विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सावन माह में शिव की उपासना हेतु कराएं पंचामृत रुद्राभिषेक
SAWAN Special

सावन माह में शिव की उपासना हेतु कराएं पंचामृत रुद्राभिषेक

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

ग्राउंड रिपोर्ट: खेतों में छह घंटे कांबिंग, मोबाइल से मिली लोकेशन, मार गिराए दो बदमाश, सामने आई तस्वीर

कानपुर मुठभेड़: सिपाही राहुल के अंतिम संस्कार में उमड़ा जन सैलाब, पत्नी बोली- 16 महीने में सूनी हुई मांग, कैसे पलेगी मासूम

विकास दुबे की क्राइम कुंडली: जमीन की सौदेबाजी को बनाया धंधा, बन बैठा भूमाफिया, राजनीतिक संरक्षण का जमकर उठाया फायदा

कानपुर मुठभेड़ में एक और बड़ा खुलासा, थानेदार के साथ ही एक दरोगा, दो सिपाहियों के भी विकास से जुड़े हैं तार

चौबेपुर मुठभेड़ में एक और बड़ा खुलासा हुआ है। तत्कालीन चौबेपुर एसओ के साथ ही एक दरोगा, दो सिपाहियों का भी विकास दुबे से कनेक्शन जुड़ रहा है। विकास दुबे की मोबाइल नंबर की सीडीआर से ये जानकारी पुलिस को मिली है।

इसमें एक शर्मा सिपाही और एक अन्य सिपाही है। मुठभेड़ की रात भी विकास या उसके गुर्गे से इनकी फोन पर बातचीत हुई है। सूत्रों के अनुसार मिलीभगत के साक्ष्य मिलने के बाद ही एसओ विनय तिवारी को निलंबित किया गया है। 

दरोगा भी रडार पर
मामले में एक दरोगा की भी भूमिका संदिग्ध है। उससे जुड़ी जानकारी भी पुलिस अधिकारियों को मिली है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक ये दरोगा भी विकास दुबे के संपर्क में था। सूचना लीक होने में इनकी भूमिका की जांच की जा रही है। 

एसओ खिलाफ भेजी थी सीओ ने रिपोर्ट
पांच महीने पहले चौबेपुर के जरारी गांव में तत्कालीन सीओ बिल्हौर देवेंद्र मिश्र ने लाखों रुपये का जुआ पकड़ा था। इस मामले में उन्होंने तत्कालीन एसएसपी को रिपोर्ट भेजी थी। इसमें बताया था कि जुआ थानेदार के संरक्षण में चलता है। उसे हर महीने मोटी रकम पहुंचती है। एसएसपी ने रिपोर्ट पर कोई कार्रवाई नहीं की। तभी से सीओ और एसओ के बीच अनबन शुरू हो गई थी।
... और पढ़ें
कानपुर एनकाउंटर में शहीद पुलिसकर्मी कानपुर एनकाउंटर में शहीद पुलिसकर्मी

मऊ एसपी अनुराग आर्या ने फेसबुक पर शेयर किया पोस्ट, लिखा- बिकरू कांड के लिए समाज का हर वर्ग जिम्मेदार

बिकरू में बदमाशों के हमले में शहीद हुए आठ पुलिसकर्मियों के साथ सभी अधिकारियों की संवेदनाएं जुड़ गईं हैं। इस घटना के पीछे अधिकारी विभागीय चूक मान रहे हैं। कुछ अधिकारियों ने सोशल मीडिया पर भी दर्द बयान किया।

इनमें से एक शहर में एसपी पूर्वी रहे अनुराग आर्या ने फेसबुक  पर एक मार्मिक पोस्ट शेयर की हैं, जिसमें उन्होंने बिकरू में हुई घटना के लिए समाज के हर वर्ग को जिम्मेदार ठहराया है। वर्तमान में मऊ एसपी अनुराग आर्या ने अपने पोस्ट में लिखा...अकेला चना भाड़ नहीं फोड़ सकता।

ऐसे जहरीले कुकर्मी किसी के सगे नहीं हैं। इसने जिसकी भी जिंदगी ली है, उसमें हर तबके, हर वर्ग, हर पेशे, हर जाति के लोग शामिल हैं। गंदे कीड़ों को उजागर करना और उनका दमन करना भी पुरुषार्थ है। यही पुरुषार्थ हर एक को करना होगा।

आज खाकी है, कल कोई और था, आने वाले कल में कोई और होगा। अपराधी को संरक्षण देने वाले, उसकी जमानत लेने और देने वाले, दरिंदे को वोट का माध्यम बनाने वाले....हत्यारों को ‘रॉबिन हुड’ बनाकर पेश करने वाले लोग घटना के लिए जिम्मेदार हैं।

बिकरू में जो शहीद हुए, वे हमारे अपने थे। व्यक्तिगत रूप से कानपुर नगर में एसपी पूर्वी रहते हुए मेरे सहकर्मी रहे शहीद नेबुलाल अमेठी में भी साथ रहे। दिन रात हम लोग इन्हीं अपने जांबाज सिपाहियों, दीवानों, दरोगाओं, कोतवालों व अधिकारियों के साथ मिलकर चुनौतियों का सामना करते हैं। बिकरू कांड का दर्द बयान नहीं किया जा सकता हैं।
... और पढ़ें

Coronavirus in UP: कानपुर में कोरोना से चार की मौत, 58 मरीज और बढ़े, संक्रमितों की संख्या 1338 हुई

पुलिस एनकाउंटर में मारे गए बदमाश
कानपुर कोरोना से शनिवार को चार और मरीजों की मौत हो गई। ये हैलट में भर्ती थे। इनमें तीन मरीज नगर तथा एक सिकंदरा कानपुर देहात का रहने वाला था। शहर के एक मरीज की उम्र 35 साल थी। इसमें सिर्फ कोरोना के लक्षण थे। जबकि दो मरीज डायबिटीज और दूसरे रोगों की गिरफ्त में थे।

शाम तक 58 नए मरीज भी मिले। शहर में संक्रमण से मरने वालों की संख्या 58 हो गई है। संक्रमितों की कुल संख्या 1338 है। इनमें से अब तक 941 रोगी ठीक हो चुके हैं। 340 एक्टिव केस हैं। आचार्य नगर के 35 वर्षीय युवक को दो जुलाई को हैलट के मेडिसिन विभाग में भर्ती किया गया था।

उसे निमोनिया और सांस में तकलीफ थी। जांच में शुक्रवार रात उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई और शनिवार को उसने दम तोड़ दिया। इसी तरह साकेत नगर के 80 साल की वृद्धा की भी मौत हो गई। उन्हें हाइपरटेंशन और सीवियर हाइपोक्सेमिया की समस्या थी। वहीं, सिकंदरा कानपुर देहात के दम तोड़ने वाले 80 साल के संक्रमित बुजुर्ग को डायबिटीज और थायरॉयड की भी बीमारी थी। पनकी की रहने वाली 38 वर्षीय महिला को एक जुलाई को कोरोना की पुष्टि होने के बाद हैलट में भर्ती कराया गया था। वे पांच साल से दमा की मरीज रही हैं।

निजी पैथोलॉजी लैब से जिन मरीजों में संक्रमण की पुष्टि हुई है, उनमें काजीखेड़ा की 44 वर्षीय महिला और 14 साल की किशोरी, श्याम नगर का 29 वर्षीय युवक, बर्रा की 30 वर्षीय युवती, भोलूपुरवा पतारा का 35 साल का युवक, पटकापुर का 28 साल का युवक, मुंशीपुरवा के 65 साल के वृद्ध, श्यामनगर के 61 साल के वृद्ध, सनिगवां का 24 साल का युवक, राधा विहार कल्याणपुर के 47 साल के व्यक्ति, विजय नगर का 29 साल का युवक, निराला नगर के 67 साल के वृद्ध, शिव कटरा लालबंगला के 48 साल के व्यक्ति, नाथू सिंह रोड, कैंट का 39 साल का युवक, पशुपति नगर के 42 साल के व्यक्ति व परदेवनपुरवा लालबंगला का एक साल का बच्चा शामिल है।

इनके अलावा पंचवटी अपार्टमेंट आर्यनगर की 48 वर्षीय महिला, विष्णुपुरी की 50 साल की महिला, हरबंस मोहाल की 65 साल की वृद्धा, कृष्णानगर के 66 साल के वृद्ध, गोविंद नगर के 31 साल के युवक और 23 साल की युवती, उद्योगनगर गुजैनी की 26 साल की युवती, किदवई नगर के 73 साल के बुजुर्ग, दर्शनपुरवा की 60 साल की वृद्धा,  शहर के 40 साल के व्यक्ति, गोविंद नगर के 50 साल के व्यक्ति, नसीमाबाद गुमटी नंबर पांच की 75 साल की वृद्धा, शुगर मिल कंपाउंड की 50 साल की महिला, ढकनापुरवा की 13 साल की किशोरी, काजीखेड़ा की 23 साल की युवती और 18 साल के युवक, न्यू पुलिस कॉलोनी कैंट के 63 साल के वृद्ध और 56 साल की महिला, धोबी मोहाल चौक सराफा की 26 साल की युवती की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इन्हें अस्पताल में भर्ती किए जाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है।
... और पढ़ें

कानपुर: पत्नी से वीडियो कॉल पर की बात, फिर लगा ली फांसी, जानिए पूरा मामला

कानपुर के पनकी रतनपुर गांव निवासी शिवपाल के बेटे विवेक गौतम (25) ने फांसी लगा ली। घटना से पहले उसने पत्नी को वीडियो कॉल की। बातचीत के दौरान विवाद होने पर फांसी लगा ली। 
शिवपाल ने चार माह पहले अपने विवेक की शादी संगीता से की थी। इस वक्त संगीता मायके में है।

शुक्रवार रात विवेक ने मकान के पीछे के हिस्से में बने कमरे में जाकर पत्नी को वीडियो कॉल किया। किसी बात को लेकर दोनों के बीच झगड़ा हो गया। इस पर विवेक ने पंखे के कुंडे के सहारे पत्नी की साड़ी से फांसी लगा ली। इस दृश्य को देखकर संगीता ने पड़ोसी विजय कुमार को कॉल कर घटना की जानकारी दी।

इस बाबत विवेक के परिजनों को सूचना देने के साथ विजय मौके पर पहुंचा और शव को फंदे से उतारा। परिजनों ने बताया कि विवेक ने आईटीआई किया था। लॉकडाउन के दौरान नौकरी न मिलने पर वह ड्राइवरी करने लगा था। इसको लेकर उसकी अक्सर पत्नी से विवाद होता था। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया।

हादसे में घायल युवक की मौत
कानपुर। स्वरूपनगर के मोतीझील चौराहे के पास एक सप्ताह पहले सड़क हादसे में घायल शास्त्री नगर निवासी विनय सक्सेना की मौत हो गई। पिता मोहनलाल ने बताया कि स्वरूपनगर से घर लौटते वक्त वह बाइक से गिरकर घायल हो गया था। शनिवार को हैलट में बेटे की मौत हो गई। 
... और पढ़ें

Kanpur Encounter: सीसीटीवी में कैद है खूनी खेल, विकास डीवीआर लेकर हुआ फरार

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा- भाजपा, सपा और बसपा ने अपराधियों को हमेशा ही दी है शरण

चौबेपुर मुठभेड़ में घायल हुए सिपाहियों से शनिवार को उत्तर प्रदेश कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू, आराधना मिश्रा, नसीमुद्दीन सिद्धीकी एवं राकेश सचान ने मुलाकात की। रीजेंसी अस्पताल पहुंचकर घायलों का हालचाल जाना और उनके परिजनों से भी मुलाकात की।

इस दौरान अजय कुमार लल्लू ने भाजपा के साथ सपा और बसपा पर भी हमला बोला। कहा कि इन तीनों पार्टियों ने अपराधियों को हमेशा ही शरण दी है। कहा कि प्रदेश में जंगलराज चल रहा है। उन्होंने बताया कि परिजनों की मांग है कि दोषी की सजा केवल मौत मिलनी चाहिए।

प्रदेश अध्यक्ष और अन्य वरिष्ठ कांग्रेसी स्वरूप नगर स्थित शहीद सीओ देवेंद्र मिश्रा के घर गए। भाई से मुलाकात की और उनका हालचाल जाना। बताया कि उन्होंने मामले की सीबीआई जांच की मांग की है। इस दौरान दौरान शहर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष हर प्रकाश अग्निहोत्री, एडवोकेट राजीव द्विवेदी, विधायक सोहेल अंसारी, पूर्व विधायक संजीव दरियावादी, पवन गुप्ता, राजेश सिंह आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

चित्रकूट: बिजली गिरने से किसान व किशोर की मौत, चार झुलसे

चित्रकूट जिले में शनिवार को ग्रामीण क्षेत्र में हुई बारिश के साथ बिजली गिरने से अलग-अलग क्षेत्रों में एक किसान सहित एक किशोर की मौत हो गई। तीन महिलाएं व एक किसान झुलस गए। एक भैंस सहित चार बकरियों की भी मौत हो गई।

बरगढ़ थाना अंतर्गत खोहर गांव गुर्दवान के पुरवा निवासी मनीष दुबे (22) पुत्र राजकुमार दुबे अपने खेत में मेड़ बांधन के लिए गया था। इसी दौरान बिजली गिरने से उसकी मौत हो गई। खोहर गांव के इटाही भट्टी पुरवा की नेहा कोल पत्नी मुन्ना कोल व मंजू कोल पत्नी सुनील कोल व मड़हा गांव की निशा पत्नी दीपक कोल व किटहार गांव के रामनरेश मिश्र झुलस गए।

जिनको इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मऊ में भर्ती कराया गया। थानाध्यक्ष रवि कुमार घटना स्थल पहुंचकर परिजनों को ढांढस बंधाया। इसी तरह से सरैया चौकी अंतर्गत गढचपा गांव में कालीदेवी मंदिर के पास खेल रहे लवकुश (10) पुत्र स्व राजमन यादव की मौत हो गई। जिससे घर में कोहराम मच गया।

खेल रहे अन्य बच्चे बाल-बाल बच गए। लेखपाल अवधेश पटेल व चौकी इंचार्ज तपेश मिश्र मौके पर जाकर परिजनों से मिले। वहीं बरगढ़ थाना अंतर्गत खोहर पुरवा लसही निवासी किसान अवधेश कुमार व खोहर गांव के पुरवा इटाही निवासी रामनरेश मिश्र की भैस की मौत हो गई। नायब तहसीलदार घासीराम व थानाध्यक्ष बरगढ़ रवि प्रकाश ने मृतक के परिजनों से मिलकर ढांढस बंधाया।

मऊ क्षेत्र के इटवा गांव के पुरवा चमरौहा महुंवा के पेड़ के नीचे खड़ी बकरियों पर बिजली गिरने से चार बकरियों की मौत हो गई। घटना की जानकारी चमरौहा पुरवा के रावेंद्र कुमार, सुरेश, राममिलन, लवकुश शिवचंद्र छंगू आदि ने उप जिलाधिकारी को दिए पत्र में दी।

बरगढ़ थाना अंतर्गत घूमन गांव में शुक्रवार देर शाम को आकाशीय बिजली गिरने से एक युवक की मौत हो गई। एक किसान की 26 बकरियां की भी मौत हो गई। शनिवार की शाम को मनीष कोल (22) पुत्र जगन कोल साइकिल से अपने रिश्तेदार के यहां जाने के लिए घर से निकला था। इसी दौरान बिजली गिरने से उसकी मौत हो गई। 
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us