विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा
Astrology Services

नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Lockdown Update : कोरोना की जंग में लोगों की मदद के लिए उतरी सेना, स्कूल बसें भी लगीं

लॉकडाउन में लोगों की मदद के लिए अब सेना उतर आई है।

29 मार्च 2020

विज्ञापन

Sp baghpat said

28 मार्च 2020

विज्ञापन

मैनपुरी

रविवार, 29 मार्च 2020

लॉकडाउन के चलते छिन गया काम, पुलिस से मांगा महिला भोजना

स्पेशल वार्ड में 152 मरीजों की कराई स्क्रीनिंग

मैनपुरी। बाहर से आए हुए लोगों की जांच के लिए जिला महिला अस्पताल में बनाए गए स्पेशल ओपीडी वार्ड में शुक्रवार को 152 लोग पहुंचे। इन लोगों की कोरोना वायरस को लेकर स्क्रीनिंग कराई गई। हालांकि किसी में भी कोरोना वायरस के लक्षण नहीं मिले।
शुक्रवार को जिले के विभिन्न क्षेत्रों से जिला महिला अस्पताल में कोरोना वायरस को लेकर बनाए गए स्पेशल वार्ड में 152 लोग पहुंचे। इनकी यहां तैनात स्वास्थ्य विभाग की टीम ने स्क्रीनिंग की। स्क्रीनिंग में अधिकतर को बुखार निकला। प्राथमिक उपचार के बाद सभी को घरों में भेज दिया गया। कुछ मरीज खांसी, जुकाम से पीड़ित भी थे। सीएमओ डॉ. एके पांडेय का कहना था कि जिले में अभी तक कोरोना वायरस को लेकर कोई मरीज नहीं मिला है। लोग घबराएं नहीं अपने घरों में रहते हुए 21 दिन के लॉकडाउन का पूरा पालन करें।
... और पढ़ें

वादकारियों को हाईकोर्ट ने दी राहत

मैनपुरी। कोरोना वायरस के चलते दीवानी न्यायालयों के बंद होने के बाद हाईकोर्ट ने वादकारियों को एक और प्रभावी तरीके से राहत दी है। हाईकोर्ट के आदेश के बाद जिला जज ने आदेश जारी किया है। आदेश में कहा है न्यायालय द्वारा जारी किए गए अंतरिम आदेश 26 अप्रैल तक प्रभावी रहेंगे। अंतरिम जमानत, पैरोल, स्टे आर्डर की अवधि यदि 26 अप्रैल से पहले समाप्त हो रही है तो पहले का ही आदेश अगले आदेश तक अथवा एक महीने की अवधि तक प्रभावी रहेगा। किसी भी वादकारी के खिलाफ कोई प्रभावी कार्रवाई नहीं की जाएगी। हाईकोर्ट पूर्व में भी वादकारियों के हितों को देखते हुए जिला जज को अपने स्तर से निर्णय लेने का आदेश दे चुका है। ... और पढ़ें

सड़कों पर निकला घर जाने वालों का रेला

मैनपुरी। लॉकडाउन के बीच शनिवार को महानगरों से आने वालों का रेला शहर की सड़कों पर दिखाई दिया। बसों की छत, डीसीएम, ट्रैक्टर ट्राली के साथ ही ओवर लोड टेंपो सड़कों पर फर्राटा भरते नजर आए। बड़ी संख्या में ऐसे भी लोग थे जो पैदल ही अपने घर की ओर कदम बढ़ा रहे थे।
देशभर में 21 दिन का लॉकडाउन है, ऐसे में महानगरों में काम करने वाले बड़ी संख्या में अपने घरों की ओर लौटने लगे हैं। हजारों की संख्या में पैदल ही लोगों को यात्रा करते हुए देखा जा रहा है। शनिवार को लॉकडाउन में ढील नजर आई। रास्ते में फंसे लोगों को प्रशासन की ओर से बस सेवा उपलब्ध कराई गई। शनिवार को यात्रियों से ठसाठस भरे वाहन सड़कों पर दौड़ते हुए नजर आए। स्थिति यह थी कि दिल्ली की ओर से आई बसों में छत पर लोग यात्रा कर रहे थे। डीसीएम में करीब 70 से 80 यात्री सवार थे।
घर जाकर करूंगा नियमों का पालन
सरकार लगातार लोगों से सामाजिक दूरी बनाए रखने की अपील की रही है, लेकिन सवारियों को लेकर निकले वाहनों में यह नियम नजर नहीं आया। बस में अंदर और फिर छत पर यात्री सवार थे। डीसीएम भी यात्रियों से भरी हुई थी। डीसीएम में सवार होकर कन्नौज जा रहे राकेश कुमार ने बताया कि किसी तरह वाहन मिला है, ऐसे में पहली प्राथमिकता घर जाने की है। घर जाकर सामाजिक दूरी का पालन करूंगा। इसी तरह का जवाब अन्य यात्रियों का भी था।
प्राइवेट बसों भी खूब चलीं
लॉकडाउन के चौथे दिन सड़कों पर यात्री वाहन बड़ी संख्या में दौड़ते हुए नजर आए। सरकार के निर्देश पर रोडवेज बसें निकलीं तो प्राइवेट ट्रांसपोर्टर भी पीछे नहीं रहे। उन्होंने भी दिनभर अपनी बसों को दौड़ाया।
... और पढ़ें
28एमएनपी-07-डग्गामारों की सवारी करते बाहर से आने वाले यात्री 28एमएनपी-07-डग्गामारों की सवारी करते बाहर से आने वाले यात्री

रामायण वही लेकिन भक्ति भाव में कमी

मैनपुरी। लॉकडाउन के बीच देश की नई पीढ़ी को अपनी सांस्कृतिक धरोहर और संस्कारों से रूबरू कराने के लिए दूरदर्शन पर फिर एक बार शनिवार से रामायण का प्रसारण शुरू हो गया। रामायण तो वही रही, लेकिन लोगों के भक्ति भाव में इस बार कमी नजर आई।
रामायण, भगवान श्रीराम के जीवन की गाथा है। पुराने समय में जब इसका प्रसारण टीवी पर हुआ था तो मानो हर कोई साक्षात भगवान के दर्शन के लिए उत्साहित हता था। आज भले ही कोरोना के चलते सड़कों पर लॉकडाउन है, लेकिन तब रामायण के प्रसारण से पहले खुद ही सड़कों पर लॉकडाउन जैसा ही सन्नाटा होता था। भगवान श्रीराम के प्रति अपार श्रद्घा की प्रतीक रामायण कथा को लोग भगवान ही मानते थे। रामायण शुरू होते ही लोग अगरबत्ती लगाकर पूजन करने के साथ ही फलों का भोग भी लगाते थे, लेकिन इस बार जब दूरदर्शन पर शनिवार सुबह नौ बजे से प्रसारण हुआ तो रामायण तो वही थी, लेकिन भक्ति का भाव कुछ अलग था। युवा पीढ़ी ने केवल इसे एक धारावाहिक की तरह ही देखा। हालांकि बुजुर्ग इस रामायण को देखकर एक बार फिर भाव विभोर नजर आए।
लोगों की बात
लगभग 30 साल पहले रामायण को लेकर घरों में उत्साह था, शनिवार को रामायण तो देखी गई, लेकिन परिवार में पहले जैसी श्रद्धा नहीं रही।
सत्यसेवक मिश्रा
रामायण देखने के लिए अब बच्चों में उत्साह नहीं है। आज तमाम बच्चे रामायण का महत्व और पात्रों के बार में जानकारी ही नहीं रखते हैं।
लल्ला चौबे
एक समय था जब रामायण शुरू होने से पहले घरों में सारे कामकाज निपटा लेते थे, शनिवार को पहले जैसा कहीं भी भक्ति भाव नहीं दिखा।
मधु मिश्रा
रामायण शुरू होने से बच्चों को रामायण के बारे में जानकारी मिलेगी। परिवार के बुजुर्ग सदस्य रामायण के बारे में उनको जानकारी भी देंगेे।
रेखा कुमारी
... और पढ़ें

कोरोना संक्रमित की सूचना पर दौड़ी पुलिस

इलाबांस (मैनपुरी)। थाना एलाऊ क्षेत्र के गांव इलाबांस में कोरोना संक्रमित युवक की मौजूदगी की सूचना ने पुलिस के होश उड़ा दिए। टीम मौके पर पहुंची, लेकिन सूचना झूठी मिलने पर राहत की सांस ली।
शनिवार को पुलिस को सूचना मिली थी कि क्षेत्र के एक गांव निवासी युवक दिल्ली से लौटकर आया है। उसकी हालत बेहद खराब है और कोरोना के लक्षण लग हैं। यह सूचना मिलते ही चौकी इंचार्ज सतेंद्र सिंह टीम के साथ गांव पहुंच गए। वहां युवक से जब बात की गई तो उसने बताया कि वह दिल्ली से होली के चार दिन पहले ही आ गया था। 20 मार्च को ही उसने अपनी जांच भी करा ली थी जो कि निगेटिव रही है। कुछ लोग झूठी अफवाह फैलाकर परेशान कर रहे हैं। सूचना झूठी पाए जाने के बाद पुलिस ने राहत की सांस ली। पुलिस अब झूठी अफवाह फैलाने वाले लोगों को चिह्नित कर कार्रवाई किए जाने की बात कह रही है।
... और पढ़ें

कोरोना से बचाव के लिए गांवों की सैनिटाइजिंग शुरू

मैनपुरी। कोरोना से बचाव के लिए अब तक केवल शहरी क्षेत्रों में ही कार्य किए जा रहे थे लेकिन अब ग्रामीण क्षेत्रों को सैनिटाइज कराने का काम भी शुरू हो गया है।
शहरी क्षेत्र और कार्यालयों में नगर पालिका व स्वास्थ्य विभाग सैनिटाइजिंग का कार्य करा रहा है लेकिन ग्रामीण अंचल पर किसी का ध्यान नहीं था। जिले की कुल 552 ग्राम पंचायत आठ सौ से अधिक गांवों में कोरोना से बचाव के कोई इंतजाम नहीं किए गए थे लेकिन अब पंचायत राज विभाग ने इसके लिए कमर कस ली है। डीपीआरओ के आदेश पर सभी गांवों में सैनिटाइजिंग का कार्य शुरू हो गया है। शुक्रवार को आदेश जारी होने के बाद शनिवार को कई गांवों में दवा का छिड़काव कर सैनिटाइजिंग कार्य किया गया। वहीं लगातार डीपीआरओ स्वामीदीन खुद इसकी मॉनीटरिंग कर रहे हैं।
शहर से आने वालों को लेकर लिया निर्णण
जिला पंचायत राज अधिकारी स्वामीदीन ने बताया कि बड़ी संख्या में लोग दूसरे शहरों से गांवों में अपने घर लौट रहे हैं। ऐसे में अब गांवों में सावधानी बरतना बहुत ही जरूरी हो गई है। इसी के चलते गांवों में साफ-सफाई के साथ ही दवा का छिड़काव भी कराया जा रहा है। अगर कोई भी ग्राम पंचायत इससे छूटी तो प्रधान और सचिव जिम्मेदार होंगे।
... और पढ़ें

प्रबंधकों को लॉकडाउन के समय का देना होगा वेतन

28एमएनपी-04-एक गांव में दवा का छिड़काव करते सफाई कर्मचारी
मैनपुरी। वित्तविहीन कॉलेजों में शिक्षण कार्य करने वाले शिक्षकों और कर्मचारियों को परेशान होने की जरूरत नहीं है। लॉकडाउन के बीच भी उन्हें वेतन दिए जाने के निर्देश माध्यमिक शिक्षा निदेशक ने दिए हैं।
जिला विद्यालय निरीक्षक ने जिले के सभी वित्तविहीन कॉलेजों के प्रबंधकों को निर्देश दिए हैं कि माध्यमिक शिक्षा निदेशक के निर्देशानुसार लॉकडाउन के बीच स्कूल न पहुंचने वाले शिक्षकों व कर्मचारियों को लॉकडाउन के समय का वेतन व मानदेय भुगतान किया जाए। प्रबंधक निदेशक के आदेशों का पालन करें। इस संबंध में किसी प्रकार की शिकायत नहीं मिलनी चाहिए। जिला विद्यालय निरीक्षक ने प्रबंधकों से यह भी कहा कि यदि कहीं से शिकायत प्राप्त होती हैं तो संबंधितों के विरुद्ध कार्रवाई भी की जाएगी।
... और पढ़ें

रोडवेज ने 78 बसें दिल्ली भेजीं

मैनपुरी। दिल्ली में फंसे लोगों को घर लाने के लिए रोडवेज ने शनिवार को डिपो की 78 बसों को दिल्ली के लिए रवाना किया। एआरएम की देेखरेख में चालकों के साथ परिचालकों को भी भेजा गया है। बसें दिल्ली में फंसे लोगों लेकर आएंगी।
शुक्रवार की रात मुख्यमंत्री के आदेश के बाद रोडवेज विभाग हरकत में आ गया। मुख्यमंत्री ने दिल्ली में फंसे लोगों और परिवारों को घर पहुंचाने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद रात में ही रोडवेज के अधिकारियों ने अपने डिपो के चालकों और परिचालकों को शनिवार की सुबह डिपो पहुंचने के निर्देश दिए। शनिवार की सुबह मैनपुरी डिपो से 45 बसों को दिल्ली भेजा गया है। इनमें से 15 बसें यमुना एक्सप्रेस वे होकर तथा 30 बसें एटा-अलीगढ़ होकर दिल्ली भेजी गई हैं। बेवर डिपो से 22 और छिबरामऊ सब डिपो से 11 बसों को एटा-अलीगढ़ होकर दिल्ली के लिए रवाना किया गया है। आपात स्थिति के लिए चालकों और परिचालकों को तैयार रहने के निर्देश दिए गए हैं।
लापरवाही पर होगी कार्रवाई
दिल्ली भेजे गए चालकों और परिचालकों को हिदायत दी गई है बस लेकर दिल्ली जाते समय सवारियों को नहीं बिठाएंगे। केवल दिल्ली से ही यात्रियों को लेकर आएंगे। आदेश का पालन नहीं करने और लापरवाही बरतने वाले चालकों और परिचालकों के खिलाफ कार्रवाई होगी।
पीके श्रीवास्तव, एआरएम मैनपुरी डिपो
... और पढ़ें

लॉकडाउन के बीच यात्रियों और गरीबों की मदद को निकले समाजसेवी

मैनपुरी। लॉकडाउन के बीच गरीबों और जनपद से गुजर रहे बाहरी यात्रियों की मदद के लिए समाजसेवियों के हाथ आगे बढ़ने लगे हैं। शनिवार को जिलेभर में समाजसेवियों ने जरूरतमंदों को भोजन और खाद्यान्न पहुंचाया।
महानगरों से पैदल सड़कों पर अपने घरों को बच्चों सहित जा रहे लोगों की मदद के लिए समाजसेवी आगे आए हैं। शनिवार को शहर के विभिन्न चौराहों पर यात्रियों को भोजन और पानी के पैकिट वितरित किए गए। आपकी रसोई की तरफ से शहर में 1042 लोगों को भोजन के पैकिट वितरित किए गए। प्रमोद दुबे बाबा ने मोहल्ला नगला कीरत में पहुंचकर गरीबों को भोजन के पैकिट बटवाए। वहीं टीटू भाटिया ने विभिन्न चौराहों पर सुरक्षा घेरे में लगे सुरक्षाबल के जवानों को चाय पिलाई। सिंधिया तिराहा, करहल चौराहा, भांवत चौराहा आदि स्थानों पर पहुंच समाजसेवियों ने पैदल जा रहे यात्रियों को भोजन के पैकिट वितरित किए।
दिव्यांगों को उपलब्ध कराएगी खाद्य सामग्री
मैनपुरी। शहर की संस्था सक्षम के पदाधिकारियों की एक बैठक शनिवार को बजरंग पेट्रोल पंप पर आयोजित हुई। इसमें शहर के दिव्यांगों को उनके घर पर ही लॉकडाउन के दौरान खाद्यान्न उपलब्ध कराने केा निर्णय लिया गया।
घिरोर में यात्रियों को कराया भोजन
घिरोर। कस्बा निवासी अनिल गुप्ता ने महानगरों से पैदल अपने घरों को जा रहे लोगों के लिए भोजन की व्यवस्था की है। शनिवार को अनिल गुप्ता के साथ शशि गुप्ता, सर्वेश गुप्ता, सुरेंद्र गुप्ता, संजय गुप्ता, शिव कुमार गुप्ता, गोविंद गुप्ता ने मिलकर राहगीरों, गरीबो तथा ड्यूटी पर तैनात कर्मचारियों को खाना पैकेट उपलब्ध कराया।
विधवा के घर पहुंचाया राशन
किशनी। नगर निवासी भूपाली कठेरिया की मौत होने से उनकी पत्नी मजदूरी करके बच्चों का पेट पालती हैं। लॉकडाउन के कारण उसके परिवार के भरण पोषण की दिक्कत हो गई। शनिवार को विनय गुप्ता उर्फ लल्ला उनके घर पर पहुंचे और परिवार को खाद्यान्न उपलब्ध कराया।
... और पढ़ें

गला दबाकर की गई थी किशोरी हत्या

मैनपुरी/भोगांव। थाना क्षेत्र के गांव गढ़िया गोविंदपुर निवासी किशोरी ने खुदकुशी नहीं की, बल्कि उसकी हत्या की गई थी। लापता होने के पांचवे दिन शुक्रवार को शव एक पेड़ से बंधा मिला। परिजन हत्या की आशंका व्यक्त कर रहे थे। पूर्व में नामजद पर किशोरी को अगवा कर ले जाने का मामला भी दर्ज करा चुके थे।
थाना क्षेत्र के गांव निवासी वीरेंद्र सिंह की 16 वर्षीय पुत्री माधुरी बीते सोमवार की शाम लापता हो गई थी। खोजबीन के बाद भी जब पता नहीं लग सका तो गांव निवासी विकास कुमार पर अगवा किए जाने की रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। शुक्रवार को माधुरी का शव गांव के पास एक खेत में नाला किनारे मिला था। गले में रस्सी का फंदा कसा हुआ था। रस्सी काफी ऊंचाई पर बंधी थी। इसे देख कर लग रहा था कि उसकी हत्या की गई है। हालांकि पुलिस हत्या और खुदकुशी दोनों ही बिंदुओं पर जांच कर रही थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में किशोरी की गला दबाकर मौत होने की बात कही गई है। हत्या करने वाला कौन है पुलिस अब जांच और तलाश में जुट गई है।
... और पढ़ें

महानगरों से आने वालों का नहीं थमरहा सिलसिला

मैनपुरी। लॉकडाउन के बाद भी महानगरों से आने वालों का सिलसिला जारी है। घर जाने से पहले जागरूक लोग मेडिकल चेकअप के लिए अस्पताल पहुंच रहे हैं। शनिवार को एक हजार से अधिक लोग महानगरों से जिले में पहुंचे। 457 लोगों ने जिला महिला अस्पताल में बनाए गए आइसोलेशन वार्ड में स्क्रीनिंग कराई।
शनिवार को भी बाहरी जनपदों से लोगों का आना जाना लगा रहा। जनपद में आए हुए लोगों के घर जाने से पहले अस्पताल जाकर स्क्रीनिंग कराने की सलाह दी गई। जिला महिला अस्पताल पहुंचे 457 लोगों की जिला महिला अस्पताल में स्क्रीनिंग कराई गई। हालांकि इस दौरान एक भी व्यक्ति ऐसा नहीं निकला। इसे आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया जाए। फिर भी डॉक्टरों की टीम ने बाहर से आने वाले सभी लोगों को 14 दिन तक परिजनों से दूरी बनाए रखने के निर्देष दिए गए।
ग्रामीण अंचल में बिना जांच के ही पहुंच रहे लोग
लगातार दी जा रही जानकारी व जागरूकता के बाद भी ग्रामीण अंचल से महानगरों से बड़ी संख्या में पहुंचने वाले लोग अपनी जांच भी नहीं करा रहे हैं। ग्रामीण बड़ी संख्या में शिकायत दर्ज करा रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग की टीमें कुछ क्षेत्रों में पहुंच रही हैं जहां लोगों की स्क्रीनिंग कर रही हैं। वहीं बड़ी संख्या में ऐसे लोग हैं जिनके परिजन जांच नहीं करा रहे हैं। जिससे ग्रामीण दशहत में हैं।
... और पढ़ें

कलक्ट्रेट में ही उड़ाई गईं सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां

मैनपुरी। कोरोना वायरस को लेकर पूरा देश लॉकडाउन है। लोगों से घराें पर रहने की अपील की जा रही है। शनिवार को जिला प्रशासन ने ही सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ा दी। पास वितरण के दौरान बड़ी संख्या में यहां भीड़ एकत्रित हुई।
कलक्ट्रेट से फल व सब्जी की बिक्री करने वाले वेंडरों को पास जारी किए जा रहे हैं। सभी अभिलेख लेने के बाद शनिवार को दोपहर 12 बजे के करीब वेंडरों को पास का वितरण होना था। ठीक जिलाधिकारी कार्यालय के सामने दर्जनों की संख्या में वेंडर पास लेने के लिए भीड़ लगाए थे। इसी भीड़ में कलक्ट्रेट कर्मचारियों ने पास का वितरण भी किया। किसी भी अधिकारी या कर्मचारी ने भीड़ को कम नहीं कराया।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us