विज्ञापन
विज्ञापन
समस्त बाधाओं का निवारण करने हेतु अचूक उपाय है यह विशेष कृष्ण पूजन,अभी बुक करें !
Puja

समस्त बाधाओं का निवारण करने हेतु अचूक उपाय है यह विशेष कृष्ण पूजन,अभी बुक करें !

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

हाथरस: बुखार से किशोरी की मौत, कई और चपेट में

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हाथरस
कोतवाली हाथरस गेट क्षेत्र के गांव नगला अलगर्जी में बुखार का प्रकोप बढ़ गया है। यहां कई घरों में लोगों को बुखार ने अपनी चपेट में ले लिया है। यहां की 14 साल की बच्ची की बुखार के चलते दिल्ली में इलाज के दौरान मौत हो गई। शव गांव में आया तो परिवार में कोहराम मच गया।
बदलते मौसम के चलते कई बीमारियाें ने पैर पसारना शुरू कर दिया है। कोतवाली हाथरस गेट के गांव नगला अलगर्जी निवासी अरविंद की 14 साल की बेटी काजल कई दिन से बुखार से पीड़ित थी। उसका स्थानीय डॉक्टर से इलाज भी कराया गया, लेकिन उसकी हालत बिगड़ गई, जिसके बाद उसको शहर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया।
यहां पर भी उसके स्वास्थ्य में कोई सुधार नहीं होने पर उसे दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया। वहां पर एक दिन उसका इलाज चला और फिर उसकी इलाज के दौरान ही मौत हो गई। बुखार से बच्ची की मौत के बाद नगला अलगर्जी के लोग दहशत में आ गए हैं।
... और पढ़ें

हाथरस: एसपी ने पेट्रोल पंपों पर परखे सुरक्षा के इंतजाम

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हाथरस
पुलिस अधीक्षक ने सोमवार को जिले की विभिन्न पेट्रोल पंपों की सुरक्षा व्यवस्था की जांच की। पेट्रोल पंप मालिकों को सुरक्षा इंतजामों को लेकर निर्देशित भी किया।
एसपी विनीत जायसवाल ने पेट्रोल पंप के मालिकों और कर्मियों से वहां उपलब्ध सुरक्षा इंतजामों और उपकरणों की जानकारी ली। पेट्रोल पंप पर लगे सीसीटीवी कैमरों को भी चेक किया।
पेट्रोल पंप स्वामियों को निर्देशित किया कि पेट्रोल पंपों की सुरक्षा के दृष्टिगत आने-जाने वाली सड़कों को कवर करते हुए सीसीटीवी कैमरे लगवाकर इन्हें सुचारु रूप से चलवाया जाए। एसपी ने पेट्रोल पंप पर उपलब्ध पुलिस चेकिंग रजिस्टर को भी चेक किया, जिसमें संबंधित थाना प्रभारी, बीट चौकी प्रभारियों व अन्य अधिकारियों के नंबर नोट कराए गए हैं।
... और पढ़ें

हाथरस: भाजपा सभासद के वायरल वीडियो की सीओ सिटी कर रहीं जांच

हाथरस: जेल से फरार बदमाश को मुरसान पुलिस ने छह घंटे के अंदर पकड़ा

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, मुरसान (हाथरस)
सासनी की अस्थायी जेल से फरार एक शातिर आरोपी को मुरसान पुलिस ने छह घंटे के अंदर ही गिरफ्तार कर लिया। एसपी ने पुलिस टीम को इनाम दिया है।
मुरसान क्षेत्र के गांव सुंधिया निवासी कुमकुम की भैंस का पड्डा गांव के ही गुलफाम पुत्र जमीन, असलम पुत्र आशिक अली व इंतजार खां ने 29 सितंबर को चोरी कर लिया था। बाद में पुलिस ने गुलफाम व असलम को भैंस के पड्डे सहित शनिवार को गांव भकरोई के निकट से गिरफ्तार कर लिया और उसको सासनी स्थित अस्थायी जेल में भेज दिया गया था। जेल जाने के कुछ घंटे बाद ही गुलफाम अस्थायी जेल से पुलिसकर्मियों को चकमा देकर फरार हो गया।
आरोपी के फरार होने के बाद पुलिस और प्रशासन में खलबली मच गई। रविवार की देर रात को फरार आरोपी के खिलाफ अलीगढ़ के डिप्टी जेलर राकेश द्विवेदी की तहरीर पर मुकदमा भी दर्ज करा दिया गया। इस मामले में आरोपी को पकड़ने के लिए एसपी द्वारा टीम गठित कर दी गई। जेल से फरार आरोपी गुलफाम को मुरसान पुलिस ने करीब छह घंटे बाद ही पकड़ लिया।
मुरसान कोतवाली प्रभारी अरविंद कुमार राठी ने बताया कि वह एसआई रमाकांत शर्मा, एसआई धीरेंद्र सिंह, कांस्टेबल सरवर खान, मोनू चौधरी को लेकर साथ लेकर जेल से फरार आरोपी गुलफाम की तलाश कर रहे थे। तभी मुखबिर की सूचना पर उन्होंने इगलास रोड स्थित गांव गंगागढ़ी थाना इगलास अलीगढ़ के निकट से गुलफाम को गिरफ्तार कर लिया। एसपी ने फरार आरोपी को गिरफ्तार करने वाली मुरसान कोतवाली की टीम को 15 हजार रुपये का इनाम दिया है। बता दें कि गुलफाम पर गांव में एक महिला से छेड़छाड़ करने का भी मुकदमा दर्ज है।
... और पढ़ें
हाथरस: सासनी जेल से भागा हुआ अरोपी मुरसान पुलिस की गिरफ्त में। हाथरस: सासनी जेल से भागा हुआ अरोपी मुरसान पुलिस की गिरफ्त में।

हाथरस: नाकाफी हैं अस्थायी जेल में सुरक्षा के इंतजाम

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, सासनी (हाथरस)
कस्बे में बनी अस्थायी जेल चुनिंदा कर्मचारियों की देखरेख में चल रही है। यही वजह है कि सुरक्षा इंतजामों में चूक का रविवार की देर शाम को एक कैदी ने पूरा फायदा उठाया और वह यहां से फरार हो गया। इस घटना से साफ हो गया कि अस्थायी जेल की सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद नहीं है।
हालांकि सोमवार को एसडीएम राजकुमार यादव ने जेल का निरीक्षण कर सुरक्षा इंतजामों का जायजा लिया। दरअसल, कस्बा के प्रकाश एकेडमी में कोरोना महामारी के चलते अस्थायी जेल बनाई गई है। इसमें न्यायालय में पेशी के बाद बंदियों को रखा जाता है। जांच-पड़ताल और रिमांड की प्रक्रिया पूरी होने तक बंदी इस जेल में रहते हैं।
वर्तमान में इस अस्थायी जेल में विभिन्न अपराधों से संबंधित 50 बंदी निरुद्ध हैं। इनकी सुरक्षा व्यवस्था में एक डिप्टी जेलर सहित जेल प्रशासन के तीन लोग तैनात हैं, जबकि महिला आरक्षी सहित पांच लोग सिविल पुलिस के हैं। बाकी की जिम्मेदारी होम गार्ड संभाले हुए हैं। यहां कुल 20 होमगार्ड तैनात हैं, जिनकी ड्यूटी 24 घंटे की शिफ्ट के हिसाब से लगती है।
यह सुरक्षा व्यवस्था के लिए नाकाफी है। यही कारण है कि रविवार की देर शाम को अस्थायी जेल की सुरक्षा व्यवस्था को भेदकर बंदी फरार हो गया। हालांकि इस फरार बंदी को चंद घंटों में ही पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया, लेकिन अहम सवाल यह है कि यदि यह बंदी खतरनाक होता तो क्या पुलिस के लिए उसको पकड़ पाना इतना आसान होता।
... और पढ़ें

हाथरस: घटनास्थल से लिए मिट्टी के नमूने, कई लोगों से की पूछताछ

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हाथरस
बिटिया के प्रकरण में सीबीआई की तहकीकात जारी है। सीबीआई फिर घटनास्थल पर गई और वहां से मिट्टी के नमूने अपने कब्जे में लिए। टीम ने कुछ लोगों से पूछताछ भी की।
सीबीआई की टीम हालांकि गांव तो नहीं गई, लेकिन घटनास्थल पर गई। टीम ने फिर घटनास्थल का गहनता से निरीक्षण किया। वहां से मिट्टी के कुछ नमूने भी लिए। हालांकि यह भी चर्चा थी कि टीम गांव भी आएगी, लेकिन टीम वहां से ही वापस आ गई।
टीम की पूछताछ भी जारी है। टीम ने सोमवार को चंदपा थाने में कुछ रिकॉर्ड देखे और इस दौरान चंदपा के तीन लोगों से भी पूछताछ की। टीम की यह पूछताछ काफी देर तक चली। अपनी कार्रवाई से सीबीआई की टीम ने मीडिया को दूर रखा।
... और पढ़ें

हाथरस: बिटिया के घर पहुंची एसटीएफ, श्यौराज जीवन के बारे में की पूछताछ

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हाथरस
जातीय दंगे भड़काने की साजिश और कांग्रेस नेता श्यौराज जीवन के खिलाफ दर्ज मुकदमों की विवेचना एसटीएफ ने तेज कर दी है। एसटीएफ की एक टीम बिटिया के गांव पहुंची और वहां बिटिया के परिजनों से पूछताछ की। एसटीएफ इस मामले में पहली बार बिटिया के घर गई थी। बिटिया के पिता से टीम ने कांग्रेस नेता श्यौराज जीवन के बारे में जानकारी की। इससे पहले टीम काफी देर तक चंदपा थाने भी रुकी और वहां भी रिकॉर्ड खंगाले। वहीं जातीय दंगे भड़काने की साजिश के मामले में एसटीएफ की दूसरी टीम विवेचना कर रही है और वह भी तथ्य एकत्रित कर रही है।
उल्लेखनीय है कि थाना चंदपा में जातीय दंगे भड़काने की साजिश का मुकदमा दर्ज है। इसमें आरोप लगाया गया है कि चंदपा क्षेत्र की बिटिया के प्रकरण की आड़ में कई संगठन प्रदेश में जातीय दंगा भड़काने की साजिश रच रहे थे। यह मुकदमा राष्ट्रद्रोह जैसी संगीन धाराओं में दर्ज है। इसमें चंदपा पुलिस ने मथुरा में पकड़े गए पीएफआई के चार एजेंटों को भी आरोपी बनाया है। इसके अलावा कांग्रेस नेता श्यौराज जीवन के खिलाफ भी थाना चंदपा में मुकदमा दर्ज है। उन पर भड़काऊ भाषण देने का आरोप है। उनका एक वीडियो भी वायरल हुआ था।
इन दोनों मुकदमों की विवेचना अब एसटीएफ कर रही है। एसटीएफ की नोएडा ब्रांच जहां राष्ट्रद्रोह जैसी संगीन धाराओं में दर्ज मुकदमे की विवेचना कर रही है, वहीं बरेली शाखा श्यौराज जीवन के खिलाफ दर्ज मुकदमे की विवेचना कर रही है। ऐसे में बरेली से एसटीएफ की टीम सोमवार को यहां आई। उसने कई घंटे तक थाना चंदपा पर रिकॉर्ड देखा और इस मुकदमे की जानकारी हासिल की। इसके बाद यह टीम बिटिया के गांव गई। टीम ने बिटिया के पिता व अन्य परिजनों से भी श्यौराज जीवन के बारे में पूछताछ की।
खुद बिटिया के पिता ने बताया कि एसटीएफ ने उनसे श्यौराज जीवन के बारे में पूछताछ की थी। श्यौराज जीवन को चंदपा पुलिस नोटिस देकर बुलवा चुकी है और कई घंटे तक उनसे पूछताछ भी कर चुकी है। आने वाले समय में एसटीएफ जीवन से भी पूछताछ कर सकती है।
... और पढ़ें

हाथरस: शातिरों ने रूमाल सुंघाकर बांस कारोबारी की जेब से पार किए 60 हजार रुपये

हाथरस: बिटिया के परिजनों से पूछताछ करती एसटीएफ की टीम।
न्यूज डेस्क, अमर उजाला, सादाबाद (हाथरस)
कस्बे के मथुरा अड्डे के निकट दो शातिर लोग एक बांस-बल्ली कारोबारी को नशीला कपड़ा सुंघाकर उसकी जेब से 60 हजार रुपये पार कर ले गए। होश में आने के बाद व्यवसायी ने पूरी घटना से पुलिस को अवगत कराया और इस संबंध में तहरीर भी दी है। पुलिस ने कारोबारी को साथ लेकर कई स्थानों पर पूछताछ भी की, लेकिन शातिर हाथ नहीं आ सके।
मथुरा अड्डे के पास गांव मंस्या कलां निवासी रामप्रकाश पुत्र हरदम सिंह की बांस-बल्ली की दुकान है। रामप्रकाश ने बताया कि उन्हें सोमवार को दुकान का सामान लेने आगरा जाना था।लिहाजा वह घर से 40 हजार रुपये लेकर निकले थे और बैंक से 20 हजार रुपये निकालकर ला रहे थे। उनके पास कुल 60 हजार रुपये थे। इस दौरान मथुरा अड्डे के निकट ही एक गली में एक अज्ञात व्यक्ति ने उनको आवाज देकर बुला लिया और इस दौरान वहां एक अन्य युवक भी आ गया और उसने हाथ मिलाया।
उसके हाथ में एक स्वाफी लगी हुई थी। यह दोनों उनसे बात करते हुए उनको चौधरी चरण सिंह के प्रतिमा स्थल तक आए, लेकिन उसके बाद अचानक ही उन्हें होश नहीं रहा। जब वह होश में आए तो वह आगरा रोड पर मंदिर बैजनाथ के निकट थे। उनकी दो जेबों में रखे 60 हजार रुपये नहीं थे और यह दोनों व्यक्ति भी गायब थे। रामप्रकाश ने बताया कि उन्होंने घटना के संबंध में कोतवाली में तहरीर दे दी है। पुलिस ने भी उन्हें कई जगहों पर ले जाकर पूछताछ की है। इधर, इस मामले में एसएसआई अनिल कुमार ने बताया कि प्रथम दृष्टया घटना संदिग्ध प्रतीत हो रही है। मामले की जांच की जा रही है।
... और पढ़ें

हाथरस: संदिग्ध हालात में घायल हुए युवक की इलाज के दौरान मौत

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, सहपऊ (हाथरस)
क्षेत्र के गांव नगला बिहारी निवासी 28 वर्षीय दलवीर सिंह पुत्र नेमीचंद्र 14 अक्तूबर की रात करीब 10 बजे सहपऊ-नगला बिहारी मार्ग पर बेहोशी की हालत में घायल मिला था। उसका आगरा के निजी अस्पताल में इलाज चल रहा था। रविवार की शाम को उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई। सोमवार की सुबह उसकी पत्नी ने दोस्त पर ही उसकी हत्या करने का आरोप लगाते हुए कोतवाली में तहरीर दे दी। बाद में गांव के कुछ प्रतिष्ठित लोगों ने दोनों पक्षों में समझौता करा दिया, जिसके बाद मृतक की पत्नी ने इस संबंध में कोई भी कानूनी कार्रवाई नहीं करने का प्रार्थना पत्र कोतवाली में दे दिया। बाद में गमगीन माहौल में युवक के शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया।
दलवीर सिंह पुत्र नेमीचंद्र ने 14 अक्तूबर को गांव के एक दोस्त के साथ बैठकर शराब पी और आपस में झगड़ा करने के बाद दोनों अपने घर आ गए। इसके थोड़ी देर बाद ही यह युवक दोबारा अपने उसी दोस्त के साथ कहीं चला गया। उसी रात को करीब दस बजे गांव के एक युवक ने मृतक के घर पर जाकर कहा कि दलवीर सहपऊ से नगला बिहारी मार्ग पर घायल एवं बेहोशी की हालत में पड़ा है। परिजनों ने मौके पर पहुंचकर उसको सीएचसी पहुंचाया, जहां से डॉक्टरों ने उसे हाथरस रेफर कर दिया।
परिवार वाले उसको हाथरस की बजाय आगरा के एसएन मेडिकल कॉलेज ले गए, लेकिन वहां डॉक्टरों ने इलाज के लिए मना कर दिया। परिजनों ने उसको जयपुर एवं अलीगढ़ मेडिकल कॉलेज में भी दिखाया, लेकिन यहां भी डॉक्टरों ने उसका इलाज करने से मना कर दिया। मजबूरन परिजनों ने उसको आगरा के एक निजी अस्पताल में भर्ती करा दिया, जहां इलाज के दौरान 25 अक्तूबर की शाम को उसकी मौत हो गई। आगरा से रविवार की देर रात को उसका शव गांव पहुंचा।
... और पढ़ें

हाथरस: छात्राओं का मनोबल बढ़ाने के लिए परिषद करती है कार्यक्रम

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हाथरस
अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के तत्वावधान में सोमवार को जिला छात्रा सम्मेलन का आयोजन शहर की अग्रवाल धर्मशाला में हुआ। मुख्य वक्ता के रूप में प्रांत सह छात्रा प्रमुख अवनी यादव मौजूद थीं। मुख्य अतिथि के रूप में भाजपा नेता श्वेता दिवाकर, भाजपा नेता क्षमा शर्मा, भाजपा नेता विमल शर्मा, अध्यापिका माधुरी, जिला सह संयोजक प्रियंका त्रिपाठी उपस्थित रहीं।
नगर मंत्री अविनाश शर्मा ने संयुक्त रूप से मां सरस्वती और युवाओं के प्रेरणास्रोत स्वामी विवेकानंद के छवि चित्र के समक्ष दीप प्रज्ज्वलन और माल्यार्पण कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। अवनी यादव ने कहा कि छात्राएं आज हर क्षेत्र में आगे हैं। छात्राओं का मनोबल बढ़ाने के लिए विद्यार्थी परिषद समय-समय पर कार्यक्रम आयोजित करती रहती है। परिषद द्वारा किए गए कार्यों की उपलब्धियों के बारे में बताया।
श्वेता दिवाकर ने कहा कि एबीवीपी द्वारा आयोजित जिला छात्रा सम्मेलन हर वर्ष किया जाता है। अगर कोई संगठन छात्राओं के लिए कार्य करता है तो वह सिर्फ अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद कार्य करता है। क्षमा शर्मा ने कहा कि आज छात्राएं किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं हैं। छात्राओं का हर क्षेत्र में वर्चस्व है। आज देखा जाए तो एबीवीपी की राष्ट्रीय महामंत्री भी एक छात्रा हैं। कार्यक्रम में गौरव रावत, जिला संगठन मंत्री दिव्यांशु पचौरी, सौरभ शर्मा, दिव्य भारद्वाज, दीक्षा कुशवाहा, शिवानी शर्मा, नितेश, धनंजय, आकाश वार्ष्णेय आदि मौजूद थे।
... और पढ़ें

हाथरस: दिवाली के बाद ओवरब्रिज का निर्माण पकड़ेगा तेजी, मिलेगी राहत

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हाथरस
शहर के तालाब चौराहे पर ओवरब्रिज का निर्माण दिवाली के बाद रफ्तार पकड़ेगा। गार्डर लगाने के लिए रेलवे क्रासिंग के पास शटरिंग लगाने की शुरुआत हो गई है। गार्डर लगाने के दौरान आगरा-अलीगढ़ राजमार्ग पर आवागमन पूरी तरह बंद होना तय माना जा रहा है। रेलवे अधिकारियों की मानें तो जल्द से जल्द निर्माण कार्य को पूरा करने की कोशिश चल रही है।
उल्लेखनीय है कि शहरवासियों को जाम से राहत दिलाने के लिए तालाब चौराहे पर ओवरब्रिज का निर्माण किया जा रहा है। रेलवे व सेतु निगम द्वारा काफी हद तक निर्माण कार्य को पूरा कर दिया गया है। अब रेलवे क्रासिंग के बीच सपोर्ट पिलर बनाने के बाद 54 मीटर का गार्डर स्थापित किया जाएगा। पिलर बनाने के लिए रेलवे क्रासिंग पर शटरिंग लगाने की शुरुआत हो गई है।
हालांकि रेलवे के अधिकारी कह रहे हैं कि अब दिवाली के बाद ओवरब्रिज के निर्माण में तेजी आएगी। जल्द से जल्द ओवरब्रिज का काम पूरा कराने की कोशिश की जा रही है। रेलवे निर्माण निगम के एई रामशंकर का कहना है कि गार्डर के लिए शटरिंग लगाने का काम चल रहा है। दिवाली के बाद ही काम में तेजी आएगी। जल्द से जल्द काम को पूरा करने के प्रयास किए जाएंगे।
... और पढ़ें

हाथरस: बारा वफात के जुलूस की इजाजत नहीं दी प्रशासन ने

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हाथरस
हजरत मोहम्मद साहब के जन्म दिवस के मौके पर एक नवंबर को निकलने वाले जुलूस की अनुमति के लिए मुस्लिम समाज के लोग एसडीएम सदर प्रेमप्रकाश मीणा से मिले और उन्हें पत्र सौंपा। प्रशासन ने जुलूस की अनुमति देने से इंकार कर दिया।
पत्र में ऑल इंडिया शेख जमीअतुल अब्बास कमेटी के सदर रईस अहमद अब्बासी, मुस्लिम इंतजामियां कमेटी के सदर हाजी रिजवान ने कहा कि जुलूस शहर के मुख्य मार्गों से होकर गुजरता है। जुलूस में हजारों की संख्या में लोग शामिल होते हैं। एसडीएम सदर ने कोविड को देखते हुए जुलूस की अनुमति देने से इंकार कर दिया।
डॉ. अब्बासी व हाजी रिजवान अहमद कुरैशी ने मुस्लिम समाज के लोगों से कोरोना को ध्यान में रखते हुए जुलूस नहीं निकालने की अपील की। उन्होंने त्योहार को सादगी के साथ घरों में मनाने की अपील की। एसडीएम से मिलने वालों में हाजी नवाब, कुर्बान अली, सभासद शहीद कुरैशी, साबिर हुसैन, आबाद कुरैशी, शहजादे खान आदि शामिल थे।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X