विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
फ्री में पाएं अपनी जन्म कुण्डली और बनाएं अपने जीवन को आसान
Kundali

फ्री में पाएं अपनी जन्म कुण्डली और बनाएं अपने जीवन को आसान

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

श्रीराम मंदिर की नींव में लगेगी ब्रज की रजत शिला, विधि-विधान से संतों ने किया पूजन

मथुरा के वृंदावन में ब्राह्मण सेवा संघ के तत्वावधान में रविवार को गोधुलीपुरम स्थित भक्तमाल भवन में धर्म रक्षा संघ द्वारा रजत शिला (चांदी की ईंट) का वेद मंत्रों की ध्वनि के बीच विधि-विधान के साथ पूजन अर्चन कर आरती उतारी गई। यह रजत शिला अयोध्या में बनने वाले श्रीराम मंदिर की नींव में लगेगी। इस अवसर कई संत मौजूद रहे। 

ब्राह्मण सेवा संघ के संरक्षक स्वामी श्रीगोविंदानंद तीर्थ महाराज ने कहा कि श्रीराम मंदिर निर्माण अभियान से ब्रजभूमि का आरंभिक काल से ही जुड़ाव रहा है। हम ब्रजवासियों का परम सौभाग्य है कि मर्यादा पुरुषोत्तम के मंदिर की आधारशिला में लीला पुरुषोत्तम की भूमि से गई शिला को स्थान मिलेगा। रजत शिला में ब्रज के प्रमुख तीर्थों की रज भी लगाई गई है। 


संस्थापक पंडित चंद्रलाल शर्मा ने कहा कि श्रीराम जन्मभूमि आंदोलन में ब्रज मंडल और वृंदावन का अति महत्वपूर्ण योगदान रहा है। सेवा संघ के अध्यक्ष आचार्य आनंदवल्लभ गोस्वामी ने कहा कि धर्म रक्षा संघ ने रजत मंडित ब्रज रज शिला के माध्यम से ब्रजवासियों की भावपूर्ण निष्ठा और प्रेम को प्रभु श्रीराम के चरणों में समर्पित करने का कार्य किया है। 
... और पढ़ें

वृंदावन में युवक...कोलकाता में युवती, कोरोना काल में ऑनलाइन हुई दोनों की सगाई, देखें तस्वीरें

Locust Attack: मथुरा में ढाई घंटे तक मंडराया टिड्डी दल, किसानों की सतर्कता से बची फसल

मथुरा जिले में रविवार को सुबह टिड्डी दल ने हमला बोल दिया। नौहझील ब्लॉक के गांव बिरजूगढ़ी (मरहला) में टिड्डी दल के पहुंचने पर किसानों में खलबली मच गई। लोग बर्तन, ढोल आदि लेकर खेतों की ओर दौड़ पड़े। बर्तन-ढोल आदि बजाकर किसानों ने टिड्डी दल को भगाने का प्रयास किया। 

इसी बीच कुछ किसानों ने इसकी जानकारी कृषि विभाग के अधिकारियों को भी दे दी। सुबह ढाई घंटे रुकने के बाद टिड्डी दल अलीगढ़ की ओर चला गया। बाद में कृषि विभाग के अधिकारी गांव में पहुंच गए और किसानों को टिड्डी दल से बचाव की जानकारी दी। 


नोएडा की ओर से आया टिड्डी दल

सुबह तकरीबन छह बजे नोएडा की ओर से आया टिड्डियों का दल नौहझील के गांव बिरजूगढ़ी, मरहला में प्रवेश कर गया। खेत में इन दिनों चरी की फसल है। बिरजूगढ़ी, मरहला के बाद मिट्ठोली, चिंडौली, मुडिलिया, कोलाहर में भी टिड्डी दल पहुंच गया। हालांकि चरी को ज्यादा नुकसान नहीं पहुंचा। 

टिड्डी के खेतों में पहुंचने की जानकारी जैसे ही किसानों को हुई तो वो आवाज करने के साधन बर्तन, ढोल आदि लेकर खेतों में पहुंच गए। बड़ी संख्या में एकत्रित टिड्डियों के समूह को देखकर किसानों में खलबली मच गई। किसानों ने टिड्डी को भगाने के लिए बर्तन आदि बजाए। करीब साढ़े आठ बजे टिड्डी दल अलीगढ़ की सीमा में प्रवेश कर गया। 
... और पढ़ें

कानपुर मुठभेड़: दो साल पहले ही पुलिस में भर्ती हुए थे ब्रज के दोनों जवान, फर्ज की खातिर हुए कुर्बान

शहीद जितेंद्र और बबलू कुमार के फाइल फोटो शहीद जितेंद्र और बबलू कुमार के फाइल फोटो

कानपुर मुठभेड़ः जवाहरबाग कांड में शहीद हुए थे एसपी सिटी और प्रभारी, पढ़िये 27 मौतों की दिल दहला देने वाली घटना

कानपुर में हुई मुठभेड़ में क्षेत्राधिकारी समेत आठ पुलिसकर्मियों के शहीद होने की घटना ने मथुरा में दो जून 2016 को जवाहरबाग को खाली कराने के लिए हुई हिंसा की याद ताजा कर दी। उस घटना में मथुरा के एसपी सिटी मुकुल द्विवेदी व फरह थाने के प्रभारी संतोष यादव शहीद हो गए थे और रामवृक्ष यादव के 27 समर्थक मारे गए थे। कानपुर में हुई घटना के शहीदों में मथुरा निवासी सिपाही जितेंद्र भी शामिल हैं। जितेंद्र के परिवार और गांव वाले इस तरह की घटना करने वाले असामाजिक तत्वों को कोस रहे हैं। 

बता दें फरवरी 2014 में रामवृक्ष यादव तीन दिन की अनुमति के साथ मथुरा के जवाहरबाग में अपने हजारों साथियों के साथ आया था। इसके बाद वह जवाहरबाग में ही जम गया और उसने बाग को खाली नहीं किया।

ये भी पढ़ें:
कानपुर मुठभेड़ः शहीद जितेंद्र के कंधों पर थी परिवार की बड़ी जिम्मेदारी, वर्दी के लिए दिया बलिदान

जवाहरबाग को खाली कराने का जिला प्रशासन ने भी कोई प्रयास नहीं किया। जवाहरबाग के कर्मचारियों द्वारा आलू की खोदाई करने के दौरान मजदूरों को रामवृक्ष यादव के लोगों ने पीटकर भगा दिया। इसके बाद रामवृक्ष यादव के खिलाफ सदर थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया था। 
  ... और पढ़ें

शादी के बाद ससुराल आई दुल्हन को पति ने प्रेमी के साथ किया विदा, चौंकाने वाला है मामला

उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले में प्रेम प्रसंग का एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां शादी के बाद ससुराल आई दुल्हन अपने पति को छोड़कर प्रेमी के साथ जाने की जिद पर अड़ गई। दुल्हन की जिद से घर में शादी की खुशियां काफूर हो गईं।

पति दुल्हन को मानने में जुट गया। ससुराल और मायके पक्ष के लोगों ने उसे खूब समझाया, लेकिन वो नहीं मानी। मामला थाने तक पहुंच गया। बाद में दोनों पक्षों ने थाने में उसके प्रेमी को बुलाया और दुल्हन को उसके प्रेमी के साथ भेज दिया। 


ये भी पढ़े
बरात में बदला दूल्हा तो बंधक बनाए बराती, दुल्हन ने कर दिया शादी से इनकार

सुरीर कोतवाली क्षेत्र के एक गांव के युवक की शादी 29 जून को आगरा के रामबाग निवासी युवती से हुई थी। शादी की रस्में पूरी होने के बाद दुल्हन विदा होकर ससुराल तो आ गई, लेकिन उसने युवक को अपना पति मानने से इनकार कर दिया। 
... और पढ़ें

वृंदावनः डेढ़ सौ प्राचीन श्री बांकेबिहारी मंदिर के आंगन का फर्श धंसा, सेवायतों में मची खलबली

दुल्हन की प्रतीकात्मक फोटो
श्री बांकेबिहारी मंदिर के आंगन का फर्श अचानक धंस गया। इससे सेवायतों में खलबली मच गई। सूचना प्रबंधन को दी गई। सिविल इंजीनियरों की मदद से फर्श की खोदाई शुरू करा दी गई है, जिससे प्रभावित क्षेत्र की मरम्मत के साथ इसके कारण की जांच की जा सके।

कोरोना संक्रमण के चलते श्रीबांकेबिहारी मंदिर के पट आम भक्तों के लिए बंद हैं। सेवायत ही विधिवत पूजा सेवा कर रहे हैं। इस दौरान सेवायतों को प्रतीत हुआ कि मंदिर के मुख्य आंगन का फर्श कुछ स्थानों पर धंस रहा है। इसकी जानकारी तत्काल ही मंदिर प्रबंधन को दी गई।

ये भी पढ़ें:
कानपुर मुठभेड़: आगरा मंडल के दो सिपाहियों ने भी गंवाई जान, परिवार में गम-गुस्से का माहौल

अनुमति की निर्धारित प्रक्रिया के बाद शुक्रवार को मंदिर आंगन में संबंधित क्षेत्र की खोदाई का काम शुरू किया गया। गर्भगृह के सामने वाले क्षेत्र में करीब दो से तीन फीट खोदाई में जमीन में पोल और गीलापन पाया गया है। इस कार्य में मंदिर प्रबंधन ने सिविल इंजीनियरों की मदद ली है। साथ ही निर्माण विशेषज्ञों को दिल्ली से बुलाया है। जिससे फर्श धंसने के कारण की जांच की जा सके। ... और पढ़ें

यमुना एक्सप्रेसवे पर डिवाइडर से टकराई कार, दो लोगों की मौत, एक ही हालत गंभीर

यमुना एक्सप्रेसवे पर शुक्रवार तड़के तेज रफ्तार कार डिवाइडर से टकरा गई। हादसे में कार सवार दो लोगों की मौत हो गई, जबकि एक युवक घायल हो गया। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

हादसा मथुरा के थाना नौहझील क्षेत्र में हुआ। आगरा से नोएडा की ओर जा रही अर्टिगा कार एक्सप्रेसवे के माइलस्टोन 59.500 के समीप डिवाइडर से टकराकर क्षतिग्रस्त हो गई। कार में तीन लोग सवार थे। 


हादसे में दो लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। एक गंभीर रूप से घायल हो गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने एंबुलेंस से घायल को जेवर स्थित कैलाश हॉस्पिटल भेजा। शवों को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल लेकर आई। 

हादसे में मरने वाले कार सवार अब्दुल वाहिद बेग पुत्र खुदुश निवासी हवेली कदौरा जनपद जालौन और मोहम्मद शफी पुत्र मोहम्मद वशी निवासी कदौरा जालौन हैं। अमन पुत्र शरीफ निवासी जालौन घायल है। 
... और पढ़ें

श्रीराम मंदिर की नींव में लगेगी ब्रज की चांदी निर्मित शिला, संतों ने श्रीजी के चरणों में रख किया पूजन

भव्य राम मंदिर के निर्माण में लगने वाली रजत शिला को वृंदावन से श्रीजी के धाम लाया गया। रजत शिला का ब्रज के संत पद्मश्री रमेश बाबा व विरक्त संत विनोद दास ने पूजन किया। पूजन के बाद रजत शिला को माताजी गोशाला में गायों के मध्य रखा गया। इसके बाद रजत शिला को लाडलीजी मंदिर ले जाकर श्रीजी के चरणों में रखा गया।

बुधवार को राम मंदिर के निर्माण से पूर्व धर्म रक्षा समिति के सौरभ गौड़ ने ब्रज के समस्त तीर्थों की रज लेकर रजत शिला का निर्माण कराकर ब्रज के प्रमुख मंदिरों के साथ प्रमुख संतों के समक्ष लाया गया। इस शिला का पद्मश्री रमेश बाबा द्वारा विधि-विधान से पूजन किया। तदोपरांत शिला को माताजी गोशाला में ले जाकर गायों में मध्य रखा गया।

शिला में गोधूलि लग सके। उसके बाद ब्रज के संत विनोद दास बाबा के आश्रम में ले जाया गया। जहां बाबा ने शिला का पूजन किया। उसके बाद रजत शिला को लाडलीजी मंदिर में ले जाकर राधारानी के चरणों में रख कर मंदिर निर्माण का आशीर्वाद लिया। इस दौरान श्री नाथ, मोहिनी शरण दास, राधाकांत शास्त्री, सुनील सिंह, बद्री श्री आदि मौजूद थे।
... और पढ़ें

कान्हा की नगरी डरावने हैं कोरोना वायरस के जून माह के आंकड़े, रहें सावधान!

धर्म और आस्था की भूमि मथुरा में कोरोना संक्रमण का खतरा तेजी के साथ बढ़ रहा है। यहां औसतन आठ मरीज प्रतिदिन नए सामने आ रहे हैं। इस दौरान जिंदगी की बाजी हारने वालों की संख्या भी तेजी के साथ बढ़ रही है। अनलॉक-वन के 30 दिन के दरम्यान स्वास्थ्य विभाग के बढ़ते आंकड़े जिला प्रशासन को ही नहीं प्रबुद्ध वर्ग को भी चिंतित कर रहे हैं। ऐसे में लोगों को सावधानी बरतने की सलाह दी जा रही है।

जनपद में कोरोना वायरस का संक्रमण के आंकड़ों पर गौर करें तो 25 मार्च से 31 मई तक रहे लॉकडाउन की अवधि में जनपद में कोरोना संक्रमण के 105 रोगी सामने आए थे। इन 68 दिनों के दौरान 4 लोगों की मृत्यु भी हुई। लेकिन लॉकडाउन के बाद विभिन्न छूट के साथ शुरू हुए अनलॉक वन में कोरोना संक्रमण ने तेज रफ्तार पकड़ ली है।

1 जून से 30 जून तक के आंकडे़े बताते हैं कि जनपद में कोरोना संक्रमण तेजी से खतरनाक स्तर की ओर बढ़ रहा है। अनलॉक वन में 3 जून को सात केस सामने आए। 11 जून को सर्वाधिक 30 पॉजिटिव केस मिले। इस तरह पूरे 30 दिन की रिपोर्ट पर नजर डालें तो औसतन प्रत्येक दिन नौ लोग संक्रमित हो रहे हैं।
... और पढ़ें

मथुराः कोरोना वायरस के 12 नए मरीज मिले, साढ़े तीन सौ के पार पहुंचा आंकड़ा

मंगलवार की देर शाम आई रिपोर्ट में जनपद में कोरोना के 12 नए केस मिले हैं। इनमें 11 केस सरकारी लैब के हैं, जबकि एक निजी लैब का है। निजी लैब के संक्रमित तो संक्रमितों की सूची में नहीं जोड़ा गया है। जनपद में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर अब 354 हो गई है।

मथुरा के सरस्वती कुंड निवासी एक युवक कोरोना संक्रमित मिला है। वृंदावन के पानीघाट निवासी एक महिला, नंदनी मंदिर के समीप निवासी व्यक्ति भी कोरोना संक्रमित मिला है। फरह में स्वास्थ्य कर्मचारी सहित दो की पुष्टि हुई है। हाथरस निवासी एक व्यक्ति की भी मथुरा में कोरोना की रिपोर्ट आई है।

सैफई में हुई आगरा के एक मरीज की मौत, कोरोना वायरस के आठ नए केस मिले, 1227 हुई संख्या

लक्ष्मीनगर में आशा कार्यकर्ता कोरोना संक्रमित मिली है। गढ़ी नागर में भी दो लोग कोरोना से संक्रमित मिले हैं। इसके साथ धौली प्याऊ निवासी एक युवक और आगरा निवासी एक व्यक्ति की भी कोरोना संक्रमण की पुष्टि शाम आई रिपोर्ट में हुई है। इसके साथ एक व्यक्ति की निजी लैब से भी कोरोना पॉजिटिव होने की रिपोर्ट आई है। इसे संक्रमितों की सूची में शामिल नहीं किया है। जिले में अब कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर 354 हो गई है।
  ... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us