विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
कुंडली से जानिए अपनी समस्त विपदाओं का हल , आज ही बनवाएं फ्री जन्म कुंडली
Kundali

कुंडली से जानिए अपनी समस्त विपदाओं का हल , आज ही बनवाएं फ्री जन्म कुंडली

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

कानपुर एनकाउंटर: कौन है खूंखार बदमाश विष्णु पाल सिंह उर्फ जिलेदार, जिसे पकड़ने के लिए बेताब है यूपी एसटीएफ

कानपुर एनकाउंटर: ग्रामीण बोले, 18 गांवों की 200 बीघा जमीन पर विकास का कब्जा, कोई विरोध करता तो मारा जाता

हमीरपुर: भाजयुमो अध्यक्ष समेत तीन की हत्या में एक को उम्रकैद, राजनीतिक वर्चस्व के चलते हुआ था तिहरा हत्याकांड

झांसी के मऊरानीपुर थानाक्षेत्र के रानीपुर में करीब 14 साल पहले भाजयुमो अध्यक्ष समेत तीन लोगों की हत्या के मामले में अदालत ने एक को उम्रकैद की सजा सुनाई है। अदालत ने 66 हजार रुपये का अर्थदंड भी लगाया है।

इस तिहरे हत्याकांड में छह सितंबर-2019 को पूर्व ब्लाक प्रमुख, उसके दो पुत्रों व रानीगंज नगर पंचायत अध्यक्ष समेत आठ लोगों को अदालत उम्रकैद की सजा सुना चुकी है। शासकीय अधिवक्ता अशोक कुमार शुक्ला ने बताया झांसी के रानीपुर निवासी भाजयुमो जिलाध्यक्ष मनोज श्रोत्रिय अपने निजी अंगरक्षक दीपचंद्र, विमल, मोनी पाल और रामबाबू तिवारी के साथ कार से 17 दिसंबर-2006 को रात करीब साढ़े आठ बजे घर जा रहे थे।

तभी पासा होटल के पास स्कॉर्पियो, टाटा सफारी व पल्सर बाइक से आए पूर्व ब्लाक प्रमुख लेखराज यादव, उसके पुत्र जयहिंद व भगत सिंह और रामस्वरूप, महेंद्र, वीर सिंह, सनु कुशवाहा व पांच अन्य लोगों ने उनकी कार के सामने वाहन लगाकर फायरिंग की, जिसमें भाजयुमो जिलाध्यक्ष मनोज श्रोत्रिय, निजी अंगरक्षक विमल व मोनी की मौत हो गई थी।
... और पढ़ें

आठ पुलिसकर्मियों को दर्दनाक मौत देने का अहम सबूत पुलिस को मिला, विकास दुबे के अलावा ये हत्यारे भी थे शामिल

बिकरू कांड में पुलिस को मिला अहम सबूत बिकरू कांड में पुलिस को मिला अहम सबूत

Coronavirus in UP: कानपुर में कोरोना से दो और मौतें, 73 मरीज और बढ़े, संक्रमितों की संख्या 1932 हुई

कानपुर में कोरोना से मंगलवार को हैलट में दो और मरीजों की मौत हो गई। साथ ही 73 नए संक्रमित मिले। संक्रमण से मरने वालों की कुल संख्या अब 92 हो गई है। शहर में संक्रमितों की संख्या 1932 है। 1155 मरीज ठीक हो चुके हैं। एक्टिव केस 685 हैं।

हैलट में भर्ती नौघड़ा की 72 वर्षीय महिला की रिपोर्ट दो दिन पहले कोरोना पॉजिटिव आई थी। उन्हें तेज बुखार, सांस फूलने की शिकायत थी। आईसीयू में उपचार के दौरान मौत हो गई। इसी तरह नजीराबाद के 72 वर्षीय संक्रमित रोगी ने भी दम तोड़ दिया। उन्हें हाई ब्लडप्रेशर के साथ सांस की दिक्कत थी।

 वहीं, शाम तक संक्रमित मिले मरीजों में नवशीलधाम, केशव नगर, किदवई नगर, जूही सफेद कालोनी, पंचवटी जाजमऊ, हनुमंत विहार, स्वरूप नगर, आजाद नगर, कुरसवां, जनरलगंज, संजीव नगर, नवाबगंज, गांधीनगर, आरके नगर, नेहरू नगर, अशोक नगर, ओमनगर, लाजपत नगर, शास्त्रीनगर, ढकना पुरवा, अहिरवां, परदेवनपुरवा, लाल बंगला, साहब नगर, इंद्रानगर, तिवारीपुर, शिव कटरा, राम मोहन हाता, गोविंद नगर, शक्ति नगर, गुजैनी, कृष्णा नगर, हरबंस मोहाल आदि मोहल्लों के लोग शामिल हैं।
... और पढ़ें

'शुद्ध' करेगी आपके कमरे को कोरोना जैसे वायरस से मुक्त, आईआईटी कानपुर ने बनाई मोबाइल से चलने वाली डिवाइस

आईआईटी कानपुर के शोध से तैयार मोबाइल की सहायता से चलने वाली डिवाइस ‘शुद्ध’ कमरे को कोरोना वायरस जैसे अनेक कीटाणुओं से मुक्त कर देगी। यूवी (अल्ट्रावायलेट) सेनेटाइजिंग उत्पाद होने से इसमें किसी प्रकार के केमिकल का प्रयोग नहीं किया गया है।

वरिष्ठ वैज्ञानिक प्रो. जे रामकुमार की देखरेख में डॉ. अमनदीप सिंह व शिवम सचान ने आईआईटी की इमेजनरी लैब में शुद्ध (स्मार्टफोन संचालित हैंडी अल्ट्रावायलेट डिसइंफेक्शन हेल्पर) नामक एक सेनेटाइजिंग उत्पाद तैयार किया है।

डॉ. अमनदीप सिंह ने बताया कि मोबाइल पर एक एंड्रायड एप्लीकेशन इंस्टाल करके इस उत्पाद को फोन से कनेक्ट कर सकते हैं। स्मार्टफोन का उपयोग शुद्ध को ऑन-ऑफ, गति और स्थान को बदलने में कर सकते हैं। मोबाइल से ही इसे नियंत्रित किया जा सकता है।

प्रो. रामकुमार ने बताया कि शुद्ध में 15 वाट की छह यूवी लाइट लगी हैं, जिन्हें व्यक्तिगत रूप से दूर से ही नियंत्रित किया जा सकता है। आईआईटी की लैब में हुई टेस्टिंग पूरी तरह सफल रही है। 10 गुणे 10 वर्ग फुट के कमरे को इस डिवाइस के माध्यम से करीब 15 मिनट में पूरी तरह कीटाणुमुक्त किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि शुद्ध का उपयोग अस्पताल, होटल, मॉल, ऑफिस, स्कूल आदि में कर कोरोना के संक्रमण को रोका जा सकता है।
... और पढ़ें

विकास दुबे का ममेरा भाई गिरफ्तार, इसी के घर में हुई थी डीएसपी की नृशंस हत्या, पूछताछ में चौंकाने वाला कबूलनामा

आईआईटी कानपुर

यूपी: सामूहिक दुष्कर्म के बाद बेचने का प्रयास, किशोरी ने दो युवकों पर लगाया आरोप

चित्रकूट जिले में मऊ थाना क्षेत्र के एक गांव की किशोरी ने पड़ोसी गांव के दो युवकों पर जबरन बाइक से ले जाकर सामूहिक दुष्कर्म करने फिर प्रयागराज ले जाकर बेचने का प्रयास करने का आरोप लगाया है। मंगलवार को थाने में तहरीर देकर पीड़िता ने यह भी बताया कि एक आरेापी का उसके घर आना जाना था।

उसने प्रयागराज में उससे मंदिर में शादी भी की लेकिन अपने दोस्त के साथ प्रयागराज में भी सामूहिक दुष्कर्म किया। थाना प्रभारी ने कहा कि तहरीर मिली है। मामला पुराना होने के कारण तफ्शीश की जा रही है। दोनों आरोपियों पर रिपोर्ट भी दर्ज की जाएगी।

पीड़िता के बालिग होने या नाबालिग होने की भी जांच कराई जा रही है। पीड़िता ने बताया कि तीन जुलाई की शाम को गांव के बाहर उसके घर आने जाने वाला पड़ोस के गांव का एक युवक अपने दोस्त के साथ बाइक पर मिला।

बातों में ही उसे जबरन बाइक में बैठा लिया फिर अपने गांव ले जाकर घर में दोनों ने दुष्कर्म किया। उसने विरोध किया तो घर में मौजूद एक महिला ने उसे जान से मारने की धमकी देकर चुप करा दिया। इसके बाद रात भर घर में रखे रहे।
... और पढ़ें

शशिकांत की पत्नी का ऑडियो वायरल: बोली- भाभी गेट पर दो आदमी मरे पड़े हैं, विकास भइया मार गए हैं...

मिस्त्री ने घर मेंं फांसी लगाकर दी जान, पत्नी बोली- दूसरी युवती से प्रेम प्रसंग चलने का किया था विरोध

चित्रकूट जिले में पारिवारिक कलह के चलते मिस्त्री ने सोमवार देर रात अपने घर के कमरे के अंदर फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। मंगलवार सुबह जानकारी होने पर परिजनों में कोहराम मच गया।

सदर कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत मुख्यालय के उटारखाना पुरानी बाजार निवासी मुश्तकीन (48) पुत्र अब्दुल सूफियान सोमवार रात घर पहुंचा। खाना बनाने को लेकर पत्नी से झगडा हो गया। जिससे क्षुब्ध होकर कमरे में जाकर सो गया। पत्नी व बच्चे दूसरे कमरे में सोने चले गए।

देर रात को ही मुश्तकीन कमरे में रस्सी से फांसी का फंदा बनाकर झूल गया। मंगलवार सुबह जब पत्नी निशा ने दूसरे कमरे में जाकर देखा तो पति का शव रस्सी से लटकता मिला। सूचना पर कोतवाल पुलिस टीम के साथ पहुंचे। जांच पड़ताल कर शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम कराया है।

कोतवाल ने बताया कि प्रथम दृष्टया पति-पत्नी के बीच झगड़े की बात सामने आई है। मृतक की पत्नी ने रोते हुए बताया कि उसके पति का दूसरी युवती से भी प्रेम प्रसंग था। इस बात को लेकर कई बार मना किया लेकिन वह नहीं मानते थे।

रात में इसी बात को लेकर भी विवाद हुआ था। मृतक इलेक्ट्रिानिक सामग्री बनाने का काम करता था। मृतक के परिजन जामा मस्जिद परिसर में रहते हैं। मृतक के चार पुत्र हैं। घटना से परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।
... और पढ़ें

विकास के साथी गुड्डन को एनकाउंटर का डर, बोला फ्लाइट से जाऊंगा, चार दिन की ट्रांजिट रिमांड पर ला रही पुलिस

Election
  • Downloads

Follow Us