विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

उत्तर प्रदेश के 15 जिले आज रात 12 बजे से पूरी तरह से होंगे सील

यूपी में लॉकडाउन की अवधि बढ़ाए जाने की अटकलों के बीच प्रदेश सरकार ने कोरोना संक्रमण के बढ़ते खतरे को देखते हुए प्रदेश के 15 जिलों को रात 12 बजे से सील करने का निर्णय लिया है।

8 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

कुशीनगर

बुधवार, 8 अप्रैल 2020

रामकोला के क्वारंटीन सेंटर में विदेशी नागरिकों से हुई पूछताछ

रामकोला के क्वारंटीन सेंटर में विदेशी नागरिकों से हुई पूछताछ
रामकोला। थाना क्षेत्र के चंदरपुर गांव के समीप शुक्रवार को पकड़े गए नेपाल निवासी 14 मौलवियों से रविवार को सीओ खड्डा की मौजूदगी में पूछताछ की गई। ये लोग के जिले में एक महीने से अधिक समय से विभिन्न मस्जिदों में रुककर धर्म का उपदेश दे रहे थे। सीओ ने सभी के भोजन व सुरक्षा का आश्वासन दिया।
नेपाल के सिराहा जिले के रहने वाले मोहम्मद जखीर अंसारी, मोहम्मद अलाउद्दीन, मोहम्मद अहमद हुसैन, मोहम्मद रहमतुल्लाह खां, नेयमुलाह खां, जासीम,इब्राहिम, अख़्तर, इदरीश, इसराफिल, हजमा, फ्रमुद, नाजिर तथा मोहम्मद आरिफ अंसारी आदि लोग बीते शुक्रवार को रामकोला थाना क्षेत्र के चंदरपुर गांव के पास पकड़े गए थे। इन सभी को शिवदुलारी देवी दलडपट शाही महिला महाविद्यालय में बने क्वारंटीन सेंटर में रखा गया है। रविवार को एलआईयू की टीम ने इन लोगों से पूछताछ की। टीम के साथ मौजूद सीओ खड्डा शिव स्वरूप ने बताया कि पकड़े गए मौलवी धर्म प्रचारक हैं। इन लोगों ने नेपाल में 15 से 17 फरवरी के बीच हुए इस्तेमा जमात में हिस्सा लिया था जिसमें करीब एक लाख लोग शामिल हुए थे। वहां से 19 फरवरी को निकले ये लोग 23 फरवरी को रक्सौल पहुंचे। वहां से ट्रेन से खड्डा आ गए थे। तभी से खड्डा, कप्तानगंज, रामकोला थाना क्षेत्र की मस्जिदों में पहुंचकर धर्म का उपदेश दे रहे थे। लॉक डाउन के बाद जब मस्जिदों में जगह नहीं मिली तब ये लोग लक्ष्मीगंज में एकत्रित हुए और वहां से गांव-गांव घूम रहे थे। चंदरपुर के लोगों की सूचना पर सभी को पुलिस ने पकड़ा।
सीओ ने बताया कि क्वारंटीन किए गए इन लोगों के लिए भोजन आदि का प्रबंध कराया गया है। एसओ को भी इस सेंटर पर सुरक्षा उपाय करने के निर्देश दिए गए हैं।
...इसलिए सैंपल की जांच नहीं कराई गई
सीएमओ ने कहा कि नेपाल से आए जिन 14 मौलवियों को रामकोला क्षेत्र के शिवदुलारी देवी दलडपट शाही महिला महाविद्यालय में ठहराया गया है, उन लोगों में कोरोना के संक्रमण का खतरा नहीं है, क्योंकि के हजरत निजामुद्दीन इलाके में आयोजित तब्लीगी मरकज में शामिल नहीं हुए थे। इसलिए उनमें कोरोना के संक्रमण की जांच के लिए सैंपल नहीं लिया गया।
कलमा पढ़ाने की लिए जुटाई भीड़, गृहस्वामी हिरासत में
खड्डा। स्थानीय कस्बे के एक मुहल्ले में लॉकडाउन का उल्लंघन कर मदरसे में पढ़ने वाले बच्चों को कलमा पढ़ने के लिए बुलाया गया था। इसकी सूचना पर पुलिस पहुंची व बच्चों को उनके घर भेजकर गृहस्वामी को हिरासत में ले लिया।
रविवार को खड्डा पुलिस को सूचना मिली की मुहल्ले के रहने वाला एक व्यक्ति अपने समुदाय के बच्चों को घर बुलाकर कलमा पढ़वा रहा है। लॉकडाउन उल्लंघन की सूचना पर पुलिस पहुंची तो वहां 15 से अधिक बच्चे मौजूद मिले। खड्डा थाने के एसएसआई पीके सिंह का कहना है कि बच्चों को उनके घर भेजते हुए आरोपी को हिरासत में ले लिया गया। अफसरों के निर्देशानुसार केस दर्ज किया जाएगा।
... और पढ़ें

ज्वाइंट मजिस्ट्रेट की जांच में गोदाम में नहीं मिला राशन, केस का आदेश

ज्वाइंट मजिस्ट्रेट की जांच में गोदाम में नहीं मिला राशन, केस का आदेश
रहसू बाजार। रहसू जनोबी पट्टी के टोला दूबे पट्टी में सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान का ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने जांच की। जांच के दौरान गोदाम में राशन नहीं मिलने पर नाराजगी जताते हुए कोटेदार के खिलाफ केस दर्ज करने का निर्देश दिया।
ज्वाइंट मजिस्ट्रेट अभिषेक पांडेय गांव के लोगों की शिकायत पर रविवार को कोटेदार कमलावती देवी की राशन के दुकान पर पहुंचे। वहां पहले से ही अंत्योदय व पात्र गृहस्थी कार्डधारक मौजूद थे। गांव में 148 अंत्योदय व 433 पात्र गृहस्थी कार्ड धारक हैं। कोटेदार से जब गोदाम खोलने को कहा गया तो असमर्थता जताई। कार्डधारक विश्वनाथ यादव, बाची देवी, कलावती देवी, चंद्रभान, विजय बहादुर, घरभरन, श्यामलाल, देवेंद्र, नरेश, बृक्षा ने बताया कि राशन के लिए अंगूठा लग गया, लेकिन राशन नहीं मिला है। इस पर नाराजगी जताते हुए ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने कोटेदार के खिलाफ केस दर्ज करने का आदेश दिया। पटहेरवा पुलिस ने कोटेदार के लड़के को थाने ले गई।
ज्वाइंट मजिस्ट्रेट अभिषेक पांडेय ने बताया कि कोटेदार के खिलाफ केस दर्ज कर दुकान का अनुबंध भी निरस्त किया जाएगा। इस दौरान बीडीओ अरुण कुमार पांडेय, पूर्ति निरीक्षक राघवेंद्र शाही, एसओ पटहेरवा संजय कुमार सिंह, कानूनगो कन्हैया यादव, राजस्व निरीक्षक राधेश्याम सिंह, सचिव मजहरूल हक, ग्राम प्रधान प्रतिनिधि ठाकुर अरविंद सिंह, उमेश कुशवाहा, संतोष सिंह आदि मौजूद रहे।
पांच सदस्यीय टीम ने की पकड़े गए अनाज की जांच
खड्डा। शुक्रवार को कस्बे में पकड़े गए सरकारी अनाज की ज्वाइंट मजिस्ट्रेट कसया की अध्यक्षता में गठित टीम ने जांच शुरू कर दी है। शनिवार को सभी पक्षों का बयान लेकर अभिलेखों की जांच शुरू की गई। कस्बे में एक ट्रॉली गेहूं थाने में लाया गया था। पहले 70 बोरी होने की जानकारी मिली थी, लेकिन अब पता चला है कि 110 बोरी अनाज था।
खड्डा के विपणन गोदाम से ट्रैक्टर ट्राली पर लगभग 110 बोरी गेहूं लादकर ले जाते समय सप्लाई ठेकेदार ने रोककर पुलिस को सौंप दिया था। डीएम ने ज्वाइंट मजिस्ट्रेट कसया अभिषेक पांडेय की अध्यक्षता में नायब तहसीलदार खड्डा, जिला खाद्य विपणन अधिकारी, पूर्ति निरीक्षक कसया व कप्तानगंज सहित कुल पांच सदस्यों की कमेटी गठित करते हुए इसकी जांच करने का निर्देश दिया है। खड्डा थाने में सप्लाई ठेकेदार व एसएमआई सहित अन्य संबंधित लोगों का बयान ज्वाइंट मजिस्ट्रेट व कमेटी ने लिया। ठेकेदार का तर्क है कि बिना उसके हस्ताक्षर व जानकारी के अनाज गलत तरीके से ले जाया जा रहा था, जबकि एसएमआई का दावा है कि अनाज मिड-डे मील का था और कोटेदारों के वहां जा रहा था। पहले यह 70 बोरा होने की बात सामने आई थी, लेकिन बाद में 110 बोरी उजागर हुआ है। सच्चाई जांच कमेटी की रिपोर्ट के बाद सामने आएगी परंतु इसे लेकर तरह तरह की चर्चा हो रही है।
जांच कमेटी के सदस्य व नायब तहसीलदार खड्डा रवि यादव ने बताया कि ज्वाइंट मजिस्ट्रेट की अध्यक्षता में जांच शुरू हुई है। सभी का बयान लिया गया है। अभिलेखीय साक्ष्य एकत्र किया गया है। अभिलेखों का परीक्षण कर उच्चाधिकारियों को रिपोर्ट सौंपी जाएगी।
धांधली के आरोप में कार्रवाई का आदेश
सेवरही। पांडेय मुन्नी पट्टी गांव के कोटेदार की ओर से राशन वितरण में की गई अनियमितता और अधिकांश कार्डधारकों को राशन नहीं देने के मामले में नोडल अधिकारी की रिपोर्ट पर कार्रवाई का आदेश हुआ है। पूर्ति निरीक्षक ने इस संबंध में एसडीएम को रिपोर्ट भी सौंप दी है।
पिछले तीन दिनों से पांडेय मुन्नी पट्टी गांव के कोटेदार की ओर से लगातार अनियमितता की शिकायत मिल रही थी। गांव के अखिलेश, अनिल, दुर्गेश, ध्रुव, महातम, किशोर, हरिश्चंद्र आदि ने बताया कि उन्हें तीन दिनों तक राशन के लिए बुलाकर राशन नहीं दिया गया। इसकी सूचना अधिकारियों को दी गई। मौके पर पहुंचे नोडल अधिकारी शिवम गुप्ता ने स्टॉक की जांच के साथ ग्रामीणों का बयान लिया। उन्होंने कोटेदार के खिलाफ अपनी रिपोर्ट तमकुहीराज वीडियो को दी है। पूर्ति निरीक्षक विजय राय ने बताया कि रिपोर्ट में कोटेदार की अनियमितता उजागर हो गई है। इसके बाद कोटेदार के खिलाफ केस दर्ज करवाने की अनुशंसा के लिए एसडीएम को पत्र भेजा गया है। आदेश प्राप्त होते ही कोटेदार के विरुद्ध केस दर्ज कर कार्रवाई होगी।
इस संबंध में तमकुहीराज के एसडीएम एआर फारूकी ने बताया कि आपदा के इस घड़ी में गरीबों के हिस्से का राशन खाने वाले किसी कोटेदार को बख्शा नहीं जाएगा।
घटतौली और अधिक मूल्य लेने का आरोप
नेबुआ रायगंज। बहोरा रामनगर गांव के राशन कार्डधारकों ने कोटेदार पर अधिक दर पर राशन देने और घटतौली का आरोप लगाया है। इससे नाराज कार्डधारकों ने भाजपा मंडल अध्यक्ष विश्वजीत राय से शिकायत कर कार्रवाई की मांग की है।
भाजपा के पिपरा बाजार मंडल महामंत्री विश्वजीत राय ने बताया कि लोगों की शिकायत पर कोटेदार को समझाने का प्रयास किया लेकिन कोटेदार के तरफ से कोई कार्रवाई नही की गई। इसकी शिकायत पूर्ति निरीक्षक रत्नेश मिश्रा से की गई। पूर्ति निरीक्षक रत्नेश मिश्रा ने बताया कि कोटेदार के खिलाफ शिकायत मिली है। उससे पूछताछ कर चेतावनी दी गई है। यदि पुन: शिकायत मिलती है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
राशन वितरण में अनियमितता का आरोप, हंगामा
तरयासुजान। तरयासुजान थाना क्षेत्र के जमसड़िया जमसड़ा गांव में राशन वितरण के दौरान अनियमितता का आरोप लगाकर लोगों ने हंगामा किया। सूचना पर डॉयल 112 की पुलिस मौके पर पहुंची और लोगों को समझा-बुझाकर शांत किया।
रविवार को जमसड़िया जमसड़ा गांव के सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान पर राशन वितरण हो रहा था। गांव के लोगों ने राशन वितरण में अनियमितता का आरोप लगाकर लोगों ने हंगामा करना शुरू कर दिया। इसी बीच किसी ने डायल 112 को सूचना दे दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने लोगों को समझा बुझाकर शांत कराया। कोटेदार को भी नियमानुसार राशन वितरित करने का निर्देश दिया।
राशन वितरण में धांधली का आरोप
अहिरौली बाजार। क्षेत्र के घोड़ादेउर गांव के लोगों ने राशन वितरण में धांधली का आरोप लगाया है। यहां एक अप्रैल से ही अनाज वितरित किया जा रहा था। इन लोगों ने कोटेदार पर बिना पर्ची के ही राशन देने का आरोप लगाया है।
गांव के इसहाक अली, आजाद अली, शाकिर अली, संध्या देवी, फूलबदन प्रसाद, राममिलन विश्वकर्मा, साबिर अली, संध्या शर्मा, रामाश्रय आदि ने बताया कि खाद्यान्न वितरण के दौरान कोटेदार बिना पर्ची दिए ही अनाज का वितरण कर रहे हैं। पर्ची न मिलने से पात्र अपात्र व्यक्तियों की पुष्टि नहीं हो पा रही है। इससे नि:शुल्क अनाज का लाभ पात्रों को नहीं मिल पा रहा है। इस संबंध में कप्तानगंज एसडीएम अरविंद कुमार ने बताया कि इसकी जानकारी नहीं है। पता कर कार्रवाई की जाएगी। पूर्ति निरीक्षक दुर्गादत्त ने बताया कि डीसी मनरेगा के तरफ से उपलब्ध कराई गई सूची के आधार पर राशन का वितरण करवाया जा रहा है।
राशन वितरण में सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन
जटहां बाजार। विशुनपुरा ब्लॉक के अरनहवा गांव में राशन वितरण में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया जा रहा है। गांव के लोगों का आरोप है कि राशन वितरण में कटौती भी की जा रही है। यहां के लोगों ने एसडीएम से इसकी शिकायत की है।
केंद्र सरकार के निर्देश पर 14 अप्रैल तक लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने का निर्देश है। इसके बाद भी जिम्मेदार इसका पालन नहीं करा रहे हैं। अरनहवा गांव में कोटे की दुकान पर काफी संख्या में कार्डधारकों की भीड़ जुट रही है। इससे कोरोना का संक्रमण फैलने का डर बना हुआ है। गांव के जितेंद्र यादव का आरोप है कि राशन वितरण में भी कटौती की जा रही है। अंत्योदय, पात्र गृहस्थी सहित जॉब कार्डधारकों के राशन में कटौती की जा रही है। उन्होंने बताया कि एसडीएम से इसकी शिकायत की गई है।
... और पढ़ें

PM राहत कोष में 5 लाख रुपये बिना जमा किए सोशल मीडिया पर पोस्ट की फोटो, अब पहुंच गया जेल

कोरोना महामारी के संकट में सरकार को सहयोग करने के नाम पर फर्जी चेक जारी कर उसे सोशल मीडिया पर प्रसारित करने और गुंडा एक्ट के उल्लंघन के आरोप में पुलिस ने एक युवक के खिलाफ केस दर्ज किया है। पुलिस उसे गिरफ्तार कर आवश्यक कार्रवाई में जुट गई है।

विशुनपुरा थाना क्षेत्र के पृथ्वीपुर गांव निवासी रजनीकांत मद्धेशिया दुदही बाजार में कमरा लेकर परिवार के साथ रहता है। वह दुदही बाजार में मोबाइल की दुकान संचालित करता है। एक सप्ताह पहले उसने कोरोना महामारी से बचाव के लिए उसने प्रधानमंत्री राहत कोष में उसने पीएनबी की दुदही शाखा के खाते के चेक से पांच लाख रुपये का चेक काटा था। इसके बाद उसने चेक का फोटो फेसबुक पर वायरल कर दिया।

दुदही के भाजपा कार्यकर्ता मनोज कुंदन ने युवक पर फर्जीवाड़ा कर देश के साथ मजाक करने का आरोप लगाते हुए विशुनपुरा पुलिस को तहरीर दी है। पुलिस की जांच में खुलासा हुआ कि जिस खाता का चेक है, उसमें धनराशि बहुत कम है, जबकि चेक पांच लाख रुपये का काटा गया है। इसके अलावा यह चेक जिला प्रशासन को दिया ही नहीं गया है।

इसके अलावा आरोपी युवक पहले से ही गुंडा एक्ट में निरुद्ध है, जो जिलाबदर कर दिया गया है। इसके बावजूद वह दुदही में ही रह रहा है। पुलिस ने इस मामले में आरोपी युवक पर फर्जीवाड़ा, आईटी एक्ट एवं गुंडा एक्ट का उल्लंघन करने समेत विभिन्न आरोपो में मुक़दमा दर्ज़कर आरोपी को गिरफ़्तार कर लिया है।

एसओ अनिल कुमार ने बताया कि धोखाधड़ी, आईटी एक्ट एवं गुंडा एक्ट के तहत मुक़दमा दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। जिस चेक से प्रधानमंत्री राहत कोष में सहायता करने दावा किया है, उस खाता में रुपये ही निहायत कम हैं।
... और पढ़ें

दिल्ली से लौटे 10 जमाती पकड़े गए, केस दर्ज

दिल्ली से लौटे 10 जमाती पकड़े गए, केस दर्ज
पडरौना। दिल्ली की जमात से लौटे 10 लोगों को कुशीनगर पुलिस ने गिरफ्तार करते हुए क्वारंटीन करा दिया है। इनमें से पांच लोग सोमवार को दिन में तथा पांच रात में पकड़े गए थे। इन लोगों के खिलाफ निषेधाज्ञा का उल्लंघन करने व महामारी एक्ट के तहत केस दर्ज कराया गया है। इसके अलावा जिले में इनके संरक्षण दाताओं को भी चिह्नित कर उनके खिलाफ भी कार्रवाई हो रही है।
कुशीनगर पुलिस को खबर मिली थी कि दिल्ली से तब्लीगी जमात से लौटे असम प्रांत के कुछ लोगों के कुशीनगर जिले में कहीं छिपे होने की आशंका है। सूचना के आधार पर मस्जिदों व अन्य संभावित जगहों पर तलाश हुई थी लेकिन इनका पता नहीं लगा। इस बीच शासन ने पुन: इनके कुशीनगर में ही छिपे होने की आशंका जताते हुए हर हाल में पकड़कर क्वारंटीन करने का निर्देश दिया। एसपी विनोद कुमार मिश्रा ने बताया कि दोबारा हुई छानबीन में रविवार की रात में असम प्रांत के दो लोग पकड़े गए। इनसे मिली सूचना के आधार पर छानबीन के दौरान सोमवार को दिन में भी तीन लोग पकड़ लिए गए। रात में इनके साथ की पांच महिलाओं को भी खोज लिया गया। सभी 10 लोगों को विशेष सावधानी बरतते हुए जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में लाया गया। वहां से इनका सैंपल जांच के लिए भेजा गया। सभी को क्वारंटीन कराया गया है। इन लोगों के खिलाफ निषेधाज्ञा उल्लंघन व महामारी एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है। इसके अलावा इन्हें जिले में संरक्षण देने वालों को भी चिह्नित कर लिया गया है। उनके खिलाफ भी कार्रवाई की जा रही है।
... और पढ़ें
प्राथमिक विद्यालय तुर्कपट्टी में क्वारंटीन किए गए लोग। प्राथमिक विद्यालय तुर्कपट्टी में क्वारंटीन किए गए लोग।

सरकारी अनाज की कालाबाजारी में एसएमआई गिरफ्तार

सरकारी अनाज की कालाबाजारी में एसएमआई गिरफ्तार
खड्डा। पिछले सप्ताह विपणन गोदाम से ट्रैक्टर ट्राली से भेजे गए सरकारी अनाज की जांच पूरी हो गई है। ज्वाइंट मजिस्ट्रेट कसया की अध्यक्षता में गठित जांच टीम ने इसे कालाबाजारी का प्रकरण माना है। डीएम के आदेश पर पुलिस ने आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कर एसएमआई को गिरफ्तार कर लिया है। तत्काल प्रभाव से विपणन गोदाम को भी सील कर दिया गया है। डीएम के इस कड़े रुख के बाद आपूर्ति विभाग में हड़कंप मच गया है।
शुक्रवार को खड्डा के विपणन गोदाम से ट्रैक्टर ट्राली पर 110 बोरी गेहूं लादकर ले जाते समय सप्लाई ठेकेदार ने रोक दिया था। पुलिस ने राशन समेत ट्रैक्टर ट्राली को कब्जे में लिया था। डीएम के निर्देश पर ज्वाइंट मजिस्ट्रेट कसया अभिषेक पांडेय की अध्यक्षता में पांच सदस्यीय टीम मामले की जांच कर रही थी। जांच टीम की रिपोर्ट के आधार पर डीएम भूपेंद्र एस चौधरी ने कड़ी कार्रवाई का आदेश दिया था। इसके बाद जिला खाद्य विपणन अधिकारी ने सोमवार की देर रात एसएमआई खड्डा विनय प्रकाश व वाहन स्वामी के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया। नायब तहसीलदार खड्डा की मौजूदगी में विपणन गोदाम को अगले आदेश तक सील कर दिया गया। पुलिस ने एसएमआई को भी गिरफ्तार कर लिया है। वाहन स्वामी व चालक की गिरफ्तारी के लिए पुलिस प्रयास कर रही है। इसी बीच थाना क्षेत्र के कोपजंगल गांव में भी सरकारी अनाज होने की सूचना पर पुलिस टीम के साथ नायब तहसीलदार पहुंच गए। वहां मिले अनाज को थाने लाकर छानबीन की जा रही है।
एसओ आरके यादव ने बताया है कि मुकदमा दर्जकर एसएमआई विनय प्रकाश को गिरफ्तार किया गया है। वाहन स्वामी व चालक की तलाश की जा रही है। विवेचना के दौरान अन्य जो भी नाम सामने आएंगे उनके खिलाफ भी विधिक कार्रवाई होगी। नायब तहसीलदार रवि यादव ने बताया कि जांच रिपोर्ट में दोष सिद्ध होने के बाद एसएमआई और वाहन स्वामी पर मुकदमा दर्ज कराया गया है। अगले आदेश तक गोदाम सील किया गया है। कोपजंगल में बरामद अनाज के मामले में भी छानबीन चल रही है।
... और पढ़ें

भैसहां घाट पर पीपा पुल से दो दिन से आवागमन ठप, लोग परेशान

भैसहां घाट पर पीपा पुल से दो दिन से आवागमन ठप, लोग परेशान
खड्डा। बड़ी गंडक नदी का जलस्तर बढ़ने से भैसहां घाट पर बने पीपा पुल के आगे की जमीन कट गई है। इससे पीपा पुल से आवागमन दो दिन से ठप है। लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।
पिछले महीने इस पीपा पुल का लोकार्पण डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने किया था। बड़ी गंडक नदी के खड्डा तहसील के भैसहां घाट पर लोक निर्माण विभाग की तरफ से दो भाग में पीपा पुल बनाया गया है। सोमवार शाम जलस्तर में मामूली बढ़ोत्तरी के बाद पुल के पास की जमीन कट गई थी। इसके चलते पीपा पुल के रास्ते गंडक नदी उस पार बसे खड्डा तहसील क्षेत्र के नरायनपुर, शिवपुर, हरिहरपुर, मरचहवा, बसंतपुर, बकुलादह, बालगोविंद छपरा आदि गांवों के साथ निचलौल तहसील क्षेत्र के सोहगीबरवा, शिकारपुर, मटियरवा, भोथहा, पिपरासी गांव का संपर्क टूट गया है। लॉकडाउन के चलते इमरजेंसी सेवा व कृषि कार्य से जुड़े लोग इस रास्ते आ जा रहे थे। सोमवार शाम संपर्क टूटने से कुछ लोग फंस गए थे। गश्त पर निकले एसआई जीतबहादुर ने नाव मंगाकर लोगों को पार कराया।
नदी किनारे बसे लोग बताते हैं कि रामनवमी के बाद नदी में जलस्तर बढ़ जाता है। दशहरा से कम होता है। लोगों की मांग है कि पुल की मरम्मत कर आवागमन शुरू कराया जाए। इस संबंध में लोक निर्माण विभाग के अवर अभियंता राजेश कुमार गोना का कहना है कि लॉकडाउन की वजह से मरम्मत में दिक्कत आ रही है। ठेकेदार को मरम्मत कर आवागमन शुरू कराने को कहा गया है।
... और पढ़ें

छह जमातियों समेत नौ लोगों की कोरोना सैंपल रिपोर्ट निगेटिव

छह जमातियों समेत नौ लोगों की कोरोना सैंपल रिपोर्ट निगेटिव
पडरौना। छह जमातियों सहित नौ लोगों को कोरोना के संदिग्ध के तौर पर जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में लाए जाने के बाद सोमवार को लोग सहम गए थे। बीआरडी मेडिकल कॉलेज गोरखपुर से मंगलवार इनकी जांच रिपोर्ट आ गई। ये सभी कोरोना निगेटिव बताए गए हैं।
वैश्विक महामारी कोरोना से हर कोई जूझ रहा है। इस पर नियंत्रण के लिए लगाए गए लॉकडाउन की वजह से लोगों को अपने घरों में ही रहना पड़ा रहा है। सामाजिक दायरा का पालन भी किया जा रहा है। इसके बावजूद जनपद में सोमवार को अचानक कोरोना के नौ संदिग्ध व्यक्तियों को जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड लाए जाने के बाद लोगों के मन में तरह-तरह की आशंकाएं उत्पन्न होने लगी थीं। अस्पताल लाए गए व्यक्तियों में छह जमाती थे, जबकि तीन इस जनपद के निवासी थे। स्वास्थ्य विभाग की तरफ से इन सभी का सैंपल लेकर बीआरडी मेडिकल कॉलेज भेज दिया गया था, लेकिन हर कोई इस बात को लेकर आशंकित था कि कहीं इनकी रिपोर्ट पॉजिटिव न आ जाए।
बहरहाल, मंगलवार को इनकी रिपोर्ट आई। जमातियों सहित सभी नौ लोगों की रिपोर्ट निगेटिव रही। यह देख स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन ने राहत की सांस ली। इस तरह स्वास्थ्य विभाग की तरफ से अब तक आइसोलेशन वार्ड से 31 लोगों का सैंपल भेजा गया है। सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई है। सीएमओ डॉ. नरेंद्र प्रसाद गुप्त ने बताया कि सोमवार को नौ लोगों का सैंपल भेजा गया था। इनकी रिपोर्ट आ गई है। सभी निगेटिव पाए गए हैं।
संयुक्त जिला चिकित्सालय के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ. बजरंगी पांडेय ने कहा कि रिपोर्ट राहत देने वाली है। नौ लोगों में छह बाहरी हैं, जबकि तीन इस जनपद के रहने वाले हैं।
घर में सामूहिक रूप से कुरान पढ़ रहे सात हिरासत में
फोटो के साथ
गुरवलिया बाजार। लॉकडाउन में पाबंदी के बावजूद तुर्कपट्टी थाना क्षेत्र के विजयपुर दक्षिणपट्टी गांव के एक घर में लोगों के सामूहिक रूप से कुरान पढ़ने की सूचना पर पुलिस पहुंच गई। पुलिस ने वहां से सात लोगों को हिरासत में लिया है।
ग्रामीणों की तरफ से तुर्कपट्टी थाने के एसओ जितेंद्र कुमार सिंह को सूचना दी गई कि एक घर में कुछ लोग एकत्र होकर कुरान पढ़ रहे हैं। लॉकडाउन के उल्लंघन की सूचना पर एसओ के साथ एसआई जगमेंद्र, महिला कांस्टेबल साधना गिरी, अंजली सिंह, कांस्टेबल अविनाश यादव, दिनेशचंद यादव, शैलेश यादव, सदानंद यादव व अलाउद्दीन गांव में पहुंचे और सभी सात व्यक्तियों को हिरासत में ले लिया। एसओ ने बताया कि सात लोगों को हिरासत में ले लिया गया। जांच कर विधिक कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

आग से झुलसे दुकानदार की इलाज के दौरान मौत

प्राथमिक विद्यालय सरैया महंत में बने सेफ हाउस में क्वारंटीन किए गए लोगों की जानकारी लेने पहुंचे ?
आग से झुलसे दुकानदार की इलाज के दौरान मौत
तमकुहीरोड। विरवट कोन्हवलिया गांव में पिछले सप्ताह दो दुकानों में आग लगने से दुकानदार गंभीर रूप से झुलस गया था। उसकी इलाज के दौरान सोमवार की रात में मौत हो गई।
तरयासुजान थाना क्षेत्र के विरवट कोन्हवलिया गांव में 28 मार्च की शाम परचून की दुकान में आग लग गई थी। दुकान में गैलन में फुटकर बिक्री के लिए डीजल व पेट्रोल रखा था, जिससे आग भड़क गई। इसमें दुकानदार प्रहलाद प्रसाद (60) गंभीर रूप से झुलस गया था। उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया था। हालत में सुधार नहीं होने पर परिजन प्राइवेट अस्पताल में ले गए थे। इलाज के दौरान सोमवार की रात उनकी मौत हो गई। परिजनों की सूचना पर पहुंचे हल्का लेखपाल धीरेंद्र राम ने बताया कि इसकी रिपोर्ट तहसील प्रशासन को प्रेषित कर दी है।
... और पढ़ें

कुशीनगर: छह जमातियों सहित नौ लोगों की कोरोना रिपोर्ट आई निगेटिव, इस वजह से सहम गए थे लोग

कुशीनगर में छह जमातियों सहित नौ लोगों को कोरोना के संदिग्ध के तौर पर जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में लाए जाने के बाद सोमवार को लोग सहम गए थे। इन सभी का सैंपल लेकर शाम तक बीआरडी मेडिकल कॉलेज भेज दिया गया था।

उसी समय से लोग तरह-तरह की आशंकाओं से ग्रस्त थे, लेकिन मंगलवार को जो रिपोर्ट आई, उसने सभी आशंकाओं पर विराम लगा दिया। जमातियों सहित इन सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई है।

गौरतलब है कि वैश्विक महामारी कोरोना से हर कोई जूझ रहा है। इस पर नियंत्रण के लिए लगाए गए लॉकडाउन की वजह से लोगों को अपने घरों में ही रहना पड़ा रहा है। सामाजिक दायरा का पालन भी किया जा रहा है।

इसके बावजूद जनपद में सोमवार को अचानक कोरोना के नौ संदिग्ध व्यक्तियों को जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड लाए जाने के बाद लोगों के मन में तरह-तरह की आशंकाएं उत्पन्न होने लगी थीं। अस्पताल लाए गए व्यक्तियों में छह जमाती थे, जबकि तीन इस जनपद के निवासी थे।
... और पढ़ें

कार्डधारक को धमकी देने का ऑडियो वायरल

कार्डधारक को धमकी देने का ऑडियो वायरल
नेबुआ रायगंज(कुशीनगर)। क्षेत्र के एक गांव में एक कार्डधारक द्वारा राशन मांगने पर कोटेदार ने फोन पर ही उसे धमकी दे डाली। धमकी देने का यह ऑडियो टेप वायरल होते ही तरह-तरह की चर्चा होने लगी। कार्डधारक की शिकायत को भाजपा के मंडल महामंत्री ने अफसरों के संज्ञान में लाया है।
लॉक डाउन के दौरान चल रहे राशन वितरण को लेकर रोज ही कहीं न कहीं से विवाद का मामला सामने आ रहा है। विशुनपुरा ब्लॉक के एक गांव के कार्डधारक का एक ऑडियो टेप सोमवार को वायरल हुए जिसमें उसे कोटेदार द्वारा कार्ड से नाम कटवाने तथा राशन नहीं देने के लिए धमकाया जा रहा है। भाजपा के पिपरा बाजार मंडल महामंत्री विश्वजीत राय ने इसकी शिकायत सप्लाई इंस्पेक्टर रत्नेश मिश्रा से की है।
000000
... और पढ़ें

कुशीनगर: असम के दो जमाती को पुलिस ने पकड़ा, पांच लोगों को किया गया आइसोलेट

तब्लीगी जमात के दो सदस्य कुशीनगर में पकड़े गए हैं। दोनों असम के रहने वाले हैं। इनके साथ रहे तीन स्थानीय लोगों तथा इन्हें सुरक्षित जगह तक पहुंचाने वाले एक व्यक्ति की भी पहचान की गई है। सभी को जांच के लिए जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भेजा गया है। इनके खिलाफ केस भी दर्ज कराया जाएगा।

अपर पुलिस अधीक्षक अयोध्या प्रसाद सिंह के अनुसार पुलिस ने जमात में शामिल रहे असम प्रांत के दो लोगों को पकड़ा है। इनके साथ दिल्ली से आए कुछ स्थानीय लोगों की भी पहचान की गई है। इन सभी को जांच के लिए जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है। पकड़े गए लोगों तथा शरण देने वालों के खिलाफ केस दर्ज किया जाएगा।
... और पढ़ें

दिव्यांग बुजुर्ग के खाते में मनरेगा की मजदूरी

दिव्यांग बुजुर्ग के खाते में मनरेगा की मजदूरी
दुदही/गौरीश्रीराम(कुशीनगर)। मनरेगा योजना में गड़बड़ी के मामले तो पहले भी सामने आ चुके हैं। इस बार दुदही क्षेत्र के एक दिव्यांग बुजुर्ग के खाते में मनरेगा की रकम भेज दी गई। आरोप है कि ग्राम रोजगार सेवक ने बुजुर्ग दिव्यांग को महज सौ रुपये देकर पूरी रकम ले ली। मामला संज्ञान में आने पर डीएम के निर्देश पर बीडीओ ने ग्राम रोजगार सेवक को कारण बताओ नोटिस जारी किया है।
गौरीश्रीराम निवासी गंगा दिव्यांग हैं। 70 वर्ष की उम्र में वह लाठी के सहारे चल पाते हैं। नियम है कि 18 वर्ष से कम और 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों का जॉबकार्ड नहीं बनाया जा सकता। इसके बावजूद न केवल इनका जॉबकार्ड बनाया गया, बल्कि 16 दिन साइड पर काम करते भी मस्टरोल में दिखा दिया गया है। गंगा के खाते में 2548 रुपये भेज भी दिया गया। गंगा के मुताबिक रोजगार सेवक ने ग्राहक सेवा केंद्र के व्यक्ति को गंगा के घर बुलाकर ले गया और अंगूठा निशान लगवाकर 2500 सौ रुपये निकाल लिया। इसमें से 100 रुपये गंगा को दिया और पूरी रकम ले लिया। ग्राम प्रधान, रोजगार सेवक और गंगा के बीच तालमेल की कमी हो जाने के कारण यह मामला खुला। गांव में चर्चा है कि आधारकार्ड के सहारे मजदूरों की रकम निकलवा ली जाती है और बदले में मजदूरों को 200 सौ रुपये दिए जाते हैं, लेकिन गंगा 100 रुपये पर राजी नहीं हो सके और मामला खुल गया। लोगों ने गंगा का वीडियो बनाकर इस मामले को सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। कुछ ने इसकी शिकायत डीएम से की। डीएम ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए सीडीओ से जांच कराकर कार्रवाई करने का निर्देश दिया। सीडीओ ने बीडीओ दुदही से जांचकर रिपोर्ट मांगी है। वहीं बीडीओ ने ग्राम रोजगार सेवक को कारण बताओ नोटिस जारी करते हुए तीन दिन के अंदर स्पष्टीकरण तलब किया है।
बीडीओ विवेकानंद मिश्र ने बताया कि मामला गंभीर है। ग्राम रोजगार सेवक को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। जल्द ही विभागीय कार्रवाई की जाएगी।
00000
... और पढ़ें

विदेश से आए 107 लोगों की होगी स्क्रीनिंग

विदेशों से आए 107 लोगों की होगी स्क्रीनिंग
पडरौना(कुशीनगर)। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए विदेशों से आए लोगों की स्क्रीनिंग जारी है। स्वास्थ्य टीम को इस बार 107 लोगों की सूची सौंपी गई है, जो डोर टू डोर जाकर ऐसे लोगों की जांच करेंगे। इसे लेकर चार बार सूची जारी की जा चुकी है।
कोरोना वायरस के संक्रमण से लोगों को बचाने के लिए सरकार की तरफ से सभी देश-विदेश के नागरिकों पर कड़ी नजर रखने का निर्देश है। उनकी निगरानी के साथ-साथ खान-पान और सेहत पर भी पूरा ध्यान है। इसके अलावा होम क्वारंटीन किए गए ऐसे लोगों को लेकर भी पूरी सतर्कता बरती जा रही है। मार्च से अब तक विदेश से आए लोगों की निगरानी के लिए जिला मुख्यालय पर सर्विलांस टीम बनाई गई है। इस टीम का काम आसान बनाने के लिए क्षय रोग विभाग के स्वास्थ्यकर्मियों को भी इनके साथ जोड़ा गया है, जिन्हें होम क्वारंटीन किए गए बाहरी लोगों की स्क्रीनिंग करना है।
जिला सर्विलांस टीम की तरफ से पहली सूची 110, दूसरी 80, तीसरी 140 और चौथी सूची सोमवार को 107 लोगों की सौंपी गई। स्क्रीनिंग कर रहे स्वास्थ्य कर्मियों को सख्त हिदायत दी गई कि डोर टू डोर जांच करें। इसमें किसी तरह की लापरवाही न बरती जाए।
00000
24 स्वास्थ्यकर्मी कर रहे स्क्रीनिंग
देश-विदेश के विभिन्न हिस्सों से आए लोगों की स्क्रीनिंग के लिए क्षय रोग विभाग के आशुतोष मिश्र, संजय द्विवेदी, अमित राय, विशाल जायसवाल, राजीव राय, अमित श्रीवास्तव, धनंजय पांडेय, आदित्य तिवारी, निशांत मिश्र, खुर्शीद आलम, राकेश राव, शाहिद अंसारी, रामप्रकाश गौतम, अमित पांडेय सहित 24 स्वास्थ्यकर्मी लगाए गए हैं। इन्हें सीएमओ कार्यालय में प्रशिक्षण के बाद एक-एक कर चार बार ऐसे लोगों की सूची दी जा चुकी है, जो डोर टू डोर जाकर स्क्रीनिंग कर रहे हैं। इस बार 107 लोगों की सूची दी गई है।
00000
जिला सर्विलांस टीम की हुई बैठक
पडरौना। सोमवार को सीएमओ कार्यालय के सभागार में जिला सर्विलांस टीम की बैठक हुई। इसमें विदेश से आए लोगों की स्क्रीनिंग के लिए डोर टू डोर जाने का निर्देश दिया गया।
बैठक में मौजूद स्वास्थ्यकर्मियों को संबोधित करते हुए डॉ. मनोज राय ने कहा कि कोरोना के संक्रमण से बचाव के लिए विदेशों से आए शत प्रतिशत लोगों की स्क्रीनिंग की जानी है। इसलिए स्वास्थ्य कर्मी डोर टू डोर जाकर स्क्रीनिंग करें, ताकि कोई भी व्यक्ति छूटने न पाए।
क्षय रोग विभाग के जिला कार्यक्रम समंवयक अनुपम मिश्र के अलावा नितेश राय ने भी संबोधित किया। इन लोगों ने कोरोना से बचाव के तरीके बताए। इस दौरान सर्विलांस टीम से जुड़े सभी स्वास्थ्यकर्मी मौजूद थे।
00000
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं
Coupon
Coupon
Coupon
Coupon

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us