विज्ञापन
विज्ञापन
कार्य बाधा एवं परेशानियों को दूर करने हेतु कामाख्या शक्तिपीठ में कराएं बगलामुखी विशिष्ट पूजा
Navratri Special

कार्य बाधा एवं परेशानियों को दूर करने हेतु कामाख्या शक्तिपीठ में कराएं बगलामुखी विशिष्ट पूजा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

मथुराः जेल में अतीकुर्रहमान की तबीयत बिगड़ी, अस्पताल में कराया इलाज, देश में दंगा फैलाने का है आरोपी

विदेशों से पैसा लाकर देश में दंगे फैलाने की साजिश के आरोपी पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) के सदस्य अतीकुर्रहमान की शनिवार रात जेल में अचानक तबीयत बिगड़ गई। इससे जेल प्रशासन के हाथ-पैर फूल गए। आनन-फानन में उसे जिला अस्पताल लाया गया। इस दौरान कई थानों का पुलिस बल मौजूद रहा। इलाज के बाद अतीकुर्रहमान को पुन: अस्थाई जेल भेज दिया।

जेल में बंद अतीकुर्रहमान पुत्र रोनक अली निवासी नगला रतनपुरी मुजफ्फरनगर के सीने में शनिवार रात करीब 11.30 बजे दर्द होने लगा। इसकी जानकारी होते ही वरिष्ठ जेल अधीक्षक शैलेंद्र मैत्रेय ने उसे जिला अस्पताल ले जाने के निर्देश दिए। जिला अस्पताल ले जाने के लिए पुलिस सुरक्षा की मांग भी की। 

एसएसपी डॉ. गौरव ग्रोवर के निर्देश पर पुलिस लाइन से अतिरिक्त पुलिस सुरक्षा गारद प्रदान की गई। जेल पर तैनात पुलिस सुरक्षा और लाइन से मिली अतिरिक्त पुलिस सुरक्षा के बीच अतीकुर्रहमान को जिला अस्पताल लाया गया। करीब 30 मिनट तक चिकित्सकीय परीक्षण के बाद उसे पुन: अस्थाई जेल भेज दिया गया। वरिष्ठ जेल अधीक्षक ने बताया कि इलाज के बाद उसे हमने पुन: अस्थाई जेल भिजवा दिया। एसएसपी ने बताया कि अस्थाई जेल से जिला अस्पताल तक पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था उपलब्ध कराई गई थी।
 
... और पढ़ें

बांकेबिहारी के दर्शन को दूसरे दिन भी उमड़ी भक्तों की भीड़, मंदिर के बाहर लगी आधा किमी लंबी कतार

वृंदावनः आज से फिर बंद हो गए ठाकुर बांकेबिहारी मंदिर के पट, यह है बड़ी वजह

Dussehra 2020: कान्हा की नगरी में होती है लंकापति रावण की पूजा, लंकेश का मथुरा से है विशेष नाता

रावण की पूजा करते सारस्वत समाज के लोग (फाइल फोटो) रावण की पूजा करते सारस्वत समाज के लोग (फाइल फोटो)

हिंसा की साजिश का मामला: पीएफआई सदस्य आलम की हुई पेशी, जमानत पर सुनवाई 29 अक्तूबर को

मथुरा की अस्थायी जेल में बंद पीएफआई (पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया) और सीएफआई (कैंपस फ्रंट ऑफ इंडिया) के सदस्य रामपुर निवासी आलम की जमानत पर सुनवाई के लिए एडीजे दशम के न्यायालय में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से पेशी हुई। न्यायालय ने सुनवाई की अगली तिथि 29 अक्तूबर तय की है। उधर, जिला जज की अदालत ने बहराइच निवासी मसूद की जमानत पर सुनवाई की अगली तिथि 28 अक्तूबर निर्धारित की है। 

विदेशी फंडिंग से हिंसा फैलाने की साजिश के आरोप में अस्थायी जेल में बंद पीएफआई/सीएफआई के चार सदस्यों में शामिल रामपुर निवासी आलम की जमानत अर्जी पर सुनवाई गुरुवार को जिला जज की अदालत में होनी थी, लेकिन यह सुनवाई जिला जज ने एडीजे दशम अमर सिंह के न्यायालय में स्थानांतरित कर दी। एडीजे दशम न्यायालय में आलम की वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से पेशी हुई। 


संबंधित खबर- 
मथुरा: दंगा भड़काने की साजिश में पकड़े गए आरोपियों की 14 दिन और न्यायिक हिरासत बढ़ी

सुनवाई के दौरान अभी तक इस मामले की जांच कर रहे सीओ क्राइम ब्रांच डीएस चौहान ने न्यायालय से समय मांगा। उनका कहना था कि अब यह जांच एसटीएफ को स्थानांतरित हो गई है, इसलिए जांचकर्ता को सात दिन का समय चाहिए। आलम के अधिवक्ता मधुवन दत्त चतुर्वेदी ने बताया कि न्यायालय ने जमानत अर्जी पर सुनवाई के लिए 29 अक्तूबर की तारीख तय कर दी है। 

उधर, बहराइच निवासी मसूद की जमानत अर्जी पर जिला जज की अदालत ने सुनवाई हुई। मसूद के अधिवक्ता मधुवन दत्त चतुर्वेदी ने बताया कि जिला जज ने जमानत अर्जी पर सुनवाई की अगली तिथि 28 अक्तूबर तय की है। डीजीसी क्रिमिनल शिवराम सिंह ने बताया कि जिला जज की अदालत में 28 अक्तूबर को मसूद की जमानत अर्जी पर सुनवाई होगी और एडीजे दशम की कोर्ट में 29 अक्तूबर को आलम की जमानत अर्जी पर सुनवाई होगी।
... और पढ़ें

वृंदावनः बांकेबिहारी मंदिर खुलवाने के लिए शुरू हुआ अनिश्चितकालीन धरना

आरोपियों को कोर्ट ले जाती पुलिस (फाइल)

'मुझे ठाकुरजी ने बुलाया, मैं दर्शन करके ही जाऊंगी', बांकेबिहारी मंदिर के बाहर युवती का हंगामा

नशे का कारोबार: पंजाब पुलिस को आगरा के दो और मथुरा के एक हॉकर की तलाश

आगरा मंडल में नशे की दवाओं के काले कारोबार में पंजाब पुलिस को तीन हॉकरों की तलाश है। इनमें से दो कमला नगर और एक मथुरा का है। दूसरे राज्यों में ये हॉकर तय कमीशन पर नशे की दवाएं पहुंचाते थे। दवाओं के बिल के लिए फर्जी फर्म बनाते थे। 

इनसे एक-दो साल काला कारोबार करते फिर बंद कर देते। पंजाब पुलिस की जांच में यह जानकारी मिली है। पंजाब पुलिस की टीम दो दिन जांच के बाद मंगलवार को लौट गई है। मामले में अभी तक आगरा से तीन की गिरफ्तारी हो चुकी है।


पंजाब पुलिस आगरा गैंग के सरगना कमला नगर निवासी जितेंद्र अरोडा उर्फ विक्की और उसके भाई कपिल अरोड़ा, हॉकर नूरी दरवाजा निवासी गौरव को गिरफ्तार कर चुकी है। अभी तीन और हॉकरों की तलाश है। इसमें दो कमला नगर और एक मथुरा का बताया गया है। 
... और पढ़ें

साइबेरियन परिंदों को रास आया ब्रज का जोधपुर झाल, प्रकृति की गोद में कर रहे अठखेलियां

हल्की ठंड से खुशनुमा हुई जोधपुर झाल साइबेरियाई पक्षी पिपिट को रास आ रही है। साइबेरिया से हजारों किलोमीटर की यात्रा करके आई पिपिट की दो प्रजातियों ने जोधपुर झाल में सर्दी के प्रवास के लिए आशियाना बना लिया है। 

पांच से छह इंच तक बड़े साइबेरियाई पिपिट नुकीली चोंच, नुकीले पंख और लंबे पैरों के बड़े पंजे वाले हैं। आगरा और मथुरा जिले की सीमा पर लगभग 125 हेक्टेयर क्षेत्रफल में फैला जोधपुर झाल के प्राकृतिक आवास में ये पक्षी कीटों को खाते हुए दिख रहे हैं। एक बार में यह छह अंडे तक देते हैं।


जोधपुर झाल की जैव विविधता का अध्ययन कर रहे बायोडायवर्सिटी रिसर्च एंड डवलपमेंट सोसायटी के सदस्यों ने जोधपुर झाल पर पिपिट की चार प्रजातियों की पहचान की है। यहां पिपिट की सर्दी के मौसम में प्रवास के लिए आने वाली अन्य प्रजातियां भी मौजूद हो सकती हैं। पिपिट की 50 में से 11 प्रजातियां भारत मे हैं। 
... और पढ़ें

मथुरा: दंगा भड़काने की साजिश में पकड़े गए आरोपियों की 14 दिन और न्यायिक हिरासत बढ़ी

विदेशी फंडिंग से दंगा भड़काने की साजिश के आरोप में गिरफ्तार पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया और कैंपस फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई/सीएफआई) के चारों सदस्यों की न्यायिक हिरासत 14 दिन बढ़ा दी गई है। सोमवार को एसडीएम मांट के न्यायालय में चारों की ऑनलाइन पेशी हुई, जिसमें न्यायिक हिरासत बढ़ाई गई है।
 
पांच अक्तूबर को यमुना एक्सप्रेसवे के जाबरा टोल प्लाजा से मांट पुलिस ने एक कार से पीएफआई/सीएफआई के सदस्य अतीक उर्रहमान पुत्र रौनक अली निवासी मुजफ्फरनगर, आलम पुत्र लईक निवासी रामपुर, सिद्दीक पुत्र मोहम्मद निवासी केरल, मसूद पुत्र शकील निवासी बहराइच को गिरफ्तार किया। 


एसडीएम मांट के न्यायालय में चारों को पेश किया, जहां से उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेजा था। 14 दिन पूरे होने पर सोमवार को एसडीएम मांट डॉ. सुरेश कुमार के न्यायालय में चारों आरोपियों की जेल से ऑनलाइन पेशी हुई। एसडीएम ने उन्हें दंड प्रकिया संहिता का 116/3 का नोटिस पढ़ कर सुनाया। 
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X