विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सावन में कराएं शिव का सहस्राचन, मिलेगा कर्ज की समस्या  से छुटकारा
SAWAN Special

सावन में कराएं शिव का सहस्राचन, मिलेगा कर्ज की समस्या से छुटकारा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

सावन 2020: कोरोना का प्रभाव, एतिहासिक औघड़नाथ सहित शहर के प्रमुख मंदिर रहे बंद, शिव भक्तों ने ऐसे की पूजा-अर्चना, देखें तस्वीरें

यूपी: 2500 रुपये में कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट देने का था दावा, स्वास्थ्य विभाग ने दर्ज कराई रिपोर्ट, अस्पताल का लाइसेंस निरस्त

वायरल वीडियो के मामले में न्यू मेरठ अस्पताल का लाइसेंस निरस्त होने के बाद भी अभी तक इसमें सील नहीं लगाई गई है। शनिवार को डीएम ने इसके आदेश दिए थे। इस मामले में सीएमओ ने कहा कि सील लगाने की जिम्मेदारी पुलिस और प्रशासन की है। स्वास्थ्य विभाग ने रिपोर्ट दर्ज करा दी है।

मेरठ में शनिवार को दो मिनट 33 सेकेंड का एक वीडियो वायरल हुआ था। वीडियो में एक व्यक्ति बता रहा था कि ढाई हजार में कोरोना की फर्जी निगेटिव रिपोर्ट बनवा देगा। यह एक सप्ताह तक मान्य होगी। उसे कहीं भी ले जा सकते हैं। किसी को भी दिखा सकते हैं। टेस्ट कराओगे तो पॉजिटिव रिपोर्ट आ सकती है और 14 दिन के लिए इलाज और क्वारंटीन होना पड़ सकता है। यह रिपोर्ट निगेटिव ही आएगी।

यह भी पढ़ें: 
हरिद्वार से गुजरात जा रहे 266 पहियों के ट्रक को निकलवाने में छूटे टोलकर्मियों के पसीने, तस्वीरें

इंस्पेक्टर लिसाड़ीगेट प्रशांत कपिल का कहना है कि इस संबंध में स्वास्थ्य विभाग की तरफ से उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. गोपाल सिंह ने न्यू मेरठ अस्पताल के प्रबंधक शाह आलम के खिलाफ धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज कराई है। सीओ कोतवाली दिनेश शुक्ला का कहना है कि सीएमओ या मजिस्ट्रेट का आदेश मिलेगा तो अस्पताल को सील कर दिया जायेगा। आरोपी पर कार्रवाई की जा रही है।

यह था पूरा मामला
सोशल मीडिया पर वायरल हो रही एक वीडियो में हापुड़ रोड स्थित न्यू मेरठ अस्पताल के चिकित्सक का यही दावा था कि रिपोर्ट बन जाएगी, सैंपल की भी जरूरत नहीं, इसके लिए सिर्फ ढाई हजार रुपए देने होंगे और यह रिपोर्ट एक सप्ताह तक मान्य होगी। रिपोर्ट पर प्यारे लाल शर्मा जिला अस्पताल की मुहर भी लगी होगी। सीएमओ के निर्देश पर इस मामले में न्यू मेरठ अस्पताल के प्रबंधक के खिलाफ लिसाड़ी गेट थाने में एफआईआर दर्ज कराई गई थी।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें

मुजफ्फरनगर: पिता की पिस्टल से अचानक चली गोली, 11 साल के बेटे की मौत, जांच में जुटी पुलिस

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में सिविल लाइन थाना क्षेत्र अंतर्गत मोहल्ला मल्लूपुरा में सोमवार को एक घटना हो गई। यहां एक व्यक्ति की पिस्टल से अचानक गोली चल गई। जिससे उसके 11 साल के बेटे की गोली लगने से मौत हो गई। पुलिस जांच पड़ताल कर रही है।

सिविल लाइन इंस्पेक्टर डीके त्यागी ने बताया कि बुढ़ाना निवासी श्रीकांत गत दिवस अपने परिवार के साथ यहां मल्लूपुरा स्थित अपनी ससुराल में आया था। आज यानि सोमवार सुबह जब वह जाने के लिए तैयार हो रहा था, तभी उसकी लाइसेंसी पिस्टल नीचे गिर गई। इस दौरान अचानक गोली चल गई और वह गोली उसके 11 साल के बेटे प्रियांशु को जा लगी, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया।

यह भी पढ़ें: 
शादी के आठ दिन बाद मायके में आई नवविवाहिता की गला रेतकर हत्या, इलाके में सनसनी, जांच में जुटी पुलिस

इसके बाद परिजन उसे निजी अस्पताल ले गए, जहां से उसे मेरठ के लिए रेफर कर दिया गया, लेकिन मेरठ आते समय रास्ते में ही बच्चे ने दम तोड़ दिया। परिजनों ने इस संबंध में पुलिस को सूचना दी है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के भिजवा दिया है। पुलिस अभी मामले की जांच पड़ताल कर रही है। वहीं श्रीकांत ने घटना की इत्तेफकिया तहरीर देकर कार्रवाई से इंकार किया है। लेकिन फिर भी पुलिस अपने स्तर से जांच पड़ताल कर रही है।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें

हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे को दरोगा ने देखा... रातभर चला चेकिंग अभियान, चस्पा किए गए पोस्टर, इस जिले से रहा पुराना नाता

विकास दुबे की तलाश जारी विकास दुबे की तलाश जारी

बिजनौर: कपड़े की दुकान में लगी भीषण आग, एक करोड़ रुपये का नुकसान, कई लोगों की बची जान

उत्तर प्रदेश में बिजनौर जनपद के चांदपुर थाना क्षेत्र में ढाली बाजार स्थित एक कपड़े की दुकान में सोमवार देर रात को भीषण आग लग गई। आग की सूचना पर दमकल विभाग की तीन गाड़ियां पहुंचीं। फायर ब्रिगेड की टीम ने करीब सात घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। दुकान में आग लगने से करीब एक करोड़ रुपए का नुकसान होना बताया गया। खास बात यह है कि तीसरी मंजिल पर रह रहे परिवार को समय रहते बचा लिया गया। 

बता दें कि ढाली बाजार स्थित नारायण दास रामकिशन दास नाम से कपड़े की प्रतिष्ठित दुकान है। सोमवार देर रात को किसी समय बिल्डिंग की दूसरी मंजिल पर आग लग गई। इस बीच रात करीब ढाई बजे बिल्डिंग की तीसरी मंजिल पर रह रहे परिवार की एक महिला ने धुआं उठता देखा। कुछ ही देर में आग ने विकराल रूप ले लिया। 

यह भी पढ़ें: 
बिजनौर में मिली हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे की लोकेशन, तलाश में जुटे अफसर, चेकिंग अभियान जारी

इसके बाद दमकल विभाग को आग की सूचना दी गई। सूचना मिलते ही फायर ब्रिगेड की तीन गाड़ियां मौके पर पहुंचीं और करीब सात घंटे में आग पर काबू पाया। हालांकि तब तक दुकान का सामान जलकर राख हो गया था। आग इतनी भयंकर थी कि बिल्डिंग में तरेड़ भी आ गई। वहीं सूचना मिलने पर स्थानीय पुलिस भी मौके पर पहुंची।

बताया गया कि कपड़े की दुकान में आग लगने से करीब एक करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। हालांकि अभी आग लगने का कारण नहीं पता चल सका है। पुलिस अभी आग लगने का कारण पता करने में जुटी हुई है।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें

शामली में मुठभेड़, गोली लगने से 15 हजार का इनामी बदमाश घायल, अब खुलेगा कपिल की हत्या का राज

उत्तर प्रदेश के शामली जनपद में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हो गई। मुठभेड़ में 15 हजार का इनामी बदमाश गोली लगने से घायल हो गया। जबकि बदमाश के अन्य साथी मौके से फरार हो गए। पुलिस ने घायल बदमाश को उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

बता दें कि थानाभवन थाना क्षेत्र के जलालाबाद हसनपुर लुहारी मार्ग पर मंगलवार तड़के पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हुई। मुठभेड़ में एक बदमाश के पैर में गोली लग गई। इसके बाद पुलिस ने बदमाश को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने घायल बदमाश को अस्पताल में भर्ती कराया है। 

पुलिस ने बदमाश के कब्जे से अवैध तमंचा, कारतूस व बाइक बरामद की है। घायल बदमाश 11 जून को जलालाबाद कस्बे में हुए कपिल कौशिक हत्याकांड का वांछित आरोपी है। आरोपी ने अपना नाम साजेब निवासी तीतरो बताया।  

यह भी पढ़ें: 
बिजनौर में मिली हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे की लोकेशन, तलाश में जुटे अफसर, चेकिंग अभियान जारी

पुलिस ने कपिल कौशिक हत्याकांड में दो आरोपियों को पहले ही गिरफ्तार कर लिया था। जबकि यह वांछित चल रहा था। पुलिस आरोपी से पूछताछ करेगी। उसके बाद ही वारदात का खुलासा होगा।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें

एसडीएम का भांजा समेत छह मिले कोरोना पॉजिटिव, तहसील को कराया सैनिटाइज, मचा हड़कंप

उत्तर प्रदेश में सहारनपुर जनपद के बेहट में एसडीएम दीप्ति देव का भांजा भी कोरोना पॉजिटिव निकला है। सोमवार को ही वह दिल्ली से एसडीएम के पास पहुंचा था। तबीयत खराब होने पर टेस्ट कराया गया। वहीं रात करीब 12 बजे रिपोर्ट पाजिटिव आने के बाद उसे पिलखनी मेडिकल कॉलेज में आइसोलेट कराया गया। वहीं आनन-फानन में रात में ही पूरी तहसील सैनिटाइज कराई गई। एसडीएम आवास वाला एरिया भी सीज कर दिया गया है।

उधर, बिजनौर जिले में पांच और लोगों में कोरोना संक्रमण होने की पुष्टि हुई है। अब जनपद में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 354 हो गई है। नए मरीजों में एक महिला और 11 वर्षीय अफजलगढ़ निवासी एक किशोर भी शामिल है।

वहीं इससे पहले सोमवार को सहारनपुर में कोरोना के 16 नए संक्रमित सामने आए थे। इनमें दो लोग आयुष मंत्री डॉ. धर्म सिंह सैनी के परिवार से हैं, जिनमें मंत्री का छह वर्षीय पौत्र और एक घर का नौकर शामिल है। 

यह भी पढ़ें: 
शामली में मुठभेड़, गोली लगने से 15 हजार का इनामी बदमाश घायल, अब खुलेगा कपिल की हत्या का राज

चिकित्सा विभाग ने मंत्री के पॉजिटिव आने के बाद उनके परिवार के करीब 18 लोगों के सैंपल लिए थे। पत्नी और बेटे की रिपोर्ट दो दिन पहले ही पॉजिटिव निकली थी। सोमवार को छह वर्षीय पौत्र और घर पर काम करने वाले 23 वर्षीय नौकर की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। 

इसके बाद से परिवार में दहशत की स्थिति है। इनके अलावा चार लोग नानौता के मोहल्ला सुनारो वाली गली के संक्रमित आए हैं, जो एक ही परिवार के हैं। सुनारो वाली गली में अभी तक एक दर्जन से अधिक की रिपोर्ट पॉजिटिव आ चुकी है। सहारनपुर शहर के शारदानगर में भी चार लोग पॉजिटिव आए हैं। यह भी एक ही परिवार के सदस्य हैं। तीन लोग देवबंद के पठानपुरा, वेदविहार और मोहल्ला लहसवाड़ा के हैं। इनमें एक व्यक्ति किराना व्यापारी का बेटा है, जबकि दूसरा अस्पताल का स्टाफ सदस्य है। तीसरा व्यक्ति श्मशान घाट पर रहता है। एक व्यक्ति सहारनपुर शहर के गोटेशाह का रहने वाला है। पॉजिटिव निकले सभी 16 लोगों को कोविड अस्पतालों में शिफ्ट कर दिया गया है। साथ ही संपर्क में आए लोगों की सैंपलिंग की जा रही है। इसके साथ ही जनपद में कोरोना पॉजिटिव की संख्या 454 पहुंच गई है। हालांकि इनमें से 369 मरीज ठीक हो चुके हैं। वर्तमान में 84 एक्टिव मरीज हैं।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें

देरी से ठीक होंगे फाल्ट, बिना बिजली के गर्मी में बिलबिलाते रहेंगे उपभोक्ता

कोरोना वायरस (प्रतीकात्मक तस्वीर)
पीवीवीएनएल के मेरठ, नोएडा और गाजियाबाद को 24 घंटे बिजली आपूर्ति सुनिश्चित कराने के लिए फाल्ट ठीक करने को दिया गया 24 गुना 7 ब्रेकडाउन मेंटिनेंस ठेका खत्म हो गया है। अब दिन और रात में होने वाले बड़े फाल्ट अटेंड नहीं होंगे। इसके चलते उपभोक्ता बिना बिजली के ही गर्मी में बिलबिलाते रहेंगे।  

शासन ने पश्चिमांचल के मेरठ शहर, गाजियाबाद शहर और नोएडा को 24 घंटे निर्बाध बिजली आपूर्ति करने के निर्देश दिए हुए हैं। इसके लिए बड़े-छोटे फाल्ट ठीक करने के लिए डिस्कॉम ने तीनों शहरों के लिए पिछले दो साल से 24 गुना 7 ब्रेकडाउन मेंटिनेंस ठेका दिया हुआ था। यह ठेका इस साल मार्च में खत्म हो गया था। लेकिन कोरोना संक्रमण के चलते हुए लॉकडाउन में बिजली आपूर्ति सही रखने के लिए इसे तीन महीने यानी जून तक के लिए आगे बढ़ा दिया था।

लॉकडाउन के बावजूद भी शहर की बिजली व्यवस्था सही बनी रही। समय पर फाल्ट ठीक होते रहे। इसकी तारीफ प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ और ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने भी की थी। लेकिन भीषण गर्मी में जब फाल्ट ठीक करके बिजली आपूर्ति की सबसे ज्यादा जरूरत है तो ऐसे में डिस्कॉम ने तीनों शहरों के टेंडर 30 जून को खत्म कर दिए हैं।

इसके चलते अब फाल्ट ठीक होने में घंटो की देरी हो रही है। रविवार सुबह तड़के चार बजे बारिश में हुए फाल्ट ठीक होने 5 घंटे से ज्यादा समय लगा। शारदा रोड, हापुड़ रोड और अन्य कई बिजलीघर सुबह 9 बजे तक चालू हो पाए।
... और पढ़ें

बिजनौर में मिली हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे की लोकेशन, तलाश में जुटे अफसर, चेकिंग अभियान जारी

कानपुर जिले में मुठभेड़ में आठ पुलिसकर्मियों को मौत के घाट उतारने वाले ढाई लाख के इनामी बदमाश विकास दुबे की अपने साथियों के साथ बिजनौर में लोकेशन मिली है। वह अपने छह साथियों के साथ स्कोर्पियो कार में देखा गया है। इसके बाद जिले भर की पुलिस अलर्ट हो गई।

जिले भर में चेकिंग अभियान चलाया गया पर कहीं भी दोनों गाड़ी नहीं मिली। पुलिस को शक है कि कहीं जिले में ही विकास दुबे छिपा है। पुलिस उसका ठिकाना तलाशने में जुटी है। यह भी चर्चा है कि वह अपने साथियों के साथ उत्तराखंड की सीमा में घुस गया है।

जिले भर की पुलिस सड़कों पर उतर आई और चेकिंग अभियान शुरू कर दिया। हर वाहन की तलाश ली पर विकास दुबे पुलिस को नहीं मिला। एसपी संजीव त्यागी, एसपी सिटी लक्ष्मीनिवास मिश्र, एसपी देहात संजय कुमार, सीओ सिटी कुलदीप गुप्ता, सीओ धामपुर महावीर सिंह समेत पांचों सर्किल सीओ पुलिस फोर्स के साथ चेकिंग अभियान में जुट गए। पर विकास दुबे की लोकेशन नहीं मिल पाई।
... और पढ़ें

साइबर अपराधियों के निशाने पर कहीं आप तो नहीं, जरा सी चूक ही खाली करा सकती है आपका बैंक अकाउंट

साइबर ठग इंटरनेट पर जाल बिछाए बैठे हैं। जरा सी चूक होते ही आपके खाते से लाखों रुपये गायब हो सकते हैं। सिर्फ सावधानी ही बचाव है। उत्तर प्रदेश के बागपत जिले में फरवरी महीने से जून तक ही साइबर ठगी के 40 मामले सामने आए हैं। लॉकडाउन के बाद साइबर ठगी तेजी के साथ बढ़ी है।  जिले में पिछले दो साल में 85 साइबर ठगी हुई है। लेकिन लॉकडाउन पीरियड में सबसे ज्यादा मामले सामने आए हैं। 

पिछले साल हुई थी स्थापना
बागपत जिले में फरवरी 2019 में साइबर सेल स्थापित हुई थी। साइबर सेल ने 25 लोगों के खातों में उनकी रकम वापिस कराने में कामयाबी भी हासिल की है।

केस एक : जनवरी 2020 में डीएम के फॉलोअर मदन सिंह के खाते से 50 हजार रुपये की ठगी हुई थी। साइबर सेल ने तत्परता दिखाते हुए उनकी पूरी रकम वापस कराने में कामयाबी हासिल की। सेल ने जिस खाते में रकम गई थी, उसी बैंक खाते को ब्लॉक कराकर खाताधारक की जानकारी जुटाई। इसके बाद रुपये वापस कराए गए। 

केस दो : कोतवाली बागपत में तैनात कांस्टेबल विशाल पूनिया के साथ 36 हजार रुपये की साइबर ठगी हुई थी। साइबर सेल ने कांस्टेबल के 36 हजार में से 33 हजार रुपये वापस कराए।

यह भी पढ़ें: 
Coronavirus: मेरठ की स्थिति भयावह, आज फिर मिले 50 संक्रमित, अन्य जिलों का ये है हाल
... और पढ़ें

Coronavirus: मेरठ की स्थिति भयावह, आज फिर मिले 50 संक्रमित, अन्य जिलों का ये है हाल

कोरोना संक्रमण से जकड़े मेरठ की स्थिति भयावह हो चुकी है। सोमवार को 50 नए संक्रमित मिले हैं। इसी तरह अन्य जिलों में भी संक्रमितों के मिलने का सिलसिला लगातार जारी है। आगे विस्तार से जानें आज पश्चिमी यूपी के किस जिले में कोरोना के कितने मरीज मिले हैं और संक्रमण की क्या स्थिति है-

इससे पहले एक दिन में सर्वाधिक 53 मरीज मिले थे। नए मरीजों में 25 महिला और 25 पुरुष वर्ग से हैं। 15 नए केस हैं, बाकी पुराने मरीजों के संपर्क वाले हैं। 8 मरीज शक्तिनगर के रहने वाले हैं। इनमें 8 साल का बालक और 11 साल की बच्ची भी है। सात लोग मुरलीपुर के हैं। यह सभी पुराने मरीजों के संपर्क वाले हैं।

कलक्ट्रेट स्थित एडीएम सिटी ऑफिस का कर्मचारी भी कोरोना पॉजिटिव निकला है। 19 मरीजों को कोरोना की पुष्टि एंटीजन किट से हुई है। सीएमओ में बताया कि मेरठ में 2480 सैंपलों की जांच हुई। कोरोना संक्रमितों की संख्या 1209 हो गई है, इसमें 70 की मौत हो चुकी है, 798 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। 341 मरीजों का विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है।

मुजफ्फरनगर जिले में 26 नए पॉजिटिव मिले, एक मरीज की मौत 
जनपद में कोरोना के मामले तेजी से बढऩे लगे हैं। सोमवार को 26 अन्य केस सामने आए हैं। इनमें नौ विद्युत निगम के अधिकारी और कर्मचारी हैं, जबकि नौ जिला जेल के बंदी शामिल हैं। बिजली अफसरों में एसडीओ और जेई हैं। इसके अलावा मेरठ मेडिकल में एक व्यक्ति की मौत हो गई है। जिले में अब तक कोरोना के कुल मामले 357 हो गए हैं, जबकि एक्टिव केस 104 हैं। 250 लोग ठीक होकर अपने घर लौट चुके हैं।

उधर, शामली जिले में सोमवार को थानाभवन कस्बे में एक और दुकानदार की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव मिली है। पीड़ित को झिंझाना कोविड अस्पताल शिफ्ट किया जा रहा है। मोहल्ला शाहलाल और सब्जी मंडी को हॉटस्पॉट कर सील करने की तैयारी शुरू कर दी है। इसके अलावा 233 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। दो कोरोना पॉजिटिव ठीक होने के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया है।
... और पढ़ें

कानपुर एनकाउंटर: दो स्कार्पियो व सात साथियों संग पश्चिमी यूपी की इस चौकी पर दिखा विकास दुबे, पुलिस अलर्ट

इमलाख की पांच करोड़ की संपत्ति होगी कुर्क, फर्जी शैक्षणिक डिग्रियां बांटने के  भी लग चुके हैं आरोप

मुजफ्फरनगर शहर कोतवाली क्षेत्र के गांव शेरपुर निवासी इमलाख खान की अवैध धंधों से अर्जित की गई करीब पांच करोड़ की संपत्ति बहुत जल्द पुलिस-प्रशासन द्वारा कुर्क की जाएगी। पुलिस ने इमलाख खान की इस बेशकीमती संपत्ति को चिह्नित कर लिया है। इस संपत्ति में छह से अधिक प्लाट के साथ ही अन्य संपत्तियां भी शामिल हैं। 

गौरतलब है कि इमलाख खान रुड़की रोड स्थित चर्चित बाबा कोचिंग सेंटर के जरिये चर्चा में आया था, जहां उस पर फर्जी शैक्षणिक डिग्रियां बांटने के आरोप लगे थे। इसके बाद उस पर धोखाधड़ी व ठगी के मुकदमे दर्ज होते गए।

इसी दौरान दो जून 2017 को गांव शेरपुर में पुलिस टीम पर हुए हमले में इमलाख खान का नाम आने के बाद पुलिस ने उसकी हिस्ट्रीशीट खोल दी थी। इंस्पेक्टर अनिल कपरवान ने बताया कि इमलाख की करीब पांच करोड़ कीमत की संपत्तियों को चिह्नित कर लिया गया है, जिन्हें जल्द ही कुर्क किया जाएगा।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us