विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा
Astrology Services

नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Coronavirus In Uttar Pradesh Live: यूपी में एक और संक्रमित मिला, संख्या बढ़कर हुई 66

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस का कहर देश में लगातार बढ़ता जा रहा है। रविवार को कोरोना से जम्मू-कश्मीर और गुजरात में एक-एक लोगों की मौत हो गई। वहीं, यूपी में भी लगातार संक्रमिता का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है।

29 मार्च 2020

विज्ञापन

Sp baghpat said

28 मार्च 2020

विज्ञापन

मऊ

रविवार, 29 मार्च 2020

जेल से जल्द रिहा हो सकते है 35 बंदी

मऊ । कोरोना वायरस को आमजन में फैलने से पहले रोकने और भीड़ को कम करने के लिए प्रधानमंत्री ने पूरे देश में 14 अप्रैल तक लाँकडाउन की घोषणा किया है। इस बीच जिला जेल में भीड़ को कम करने पर विचार किया जा रहा है ।सोमवार को कोर्ट द्वारा जारी फरमान के तहत सरकार की तरफ से जेल प्रशासन से बंदियों की सूची मांगी गई है। जेल सूत्रों के अनुसार शासन को भेजी गई रिपोर्ट में कुल 35 बंदियों को शामिल किया गया है । जिसमें 10 सजायाफ्ता और 25 ऐसे बंदी शामिल हैं जिन्हें उनके गुनाहों की सजा सात साल से कम की मिलने वाली है। वर्तमान में जिला कारागार में करीब 575 बंदी मौजूद हैं । कोरोना वायरस से जेल में भी बचाव के सभी प्रयास किए जा रहे हैं । लेकिन पर्याप्त स्टाफ न होने से काफी परेशानी हो रही है। ऐसे में जेल की भीड़ कम करने पर विचार किया जा रहा है। शासन के निर्देश पर 35 बंदियों की सूची तैयार कर भेजा गया है। शासन का आदेश मिलने पर आगे की कार्यवाही होगी । ... और पढ़ें

घर घर सब्जी पहुंचने की डीएम ने बनाई रणनीति

मऊ। कोरोना वायरस संक्रमण फैलने से रोकने के लिए पूरे देश में किए गए लॉक डाउन के दौरान घरों में रहने वाले लोगों को समय से ताजी सब्जी की आपूर्ति हो इसके लिए डीएम ने बुधवार को अपने कार्यालय में बैठक का आयोजन कर रणनीति बनाई। बैठक में शामिल सब्जी व्यापारियों और मंडी कर्मचारियों से बात कर डीएम ने तय किया कि सब्जी उन्ही कारोबारियों को उपलब्ध कराई जाए, जो ठेला या फिर आटो पर सब्जी लादकर मुहल्ले मुहल्ले जाकर बेच सकें। ताकि सब्जी खरीदने के नाम पर कोई अपने घरों से बाहर न निकले। डीएम ने तय किया कि सब्जी ठेला या आटो पर सब्जी बेचने वाले बेचे जाने वाली सब्जियों का बकायदे रेट लिस्ट लगाएगें। ऐसा नहीं हो कि वो मौके का फायदा उठाकर ऊंचे और महंगे दामों पर ग्राहको को सब्जी बेचे। बोले रेट लिस्ट न लगाने वाले ठेला व्यापारी के विरुद्घ कार्रवाई करने का डीएम ने आदेश दिया। बोले सब्जी की स्थाई दुकान लगाने की अनुमति महामारी के समाप्त होने तक नहीं रहेगी। बोले इस अपरिहार्य हालात में लोगों को राशन आपूर्ति और सब्जी आदि की पर्याप्त आपूर्ति दिलाने की जिम्मेदारी जिला प्रशासन की है। इस दौरान डीएम ने बैठक कर तय किया कि सुबह 7:00 बजे से 9:00 बजे तक बलिया मोड़ स्थित सब्जी मंडी में दुकानें खुलेंगी। उसके बाद पूव़ार्ह्न नौ बजे से 11:00 बजे तक घोसी में थोक सब्जी की दुकानें खोली जाएगी। इसके बाद 11:00 से 1:00 बजे तक कोपागंज की सब्जी मंडी खुलेगी। जहां से केवल व्यापारियों को ही सब्जी उपलब्ध होगी। उसके बाद फूटकर व्यापारी ठेले या आटो पर लादकर मोहल्ले घूम सब्जी बेचने का काम करेंगे। ऐसे में आम उपभोक्ताओं को किसी भी वस्तु के लिए परेशान होने की आवश्यकता नहीं है। बैठक में कृषि मंडी सचिव शालिक राम, मंडी सहायक मनोज कुमार सिंह, मुख्य राजस्व अधिकारी हंसराज यादव, खाद्य एवं औषधि प्रशासन अभिहित अधिकारी एसके त्रिपाठी, मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी राजेश कुमार दीक्षित सहित तमाम अधिकारी व व्यापारी उपस्थित रहे। ... और पढ़ें

जिला अस्पताल की इमरजेंसी में ही हो रहा उपचार

मऊ। कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए सरकारी अस्पतालों के बाद निजी अस्पतालो ने भी ओपीडी बंद कर दी है। जबकि यहां इमरजेंसी सेवा का भी मरीजों का लाभ नहीं मिल पा रहा। ऐसे में जिला अस्पताल की इमरजेंसी ही आसरा बनी है। यहां भी संसाधनों की कमी से मरीजों को दुश्वारियों का सामना करना पड़ रहा। निजी अस्पताल ओपीडी बंद कर केवल इमरजेंसी में मरीजों को देखने की बात कह रहे हैं, लेकिन अधिकांश चिकित्सक इमरजेंसी में मरीज का इलाज कराने से गुरेज बरत रहे है। बुधवार को अमर उजाला ने सत्यता जानने को निजी अस्पतालों का निरीक्षण किया। गाजीपुर तिराहा स्थित बच्चों के प्रसिद्ध अस्पताल के गेट पर ताला बंद दिखा। वहीं बुनकर कॉलोनी स्थित महिला अस्पताल भी बंद दिखा। वहीं जिला अस्पताल के इमरजेंसी कक्ष पहुंचने पर गाजीपुर जिले कासिमाबाद से आए अजय यादव ने बताया कि वह अपनी बेटी सोनम यादव को दिखाने नगर के कई निजी अस्पताल गया, लेकिन कर्मचारियों ने कोरोना के चलते अस्पताल बंद होने की बात कहकर उसे लौटा दिया। उसने जिला अस्पताल की इमरजेंसी में इलाज कराया। कहा कि चिकित्सकों ने बेटी को लगातार खांसी आने की बात बताने पर भी उसकी जांच नहीं की सिर्फ दवा देकर टरका दिया। ... और पढ़ें

तमसा नदी में उतराया मिला अधेड़ का शव

कालाबाजारी करने वालों पर लगेगा एनएसए: मंडलायुक्त

मऊ। शनिवार को मंडलायुक्त कनक त्रिपाठी और डीआईजी सुभाषचंद्र दुबे ने संयुक्त रुप से लॉक डाउन का निरीक्षण किया। इस दौरान कलेक्ट्रेट सभागार में दोनों अधिकारियों ने संयुक्त रुप से प्रेसवार्ता कर स्पष्ट किया कि लॉक डाउन में समानों की जमाखोरी कर कालाबाजारी करने वालों के विरुद्घ कड़ी कार्रवाई कर एनएसए लगाया जाएगा। मंडलायुक्त को तब हैरानी हुई जब उन्हे पता चला कि जिला अस्पताल मऊ में कोई बेंटिलेटर है ही नहीं। उन्होंने डीएम को सभी प्राइवेट अस्पतालों में मौजूद वेंटिलेटर को अधिग्रहित करने का आदेश दिया। प्रेसवार्ता से पूर्व मंडलायुक्त कनक त्रिपाठी ने जिले के अधिकारियों से तैयारियों का जायजा लिया, इस दौरान जिल आपूर्ति अधिकारी ने बताया कि शासन के आदेश पर खाद्यान्न का वितरण एक अप्रैल से कराने की तैयारी पूरी कर ली गई है। इस दौरान पहले सभी को तय यूनिट पर निशुल्क अनाज दिया जाएगा, इसके बाद तय शुल्क पर अनाज उपलब्ध कराया जाएगा। इसीक्रम में सीएमओ ने बताया कि जिला अस्पताल में 28 बेड का आईसोलेशन वार्ड बनाया गया है, लेकिन क्रिटकल के लिए आठ बेड का अलग से वार्ड तैयार किया गया है। इसके अलावा क्वारंटाइन वार्ड बनाने के लिए तीस बेड के सीएचसी परदहां को तैयार कर उसे कोविड हास्पिटल बनाया दिया गया है। इसके अलावा कोपागंज स्थित बापू आयुर्वेदिक मेडिकल कालेज के साथ सैनिक अस्पताल ताजोपुर को भी क्वारंटाइन के लिए अधिग्रहित किए जाने की बात सीएमओ ने बताई। डीआईजी ने कहाकि लॉक डाउन का अनुपालन न करने वालो के विरुद्घ पुलिस कार्रवाई कर रही है। जिले में किसी भी सामान की कमी नहीं है, कालाबाजारी करने वालों पर एनएसए लगाया जाएगा। उन्होंने जनता से अपील किया कि जहां कही कोई गड़बड़ी हो जनता तत्काल 112 को सूचित करें। बोले यह संक्रमण बहुत ही गंभीर बीमारी है, इसके लिए स्वत: चेतना और संज्ञान आवश्यक है। डीआईजी ने साफ साफ कहा कि इस बीमारी से बचाव के लिए अभी तक कोई अचूक दवा नहीं तैयार की गई है। बोले एसपी मऊ ने आवश्यक वस्तु बैंक का निर्माण किया है, इससे जरूरतमंदों की मदद की जा रही है, जो कोई चाहे इसमें स्वेच्छा से दान कर सकता है। ... और पढ़ें

दिहाड़ी मजदूरों पर भारी पड़ रहा ‘लॉक डाउन’

मऊ। लॉक डाउन उन दिहाड़ी मजदूरों पर भारी पड़ रहा जो घरबार छोड़कर प्रदेश में जीवन यापन कर रहे। इन मजदूरों को रोटी के लाले पड़ने लगे हैं। ऐसे में अब मजदूरों को अपनी टूटी मड़ई याद आने लगी। यह साधन और वाहन विहिन मजदूर पैदल की घर की तरफ रवाना हो रहे। लखनऊ-बलिया के बीच बन रहे पूर्वांचल एक्सप्रेस वे निर्माण में आजमगढ़ जिले में शटरिंग का काम कर रहे बिहार के मुजफ्फरनगर जिले के कविंद्र साहनी, मुकेश कुमार शाह, मनोज साहनी ने बताया कि लॉक डाउन होते ही ठेकेदार अजय मिश्रा साइड से फरार हो गया। ऐसे में उनके सामने भुखमरी की समस्या खड़ी हो गई है। एक दो दिन तो जैसे तैसे बीता, राशन की दुकानें बंद और जेब में रुपया न होने पर तीनों पैदल ही घर के लिए रवाना हो गए। शुक्रवार की भोर में निकले तीनों अपराह्न एक बजे मऊ पहुंचे। रास्ते में उन्हे पुलिस वालों ने खाना खिलाया। इसके बाद तीनों ने पुन: मंजिल तय करनी शुरू की। शुरु किया। कविंद्र साहनी और मुकेश शाह मुजफ्फरपुर जिले के साहेबगंज थाने के बैतालपुर गांव का तथा मनोज साहनी पाम गांव के निवासी है। फतेहपुर मंडाव : गोरखपुर में मजदूरी करने वाले पटना और बलिया निवासी दो युवक शुक्रवार को पैदल चलकर मधुबन पहुंचे। इनमें राजेश सिंह पटना का निवासी है, वह गोरखपुर में एक फर्टीलाइजर कंपनी में काम करता है। जबकि दूसरा बलिया निवासी बृजेश तिवारी भी गोरखपुर में एक निजी कंपनी में कर्मचारी था। दोनों ने बताया कि कंपनी बंद होने पर मालिक ने दोनों को घर जाने को कहा। दोनों युवक ने पैदल चलकर 120 किलोमीटर की दूरी 16 घंटे में तय की। ... और पढ़ें

सब्जी मंडी में सोशल डिस्टेंसिंग तार-तार

मुहम्मदाबाद गोहना। स्टेट हाइवे पर सब्जी मंडी में शुक्रवार की सुबह साढ़े सात बजे सब्जी लेने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। इस दौरान लोगों ने सोशल डिस्टेंसिंग का भी ध्यान नहीं रखा। पुलिस के बार बार के अनुरोध को जब लोगों ने अनसुना कर दिया तो पुलिस को सख्ती दिखानी पड़ी। पुलिस ने जब लाठियां भाजीं तब जाकर लोग हटे। इसके बाद तो पुलिस ने एक एक मीटर की दूरी पर लोगों को खड़ा करा कर सब्जियां दिलवाईं। इस दौरान दुकानदारों को चोटें भी आईं। थोक सब्जी मंडी सुबह सात बजे ही खुल गई थी। तय व्यवस्था के अनुसार यहां से छोटे दुकानदारों को सब्जी खरीदकर ले जाना था। सुबह काफी संख्या में खुदरा विक्रेताओं के साथ बहुत से लोग सब्जी लेने के लिए मंडी में उमड़ पड़े। लोग एक दूसरे के शरीर को रगड़ते हुए चल रहे थे। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग तार-तार हो गई। पुलिस की भी बात लोगों ने अनसुनी कर दी। सूचना पर कोतवाल नीरज पाठक सिपाहियों के साथ पहुंचे और लोगों से एक एक मीटर की दूरी बनाकर सब्जियां खरीदने को कहा। लेकिन लोग नहीं माने तब जाकर पुलिस ने सख्ती दिखाई। सख्ती देख लोगों में भगदड़ मच गई। इस दौरान सब्जी विक्रेता नाटे यादव, जुल्फिकार, नूर आलम, सतीश गुप्ता सहित दस सब्जी विक्रेताओं को चोटें आईं। दस मिनट के बाद स्थिति सामान्य हुई। बाद में लोगों ने एक-एक मीटर की दूरी बनाकर सब्जियां लीं। कोतवाल नीरज पाठक ने बताया कि लोग सोशल डिस्टेंस का ध्यान नहीं रख रहे थे, इसलिए थोडी सख्ती करनी पड़ी। ... और पढ़ें

घरों में अदा की गई जोहर की नमाज

मुहम्मदाबाद गोहना में सब्जी मंडी में सैकड़ो लोगो के इकठ्ठा होने के बाद मंडी बन्द कराते कोतवाल नी?

युवक में नहीं मिले कोरोना के लक्षण

मऊ। इंदारा में एक युवक के कोरोना संदिग्ध होने की खबर मिलते ही एंबुलेंस उसे लेकर जिला अस्पताल पहुंची। जांच में चिकित्सकों ने बताया कि संदिग्ध में कोरोना के लक्षण नहीं मिले हैं। युवक पुरानी बीमारी से पीड़ित था और उसे सांस लेने में परेशानी हो रही थी। एंबुलेंस वालों को बृहस्पतिवार की रात 10 बजे सूचना मिली थी। चिकित्सकों ने इलाज के बाद उसे घर में 28 दिनों आईसोलेट करने की सलाह दी। शुक्रवार की सुबह पुन: डाक्टरों की टीम ने गांव पहुंचकर युवक का स्वास्थ्य परीक्षण किया।कोपागंज ब्लाक के इंदारा गांव में प्रयागराज से आए एक युवक में कोरोना वायरस के लक्षण की सूचना बृहस्पतिवार की रात कंट्रोल रूम में मिली। जिस पर रात में करीब दस बजे कोरोना वायरस को लेकर गठित रैपिड रिस्पांस की टीम इंदारा पहुंची और युवक को जिला अस्पताल के इमरजेंसी कक्ष लेकर पहुंची। चिकित्सकों की टीम ने युवक का स्वास्थ्य परीक्षण किया। उधर अस्पताल पहुंचने पर युवक की हालात में सुधार भी होने लगा। एक घंटे तक स्वास्थ्य परीक्षण में युवक में कोरोना वायरस का कोई भी लक्षण नहीं मिला, बल्कि जांच में सामान्य फ्लू के लक्षण की संभावना जताई गई। रात में युवक को उसके घर पर वापस छोड़ने के साथ उसे घर से बाहर नहीं निकलने की सलाह दी गई। शुक्रवार की सुबह पुन: रैपिड रिस्पांस की टीम युवक के घर पर पहुंचकर उसका स्वास्थ्य परीक्षण किया। इस बाबत मुख्यचिकित्साधिकारी डॉ. सतीशचंद्र सिंह ने बताया कि युवक के स्वास्थ्य परीक्षण में कोरोना वायरस का लक्षण नहीं मिला, फिर भी स्वास्थ्य विभाग द्वारा नियमित रूप से युवक की जांच की जाएगी। बोले कि इस दौरान कोई भी लक्षण मिलने पर उसे आईसोलेशन वार्ड में रखा जाएगा। ... और पढ़ें

कोरोना पर जागरूकता को लेकर हो रही ऑनलाइन प्रतियोगिता, घर बैठे ऐसे लें हिस्सा

कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए अधिक से अधिक लोगों को जागरूक करने के उद्देश्य माध्यमिक शिक्षा विभाग ने एक नई मुहिम शुरू की है। इसके तहत घर बैठे छात्र-छात्राओं के लिए ऑनलाइन प्रतियोगिता की शुरुआत की जा रही है "कोरोना को हराना है भारत से भगाना है"। इस थीम पर छात्र छात्राओं के लिए पोस्टर, स्लोगन और निबंध प्रतियोगिता की शुरुआत की गई है।

जिले के इंटर कॉलेजों में पढ़ने वाले छात्र छात्रा हिंदी और अंग्रेजी माध्यम में प्रतियोगिता में भाग ले सकेंगे। खास बात यह है कि इस प्रतियोगिता में पंजीकरण और प्रविष्ठियां ऑनलाइन भेजनी होगी। जिला विद्यालय निरीक्षक डॉ. विजय प्रकाश सिंह ने बताया कि सभी इंटर कॉलेजों के प्रधानाचार्य को लिखे पत्र में इसकी जानकारी दी जा चुकी है।

साथ ही उनसे इस बारे में छात्र-छात्राओं को जानकारी देने को भी कहा गया है। बताया कि 31 मार्च की शाम 5 बजे तक प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए पंजीकरण कराया जा सकेगा और 8 अप्रैल तक ऑनलाइन आई प्रविष्टी पर ही विचार किया जाएगा। प्रतियोगिता में हर स्तर पर तीन विजेताओं को पुरस्कृत भी किया जाएगा।

रजिस्ट्रेशन के लिए छात्रों को अपना नाम, पिता का नाम, कक्षा, विद्यालय का नाम और मोबाइल नंबर भी देना होगा। लॉकडाउन में घर बैठे छात्र-छात्राओ का समय व्यतीत हो और कोरोना से बचाव के प्रति जागरूकता ही इसका उद्देश्य है। प्रतियोगिता के लिए जिले में 3 सदस्यीय टीम का गठन किया गया है।

इसमें वाराणसी के राजकीय क्वींस इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य डॉ. राजेश सिंह यादव, सीएम एंग्लो बंगाली कालेज के प्रधानाचार्य डॉ. विश्वनाथ दुबे और सनबीम ग्रुप के मुख्य कार्यकारी अधिकारी संदीप मुखर्जी को नोडल अधिकारी बनाया गया है।

 

 

 

 

 

... और पढ़ें

पूर्वांचल के कई जिलों में मौसम ने ली करवट, बूंदाबांदी से किसान चिंतित

पूर्वांचल में एक बार फिर मौसम ने अचानक करवट लिया और कई जिलों में हल्की बूंदाबांदी हुई। शुक्रवार देर शाम से ही आसमान में बादल छाने लगे थे। वाराणसी, मऊ में तेज हवा के बाद बारिश से किसानों को चिंता सताने लगी है कि गेहूं, चना, सरसों के साथ सब्जी की भी खेती बर्बाद हो जाएगी। 

वाराणसी में दिन में तेज धूप होने के बाद शुक्रवार की शाम तेज हवा के साथ झमाझम बारिश से मौसम तो खुशनुमा हो गया लेकिन किसानों की परेशानी बढ़ गई है। किसान खेतों में पड़ी अपनी फसल के खराब होने को लेकर चिंतित हैं। शहरी क्षेत्र में तो कम ग्रामीण इलाकों में कई जगहों पर तेज बारिश हुई।

देर शाम सात बजे शुरू हुई बारिश रात 9 बजे तक होती रही। हालांकि कहीं कहीं-कहीं तेज बारिश होने की वजह से सड़कों पर पानी भी लग गया है। दिन में तेज धूप होने की वजह से लोग जहां गर्मी का एहसास कर रहे थे वही शाम को मौसम नम हवाओं के चलने से मौसम खुशनुमा हो गया।

मौसम वैज्ञानिक एसएन पांडे ने बताया कि जम्मू कश्मीर में पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने से ही मौसम में बदलाव आया है। पूर्वांचल में बनारस समेत आसपास के जिलों में रविवार तक रुक-रुक कर हल्की से तेज बारिश हो सकती हैं। इसमें कुछ जगहों पर ओले भी गिरने की संभावना जताई जा रही है।

उन्होंने बताया कि रविवार से मौसम एक बार फिर साफ हो जाएगा। तेज हवा के बाद वर्षा से किसानों को तैयार फसल के खराब होने की चिंता सताने लगी है। गेहूँ, चना, सरसों के साथ सब्जी भी खराब हो जायेगी। उधर,  मऊ में शाम सात बजे के करीब अचानक मौसम बिगड़ा और तेज हवा चलने के साथ बरसात हुई।

अभी 15 दिन पहले तेज हवा चलने के साथ हुई बरसात से सैकड़ो किसानों की तैयारी के कगार पर खड़ी फसल जमींदोज हो गई थी। इस बीच पुनः शुक्रवार की शाम शुरु हुई बरसात ने लोगों की मुसीबत बढ़ा दी। किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें खिंच गई हैं।

... और पढ़ें

अबूझ हाल में महिला की मौत, पति सहित चार पर मुकदमा

मधुबन। थाना क्षेत्र के बनकटा गांव में बृहस्पतिवार की सुबह एक महिला की अबूझ हाल में मौत हो गई। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। उधर महिला की मौत की सूचना पर उसके मायके वाले पहुंचे और मृतका के पति सहित चार लोगों पर दहेज को लेकर जहर देकर मार डालने का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज कराया।
दर्ज मुकदमे में बलिया जिले के भीमपुरा थाना क्षेत्र के अहिरौली गांव निवासी लालबचन की पुत्री मीरा देवी 24 की शादी मधुबन थाना क्षेत्र के बनकटा निवासी कैलाश यादव के साथ वर्ष 2017 में हुई थी। बताया कि बृहस्पतिवार को बनकटा गांव से कुछ लोगों ने उसकी पुत्री मीरा की संदिग्ध हालात में मौत की सूचना दी। घटना की जानकारी पर वह बनकटा गांव पहुंचा और मधुबन पुलिस को सूचना दी। आरोप लगाया कि कैलाश यादव तथा उसके परिवार के सदस्यों द्वारा शादी के कुछ माह बाद से दहेज की मांग को लेकर मीरा पर दबाव बनाते थे, विरोध करने पर आए दिन मारपीट करते थे।
आरोप लगाया कि कैलाश और उसके परिजनों ने दहेज को लेकर उसकी पुत्री को जहर देकर मार दिया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेजने के साथ कैलाश यादव सहित चार के विरुद्ध संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया। इस बाबत प्रभारी निरीक्षक संजीव कुमार दुबे ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद मौत का स्पष्ट कारण की जानकारी हो सकेगी। मृतका के पिता की तहरीर पर चार के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच पड़ताल की जा रही है।
... और पढ़ें

लॉकडाउन का सख्ती से पालन करने का निर्देश

घोसी। नगर के साथ ग्रामीण क्षेत्रों में लॉक डाउन के दूसरे दिन सुबह नौ बजे सड़के, मोहल्ले सुनसान रहे। उपजिलाधिकारी निरंकार सिंह, तहसीलदार पीसी श्रीवास्तव के नेतृत्व में लाउडस्पीकर से लोगों को जागरूक करने के साथ आवश्यक वस्तुओं की दुकानों के खुलने की जानकारी दिया गया। साथ ही गरीब मुसहर, बासफोरों के प्रत्येक परिवार को पांच किलोग्राम गेहूं, पांच किलोग्राम चावल का नि:शुल्क वितरण किया गया।
उपजिलाधिकारी बोले सब्जी की मंडी पूूर्वाह्न नौ बजे से 11 बजे तक खुलेगी। फुटकर सब्जी बेचने वाले ठेलो ओर मोहल्लों में दिनभर बेच सकते हैं। राशन की दुकानें सुबह10 बजे से शाम 4 बजे तक खुली रहेंगी। मदिरा की दुकानें अगले आदेश तक बंद रहेगी। उपजिलाधिकारी ने सभी दुकानदारों को सख्त निर्देश दिया कि दुकानों पर भीड़ नही होनी चाहिए। इस अवसर पर नायब तहसीलदार, इओ विनीत कुमार, पूर्ति निरीक्षक शरद सिंह, छोटू वर्मा, समाजसेवी आकिब सिद्दीकी, अनिल मिश्रा, विमलेश कुमार आदि रहे।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं
CHHAT COOPAN

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us