विज्ञापन
विज्ञापन
घर बैठें बनवाएं फ्री जन्मकुंडली, जानें बनते काम बिगड़ने का कारण
Kundali

घर बैठें बनवाएं फ्री जन्मकुंडली, जानें बनते काम बिगड़ने का कारण

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

यूपी: विवाहिता की संदिग्ध मौत के चंद घंटों बाद ससुर का शव भी फांसी पर लटकता मिला

हमीरपुर: तिलक समारोह से पहले युवक फांसी पर झूला, तीन दिन बाद थी शादी

हमीरपुर जिले के सरीला में तिलक समारोह के दिन शौच क्रिया को गए युवक ने अस्पताल परिसर में बने कुएं के जाल से तौलिया का फंदा बना फांसी लगा ली। खोजते हुए परिजन मौके पर पहुंचे तो युवक का शव फांसी पर झूलता मिला है। घटना के बाद विवाह वाले घर में कोहराम मचा गया।

जरिया थाने के धगवां निवासी चाचा बाबूलाल ने बताया कि उसके भतीजे राममिलन (22) पुत्र रनमत अहिरवार का विवाह चरखारी के अठकौंहा में तय हुआ था। 25 अक्तूबर को बरात जानी थी। बुधवार शाम फलदान व तिलक का कार्यक्रम था।

इससे पूर्व सुबह करीब पांच बजे राममिलन शौच के बहाने घर से निकल गया। करीब डेढ़ घंटे तक वापस न लौटने पर परिजनों ने खोजबीन शुरू की। बताया कि भतीजे को खोजते हुए वह प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचा। जहां बने कुएं में लगे जाल से राममिलन का शव तौलिया के सहारे फांसी पर झूल रहा था।

बताया कि मृतक मंगलवार रात चचेरे भाई सुरेंद्र पुत्र गोरेलाल के मंडप में आयोजित भोज में खाना खाकर घर लौटा था। बिना किसी से कुछ कहे अपने कमरे में जाकर सो गया था। इससे पहले सोमवार को उसने हंसी खुशी फलदान के लिए कपड़े आदि की खरीददारी की थी।

परिजन फांसी लगाने की वजह नहीं बता पा रहे हैं। मृतक इकलौता पुत्र था। परिवार सहित ईंट भट्टों में मजदूरी करता था। मृतक की मां गेंदारानी, बहन उमा (15) व रोशनी (12) का रो-रोकर बुरा हाल है। जरिया थानाध्यक्ष रीता सिंह ने बताया कि परिजन आत्महत्या का कारण नहीं बता पा रहे हैं। शव का पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंप दिया है। मामले की जांच की जाएगी।
... और पढ़ें

बीमारी से परेशान विवाहिता कुएं में कूदी, बचाने के लिए भाई ने भी लगाई छलांग, ग्रामीणों की मशक्कत से बची दोनों की जान

जालौन जिले के कदौरा में बीमारी से परेशान विवाहिता ने कुएं में कूदकर जान देने का प्रयास किया। महिला को कुएं में छलांग लगाते देख बचाने के लिए भाई ने भी कुएं में छलांग लगा दी। इस घटना से गांव में हड़कम्प मच गया।

किसी तरह ग्रामीणों ने रस्सी डालकर दोनों भाई बहिनों को बाहर निकालकर सीएचसी में भर्ती कराया। परिजनों ने बताया कि महिला के ऊपर भूत प्रेत का साया रहता है। जिससे वो अपना मानसिक संतुलन खो देती है।

थाना अमरौधा जिला कानपुर निवासी जय देवी पत्नी संतोष (30) विगत दो वर्षों से बीमार चल रही है। कुछ दिन पूर्व वो अपने मायके ग्राम इटौरा बावनी आई थी। बुधवार सुबह उसने घर के बाहर बने कुएं में अचानक छलांग लगा दी।

महिला को कुएं में कूदता देख गांव में हड़कम्प मच गया। बहिन को कुएं में कूदता देख बचाने के लिए भाई भूरा (18) पुत्र रामगुलाम भी कूद गया। दोनों को कुएं में डूबता देख आनन-फानन ग्रामीणों ने कड़ी मसक्कत के बाद दोनों को रस्सी-बाल्टी की मदद से बाहर निकालकर सीएचसी में भर्ती कराया।

जहां दोनों की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है। इस संबंध में प्रभारी निरीक्षक जितेंद्र सिंह ने कहा कि दोनों की हालत खतरे से बाहर है। परिजनों ने पूछताछ में बताया कि महिला विगत कुछ वर्षों से परेशान चल रही थी। भूत प्रेत का चक्कर बताया जा रहा है।
... और पढ़ें

नफरत ने उजाड़े दो परिवार, बेसहारा हुईं मासूम बेटियां, सहेली की हत्या कर महिला ने खुद को किया था पुलिस के हवाले

बेसहारा हुईं मासूम बेटियां बेसहारा हुईं मासूम बेटियां

यूपी: सारे गवाह मुकरे, मां की गवाही पर आठ साल के बच्चे की हत्या में तीन सगे भाइयों को उम्रकैद

फतेहपुर जिले में महज बाग से आम तोड़ने के विवाद में ननिहाल आए आठ साल के बच्चे को गोली मारकर उसकी हत्या कर देने के मामले में तीन सगे भाइयों को अदालत ने उम्रकैद की सजा सुनाई है।

मामला न्यायालय में विगत आठ वर्षों से विचाराधीन था। जिसमें मां की गवाही पर बेटे के हत्यारों को न्यायालय ने सजा सुनाई। मुकदमे के दौरान प्रकरण के साक्षी अदालत के सामने गवाही देने से मुकर गए थे।

मगर मृतक की मां बेटे के हत्यारों को न्याय दिलाने के लिए अदालत में डटी रही। घटना खागा कोतवाली क्षेत्र के खैरई गांव में 29 अप्रैल 2012 की सुबह दस बजे घटना हुई थी। खैरई गांव के हुबलाल यादव की बेटी छोट्टन अपने ससुराल किशनपुर से मायके की एक शादी में खैरई आई हुई थी।

घटना के दिन छोट्टन का आठ साल का बेटा शिवम गांव में ही सुबह शौच के लिए जंगल गया हुआ था। लौटते समय उसने रास्ते में खैरई के ही गंगाधर दुबे के बाग से कुछ आम तोड़ लिए। इतनी सी बात गंगाधर दुबे को रास नहीं आई और उन्होंने मौके पर ही शिवम को पीटना शुरू कर दिया।
... और पढ़ें

यूपी: नेपाल जेल से कानपुर में चरस तस्करी, एक गिरफ्तार

नेपाल की वीरगंज जेल में बैठे अंतरराष्ट्रीय ड्रग्स तस्करों के इशारों पर कानपुर तक तस्करी जारी है। एसटीएफ ने शिवली निवासी गिरोह के सदस्य को गंगा बैराज से गिरफ्तार किया है। करीब पौन किलो चरस भी मिली है।

यह प्रदेश का मुख्य तस्कर है। सीओ एसटीएफ टीबी सिंह ने बताया कि शिवली निवासी राजेश वर्मा उर्फ परशुराम उर्फ आदित्य उर्फ सलमान को गिरफ्तार किया गया है। ये नेपाल से चरस की खेप लाकर कानपुर समेत यूपी के अलग-अलग शहरों में सप्लाई करता है।

एसटीएफ के मुताबिक 2014 में राजेश तीन साल के लिए नेपाल जेल में रहा। वहीं पर बड़े तस्कर फिरोज और नासिर से मिला था। 2017 में छूटने के बाद ये उन्हीं के इशारों पर चरस तस्करी कर रहा है। एसटीएफ सीओ ने बताया कि राजेश लोगों को अलग-अलग नाम बताकर मिलता था।
... और पढ़ें

बसपा को एक और झटका, पूर्व विधायक का बेटा भाजपा में शामिल, प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव ने वरुण को दिलाई सदस्यता

कानपुर एनकाउंटर
पिछले एक सप्ताह से बहुजन समाज पार्टी के कई बड़े नेता दूसरी पार्टियों का रुख कर चुके हैं। बुधवार को बसपा के पूर्व विधायक और पूर्व एमएलसी अशोक कटियार के बेटे वरुण कटियार ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली।

किदवई नगर निवासी वरुण युवा उद्यमी हैं। प्रयागराज की भाजपा सांसद केसरी देवी वरुण की रिश्तेदार हैं। कांग्रेसी नेता पूर्व सांसद राकेश सचान की पत्नी सीमा सचान वरुण की मौसी लगती हैं।

भाजपा कानपुर-बुंदेलखंड क्षेत्र के अध्यक्ष मानवेंद्र सिंह के नेतृत्व में प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने उन्हें पार्टी में शामिल किया। अशोक कटियार के बेटे के भाजपा में जाने पर बसपा के मुख्य सेक्टर प्रभारी और घाटमपुर चुनाव के पार्टी प्रभारी लालाराम अहिरवार का कहना है कि पूर्व एमएलसी अशोक कटियार लंबे समय से निष्क्रिय थे।

बसपा ने उन्हें पहले ही पार्टी से बाहर कर दिया था। उनका कहना है कि ये लोग अब पार्टी में किसी काम के नहीं रह गए थे। वरुण के साथ दीपक गुप्ता और राजा कठेरिया ने भी भाजपा की सदस्यता ग्रहण की।
... और पढ़ें

Corona In Kanpur: कोरोना से दो और मौतें, 28 पॉजिटिव मिले, संक्रमितों की संख्या 27390

कानपुर में कोरोना से बुधवार को दो और मरीजों की मौत हो गई। 28 नए संक्रमित मिले। इस वक्त संक्रमण का फैलाव न्यूनतम गति पर आ रहा है लेकिन इन दोनों मरीजों में कोरोना के गंभीर लक्षण थे। इसके साथ कोरोना से मौतों का आंकड़ा 720 पर पहुंच गया।

कुल संक्रमित 27390 और इनमें से 25458 मरीज अस्पतालों और होम आइसोलेशन में ठीक हो चुके हैं। एक्टिव केस 1212 हैं। दोनों संक्रमितों की मौत हैलट में हुई। इनमें अनवरगंज के 33 साल के युवक केफेफड़ों में दोनों तरफ निमोनिया की समस्या थी।

इसके बाद गुर्दे फेल हो गए। इसी तरह कछियाना मोहाल के 73 साल के बुजुर्ग में भी कोरोना के गंभीर लक्षण थे। निमोनिया के बाद सेप्टीसीमिया के चलते मौत हो गई। नए मिले संक्रमितों में कल्याणपुर, आईआईटी परिसर, जाजमऊ, चकेरी, हंसपुरम, प्रतापगंज, शारदा नगर, स्वरूप नगर, सिंधी कॉलोनी, पोखरपुर, काकादेव, रावतपुर, धनकुट्टी, हरबंस मोहाल, ख्यौरा, बर्रा, किदवई नगर, खपरा मोहाल, नवाबगंज, दबौली, गंगापुर, मंगला विहार, मकड़ीखेड़ा, यशोदा नगर, नजीराबाद, पत्रकारपुरम आदि इलाकों के रहने वाले हैं।
... और पढ़ें

बांदा: युवक ने प्रेमिका के पिता को तमंचे से गोली मारी, एक आरोपी गिरफ्तार, प्रेमी सहित दो फरार

बांदा जिले में पति की मौत के बाद मायके में रह रही युवती अपने पांच वर्षीय पुत्री और तीन वर्षीय पुत्र को छोड़कर प्रेमी के साथ चली गई। लगभग एक पखवारे बाद मंगलवार की रात कथित प्रेमी अपने मामा के साथ बच्चों को लेने आ गया।

ननिहाल वालों ने देने से मना किया तो विधवा के प्रेमी ने तमंचे से प्रेमिका के पिता को गोली मार दी। गंभीर रूप से घायल अधेड़ को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। रिपोर्ट दर्ज कर पुलिस ने साथ में आए मामा को हिरासत में ले लिया है। प्रेमी फरार है।

कमासिन थाना क्षेत्र के महेड़ का पुरवा में यह घटना हुई। यहां की बेबी मिश्रा पत्नी श्याम सुंदर ने पुलिस को बताया कि पति के निधन के बाद विधवा पुत्री उसके साथ मायके में रह रही थी। उसके 5 वर्षीय पुत्री व 3 वर्षीय पुत्र है।

दो माह पहले पुत्री पूजा अपने दूर के रिश्तेदार और प्रेमी शीलू दुबे पुत्र उमेश दुबे (बिसंडी, थाना बिसंडा) के साथ चली गई। बच्चों को छोड़ गई। कुछ दिन बाद वापस आ गई। एक पखवारे पहले फिर बच्चों को छोड़कर प्रेमी शीलू के साथ चली गई।
... और पढ़ें

यूपी में भीषण सड़क हादसा, बस की टक्कर से लोडर सवार दो लोगों की मौत, तीन गंभीर रूप से घायल

लखनऊ-कानपुर हाईवे पर तेज रफ्तार रोडवेज बस ने लोडर को टक्कर मार दी। हादसे में लोडर सवार वृद्ध समेत दो लोगों की मौत और तीन लोग घायल हो गए। मृतकों में एक लखनऊ और दूसरा गंगाघाट कोतवाली क्षेत्र का है। 

लोकनगर निवासी अतुल सिंह लोडर चालक है। बुधवार दोपहर वह लोडर लेकर लखनऊ से कानपुर जा रहा था। लोडर में उसके अलावा चार अन्य लोग बैठे थे। लखनऊ-कानपुर हाईवे पर बंथर चौराहे से आगे पेट्रोल पंप के पास पीछे से आ रही तेज रफ्तार रोडवेज बस ने लोडर में टक्कर मार दी।

इससे लोडर पलट गया। लखनऊ के बख्शी का तालाब थाना क्षेत्र के अर्जुनगंज अमामऊ निवासी रामशंकर 65 की मौके पर मौत हो गई। पुलिस ने अन्य चार घायलों को जिला अस्पताल पहुंचाया। वहां गंगाघाट थाना क्षेत्र के मंशाखेड़ा गांव निवासी शंकर निषाद (40)  पुत्र तुला की भी मौत हो गई।

घायलों मे बाराबंकी के जैंगाबाद गांव निवासी तौकीर (19) पुत्र अकील, मसौली निवासी लालमोहम्मद पुत्र जान मोहम्मद व एक अन्य युवक का इलाज चल रहा है। हादसे के बाद चालक बस लेकर भाग निकला। 
... और पढ़ें

हरदोई: भ्रष्टाचार में निलंबित पेशकार को डीएम ने किया बर्खास्त, दैवी आपदा सहायता के नाम पर मांगे थे रुपये

हरदोई जिले में भ्रष्टाचार और फाइलों के गायब होने के मामले में सदर तहसीलदार के निलंबित पेशकार अनुराग मिश्रा को डीएम अविनाश कुमार ने सेवा से बर्खास्त कर दिया है। शाहाबाद ब्लाक मुख्यालय में तीन फरवरी 2019 को आयोजित तहसील दिवस में ग्राम परसई के मजरा उधरनपुर निवासी प्रिंस पुत्र राजाराम ने तत्कालीन जिलाधिकारी पुलकित खरे से शिकायत दर्ज कराई थी।

बताया था कि उसकी मां की मौत सर्पदंश के कारण हो गई थी। दैवी आपदा के तहत सहायता दिए जाने के लिए चार लाख रुपये मंजूर किए गए थे। प्रिंस ने आरोप लगाया था कि तत्कालीन क्षेत्रीय लेखपाल राम प्रताप मिश्र, रजिस्ट्रार कानूनगो अवधेश कुमार और जिलाधिकारी कार्यालय के तत्कालीन दैवी आपदा लिपिक अनुराग मिश्रा ने डेढ़ लाख रुपये की मांग सहायता के नाम पर की।

तहसीलदार को दिए गए बयान के आधार पर उक्त तीनों कर्मचारियों के विरुद्ध भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत मझिला थाने में रिपोर्ट दर्ज करा दी गई। इसके अलावा कमला देवी पत्नी रामअवतार निवासी ग्राम कैमी तहसील शाहाबाद ने भी दाखिल खारिज के लिए 22 हजार रुपये लेने की शिकायत दर्ज कराई थी।

सदर तहसीलदार कोर्ट की सात पत्रावलियां गायब मिली थीं। इनका हस्तांतरण पेशकार के पद पर तैनात अनुराग मिश्रा ने किसी को नहीं किया। पूरे मामले की विस्तृत जांच नगर मजिस्ट्रेट से कराई गई। नगर मजिस्ट्रेट की जांच आख्या के आधार पर उत्तर प्रदेश सरकारी सेवक (अनुशासन एवं अपील) नियमावली 1999 के तहत अनुराग मिश्रा को सेवा से बर्खास्त कर दिया गया है।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X