।
पिछले कुछ दिनों से गर्मी से लोगों का हाल बेहाल है। मंगलवाल को जिले का तापमान 44 डिग्री तक पहुंच गया था। गर्मी ने दोपहर के समय अपना पूरा रौद्र रूप दिखाया। सुबह से ही चली भयंकर लू से लोग परेशान दिखे। चटक धूप के कारण लोगों को घरों से निकलना दूभर हो रहा था। चिकित्सकों ने ऐसे मौसम में हीट स्ट्रोक के अटैक का खतरा जताया है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने अलर्ट जारी कर दिया है। लॉकडाउन के बीच लोग गर्मी से निजात के लिए उपाय करते हुए नजर आए। इलेक्ट्रानिक्स की दुकानों पर जहां लोगों की भीड़ रही, वहीं ठंडे पानी के लिए लोग मटकों आदि की खरीददारी भी करते नजर आए।
ऐसे करें लू से बचाव
- पानी का ज्यादा से ज्यादा सेवन करें।
- हल्के ढीले सूती वस्त्र पहनें।
- धूप में जाते समय चश्मे, छाता, टोपी, जूते पहनकर ही निकलें।
- गर्मी के दिनों में ओआरएस का घोल पिएं।
ऐसा करने से बचें
- धूप में खड़ें वाहनों में बच्चों व पालतू जानवरों को न छोड़ें।
- गहरें रंग के भारी एवं तंग वस्त्र पहन्ने से बचें।
- खाना बनाते समय कमरे की खिड़की व दरवाजे खुले रखें।
- नशीले पदार्थ, शराब, अल्कोहल के सेवन से बचें।
... और पढ़ें

Delhi-NCR Live: उपराज्यपाल कार्यालय का एक कर्मी संक्रमित, गौतमबुद्धनगर में चार पॉजिटिव

विदेश से लौटे भारतीय नागरिकों का सात दिन का क्वारंटीन शुल्क होगा वापस  
विदेश से दिल्ली पहुंचने वाले जो भारतीय सशुल्क क्वारंटीन सुविधा का इस्तेमाल कर रहे हैं, उनका सात दिन का शुल्क वापस करवाया जाए। यह आदेश मुख्य सचिव विजय देव ने सभी संबंधित अधिकारियों को दिया है। विदेश से आने वालों को पहले 14 दिन के लिए होटल में रहना था, लेकिन केंद्र सरकार की नई गाइड लाइन के अनुसार यह लोग अब सात दिन होम क्वारंटीन में रह सकते हैं। मुख्य सचिव का आदेश इस शिकायत के बाद आया है कि 14 दिन की एकमुश्त राशि में से होटल सात दिन का पैसा वापस नहीं कर रहे हैं।  

स्वामी दयानंद अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड को दो हिस्सों में बांटा
पूर्वी दिल्ली नगर निगम के स्वामी दयानंद अस्पताल के डॉक्टरों ने एक खास मॉडल तैयार किया है, जिससे इमरजेंसी वार्ड में काम करने वाले डॉक्टरों को कोरोना के संक्रमण से बचाया जा सकेगा। अस्पताल के सीएमओ डॉ. राकेश सिंघल बताते हैं कि कोरोना के समय इमरजेंसी वार्ड में काम कर रहे डॉक्टरों को सबसे बड़ी परेशानी यह जानने में होती है कि कौन सा मरीज संक्रमित है। इसी को ध्यान में रखते हुए इमरजेंसी वार्ड को प्लास्टिक की एक दीवार से दो हिस्सों में बांट दिया है। 

पुलिस हेल्पलाइन नंबर से 50000 लोगों को मिली मदद
पुलिस कमिश्नर एसएन श्रीवास्तव ने कहा कि लॉकडाउन में पुलिस की ओर से लोगों को हरसंभव मदद की जा रही है। उन्होंने बताया कि हेल्पलाइन नंबर 011-23469526 पर अब तक लगभग 50000 लोगों की मदद की गई है। बुधवार शाम तक हेल्पलाइन नंबर पर मदद मांगने वालों का आकड़ा 51,041 तक पहुंच गया था। इनमें बाहर से फोन करने वाले भी शामिल हैं। 

पुलिस ने पढ़ाया सोशल डिस्टेंसिंग का पाठ
कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए मध्य जिले की पुलिस ने जामा मस्जिद इलाके में बुधवार को लोगों को पेपर जैकेट वितरित की। इसे बांटने के पीछे सोशल डिस्टेंसिंग के प्रति लोगों को जागरूक करना था। पुलिस ने अभियान को दो गज की दूरी का नाम दिया है।  डीसीपी मध्य संजय भाटिया ने खुद ही मोर्चा संभालते हुए पेपर जैकेट पहनकर लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का पाठ पढ़ाया। 

पालम के पूरन नगर में कोरोना के चार मामले, इलाका सील
पालम के पूरन नगर में कोरोना संक्रमण के चार मामले सामने आने के बाद क्षेत्र को सील कर दिया गया है। मेट्रो स्टेशन से महज चंद मीटर की दूरी पर संक्रमण के नए मामले आने के बाद पुलिस कमिर्यों की तैनाती कर दी गई है, लेकिन पालम से दिल्ली कैंट जाने के रास्ते पर बैरिकेडिंग से लोगों को दूसरा रास्ता अपनाना पड़ रहा है। इस वजह से लोगों को अधिक दूरी तय करना पड़ रहा है। 
एनसीजी के दो कमांडो आए कोरोना की चपेट में
देश में पहली बार कोरोना वायरस की चपेट में एनसीजी के दो कमांडो आए हैं। इन्हें दिल्ली एम्स के झज्जर स्थित कैंपस में भर्ती किया गया है। डॉक्टरों के अनुसार, कोविड पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद दोनों ही कमांडो को भर्ती किया है। हालांकि, यह संक्रमित कैसे और कहां से हुए? इसके बारे में अभी जानकारी नहीं मिली है। 

एम्स प्रबंधन के अनुसार, झज्जर स्थित राष्ट्रीय कैंसर संस्थान में फिलहाल 500 से ज्यादा कोरोना संक्रमित मरीज भर्ती हो चुके हैं। हाल ही में दो एनसीजी कमांडो को भर्ती किया गया है। इनके अलावा अब तक दिल्ली पुलिस के 40, बीएसएफ के 78, सीआईएसएफ के 86, सीआरपीएफ के 56 और रैपिड एक्शन फोर्स का एक जवान कोरोना वायरस की चपेट में आने के बाद भर्ती किया जा चुका है। इसके अलावा बीते मंगलवार झज्जर कैंपस से 50 मरीजों को डिस्चॉर्ज किया गया था, लेकिन 61 संक्रमित मरीजों को भर्ती भी किया गया। यह चौथे से लेकर सातवी मंजिल तक कोविड वार्ड बनाए गए हैं।

उपराज्यपाल कार्यालय में एक कर्मी कोरोना संक्रमित
दिल्ली के उपराज्यपाल कार्यालय में बुधवार को एक जूनियर असिस्टेंट कोरोना संक्रमित पाया गया है। 

गौतमबुद्धनगर में चार नए मामले, कुल संख्या 366 हुई 
गौतमबुद्धनगर में बुधवार को चार नए मरीज सामने आए हैं। जबकि 9 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया है। इसी के साथ कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 366 हो गई है।  जिले में अब तक 253 मरीज स्वस्थ हो गए हैं। जबकि 108 एक्टिव मामले हैं। कोरोना वायरस से जिले में अबतक पांच लोगों की मौत हो चुकी है। 

दो नए इलाके कंटेनमेंट जोन की सूची में शामिल 
एसडीएम साकेत अंकित मिश्रा ने बताया कि दक्षिणी दिल्ली में दो और इलाकों को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। इसमें चर्च कॉलोनी, गली नंबर-  9, संगम विहार एल- 1 गली नंबर- 12,13,14, गली नंबर -14 शनी बाजार रोड, एल ब्लोक संगम विहार और गली नंबर 27 एल-2 संगम विहार को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। 

तिगरी जेजे कॉलोनी के मकान नंबर बी-258, बी-822, सी -98, एच-1-54, एच-16 को भी कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है।

फिर लगा दिल्ली-गाजियाबाद बॉर्डर पर जाम
गाजियाबाद के कौशांबी इलाके में चिलचिलाती धूप में दिल्ली-यूपी बॉर्डर पर ट्रैफिक जाम में भारी संख्या में गाड़ियां फंस गई हैं। दरअसल गाजियाबाद प्रशासन ने शहर में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के चलते एक बार फिर दिल्ली-गाजियाबाद बॉर्डर सील कर दिया है। सील हुए बॉर्डर पर पुलिसकर्मी वाहनों की जांच कर रहे हैं। जो लोग जरूरी सेवाओं से जुड़े हैं और जिनके पास 'पास' है उन्हीं को आवाजाही की अनुमति है।


पुलिसकर्मियों ने लोगों से मास्क पहनने की अपील की
दिल्ली के लोधी गार्डन में पुलिसकर्मियों ने लोगों से मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की अपील की।


ओखला सब्जी मंडी खुली, पहुंची भीड़
दिल्ली में लॉकडाउन के बीच ओखला सब्जी मंडी में बड़ी संख्या में लोग खरीदारी करते दिखे।

 
... और पढ़ें
कोरोना वायरस (फाइल फोटो) कोरोना वायरस (फाइल फोटो)

हापुड़ में सरकारी डॉक्टर समेत 16 लोगों में कोरोना की पुष्टि, मरीजों की संख्या बढ़कर 138 हुई

हापुड़ जिले में सरकारी अस्पताल के चिकित्सक और सफाई कर्मी समेत बुधवार को 16 लोगों में कोरोना की पुष्टि हो गई। इसके बाद जिले में अब कुल संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 138 पहुंच गई है।

आनन-फानन में मरीजों को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करा दिया गया है। 3 दिन में रिकॉर्ड 39 नए मरीज मिलने से स्वास्थ्य विभाग व प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है। वहीं 66 लोग अब तक स्वस्थ भी हो चुके हैं।

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को बुधवार शाम संदिग्ध मरीजों की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई। प्राप्त हुई रिपोर्ट में से 16 मरीजों को कोरोना की पुष्टि हुई है। इनमें से सरकारी अस्पताल में तैनात एक चिकित्सक व एक सफाई कर्मी है। इसके अलावा दस मरीज नगर बुलंदशहर रोड स्थित मोहल्ला दिल्ली गेट, तीन मरीज पिलखुवा के मोहल्ला रजनी विहार, एक मरीज पिलखुवा के मोहल्ला गढ़ी का रहने वाला है।

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के अनुसार सभी मरीज किसी संक्रमित मरीज के संपर्क में आने के कारण कोरोना पॉजिटिव हुए हैं। सभी मरीजों को पहले से ही क्वारंटाइन सेंटर में भर्ती करा दिया गया था। मरीजों को सेंटर से निकालकर आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करा दिया गया है।
 
... और पढ़ें

विवाहिता को किया जलाने का प्रयास, पुलिस नहीं कर रही कार्रवाई

विवाहिता को किया जलाने का प्रयास
हापुड़। थाना बाबूगढ़ क्षेत्र के घुंघराला गांव निवासी ससुराल पक्ष के लोगों ने विवाहिता को मिट्टी का तेल छिड़ककर मारने का प्रयास किया। गंभीर हालत में झुलसी महिला अस्पताल में भर्ती है। परिजनों का आरोप है कि रिपोट दर्ज होने के बावजूद पुलिस कार्रवाई नहीं कर रही है।
थाना हाफिजपुर क्षेत्र के गांव घुंघराला निवासी यामीन ने बताया कि राहिल की शादी थाना बाबूगढ़ क्षेत्र के गांव बाढ़ली निवासी व्यक्ति के साथ की थी। लेकिन ससुराल पक्ष के लोग उसका उत्पीड़न कर रहे थे। परेशान होकर वह गाजियाबाद के महाराजपुर क्षेत्र स्थित एक किराए के मकान में रहने लगी। लॉकडाउन के चलते पीड़िता कुछ दिन पहले ससुराल में आकर रहने लगी। 23 मई को ससुराल पक्ष के लोगों ने एकत्र होकर महिला को बेरहमी से पीटा और के रोसिन छिड़कर आग लगा दी। जिससे वह गंभीर रुप से झुलस गई। विवाहिता फिलहाल अस्पताल में भर्ती है। एसपी संजीव सुमन ने बताया कि मामला संज्ञान में आया है। कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

टिड्डी दल से बचाव को लेकर जिलास्तरीय टीम गठित

टिड्डी दल से बचाव को बनी जिलास्तरीय टीम
हापुड़। टिड्डी दल से बचाव को लेकर डीएम ने सीडीओ की अध्यक्षता में जिलास्तरीय टीम का गठन किया है। यह टीम क्षेत्रीय केंद्रीय एकीकृत नाशी जीव प्रबंधन केंद्र के तकनीकी विशेषज्ञों से सहयोग लेकर, किसानों को राहत दिलाएंगे। वहीं जागरूकता फैलाने के लिए किसान प्रावैधिक सहायकों को जिम्मेदारी सौंपी गई है।
पंजाब व राजस्थान में टिड्डी दल के प्रकोप के बाद हापुड़ में भी एडवाइजरी जारी कर दी गई है। इस कीट से बचाव के लिए किसानों को जागरूक किया जा रहा है। डीएम अदिति सिंह ने सीडीओ की अध्यक्षता में चार सदस्य टीम का गठन कर दिया है।
इस टीम में उप कृषि निदेशक, जिला कृषि अधिकारी को सदस्य, कृषि रक्षा अधिकारी को सदस्य/सचिव नियुक्त किया गया है। जिलास्तरीय टीम को क्षेत्रीय केंद्रीय एकीकृत नाशीजीव प्रबंधन केंद्र लखनऊ, गोरखपुर, आगरा के तकनीकी विशेषज्ञों तथा कृषि विश्वविद्यालयों के वैज्ञानिकों से भी सहयोग लेने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा किसानों में जागरूकता फैलाने के लिए किसान प्रावैधिक सहायकों को भी जिम्मेदारी सौंपी गई है।
जिला कृषि अधिकारी शिवकुमार सिंह ने बताया टिड्डी दल से बचाव को लेकर तैयारी पूरी है। किसानों को जागरूक किया जा रहा है।
... और पढ़ें

प्रदेश अध्यक्ष गिरफ्तारी से क्षुब्ध कांग्रेसियों ने बोला हल्ला

प्रदेश अध्यक्ष की गिरफ्तारी से गुस्साए कांग्रेसियों ने किया प्रदर्शन
हापुड़। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने बुधवार को प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू की गिरफ्तारी को लेकर सांकेतिक रूप से विरोध जताया। उन्होंने धरना स्थल पर सामाजिक दूरी का पालन करते हुए काली पट्टी बांधकर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। इसके बाद कार्यकर्ताओं ने राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन एसडीएम को सौंपा।
बुधवार को कांग्रेसी नगर पालिका परिसर स्थित धरना स्थल पहुंचे उन्होंने सिर पर काली पट्टी बांधकर प्रदेश सरकार के खिलाफ धरना प्रदर्शन किया। पूर्व विधायक गजराज सिंह ने कहा कि लॉक डाउन जैसे संकट में भी योगी सरकार की दमनकारी नीतियां जारी हैं। आज नेहरू जी होते तो कोरोना के चलते जो देश में आज हालात हैं ऐसे ना होते। उन्होंने प्रदेश सरकार से कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को रिहा कराने और सरकार द्वारा उन पर दर्ज किए मामलों को वापस लेने की मांग की।
इससे पूर्व शहर कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारियों ने अतरपुरा चौपला पर पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू की 56वीं पुण्यतिथि मनाई। उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्धासुमन अर्पित किए। प्रदेश महासचिव बदरुद्दीन कुरैशी ने युवाओं से उनके जीवन से प्रेरणा लेने की अपील की।
इस अवसर पर शहर अध्यक्ष अभिषेक गोयल, पूर्व पीसीसी नवरत्न त्यागी, एससी एसटी जिलाध्यक्ष रघुवीर सिंह, विक्की शर्मा, नरेश भाटी, जावेद चौधरी, नौशाद चौधरी, किशन बाटला, गुलजार अहमद, अंकित शर्मा, गौरव गर्ग आदि रहे।
... और पढ़ें

देवलोक कॉलोनी में लगे दो ट्रांसफार्मर में लगी भीषण आग, आधा दर्जन मोहल्लों की बत्ती गुल

देवलोक कॉलोनी में लगे ट्रांसफार्मरों में लगी भीषण आग
हापुड़। मोहल्ला देवलोक कॉलोनी में एक ही स्थान पर लगे तीन ट्रांसफार्मरों में मंगलवार रात भीषण आग लग गई। इसमें 650 और 250केवी क्षमता के दो ट्रांसफार्मर जलकर खाक हो गए। सूचना पर पहुंची दमकल विभाग की गाड़ियों ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। इसके कारण आधा दर्जन मोहल्लों की बत्ती गुल हो गई। हालांकि निगम द्वारा ट्रांसफार्मर बदलवा दिए गए लेकिन बुधवार रात्रि तक भी सप्लाई चालू नहीं होने से लोग गर्मी व पानी की किल्लत से बिलबिला उठे।
पटना मुरादपुर बिजलीघर के फीडर नंबर चार से देवलोक कॉलोनी में लगे 650, 250 और 100केवी क्षमता के ट्रांसफार्मर जुड़े हैं। इनसे मोहल्ला पटेलनगर, स्वर्ग आश्रम रोड, देवलोक कॉलीन, त्यागी नगर, नई शिवपुरी को बिजली आपूर्ति दी जाती है। मंगलवार रात करीब 11 बजे ट्रांसफार्मरों की वायिरंग से अचानक आग लगनी शुरू हो गई। देखते ही देखते इनमें आग की लपटें उठने लगी। आग इतनी भयानक थी कि नजदीक ही बनी पानी की टंकी से भी ये लपटे दिख रही थीं।
यह मंजर देख लोगों में अफरा तफरी मच गई। सूचना पर पहुंची दमकल की तीन गाड़ियों ने किसी तरह आग पर काबू पाया। लेकिन करीब चार लाख रुपये के दो ट्रांसफार्मर को फुंकने से नहीं बचाया जा सका। बुधवार को दिनभर निगम कर्मी नए ट्रांसफार्मर की बदली में जुटे रहे। लेकिन कुछ पार्टस हापुड़ की वर्कशॉप में नहीं मिल सके, जिसके चलते बुलंदशहर से यह मंगाने पड़े। कुल मिलाकर बीते 24 घंटों से इन मोहल्लों में बिजली संकट बना है। लोगों को भीषण गर्मी में पानी किल्लत से भी जूझना पड़ रहा है। अधिकारी देर रात तक आपूर्ति बहाल कर देने का दावा कर रहे थे। वहीं, ट्रांसफार्मर में आग किन कारणों से लगी, इसकी भी जांच करायी जा रही है।
अधिशासी अभियंता मनोज कुमार ने बताया कि आग लगने का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है। इसकी जांच करायी जा रही है। जल्द ही प्रभावित मोहल्लों की आपूर्ति बहाल करा दी जाएगी।
... और पढ़ें

राष्ट्रीय सेवा योजना की बैठक में कोरोना महामारी से बचाव पर चर्चा

आनलाइन बैठक कर कोरोना से बचाव पर की चर्चा
हापुड़। राष्ट्रीय सेवा योजना की बैठक मंगलवार को जूम एप के माध्यम से नोडल अधिकारी डॉ. शशि शर्मा की अध्यक्षता में हुई। इसमें कोरोना महामारी से बचाव व जागरूकता पर बात की गई।
बैठक में डॉ. अंशुमाली शर्मा ने किस प्रकार अपना ध्यान रखकर समाज को जागरूक करना है इसपर प्रकाश डाला। डॉ. वीरेंद्र सिंह ने कहा कि कार्यक्रम अधिकारियों व स्वयंसेवकों द्वारा किये जा रहे मास्क वितरण, राशन वितरण आदि काम सराहनीय हैं। मुस्कुराएगा इंडिया के संयोजक डॉ. युवराज सिंह ने कहा कि जनपद के कांउंसलरों द्वारा की जा रही मदद सराहना के योग्य है। डॉ. सुबोध शर्मा ने राष्ट्रीय सेवा योजना जनपद हापुड़ की आख्या प्रस्तुत की। केशव मारवाड़ महाविद्यालय की प्राचार्या डॉ.निशा गर्ग, बीजेपी जिलाध्यक्ष डॉ उमेश राणा ने राष्ट्रीय सेवा योजना के कार्यक्रम अधिकारियों एवं स्वयंसेवकों द्वारा किए जा रहे मास्क वितरण और जागरूकता अभियान की प्रशंसा की।
बैठक में डॉ.लक्ष्मण गौतम, डॉ.रितु सिंह, डॉ.जीके सिंह, डॉ.वेदप्रकाश, डॉ.वीरेंद्र सिंह, डॉ.प्रेम कुमारी, प्राचार्या डॉ.निशा गर्ग, डॉ.अमिता शर्मा, डॉ.श्वेता त्यागी, डॉ.कल्पना राय, डॉ.जेपी यादव आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

अपर आयुक्त के निरीक्षण में मिली खामी, लगाई फटकार

अपर आयुक्त के निरीक्षण में मिली खामियां, लगाई फटकार
हापुड़। बाजार खुलने के बाद बुधवार को अपर आयुक्त मेरठ रजनीश राय ने बाजार के अलावा तहसील क्षेत्र की कम्यूनिटी किचन का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान जहां बाजारों में नियमों का उल्लंघन मिला, वहीं किचन में भी रोटियां जली हुई पाई गई। जिस पर अपर आयुक्त ने नाराजगी व्यक्त की। बाजारों में नियमों का पालन कराने के लिए उन्होंने सीओ को दिशा निर्देशित किया है।
रजनीश राय ने बुधवार सुबह रेलवे रोड से निरीक्षण की शुरूआत की। निरीक्षण में पाया कि दाई तरफ की दुकानें खुली हुईं थी। जिस पर उन्होंने व्यापारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने दुकानों के अंदर जाकर सोशल डिस्टेंसिंग और सैनिटाइजर, मास्क आदि के प्रयोग होने की जानकारी की। जिसमें कई खामियां मिली। एक मोबाइल की दुकान पर महिला बिल जमा कराने के लिए आई थी। लेकिन, उसके हाथों को सैनिटाइज नहीं कराया गया। जिस पर उन्होंने नाराजगी व्यक्त की। कई दुकानदारों ने ग्लब्स भी नहीं पहने थे। अपर आयुक्त ने सीओ को निर्देश दिए कि ऐसे दुकानदारों पर जुर्माना किया जाए। नियमों के पालन के साथ ही बाजार खोले जाएंगे। इसमें किसी प्रकार की लापरवाही बर्दास्त नहीं की जाएगी।
इसके बाद अपर आयुक्त गढ़ रोड स्थित एक होटल में चलाई जा रही तहसील हापुड़ की कम्यूनिटी किचन का निरीक्षण किया। यहां उन्होंने रोटी की जांच की। कुछ रोटी जली हुई मिली। उन्होंने रोटी की गुणवत्ता सही कराने के लिए एसडीएम सदर को निर्देशित किया। अपर आयुक्त के निरीक्षण के दौरान बाजार में हड़कंप की स्थिति रही।
... और पढ़ें

30 मई तक हड़ताल पर रहेंगे अधिवक्ता

30 मई तक हड़ताल पर रहेंगे अधिवक्ता
हापुड़। हापुड़ बार एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने लॉकडाउन में कचहरी पहुंचने में परेशानी होने का हवाला देते हुए 30 मई तक हड़ताल पर रहने निर्णय लिया है। लॉकडाउन में अधिवक्ताओं को अन्य परेशानी होने का भी हवाला दिया है।
हापुड़ बार एसोसिएशन के अध्यक्ष ठाकुर धर्मपाल सिंह तोमर व सचिव संदीप त्यागी ने बताया कि हापुड़ न्यायालय में मंगलवार से काम शुरू हुआ। कचहरी में सरकार के दिशा-निर्देश जैसे सैनिटाइजेशन कार्य, सामाजिक दूरी का ध्यान आदि बातों का विशेष ध्यान रखा गया। जिससे कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। इससे कोई भी न्यायिक अधिकारी व अधिवक्ता कोरोना से प्रभावित नहीं हों।
हालांकि लॉकडाउन होने की वजह से अधिकांश अधिवक्ताओं को कचहरी पहुंचने में परेशानी हुई। शहर के हॉटस्पॉट और शहर के आसपास के क्षेत्रों से काफी अधिवक्ताओं का कचहरी पहुंचना प्रभावित हुआ। वहीं वादकारियों का कचहरी में प्रवेश करना भी प्रभावित हो रहा है। उन्होंने चैंबरों में अधिवक्ता व मुनीम की उपस्थिति होने से सामाजिक दूरी का पालन होना भी प्रभावित होना बताया है।
इन सभी परेशानियों को लेकर अधिवक्ताओं ने बुधवार से 30 मई तक हड़ताल पर रहने का निर्णय लिया है। जिससे अधिवक्ताओं को किसी तरह की परेशानी नहीं हो।
... और पढ़ें

खुले बाजार, नियमों के उल्लंघन के साथ बढ़ी भीड़

खुले बाजार, नियमों के उल्लंघन के साथ बढ़ी भीड़
हापुड़। लॉकडाउन फोर का स्वरूप मंगलवार को जिले में बदला हुआ नजर आया। बाजार खुुलने के आदेश के बाद शहर की दुकानों पर काफी भीड़ नजर आयी। इस दौरान जिला प्रशासन द्वारा दिए गए दिशा निर्देशों और आदेशों का भी जमकर उल्लंघन हुआ। दुकानों पर न तो सोशल डिस्टेंसिंग दिखी और न ही कई जगहों पर दुकानदारों ने मास्क लगाए। दायीं और बायीं के कन्फ्यूजन में कई स्थानों पर दोनों ओर के बाजार भी खुले दिखे।
जिला प्रशासन द्वारा मंगलवार से हॉटस्पॉट क्षेत्रों को छोड़कर दूसरे स्थानों पर बाजारों के खोले जाने के आदेश दिए थे। एक समय में एक ओर का ही बाजार खुलना था। मंगलवार को पहले दिन कुछ दुकानदारों ने इसका पालन भी किया। लेकिन कुछ व्यापारी बाज नहीं आए। रेलवे रोड, गोल मार्केट, मंडी पाटिया आदि स्थानों पर दोनों ओर की दुकानें खुली रही। इस दौरान दुकानों पर काफी भीड़ जमी रही। सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन नहीं किया जा रहा था। कुछ दुकानों पर तो दुकानदार तक न मास्क नहीं लगा रखा था। कुल मिलाकर बाजार खुलने के पहले दिन नियमों का खुलकर उल्लंघन हुआ। ऐसी स्थिति को देखते हुए प्रशासन को सख्ती करनी होगी।
कोट
एसडीएम सत्यप्रकाश का कहना है कि बाजार खोलने के लिए जो नियम व शर्तें निर्धारित की गयी हैं, उनका पालन किया जाना जरूरी है। जो भी दुकानदार इसका उल्लंघन करेगा, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us