विज्ञापन
विज्ञापन
ये हैं कुंडली के 12 भाव, पड़ता है जीवन पर ये असर
Astrology

ये हैं कुंडली के 12 भाव, पड़ता है जीवन पर ये असर

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

सहारनपुर में जिद पर अड़े हैं किसान, समझाने पहुंचे अफसर, तस्वीरों में देखें मौके का हाल

खुलासा: पत्नी ने रची साजिश, फिर बेटे ने पकड़े हाथ, प्रेमी ने उतारा मौत के घाट, खौफनाक है पूरी कहानी

उत्तर प्रदेश के मेरठ में गंगानगर क्षेत्र के ललसाना गांव में 20 जनवरी को हुई राजमिस्त्री रिंकू उर्फ अरुण की हत्या का पुलिस ने सनसनीखेज खुलासा कर दिया। हत्या के आरोप में रिंकू के बेटे जतिन, पत्नी रेखा और रेखा के प्रेमी नरेंद्र को गिरफ्तार किया। पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त दरांती भी बरामद की।

शुक्रवार को पुलिस लाइन में प्रेसवार्ता के दौरान सीओ सदर देहात पूनम सिरोही ने बताया कि 18 जनवरी की रात रिंकू ने डायल 112 पर चार बार कॉल की थी, लेकिन उसने कुछ स्पष्ट नहीं बताया। इस पर पुलिस को संदेह हुआ कि उस रात परिवार में बड़ा विवाद हुआ होगा। पत्नी रेखा से पूछताछ में हत्या करना कबूल किया। उसने बताया कि रिंकू शराब पीने का आदी था। घर खर्च के लिए पैसे नहीं देता था। मारपीट करता था। डेढ़ साल पहले रेखा के संबंध नरेंद्र से हो गए थे। पता चलने पर रिंकू ने कई बार नरेंद्र को समझाया। कई बार उनमें इसी बात को लेकर झगड़ा भी हुआ था। 15 जनवरी की रात को रेखा ने बेटे जतिन, प्रेमी नरेंद्र के साथ मिलकर हत्या की योजना बनाई।

यह भी पढ़ें: 
आखिर मिट्टी में मिल गया मोस्ट वांटेड बद्दो का खौफ, जमींदोज हुई आलीशान कोठी, देखिए तस्वीरें

बेटे ने हाथ पकड़े और पत्नी ने पैर
पूछताछ में पत्नी और बेटे ने बताया कि 20 तारीख की सुबह पांच बजे पत्नी ने रिंकू को जगाया। रिंकू शौच के लिए ट्यूबवेल पर पहुंचा। वहां नरेंद्र मिला। उसने श्मशान घाट की तरफ ले जाकर रिंकू को शराब पिलाई। इसी बीच रेखा और जतिन पहुंचे। महिला ने पहले पति को कई थप्पड़ मारे और कहा कि आज मारपीट का पूरा बदला लिया जाएगा। जतिन ने पिता के दोनों हाथ पकड़े और रेखा ने पैर। इसके बाद नरेंद्र ने दरांती से ताबड़तोड़ वार किए।

यह भी पढ़ें: बड़ी कार्रवाई के लिए एमडीए ने बनाया था ये खास प्लान, फिर बद्दो की आलीशान कोठी जमींदोज, तस्वीरें

पुलिस के अनुसार, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में धारदार हथियार के 23 निशान मिले हैं। इसके बाद घर पहुंचे मां-बेटे राजमिस्त्री को तलाशने का ड्रामा करने लगे। मां बेटे के जेल जाने के बाद परिवार में तीन छोटी-छोटी बेटियां बची हैं।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें

यूपी: शातिर गिरोह का खुलासा, नौकरी लगवाने के नाम पर करते थे ठगी, दो गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश में मेरठ पुलिस ने शनिवार को एक शातिर गिरोह का खुलासा किया है। होटल से आठ युवक मिले, जोकि नौकरी के लिए आए थे। सभी लोग महाराष्ट्र के रहने वाले है। आरोपियों के पास से फर्जी कागजात बरामद हुए हैं।पुलिस ने गिरोह के दो सदस्यों को गिरफ्तार किया है। पुलिस पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ कर रही है। 

एसओ सदर बाजार दिनेश चंद के मुताबिक गणतंत्र दिवस के मद्देनजर पुलिस के साथ खुफिया विभाग अलर्ट है। शुक्रवार देर शाम एलआइयू की टीम सदर क्षेत्र में होटलों की चेकिंग कर रही थी। इस दौरान एमडी होटल का रजिस्टर चेक किया तो दस लोग करीब एक सप्ताह से रुके हुए मिले।

यह भी पढ़ें: 
 मोस्ट वांटेड बद्दो की कोठी पर तीसरे दिन भी चला बुलडोजर, कार्रवाई के दौरान नहीं पहुंचे अधिकारी

मैनेजर से पूछताछ की तो उसने सभी को बाहर का बताया। टीम ने सदर पुलिस को बताया। पुलिस पहुंची और 10 लोगों को पकड़कर थाने ले आई। पूछताछ में पता चला कि युवक सेना में भर्ती होने के लिए आए थे। जिनको दो लोग लेकर आए थे। उनके पास से आधार कार्ड और अन्य महत्वपूर्ण दस्तावेज बरामद हुए। पुलिस ने उक्त दोनों लोग गिरफ्तार कर लिए।

आरोपी राजेंद्र दिलीप भिलोरे और राजेंद्र सकपाल है, जोकि महाराष्ट्र के रहने वाले बताएं हैं। जानकारी के बाद एसपी सिटी डा. अखिलेश नारायण सिंह भी सदर थाने पहुंच गए थे। उन्होंने बताया कि दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। उनके साथ होटल में आठ युवक भी रुके हुए थे। मामले की जांच की जा रही है। सेना में भर्ती के लिए सभी आए थे। देर रात तक पूछताछ जारी रही। 

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें

शहादत को सलाम: बाॅर्डर पर सीज फायरिंग में शहीद हुआ सहारनपुर का लाल, परिजनों में मचा कोहराम

पाकिस्तान की ओर से सीमा पर की गई सीज फायरिंग में सहारनपुर के लाल निशांत शर्मा शहीद हो गए। वह राजौरी सेक्टर में तैनात थे। जवान की शहादत का समाचार सुनते ही परिजनों में कोहराम मच गया। बताया कि शहीद जवान का पार्थिव शरीर आज शाम तक उधमपुर से वाया रोड सहारनपुर पहुुंचेगा। उधर जवान की शहादत के बाद परिजनों को सांत्वना देने वालों का तांता लगा हुआ है। 

जनपद के न्यू शारदानगर निवासी नायक निशांत शर्मा 61RR(JAT) बटालियन में राजौरी सेक्टर जम्मू कश्मीर में तैनात थे। जनवरी 2021 को पाकिस्तान की ओर से किए गए सीज फायर के उल्लघंन के दौरान हुई गोलीबारी में निशांत बुरी तरह घायल हो गए थे। जिसके बाद उन्हें कमांड हाॅस्पिटल उधमपुर लाया गया, जहां उन्हें आज सुबह अतिंम सांस ली।

अधिकारी जवान की शहादत की सूचना लेकर घर पहुंचे जहां बेटे के शहीद होने की खबर सुनकर परिजनों में कोहराम मच गया। बताया गया कि शहीद सैनिक नायक निशांत का पार्थिव शरीर सड़क मार्ग द्वारा आज शाम तक उनके पैतृक आवास पर लाया जाएगा।

शहीद सैनिक के घर पर सांत्वना देने वालों का तांता लगा हुआ है। बेटे की शहादत की खबर सुनते ही जवान की मां बेहोश हो गई। अन्य परिजनों को भी रो रोकर बुरा हाल है।
... और पढ़ें
martyer nishant sharma martyer nishant sharma

एक्सक्लूसिव: महंगाई की आग में ठंडे हुए ‘उज्ज्वला’ के चूल्हे, गैस के बढ़ते दामों ने बढ़ाई मुश्किल

महिलाओं को धुएं से निजात दिलाने को उज्ज्वला योजना में दिए गए गैस सिलिंडर और चूल्हे की आग महंगाई में ठंडी पड़ गई है। गरीब परिवारों को निशुल्क सिलिंडर तो दे दिए गए, लेकिन गैस के दाम बढ़ने से लाभार्थी इन्हें रिफिल नहीं करा पा रहे हैं। उत्तर प्रदेश के शामली जिले में लगभग दस हजार ऐसे कनेक्शन धारक हैं, जिन्होंने दो माह से सिलिंडर नहीं भरवाए हैं। कुछ गैस एजेंसियों पर तो उज्ज्वला योजना के लगभग 30 से 40 प्रतिशत तक सिलिंडर नहीं भरवाए जा रहे।

 प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत जिले में 95 हजार 737 गरीब परिवारों को मुफ्त रसोई गैस सिलिंडर और चूल्हे दिए गए थे। जब योजना शुरू हुई तो घरेलू गैस सिलिंडर की कीमत 550 रुपये थी और लगभग 250 रुपये तक की सब्सिडी आ रही थी। सिलिंडर 300 रुपये का पड़ता था। इसके बाद सिलिंडर के दाम बढ़ते गए और सब्सिडी कम होती गई। 

वर्तमान में रसोई गैस का दाम लगभग 700 रुपये है और सब्सिडी 1.75 रुपये मिल रही है। ऐसे में गरीब परिवारों के लिए सिलिंडर रिफिल कराना मुश्किल हो गया है। जिले में उज्ज्वला योजना के लगभग दस हजार कनेक्शन की बीते दो माह से रिफिल के लिए बुकिंग नहीं हुई है।

कैराना गैस सर्विस के मालिक प्रेमचंद का कहना है कि उनकी एजेंसी पर उज्ज्वला योजना के तहत 1650 गैस उपभोक्ता हैं। इनमें से 30-35 प्रतिशत उपभोक्ता रिफिल नहीं करा रहे। विनायक गैस एजेंसी शामली रोड के प्रबंधक आरिफ का कहना है कि 4200 उपभोक्ता उज्ज्वला योजना के तहत हैं। इनमें से 40 प्रतिशत रिफिल नहीं खरीद रहे।
... और पढ़ें

तीन वर्षों से छात्रवृत्ति का पैसा डकार गए मदरसा संचालक, जांच में सही पाई गई शिकायत

सरकार की सख्त नीतियों के बाद भी छात्रवृत्ति हड़पने का मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है। गांव जई स्थित मदरसा एनएस जामिया अरेबिक एजुकेशन ने लगभग साढ़े पांच लाख रुपये का गबन कर सरकारी धनराशि का दुरुपयोग किया है। इस मामले में मदरसे के छात्रवृत्ति नोडल अधिकारी सरफराज निवासी ग्राम जई को जांच में दोषी मानते हुए जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी मौहम्मद तारिक ने भावनपुर थाने में तहरीर दी है। मदरसा संचालक पिछले तीन वर्षोँ से छात्रवृत्ति हड़पने का काम कर रहा था। 

हाल ही में न्यू मलियाना निवासी प्रवीन राही के दिए गए शिकायती पत्र के आधार पर विभागीय जांच शुरू की गई थी। मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने गांव में मौजूद लोगों से बातचीत की। उन्होंने छात्रवृत्ति न मिलने के बारे में जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी से शिकायत की।

मदरसे में 144 में से 50 बच्चे शिकायत लेकर अधिकारी के पास पहुंचे। कक्षा-छह से आठ तक के इस मदरसे में तीन वर्षों से छात्रवृत्ति हड़पने की शिकायतें मिलीं। एक वर्ष में प्रति बच्चे को 5700 रुपये छात्रवृत्ति दी जाती है।

शिकायत कर रहे लोगों ने बताया कि मदरसा संचालक उनसे छात्रवृत्ति के नाम पर अंगूठा लगवाते रहे। जबकि उन्हें एक बार भी छात्रवृत्ति नहीं दी गई। इसके साथ-साथ कुछ बच्चे अन्य स्कूल में पढ़ाई कर रहे हैं, जबकि मदरसे का संचालक छात्रवृत्ति हड़पने के लिए दूसरे स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों के नाम भी अपने रजिस्टर में दिखाते हुए छात्रवृत्ति हड़प रहे हैं।

काली सूची में मदरसा, मान्यता भी होगी रद
वहीं, इस मदरसे पर जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी की तरफ से शासन को भी रिपोर्ट भेज दी गई है। शासन स्तर पर  मदरसे को काली सूची में डाल दिया जाएगा। वहीं, मदरसा बोर्ड से इसकी मान्यता रद करने के बारे में भी पत्र लिखा जाएगा।

वहीं, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी ने अन्य मदरसा संचालकों को भी सुधरने के लिए निर्देश दिए हैं। उनका कहना है कि अगर अन्य स्थानों से भी ऐसी कोई शिकायत मिली तो उन्हें भी बख्शा नहीं जाएगा।
... और पढ़ें

डोली की जगह घर से उठा फिरदौस का जनाजा, बहन के देवर ने रची साजिश और भाई से ही करा दी हत्या

कुछ ही घंटों बाद जिस घर से फिरदौस की डोली उठनी थी, बेरहम भाई की बदौलत उस घर से बेटी का जनाजा उठा। फिरदौस की मौत से परिवार की खुशियां मातम में बदल गईं। परिजन रो-रोकर हत्यारोपी भाई फिरोज को कोस रहे थे कि उसे मारने की क्या जरूरत थी। परिवार के लोगों ने ही फोन कर पुलिस को सूचना दी। पिता की तहरीर पर बेटे फिरोज और दामाद के भाई कासिम के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है। 

आज (रविवार) को फिरदौस की बरात आनी थी। इस्लामाबाद स्थित घर में तैयारियां चल रही थीं। घर पर पांच रिश्तेदार भी आ चुके थे। किसी ने सोचा तक नहीं था कि भाई फिरोज ही उसकी हत्या कर देगा। क्योंकि वह भी जोर शोर से शादी की तैयारियों में लगा था।

फिरदौस से शादी न होे पाने के गुस्से में बड़ी बहन के देवर कासिम ने ही उसकी हत्या की साजिश रच डाली। उसने शादी से पहले के फोटो-वीडियो भेजकर फिरदौस के खिलाफ फिरोज को भड़का दिया। कहा कि ऐसी बहन रिश्तेदारों की भी बदनामी करा रही है। इसको मारने में ही परिवार की इज्जत बच सकती है। 
... और पढ़ें

देहरादून जाने से रोकने पर किसानों ने जाम किया दून हाईवे, उत्तराखंड पुलिस से हाथापाई

युवती की हत्या फाइल फोटो
कृषि कानूनों के विरोध में शनिवार को देहरादून राजभवन का घेराव करने जा रहे भाकियू के किसानों की सीमा पर उत्तराखंड पुलिस के साथ जमकर धक्का मुक्की हुई। यहां से बैरिकेडिंग तोड़कर किसान देहरादून की तरफ बढ़े तो टांडा मान सिंह में उन्हें यूपी पुलिस ने रोक लिया। इससे खफा किसानों ने हाईवे जाम कर चार घंटे तक धरना दिया। इसके बाद मौके पर पहुंचे एडीएम देहरादून को ज्ञापन देने के बाद किसान लौट गए।

भाकियू के आह्वान पर प्रदेश उपाध्यक्ष चौ. विनय कुमार, जिलाध्यक्ष चौ. चरण सिंह, मंडल अध्यक्ष गढ़वाल संजय चौधरी, प्रदेश महासचिव उत्तराखंड रवि कुमार और जिला अध्यक्ष हरिद्वार विजय शास्त्री के नेतृत्व में किसान सुबह साढे़ 11 बजे ट्रैक्टर-ट्रालियों से काफिले के रूप में देहरादून के लिए चले। किसान जब छुटमलपुर-बिहारीगढ़ के बीच स्थित उत्तराखंड के हरिद्वार जनपद की अमानतगढ़ पुलिस चौकी पर पहुंचे तो वहां के पुलिसकर्मियों ने इन्हें रोक लिया।

यहां किसानों और पुलिसकर्मियों के बीच जमकर नोकझोंक हुई। किसानों ने पुलिस द्वारा लगाए गए बैरिकेड को भी तोड़ दिया। इस दौरान पुलिसकर्मियों से उनकी हाथापाई भी हुई। यहां से किसान देहरादून के लिए कूच कर गए, लेकिन यूपी की सीमा में बिहारीगढ़ थाना क्षेत्र के मनोहरपुर गांव में पहुंचते ही यूपी पुलिस ने इन्हें रोक लिया। यहां पहले से ही एसडीएम बेहट और सीओ बेहट भारी पुलिस और पीएसी के जवानों के साथ डटे थे।
... और पढ़ें

उज्ज्वला योजना: लकड़ी जलाकर चूल्हे पर पका रहीं भोजन, उपभोक्ता नहीं भरवा रहे गैस सिलिंडर 

केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी योजना है उज्ज्वला गैस कनेक्शन। महिलाओं को लकड़ी या उपले जलाकर खाना बनाने से दूर करने के लिए यह योजना लाई गई, लेकिन शत-प्रतिशत उपभोक्ता सिलिंडर ही नहीं भरवा पा रहे हैं। बहुत सी महिलाएं आज भी चूल्हे में लकड़ी जलाकर खाना पकाने को मजबूर हैं। लॉकडाउन के बाद सिलिंडर भरवाने में कमी आई है, जिसके लिए योजना के लाभार्थी आर्थिक परेशानी बता रहे हैं। 

दरअसल, सहारनपुर जिले में शहर और देहात को मिलाकर 54 गैस एजेंसियां हैं। इनसे उज्ज्वला गैस योजना के तहत 2,13,241 महिलाओं को गैस कनेक्शन वितरित किए गए थे। योजना की शुरूआत में सिलिंडर भरवाने की स्थिति ठीक थी, लेकिन अब वह बदल गई थी। सहारनपुर शहर के ही कई गैस एजेंसी संचालकों से बात की तो, यही स्थिति सामने आई कि 60 से 65 प्रतिशत लोग ही सिलिंडर भरवा रहे हैं।
... और पढ़ें

एक्सक्लूसिव: यूपी सरकार के नाम दर्ज होगी पाकिस्तान के प्रथम प्रधानमंत्री के परिवार की जमीन

पाकिस्तान के प्रथम प्रधानमंत्री और मुजफ्फरनगर के जमींदार रहे लियाकत अली खां के परिवार की निष्क्रांत संपत्ति श्रेणी की करीब सौ बीघा बेशकीमती जमीन को लेकर एसडीएम कोर्ट ने बड़ा फैसला दिया है। कोर्ट ने जमीन को राज्य सरकार के नाम पर दर्ज करने और तहसीलदार को जमीन पर कब्जा लेने को भी कहा है।

यह फैसला भोपा रोड की शहर के अंदर की ग्राम यूसुफपुर महाल में लियाकत अली खां के चाचा रुस्तम अली खां की जमीन के लिए है। अपने निर्णय में कोर्ट ने कहा है कि महाल रुस्तम अली खां के खेवट नंबर 4/1 में लाला रघुराज स्वरूप के नाम की प्रविष्टि शिकमी काश्तकार के रूप में दर्ज थी। कुछ भूमि पर 1360 फसली से पूर्व ही लाला रघुराज स्वरूप ने अवैध तरीके से संक्रमणीय अधिकार अर्जित कर लिए थे और शेष भूमि पर अधिवासी/आसामी अधिकार जमींदारी खात्मा के दौरान वर्ष 1961 में लाला रघुराज स्वरूप को प्राप्त होने थे। भूमि नियमानुसार उसी समय ही नियत अवधि के पश्चात राज्य सरकार में निहित होनी चाहिए थी, परंतु लाला रघुराज स्वरूप ने राज्य सरकार में निहित नहीं होने दी। उन्होंने मूल्यवान भूमियों को हड़पकर राज्य सरकार को क्षति पहुंचाई।

कागजों में हेराफेरी कर कब्जाई थी जमीन: एसडीएम कोर्ट

एसडीएम (उपजिलाधिकारी) कोर्ट ने आदेश में कहा है कि जालसाजी, कूटरचना या कपट से प्राप्त की गई भूमि में लाला रघुराज स्वरूप एवं उनके उत्तराधिकारियों अलोक स्वरूप एवं अनिल स्वरूप निवासी राजभवन, भोपा रोड और ललिता कुमार गुप्ता, कुसुम कुमारी, ओमप्रकाश गुप्ता, अतुल गुप्ता, अपर्णा वारिसान लाला दीपचंद को कोई अधिकार प्राप्त नहीं होते हैं। एसडीएम ने अपने आदेश में यह भी लिखा है कि प्रविष्टियों में कूट रचना करने वाले व्यक्ति को सुनवाई का अवसर दिया जाना उचित नहीं है। इसके बाद भी प्रतिवादीगणों को नोटिस भेजकर जवाब व साक्ष्य के लिए अवसर दिया गया। लेकिन कोई जवाब और साक्ष्य प्रस्तुत नहीं किया। हालांकि अनिल स्वरूप का कहना है कि उन्हें सुनवाई का अवसर नहीं दिया गया।

यह भी पढ़ें: 
नेताजी के साथ कंधा मिलाकर लड़े शामली के सिपाही, घर छोड़कर आजाद हिंद फौज में हो गए थे भर्ती
... और पढ़ें

मोस्ट वांटेड बद्दो की कोठी पर तीसरे दिन भी चला बुलडोजर, कार्रवाई के दौरान नहीं पहुंचे अधिकारी

मेरठ में ढाई लाख के इनामी बदन सिंह बद्दो की कोठी पर शनिवार को तीसरे दिन भी एमडीए का बुलडोजर चला। कार्रवाई के दौरान आज भी कोई अधिकारी नहीं पहुंचा। इससे पहले शुक्रवार को भी कार्रवाई के दौरान कोई पुलिस अधिकारी न्यू पंजाबीपुरा नहीं पहुंचा था। हालांकि टीपी नगर थाना पुलिस और एमडीए के अधिकारी ही दिनभर मौजूद रहे।

शुक्रवार सुबह 11 बजे से शाम पांच बजे तक कार्रवाई चली थी। बुलडोजर से कोठी को करीब 90 फीसदी ध्वस्त कर दिया गया। एमडीए ने 50 से ज्यादा मजदूर भी काम पर लगाए। आसपास के लोगों का कहना है कि कोठी का मलबा पड़ोसियों के घर के सामने तक फैल गया है। इसके चलते उन्हें दिक्कतें हो रही हैं। पुलिस ने आश्वासन दिया कि मलबा जल्द हटा दिया जाएगा।

आज पोर्कलेन मशीन से तोड़ी गई कोठी
बद्दो की कोठी के ध्वस्तीकरण की कार्रवाई आज तीसरे दिन भी जारी रही। गली संकरी होने से कोठी को गिराने में काफी दिक्कतें आ रही हैं। शुक्रवार को नगर निगम से पोर्कलेन मशीन मांगी गई थी। कागजी कार्रवाई पूरी न होने के कारण वह नहीं मिल सकी। जोनल अधिकारी धीरज सिंह ने बताया कि अगर संकरी गली न होती तो जेसीबी से ही काम पूरा हो जाता।

शातिर अपराधी मोस्ट वांटेड बद्दो की कोठी को पूरी तरह ध्वस्त किया जाएगा। उसकी अचल संपति को भी जब्त करने की कार्रवाई जल्द शुरू होगी। बद्दो से जुड़े सभी उसके साथियों पर भी कार्रवाई होगी। - अजय साहनी, एसएसपी

यह भी पढ़ें: 
सहारनपुर में जिद पर अड़े हैं किसान, समझाने पहुंचे अफसर, तस्वीरों में देखें मौके का हाल
... और पढ़ें

भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष पर कुंडली में हमला, गाड़ी में तोड़फोड़, पंजाब के किसानों पर आरोप

भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष वेदपाल उपाध्याय ने आरोप लगाया कि सोनीपत के कुंडली से गुजरने के दौरान उनके ऊपर पंजाब के किसानों ने हमला किया। उनकी गाड़ी में तोड़फोड़ भी की। उन्होंने पूरे मामले की जानकारी पुलिस को दी है।

उपाध्याय ने बताया कि हरियाणा के सूर्यकवि पंडित लख्मीचंद की जयंती पर जाट्टी धर्मशाला में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने के लिए जा रहे थे। इस दौरान जब वह कुंडली पहुंचे तो उनकी गाड़ी पर लगे भाजपा के झंड़े को देखकर किसानों ने रुकवा लिया और हमला कर दिया। इसके बाद सुरक्षाकर्मियों ने बीच-बचाव कर उन्हें बचाया। 

यह भी पढ़ें: 
खौफनाक वारदात: शादी से एक दिन पहले सगी बहन को उतारा मौत के घाट, ये रही बड़ी वजह

आरोप लगाया कि भाजपा का झंड़ा देखकर उनके ऊपर हमला किया गया है। वेदपाल उपाध्याय बागपत में छपरौली से भाजपा के टिकट पर साल 2012 में विधानसभा चुनाव भी लड़ चुके हैं। 

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X