विज्ञापन
विज्ञापन
दीर्घकाल से चल रहें मुकदमें होंगे समाप्त, आज ही बुक करें कामाख्या देवी मंदिर में विजय दशमी की विशेष पूजा !
Navratri Special

दीर्घकाल से चल रहें मुकदमें होंगे समाप्त, आज ही बुक करें कामाख्या देवी मंदिर में विजय दशमी की विशेष पूजा !

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

जेल से बाहर आया कुख्यात सुशील मूंछ, पश्चिमी यूपी में बढ़ा गैंगवार का अंदेशा, पुलिस अलर्ट

कुख्यात सुशील मूंछ के जेल से बाहर आने से पश्चिमी यूपी में फिर से गैंगवार होने का अंदेशा बढ़ गया है। इसके मद्देनजर पुलिस अलर्ट हो गई है। एडीजी जोन ने सभी जनपदों के कप्तानों को निर्देश दिए हैं कि सभी बदमाशों पर निगरानी रखी जाए। 

पुलिस के अनुसार मूंछ की गतिविधियों की निगरानी की जिम्मेदारी मुजफ्फरनगर पुलिस को दी गई है। मेरठ, मुजफ्फरनगर, बागपत, शामली और बुलंदशहर समेत कई जनपदों में बदमाशों के बीच वर्चस्व को लेकर तनातनी पहले से ही है। पुलिस के अनुसार सुशील मूंछ की लखनऊ जेल में बंद कुख्यात संजीव जीवा से गैंगवार चल रहा है। 

इसको लेकर मेरठ के शातिर भूपेंद्र बाफर ने पुलिस कस्टडी से रोहित सांडू को छुड़वाकर मूंछ को मारने की योजना बनाई थी। इसके चलते मुजफ्फरनगर पुलिस ने भूपेंद्र बाफर को जेल भेज दिया और मुठभेड़ में रोहित सांडू और उसके तीन साथी मार गिराए थे। 

मेरठ के परतापुर थाना क्षेत्र के सोहरका गांव में मां बेटे की 24 जनवरी, 2018 दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या हुई थी। मामले में साजिश में मूंछ का नाम सामने आया था। बाद में उसने कोर्ट में सरेंडर कर दिया था। अब मूंछ के जेल से छूटने के बाद पश्चिमी यूपी के जिलों में गैंगवार का अंदेशा है। सूत्र बता रहे कि जेल से छूटने के बाद सुशील मूंछ अपने लोगों से मिला और फिर कहीं चला गया। 

यह भी पढ़ें: 
बेटियों के नाम से होगी घरों की पहचान, अधिकारियों ने गांवों में शुरू की नई पहल, तस्वीरें
... और पढ़ें

चपरासी भर्ती के लिए लगी कतार, आज भी होंगे साक्षात्कार, पढ़िए पूरा अपडेट

बेटियों के नाम से होगी घरों की पहचान, अधिकारियों ने गांवों में शुरू की नई पहल, तस्वीरें

निलंबित दरोगा इंतसार अली ने आखिर कटवाई दाढ़ी, एसपी ने किया बहाल, ये था पूरा मामला

इंतसार अली ने दाढ़ी कटवाई इंतसार अली ने दाढ़ी कटवाई

त्योहारों पर रेल यात्रा का संकट, निरस्त हुई 12 से अधिक ट्रेनें, इन रूटों पर प्रभावित होगा संचालन

पंजाब में किसान आंदोलन के कारण कई स्पेशल ट्रेनों का संचालन चार नवंबर तक स्थगित कर दिया गया है। इनके अलावा पूर्व में ट्रेनें अंबाला तक चल रही थीं। वे पूर्व की तरह चलती रहेंगी। इसके चलते त्योहारी सीजन में यात्रियों के लिए परेशानी और बढ़ गई है। इन ट्रेनों में माता वैष्णो देवी के अलावा अन्य मुख्य स्टेशनों को जाने वाली गाड़ियां भी शामिल हैं।

रेलवे स्टेशन अधीक्षक कपिल शर्मा के अनुसार 02231 लखनऊ चंडीगढ़ एक्सप्रेस, 02232 चंडीगढ़ लखनऊ एक्सप्रेस,- 04888 ऋषिकेश बाडमेर एक्सप्रेस, 04519 दिल्ली भटिंडा एक्सप्रेस, 04520 भटिंडा दिल्ली एक्सप्रेस, 04612 माता वैष्णो देवी कटरा एक्सप्रेस, 04924 चंडीगढ़ गोरखपुर एक्सप्रेस, 04923 गोरखपुर चंडीगढ़ एक्सप्रेस, 02331 हावड़ा जम्मूतवी एक्सप्रेस, 02332 जम्मूतवी हावड़ा एक्सप्रेस सहित अन्य कई ट्रेनों के संचालन पर यह असर पड़ा है।

यह भी पढ़ें: 
निलंबित एसआई इंतसार अली के समर्थन में उतरे जमीयत उलमा के पदाधिकारी, दाढ़ी रखने पर हुई थी ये कार्रवाई

रेलवे की ओर से कुछ दिन पहले ही त्योहारी सीजन में यात्रियों को राहत दिलाने के लिए इन ट्रेनों का संचालन शुरू किया गया था। लेकिन पंजाब में किसान आंदोलन के कारण ट्रेनों का आवागमन बाधित हो गया है। जन शताब्दी सहित अन्य ट्रेनें पहले से ही प्रभावित चल रही हैं जबकि कुछ ट्रेनों को अंबाला तक ही चलाया जा रहा है।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें

माउंट फ्रेंडशिप पर लहराया 50 मीटर का तिरंगा, हिमाचल की चोटियों को फतह कर चुका है रिहान अली

मायूस कारीगर और साइड में पुतला
इंडियन एडवेंचर फाउंडेशन के पांच पर्वतारोहियों में शामिल गांव मरवा निवासी रिहान अली ने 5258 मीटर ऊंची चोटी माउंट फ्रेंडशिप मनाली (हिमाचल प्रदेश) पर 50 मीटर का राष्ट्रीय ध्वज लहराया है। इससे पहले भी रिहान 20 हजार 187 मीटर ऊंची माउंट स्टॉक कांगड़ी (लद्दाख), 7200 फीट ऊंची माउंट करोल व 8000 मीटर ऊंची काली का टिब्बा चोटियों (हिमाचल प्रदेश) को फतेह कर चुका है।

रिहान ने बताया कि मिशन माउंट फ्रेंडशिप के लिए इंडिया एडवेंचर फाउंडेशन मुरादाबाद की तरफ से चार राज्यों के पर्वतारोही चयनित किए थे, रिहान ने बताया कि उन्होंने 18 अक्तूबर को माउंट फ्रेंडशिप पर चढ़ाई शुरू की थी। उनका पहला पड़ाव कैंप एक में हुआ और दूसरे दिन वे अपने पूरे इक्विपमेंट व सामान के साथ बेस कैंप पहुंचे।

यह भी पढ़ें: 
कबाड़ियों को लूटकर करोड़पति बने कई पुलिसवाले, वायरल हुए थे मौज-मस्ती के फोटो, अब खुलेंगे राज

बेस कैंप से एडवांस कैंप पहुंचने के बाद उन्होंने 21 अक्तूबर की सुबह 4:30 बजे चढ़ाई शुरू की और मुश्किल हालात का सामना करते हुए 22 अक्तूबर सुबह 10 बजकर 49 मिनट पर मिशन पूरा कर 5258 मीटर ऊंची चोटी माउंट फ्रेंडशिप पर 50 मीटर का राष्ट्रीय ध्वज लहरा दिया।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें

यूपी: पांच करोड़ की लागत से तैयार हुआ ड्राइविंग ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट, अब बिजली कनेक्शन अटका

बजट के अभाव में लंबे समय तक अटका रहा ड्राइविंग ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट बनकर तैयार तो हो गया। लेकिन इसका बिजली कनेक्शन अटक गया है। आवेदन के बाद भी बिजली विभाग ने कनेक्शन नहीं दिया है। बिजली विभाग कनेक्शन देने से पहले संबंधित विभाग की एनओसी मांग रहा है। अब कार्यदायी संस्था परिवहन विभाग और व्यावसायिक शिक्षा विभाग के बीच हुए एमओयू के कागज खंगालने में लगी है।

कोरोना काल को छोड़ दें तो सामान्य दिनों में आरटीओ में हर माह 5-6 हजार डीएल बनाए जाते हैं। जो बिना ड्राइविंग टेस्टिंग ट्रैक के ही खाली औपचारिकता पूरी कर बनाए जाते हैं। लंबे समय से की जा रही मांग के बाद शासन ने मेरठ को ड्राइविंग ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट का तोहफा दिया था। तीन साल पहले करीब पांच करोड़ रुपये की लागत से साकेत आईटीआई की जमीन पर इसका निर्माण शुरू हुआ था।

दिसंबर 2018 में यह इंस्टीट्यूट परिवहन विभाग के सुपुर्द किया जाना था। लेकिन शासन में कई बार धनराशि की किस्त अटकने से इसके निर्माण में दो साल अधिक लग गए। अब इंस्टीट्यूट की इमारत और ऑटोमेटिक ड्राइविंग टेस्टिंग ट्रैक तो बनकर तैयार हो गया है। लेकिन बिजली कनेक्शन का मामला फंस गया है।

यह भी पढ़ें: 
निलंबित एसआई इंतसार अली के समर्थन में उतरे जमीयत उलमा के पदाधिकारी, दाढ़ी रखने पर हुई थी ये कार्रवाई
... और पढ़ें

युवती से छेड़छाड़ पर पथराव, फायरिंग से गांव में फैली दहशत, पुलिस ने पड़ितों को थाने से भगाया

मुजफ्फरनगर में खतौली थाना क्षेत्र के गांव आदमपुर मोचड़ी में युवती के साथ छेड़छाड़ कर दी गई। विरोध करने पर आरोपियों ने पथराव कर दिया। आरोप है कि फायरिंग भी की गई। जिससे गांव में दहशत फैल गई। पीड़ित परिवार का आरोप है कि शिकायत किए जाने पर पुलिस ने थाने से भगा दिया।

गांव आदमपुर मोचड़ी निवासी महिला ने बताया कि उसकी पुत्री घर के बाहर काम कर रही थी, तभी गांव के कुछ युवक आए और छेड़छाड़ करने लगे। उसने परिजनों से इसके बारे में बताया। विरोध करने पर आरोपी युवकों ने पीड़ित परिवार के मकान पर पथराव कर दिया। आरोप है कि फायरिंग भी की गई। वहीं शोर-शराबा होने पर ग्रामीण मौके पर पहुंचे। ग्रामीणों की भीड़ देख आरोपी धमकी देते हुए फरार हो गए। 

यह भी पढ़ें: 
निलंबित एसआई इंतसार अली के समर्थन में उतरे जमीयत उलमा के पदाधिकारी, दाढ़ी रखने पर हुई थी ये कार्रवाई

पीड़ितों ने बताया कि जब वे थाने पहुंचे और इसकी शिकायत इंस्पेक्टर से की तो इंस्पेक्टर ने पीड़ित परिवार के लोगों को धमकाते हुए थाने से भगा दिया। पीड़ित लोगों ने पुलिस के आला अधिकारियों से सुरक्षा की गुहार लगाई है।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें

यूपी: मुठभेड़ में दबोचा गया हरियाणा का लुटेरा गिरोह, एक कार समेत असलहा बरामद

मुजफ्फरनगर में गांव तावली के पास लूट के इरादे से पहुंचे हरियाणा के लुटेरे गिरोह को पुलिस ने मुठभेड़ में धर दबोचा। लुटेरों के पास से मुरादनगर से चोरी पिकअप के साथ ही एक कार, दो पिस्टल, तमंचे और अन्य असलाह बरामद किए गए हैं।

शाहपुर थाना पुलिस शुक्रवार तड़के क्षेत्र में गश्त कर रही थी। इसी दौरान गांव तावली के पास पिकअप और कार में सवार बदमाशों की सूचना पर थाना पुलिस ने मौके पर पहुंची। इंस्पेक्टर संजीव कुमार ने बताया कि पुलिस टीम को देखते ही बदमाशों ने फायरिंग कर दी, जिसमें कांस्टेबल रजनीश हाथ में गोली लगने से घायल हो गया। पुलिस ने बदमाशों की घेराबंदी की तो बदमाश गाड़ी छोड़कर भागने लगे। 

जवाबी कार्रवाई में सचिन निवासी ग्राम इस्माइला थाना सांपला जिला रोहतक और अश्वनी उर्फ भोलू उर्फ मारुति निवासी दोधवा थाना सदर गोहाना, जिला सोनीपत घायल हो गए। वहीं, चार अन्य बदमाशों मंजीत, विक्रम, विक्की उर्फ वीरा निवासी दोधवा थाना गोहाना, जिला सोनीपत व मोनू निवासी लाइन पार थाना बहादुरगढ़ जिला झज्जर को घेराबंदी कर दबोच लिया गया। बदमाशों के पास से एक पिकअप, एक एसेंट कार, दो पिस्टल, दो तमंचे-कारतूस आदि बरामद किए गए।

यह भी पढ़ें: 
इंतसार अली के समर्थन में उतरे जमीयत उलमा के पदाधिकारी, दाढ़ी रखने पर हुई थी ये कार्रवाई
... और पढ़ें

मेरठः सरकारी बोर्ड पर जातीय विशेष शब्दों को लेकर थाने पर की शिकायत के बाद हटवाया

हस्तिनापुर क्षेत्र के बस्तोरा नारंग निवासी कुछ लोगों ने शुक्रवार को थाने पर पहुंचकर थानाध्यक्ष से शिकायत की कि गांव में लगे सरकारी बोर्ड पर गांव के ही कुछ युवकों ने जातीय विशेष शब्द लिखे हैं जिससे गांव में आक्रोश है जिस पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर उन्हें हटवाया और ग्राम पंचायत बस्तोरा नारंग लिखवाया।
   
शुक्रवार को क्षेत्र के बस्तोरा नारंग निवासी दर्जनों लोग इंद्रजीत जाटव के निर्देशन में थाने पर पहुंचे जिनमें, जयपाल सिंह, मनोज, देशराज कश्यप पीतम हरीश मनोज कुमार महेंद्र रविंदर आदि शामिल थे जिन्होंने पहुंचकर थाना अध्यक्ष अशोक कुमार सिंह से गांव में लगे एक सरकारी बोर्ड पर जातीय विशेष शब्दों और महापुरुष के लिखे जाने का विरोध किया और कहा कि यह बोर्ड सरकारी है जिसे प्राइमरी स्कूल में उखाड़ कर गांव में ही गाड़ दिया गया है। 

जिसका दूसरी जाति के लोगों में आक्रोश है मामले की सूचना पर थाना प्रभारी अशोक कुमार सिंह ने बताया कि तुरंत बस्तोरा नारंग गांव में जाकर बोर्ड पर लिखे शब्दों को हटवा दिया गया है और ग्राम पंचायत बस्तोरा नारंग लिखवाने के लिए कह दिया गया है। इस मामले में कोई विवाद ना हो इसलिए शिकायतकर्ता और दूसरे पक्ष के लोगों से सहमति पत्र भी लिखवाया गया है। उल्लंघन करने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X