विज्ञापन
विज्ञापन
सर्व बाधा निवारण हेतु अत्यंत प्रभावशाली है यह उपाय ! जरूर पढ़े
Astrology

सर्व बाधा निवारण हेतु अत्यंत प्रभावशाली है यह उपाय ! जरूर पढ़े

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

हाथरस: पूर्व एमएलसी ने किसानों के साथ तहसील में किया प्रदर्शन

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, सिकंदराराऊ (हाथरस)
तहसील परिसर में बृहस्पतिवार को पूर्व एसएलसी डॉ. राकेश सिंह राना ने किसानों के साथ धरना प्रदर्शन किया। उसके बाद एसडीएम विजय शर्मा को ज्ञापन दिया गया। राना ने कहा कि कभी सुगंधा, पी टेन, वासमती धान तीन हजार रुपये क्विंटल से ज्यादा बिकता था। आज पंद्रह सौ रुपये में बिक रहा है। यह कैसी किसान खुशहाली का दावा करने वाली सरकार है।
राना ने कई दिन पूर्व घोषणा की थी कि सरकार की किसान विरोधी नीति को लेकर वे किसानों के साथ तहसील प्रांगण में धरना देकर ज्ञापन देंगे। किसानों को संबोधित करते हुए पूर्व एमएलसी ने कहा कि भाजपा कांग्रेस को कोस रही है, लेकिन नीतियां योजनाएं उसी की लागू कर रही है।
युवा नेता राजा कुरेशी ने कहा कि महंगाई से आम अदमी बुरी तरह परेशान है। आलू प्याज दोनों आंसू निकाल रही है। जब तक किसान ऊपर उठ कर चिंतन नहीं करेगा तब तक उसकी दशा दिशा सुधरने वाली नहीं हैं। एसडीएम को मांगों को लेकर ज्ञापन दिया गया। इस मौके पर एसडीएम विजय शर्मा, सीओ सुरेन्द्र सिंह, कोतवाल प्रवेश राना, वीरपाल सिंह पूर्व प्रधान, अतुल चौहान, अजय पुण्ढीर, विजय मेदवार, संतोष चौहान आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

हाथरस: लंबित प्रकरणों पर कार्रवाई कर ऋण दिए जाने के निर्देश

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हाथरस
जनपद के उद्यमियों की समस्याओं के निस्तारण को लेकर जिला स्तरीय उद्योग बंधु समिति की बैठक की। उद्योग बंधु की बैठक में डीएम प्रवीण कुमार लक्षकार ने सर्वप्रथम गत बैठक में दिए गए निर्देशों पर की गई कार्रवाई के बारे में जानकारी ली।
इस मौके पर उपायुक्त उद्योग ने बताया कि इस वित्तीय वर्ष के लिये प्रदेश सरकार द्वारा लक्ष्य निर्धारित कर दिए गए हैं। जिसके तहत प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत 3780 का लक्ष्य प्राप्त हुआ था, जिसके लिए 2452 आवेदन प्राप्त हुए थे।
सभी आवेदनों को बैंक के लिए भेज दिया गया। जिसमें बैंक द्वारा 2412 पर ऋण स्वीकृत करते हुए वितरित कर दिया गया है। जिलाधिकारी ने लंबित प्रकरणों पर ससमय कार्रवाई करते हुए ऋण उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।
... और पढ़ें

हाथरस: 160 किलो विस्फोटक सामग्री के साथ तीन लोग गिरफ्तार

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, सिकंदराराऊ (हाथरस)
कोतवाली पुलिस ने दीपावली पर बिना लाइसेंस आतिशबाजी बनाने वालों पर कार्रवाई शुरू कर दी है। बृहस्पतिवार को पुलिस ने मोहल्ला नगला शीसगर से तीन लोगों को 160 किलो विस्फोटकों के साथ गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।
बता दें कि दीपावली पर अक्सर पटाखे बनाते समय होने वाले विस्फोट से जान-माल का नुकसान होता रहता है। इस वर्ष कोतवाली पुलिस शुरू से ही बिना लाइसेंस पटाखे बनाने वालों पर शिकंजा कस रही है।
बृहस्पतिवार को कोतवाली पुलिस ने मोहल्ला शीसगर में एक निर्माणाधीन मकान पर छापा मारा तो पाया कि वहां पटाखे बनाए जा रहे थे। मौके से नरेश कुमार पुत्र राजकुमार, दिनेश कुमार पुत्र राजकुमार, गुल्लन उर्फ अखिलेश पुत्र मदनलाल को 160 किलो विस्फोटक सामग्री के साथ गिरफ्तार कर लिया।
... और पढ़ें

हाथरस: जमुना बाग में एक प्लॉट पर कब्जे को लेकर मुकुल उपाध्याय व आशीष शर्मा के समर्थकों में हुई झड़प

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हाथरस
शहर के अलीगढ़ रोड स्थित जमुना बाग पर प्लॉट के कब्जे को शुक्रवार की सुबह पूर्व एमएलसी मुकुल उपाध्याय और नगर पालिकाध्यक्ष आशीष शर्मा के समर्थकों में आपस में तनातनी हो गई। कुछ लोग जब वहां जेसीबी से गड्ढा खोद रहे थे तो दूसरे पक्ष ने इन्हें रोकने की कोशिश की। इसी बात पर विवाद बढ़ गया। तीखी नोक-झोंक शुरू हो गई और हंगामा शुरू हो गया। मौके पर पुलिस भी पहुंच गई। पुलिस ने वहां काम रुकवा दिया और जेसीबी अपने कब्जे में ले लिया। बाद में दोनों पक्ष एसडीएम सदर से मिलने पहुंचे और अपना पक्ष रखा। इस समय वहां काम रुकवा दिया गया है। इधर, करोड़ों की इस जमीन पर कब्जे और भाजपा के इन नेताओं के बीच आपस में हुई झड़प को लेकर शहर में खासी चर्चाएं भी रही।
शहर के अलीगढ़ रोड स्थित जमुना बाग की करोड़ों रुपये की जमीन का विवाद शुक्रवार की सुबह तूल पकड़ गया। इस जमीन को लेकर भाजपा नेता व पूर्व एमएलसी मुकुल उपाध्याय और नगर पालिकाध्यक्ष आशीष शर्मा के बीच आरोप प्रत्यारोप का दौर चल रहा है। नगर पालिकाध्यक्ष व उनके समर्थकों के खिलाफ कई शिकायतें मुकुल उपाध्याय कर चुके हैं। शुक्रवार को कुछ लोगों ने वहां बैरियर तोड़कर एक प्लॉट पर जेसीबी से खुदाई करानी शुरू कर दी।
इसकी जानकारी मिलने पर दूसरा पक्ष वहां पहुंच गया। दूसरे पक्ष ने इसका विरोध किया तो वहां गाली-गलौज हो गई। दोनोें पक्ष मारपीट पर उतारू हो गए और हंगामा खड़ा हो गया। सूचना मिलते ही पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने वहां काम बंद करवा दिया। जेसीबी को अपने कब्जे में ले लिया और अधिकारियों को अवगत करा दिया। दोनों ही पक्षों के लोग वहां जमा हो गए। इसके बाद दोनोें पक्ष एसडीएम सदर के समक्ष अपना पक्ष रखने के लिए तहसील गए। पूर्व एमएलसी मुकुल उपाध्याय भी वहां गए और एसडीएम सदर के समक्ष अपना पक्ष रखा।
पालिकाध्यक्ष व अन्य लोगों के खिलाफ दिया प्रार्थना पत्र
हाथरस। इस सिलसिले में सतीश शर्मा पुत्र विद्याराम शर्मा निवासी वेदई सादाबाद ने एसडीएम सदर को दिए प्रार्थना पत्र में कहा है कि जब वह अपने प्लॉट की नींव खुदाई का काम करा रहे थे तो नगर पालिकाध्यक्ष आशीष शर्मा सहित कुछ लोग वहां आ गए। इन लोगों ने गाली-गलौज कर हाथों में ईंट-पत्थर लेकर मारने की कोशिश की। इससे मेरी लेबर डर गई और इसकी सूचना पुलिस को दी। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंच गई और काम बंद कराया। उसने अपने प्लॉट की बाउंड्रीवाल कराने के लिए सुरक्षा के इंतजाम करने के साथ-साथ इन लोगों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।
बिना वजह घसीटा जा रहा मेरा नाम: पालिकाध्यक्ष
इस पूरे मामले में नगर पालिकाध्यक्ष आशीष शर्मा का कहना है कि उनका इस पूरे मामले से कोई लेना-देना नहीं है। इस जमीन से भी उनका कोई मतलब नहीं है। यदि कोई पीड़ित व्यक्ति उनके पास आएगा तो उसकी कोशिश रहती है कि उसकी पूरी मदद की जाए। कुछ लोग मेरी लोकप्रियता से घबरा कर बिना वजह इस मामले में मेरा नाम घसीट रहे हैं। मेरे खिलाफ तरह-तरह की झूठी शिकायतें कर रहे हैं। इससे मेरा कोई मतलब नहीं है।
... और पढ़ें
हाथरस: एसडीएम सदर के समक्ष अपना पक्ष रखते पूर्व एमएलसी मुकुल उपाध्याय व अन्य। हाथरस: एसडीएम सदर के समक्ष अपना पक्ष रखते पूर्व एमएलसी मुकुल उपाध्याय व अन्य।

हाथरस: सादाबाद में वाहन की टक्कर से बाइक सवार की मौत, दो महिलाएं घायल

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, सादाबाद (हाथरस)
राया रोड स्थित गांव कजरौठी के पास किसी वाहन ने बाइक सवार दो महिलाओं और एक व्यक्ति को टक्कर मार दी, जिससे एक व्यक्ति की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि महिलाएं गंभीर रूप से घायल हो गईं। मृतक के शव और घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर लाया गया, जहां से घायलों को उपचार के लिए आगरा रेफर कर दिया गया। घटना स्थल पर काफी भीड़ जुट गई। इधर, सीएचसी पर मृतक के परिजनों के करुण क्रंदन से माहौल गमगीन हो गया।
सहपऊ क्षेत्र के गांव सुल्तानपुर निवासी करीब 40 वर्षीय साहब सिंह पुत्र कन्हीराम अपनी पत्नी उर्मिला और प्रेमवती पत्नी देवेश को साथ लेकर अपने गांव से सादाबाद क्षेत्र के गांव घाटमपुर में गमी में शामिल होने जा रहे थे। इस दौरान गांव घाटमपुर से पहले ही गांव कजरौठी के पास किसी वाहन ने उनकी बाइक को टक्कर मार दी, जिससे बाइक सवार तीनों लोग सड़क पर गिर गए और गंभीर रूप से घायल हो गए। मौके पर काफी भीड़ जुट गई।
आनन-फानन घायलों को उपचार के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया, जहां चिकित्सकों ने साहब सिंह को मृत घोषित कर दिया, जबकि दोनों महिलाओं उर्मिला और प्रेमवती को प्राथमिक उपचार के बाद आगरा के लिए रेफर कर दिया। परिजन उन्हें उपचार के लिए आगरा ले गए। इधर, सूचना पर सीएचसी पर पुलिस भी पहुंच गई। पुलिस ने मृतक के परिजनों से घटना के संबंध में पूछताछ की और पंचनामा भरने की कार्रवाई की। मृतक के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल था। इधर, पुलिस उपनिरीक्षक जोगेंद्र सिंह ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। तहरीर मिलने पर रिपोर्ट दर्ज की जाएगी।
... और पढ़ें

हाथरस: पूर्व एमएलसी पर लगाया जमीन पर जबरन कब्जा करने का आरोप

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हाथरस
पूर्व एमएलसी मुकुल उपाध्याय के खिलाफ हनुमान प्रसाद पोद्दार पुत्र जमुना प्रसाद पोद्दार निवासी मोहल्ला सदावाड़ा कायमगंज फर्रुखाबाद ने मुख्यमंत्री को पत्र भेजा है और आतंक से भूमि को हड़पने का आरोप लगाया है। वहीं इस शिकायत को मुकुल उपाध्याय ने निराधार बताया है। उनका कहना है कि हनुमान प्रसाद पोद्दार नगर पालिकाध्यक्ष आशीष शर्मा के कहने पर अब झूठे आरोप लगा रहे हैं। मैंने तो 11 साल पहले इस जमीन की रजिस्ट्री कराकर इस पर अपना कब्जा ले लिया था। चहारदीवारी भी खिंचवा ली थी।
हनुमान प्रसाद पोद्दार ने अपनी शिकायत में कहा है कि वह हाथरस के प्रमुख व्यवसायी जमुना प्रसाद पोद्दार के एकमात्र जीवित विधिक उत्तराधिकारी हैं। उनकी गांव गढ़ी तमना में 54 बीघा जमीन शेष है। इसके विक्रय के लिए विभिन्न प्रावधानों के तहत विभिन्न लोगों से अनुबंध किया है। कुछ प्लॉट बेच भी दिए हैं। उनका आरोप है कि वर्ष 2009 में मुकुल उपाध्याय ने जान से मारने की धमकी देकर उनसे 0.616 हेक्टेयर भूमि का जबरन बैनामा अपनी पत्नी रितु उपाध्याय के नाम करा लिया था। इसका उन्हें बाजारू मूल्य नहीं मिल सका। उनकी भूमि के सड़क के किनारे के हिस्से को अपने प्रभाव से अकृषक करा दिया।
इसकी शिकायत लोकायुक्त से भी की गई थी। यह आज भी लंबित है। पत्र में उन्होंने मुकुल उपाध्याय पर अन्य गंभीर आरोप लगाते हुए उनसे जान माल का खतरा बताया है और अपनी जमीन पर कब्जा रोकने के साथ-साथ सुरक्षा देने की मांग की है। इस शिकायत को पूर्व एमएलसी मुकुल उपाध्याय ने निराधार बताया है। पूर्व एमएलसी का कहना है कि हनुमान प्रसाद पोद्दार तो अब नगर पालिकाध्यक्ष आशीष शर्मा के कहने पर झूठे आरोप लगा रहे हैं। मैंने तो 11 साल पहले इस जमीन की रजिस्ट्री कराकर इस पर अपना कब्जा ले लिया था। उसी समय बाउंड्री भी खिंचवा ली थी। अब भी एसडीएम सदर इसकी जांच कर रहे है। अपने आप सच्चाई सामने आ जाएगी।
... और पढ़ें

हाथरस: एक आरोपी के दोस्त से सीबीआई ने की पूछताछ

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हाथरस
बिटिया के प्रकरण में सीबीआई की छानबीन और पूछताछ जारी है। अब गांव चितावर के एक युवक को शुक्रवार की शाम को सीबीआई की टीम पूछताछ के लिए अपने साथ ले गई। इस युवक को नाबालिग आरोपी का दोस्त बताया जा रहा है।
बिटिया के मामले में सीबीआई की पूछताछ व छानबीन लगातार जारी है। हर पहलू को ध्यान में रखकर सीबीआई पूछताछ कर रही है। जिस आरोपी को नाबालिग बताया जा रहा है, उसके संबंध में भी काफी दस्तावेज सीबीआई एकत्रित कर रही है।
आरोपियों के परिजन, उनके मित्रों व इस केस से जुड़े सभी लोगों से सीबीआई पूछताछ कर रही है। शुक्रवार को सीबीआई गांव चितावर के एक युवक को अपने साथ पूछताछ के लिए शिविर कार्यालय पर ले गई। देर शाम तक उससे पूछताछ जारी थी। उसे इस नाबालिग आरोपी का दोस्त बताया जा रहा है।
... और पढ़ें

हाथरस: खेत में काम किया बिटिया के परिजनों ने, रिश्तेदार भी आए घर पर

हाथरस: बिटिया के गांव में गश्त करती पुलिस।
न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हाथरस
बिटिया के गांव की दिनचर्या पटरी पर लौट रही है। बिटिया के परिजनों ने सुबह कुछ देर के लिए अपने खेत पर काम किया। वहां उनके साथ काफी फोर्स मौजूद रही। उसके बाद वह घर लौट आए।
इस दौरान उनके एक रिश्तेदार भी इगलास से घर पर आए और उनका हालचाल पूछा। वहीं पुलिस व पीएसी भी रोजाना की तरह एनएच से जाने वाले रास्ते से लेकर बिटिया के घर तक तैनात रही। बिटिया के घर आने-जाने वालों की सघन चेकिंग भी की गई।
शाम को चंदपा के कोतवाली निरीक्षक लक्ष्मण सिंह ने मय पुलिस बल के बिटिया के गांव व आसपास क्षेत्र में पैदल गश्त की। यह भी अनुमान लगाया जाता रहा कि बिटिया के गांव में शुक्रवार को सीबीआई की टीम आ सकती है, लेकिन टीम शाम तक वहां नहीं आई।
... और पढ़ें

हाथरस: नगर पालिकाध्यक्ष सहित अन्य लोगों पर राजस्व अभिलेखों में हेराफेरी व जालसाजी का आरोप

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हाथरस
भाजपा नेता व पूर्व राज्य मंत्री मुकुल उपाध्याय ने नगर पालिकाध्यक्ष आशीष शर्मा सहित एक दर्जन से अधिक लोगों पर राजस्व अभिलेखों में हेराफेरी कर करोड़ों की जमीनों व भवनों पर कब्जा करने का सनसनीखेज आरोप लगाया है। उन्होंने इस सिलसिले में डीएम को प्रार्थना पत्र दिया है और मुकदमा दर्ज कराने की मांग की है। डीएम ने इस मामले की जांच एसडीएम सदर को सौंपी है। वहीं नगर पालिकाध्यक्ष ने उन पर लगाए गए आरोपों को निराधार बताया है।
भाजपा नेता व पूर्व राज्यमंत्री मुकुल उपाध्याय ने डीएम को दिए प्रार्थना पत्र में कहा है कि नगर पालिकाध्यक्ष आशीष शर्मा, हरीशंकर राना उर्फ भूरा पहलवान, कलेक्ट्रेट हाथरस में राजस्व अभिलेख रक्षक पद पर तैनात शीतल प्रसाद शर्मा, लेखपाल अवधेश कुमार सहित कुछ अन्य लोगों पर राजस्व अभिलेखों में जालसाजी व हेराफेरी करने का गंभीर अपराध किया है। इसके प्रमाण उन पर उपलब्ध हैं।
डीएम को दिए प्रार्थना पत्र में उपाध्याय ने कहा है कि कलेक्ट्रेट हाथरस के राजस्व अभिलेखागार रक्षक शीतल प्रसाद शर्मा की मिलीभगत से इन लोगों ने मूल पत्रावली से नक्शा नजरी निकालकर फर्जी तरीके से अधिकारियों के कूटरचित हस्ताक्षर कर दूसरी नक्शा नजरी तैयार कर उसे राजस्व अभिलेखों की मूल पत्रावली में सम्मलित कर दिया। इस फर्जी नक्शा नजरी पर न तो प्रस्तावित भूमि का क्षेत्रफल अंकित है और न ही जिन अधिकारियों के हस्ताक्षर होने चाहिए, उनके हस्ताक्षर हैं। प्रार्थना पत्र में उन्होंने कहा है कि राजस्व अभिलेख रक्षक शीतल प्रसाद शर्मा को आशीष शर्मा ने स्वयं की निर्मित कान्हा विहार कॉलोनी में एक कोठी इनाम स्वरूप दे रखी है। इसके बदले शीतल प्रसाद आशीष शर्मा व इन लोगों की मदद करते हैं।
उन्होंने आरोप लगाया है कि यह सभी लोग लंबे समय से राजस्व अभिलेखों में हेराफेरी कर जनता के साथ धोखाधड़ी कर जमीनों व भवनों पर कब्जे करते आ रहे हैं। इससे लोगों में भय व्याप्त है। वर्तमान में यह प्रदेश के भयमुक्त शासन के दावे की बड़ी चुनौती है। प्रार्थना पत्र में उन्होंने कहा है कि राजस्व अभिलेखो में हेराफेरी कर इन लोगों ने न्यायालय को भी गुमराह किया है। कई आरोपियों के खिलाफ पहले भी जमीन और भवन आदि पर अवैध कब्जा करने व धोखाधड़ी के मुकदमे दर्ज हैं लेकिन धनबल व राजनीतिक पहुंच के चलते इन पर कोई प्रभावी कार्रवाई नहीं हुई है।
उन्होंने डीएम से मांग की है कि राजस्व अभिलेखों में हेराफेरी व जालसाजी करने वालों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर इनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए और इन्हें जेल भेजा जाए। इस मामले की जांच डीएम ने एसडीएम सदर को सौंपी है। इधर, इस मामले में नगर पालिकाध्यक्ष आशीष शर्मा का कहना है कि उन पर लगाए गए आरोप निराधार और बेबुनियाद हैं। किसी भी एजेंसी से जांच करा ली जाए। अपने आप दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा। जो लोग आरोप लगा रहे हैं, उनकी ही जांचें चल रही हैं।
... और पढ़ें

हाथरस: लाखों की बकायेदारी पर तीन फर्मो के लाइसेंस निलंबित

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हाथरस
कृषि उत्पादन मंडी समिति में लाखों रुपये की बकायेदारी के चलते तीन दुकानों के लाइसेंस निलंबित कर दिए गए हैं। इन फार्मों ने कई वर्षों से किराया व मंडी शुल्क जमा नहीं किया है। अब मंडी सचिव ने राजस्व की बढ़ोतरी को ध्यान में रखते हुए यह कार्रवाई की है। इससे मंडी के अन्य बकायेदारों में खलबली मच गई है।
उल्लेखनीय है कि कृषि उत्पादन मंडी में अलग-अलग ब्लॉक में करीब 200 दुकानें हैं। अब चूंकि मंडी से बाहर कारोबार करना करमुक्त हो गया है, इसलिए मंडी समिति के राजस्व का ग्राफ भी दिन-प्रतिदिन गिर रहा है। अब मंडी प्रशासन राजस्व की बढ़ोतरी के लिए पूरी तरह जुट गया है। कृषि उत्पादन मंडी समिति की मां पीतांबरा ट्रेडर्स, बजरंग बालाजी ट्रेडर्स, विशंभर दयाल एंड संस पर लाखों रुपये की उधारी है।
कई सालों से इन फर्मों ंद्वारा अभी तक मंडी शुल्क और किराया आदि जमा नहीं किया गया है। इस कारण मंडी सचिव ने इन तीनों फर्मों के लाइसेंस निलंबित कर दिए है। कार्रवाई से मंडी के अन्य आढ़तियों में खलबली मच गई है। मंडी सचिव यशपाल सिंह का कहना है कि तीन फार्मों पर लाखों रुपये की उधारी है। इस कारण इनके लाइसेंस निलंबित किए गए हैं।
... और पढ़ें

हाथरस: एमआरएफ सेंटर का नगर पालिकाध्यक्ष ने किया शिलान्यास

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हाथरस
स्वच्छ भारत मिशन के तहत सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट के तहत नगर क्षेत्र में एमआरएफ (मैटेरियल रिकवरी फैसेलिटी) सेंटर का शिलान्यास पालिका परिषद अध्यक्ष आशीष शर्मा व अधिशासी अधिकारी डॉ. विवेकानंद ने वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ पं. सीपू जी महाराज के सानिध्य में किया।
एफआरएफ सेंटर का निर्माण जलकल अनुभाग स्थित पालिका परिषद की भूमि पर किया जा रहा हैं। इस अवसर पर नगर पालिका अध्यक्ष पं. आशीष शर्मा ने कहा कि एफआरएफ सेंटर के निर्माण के पश्चात नगर से निकलने वाला सूखा कूड़ा जैसे प्लास्टिक, पॉलीथीन, गत्ता, कागज व अन्य कचरा एकत्रित किया जाएगा। इससे उसको अलग-अलग करके रिसाईकिल करने की कार्रवाई की जाएगी। एमआरएफ सेंटर के निर्माण के पश्चात नगर में सूखा कूड़ा एक स्थान पर एकत्रित हो सकेगा और नगर की सफाई व्यवस्था में भी सुधार होगा।
पालिकाध्यक्ष ने बताया कि एमआरएफ सेंटर के निर्माण के साथ साथ शीघ्र ही सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट के तहत प्लॉट और जलेसर रोड पर इकठ्ठा हो रहे कूडे़ के निस्तारण के लिए भी शीघ्र ही योजना स्वीकृत कराकर काम शुरू कराया जाएगा। इस मौके पर नगर पालिका परिषद के सहायक अभियंता डंबर सिंह, अवर अभियंता एमसी शर्मा, सुनील पाठक, स्वच्छ भारत मिशन के जिला कार्यक्रम प्रबंधक मनीषराज, मुख्य स्वच्छता निरीक्षक संदीप भार्गव, क्षेत्रीय सभासद अजयराज व कुछ अन्य सभासद मौजूद थे।
... और पढ़ें

हाथरस: सीबीआई की टीम फिर पहुंची बिटिया के गांव, छह घंटे तक की छानबीन व पूछताछ

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हाथरस
बिटिया के प्रकरण में सीबीआई की पूछताछ और जांच-पड़ताल तेज होती जा रही है। बृहस्पतिवार को सीबीआई की टीम फिर बिटिया के गांव पहुंची। सीबीआई ने वहां कई लोगों से पूछताछ की। एक आरोपी को उसके परिजन नाबालिग बता रहे हैं। उसके साथ पढ़ने वाले कुछ सहपाठियों से भी सीबीआई ने जानकारी हासिल की। सीबीआई कई घरों में गई।
सीबीआई ने खुद को घटना का चश्मदीद बताने वाले छोटू से फिर पूछताछ की। अन्य जानकारियां भी जुटाईं। करीब छह घंटे तक सीबीआई की टीम गांव में रही। इस दौरान टीम गांव के प्राइमरी स्कूल भी गई और वहां भी छानबीन की। सूत्रों की मानें तो टीम ने गांव में एनजीओ चलाने वाली एक महिला को भी शुक्रवार को पूछताछ के लिए शिविर कार्यालय पर बुलाया है।
गौरतलब है कि इस मामले में एक आरोपी को हाईस्कूल की अंकतालिका के हिसाब से नाबालिग बताया जा रहा है। इस पहलू पर सीबीआई लगातार जांच कर रही है। सीबीआई ने बृहस्पतिवार को फिर गांव में पहुंचकर नाबालिग आरोपी के साथ पढ़ने वाले कई सहपाठियों से पूछताछ की। गांव में कई स्थानों पर जाकर ग्रामीणों से भी पूछताछ की। सीबीआई की टीम ने नाबालिग आरोपी के घर पहुंचकर परिजनों से भी फिर पूछताछ की और अन्य दस्तावेजों के बारे में भी जानकारी ली। खुद को घटना का चश्मदीद बताने वाले छोटू के घर भी सीबीआई गई। सीबीआई गांव में करीब छह घंटे तक रही।
सीबीआई ने देखा परिवार रजिस्टर, आरोपी निकला बालिग
हाथरस। एक आरोपी को नाबालिग बताए जाने के बाद बृहस्पतिवार को सीबीआई ने इस क्षेत्र के ग्राम पंचायत अधिकारी को भी गांव में बुलाया। ग्राम पंचायत अधिकारी को परिवार रजिस्टर के साथ नाबालिग आरोपी के घर बुलाया गया। परिवार रजिस्टर में नाबालिग आरोपी की लिखी हुई उम्र को देखा। सूत्रों की मानें तो परिवार रजिस्टर में इस इस आरोपी का जन्म वर्ष 1999 दर्ज है। इसके हिसाब से उसकी आयु 20 वर्ष से अधिक है। वहीं हाईस्कूल की मार्कशीट में उसकी आयु 18 वर्ष से कम है। बुधवार को प्राइमरी स्कूल के रजिस्टर में उसकी अलग-अलग आयु निकलकर आई थी। इसमें एक के हिसाब से वह बालिग था तो दूसरे में नाबालिग था।
... और पढ़ें

हाथरस: कड़ी सुरक्षा के बीच बिटिया के परिजनों ने खेत पर किया काम

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हाथरस
बिटिया के परिजनों ने फिर पूरे दिन कड़ी सुरक्षा के बीच खेत में काम किया। बिटिया के घर पर भी सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था रही। पुलिस व पीएसी तैनात रही। अगले दो-तीन दिन में बिटिया के गांव में सीआरपीएफ के आने की भी उम्मीद है।
बिटिया के परिजन कड़ी सुरक्षा के बीच बृहस्पतिवार को अपने बाजरे के खेत में करब बटोरने के लिए गए। वहां भी काफी पुलिस व पीएसी उनके साथ गई। बिटिया के घर पर काफी पुलिस बल तैनात रहा।
यही स्थिति एनएच से गांव को जाने वाले रास्ते पर रही। इधर, सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर जल्द ही बिटिया के परिजनों व केस के गवाहों की सुरक्षा की कमान सीआरपीएफ संभाल सकती है। हालांकि बृहस्पतिवार को पुलिस और पीएसी ही सुरक्षा में लगी रही।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X