विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
जाने नागपंचमी की पूजा के लिए क्यों है यह मंदिर ख़ास ?
Naag Panchmi

जाने नागपंचमी की पूजा के लिए क्यों है यह मंदिर ख़ास ?

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

Pratapgarh: अब घर-घर बेटियों तक पहुंचेगी आयरन की गोलियां

कोरोना के खौफ में बढ़ा एलआईसी का रुझान, तीन माह में 6,578 ने कराया बीमा

Pratapgarh: मिट्टी में मिल गए 16 करोड़, जंग खा रहा ट्रीटमेंट प्लांट 

शहर में सीवर लाइन बिछाने और ट्रीटमेंट प्लांट से पानी फिल्टर करके सई नदी में गिराने की तैयारी आधी-अधूरी होने से 16 करोड़ रुपये मिट्टी में मिल गए । शहर में पाइप बिछाने कार्य भले ही पूरा नहीं हुआ है, मगर 7.71 करोड़ का भुगतान हो गया है। लापरवाही का आलम यह है कि दस साल से ट्रीटमेंट प्लांट चालू करने के लिए कोई प्रयास नहीं किया गया।

वर्ष 2008 में शहर में पाइप लाइन बिछाने के लिए कार्यदायी संस्था जलनिगम ने मुंबई की एक फर्म को ठेका दिया। शहर के 12.472 किमी परिधि में पाइप लाइन बिछाने का कार्य प्रारंभ हुआ, मगर वर्ष 2009 में बंद हो गया। शहर में पाइप लाइन बिछाने का कार्य पूरा तो नहीं हुआ, मगर 7.71 करोड़ रुपये का भुगतान हो गया।

शहर में पाइप खुदाई का कार्य चल ही रहा था कि कि वर्ष 2009 में सई तट पर ट्रीटमेंट प्लान भी स्थापित हो गया। शहर के अष्टभुजानगर स्थित टीएस सिंह को भारतीय लेखा परीक्षा और ल ेखा विभाग से जनसूचना अधिकार के माध्यम से मिली जानकारी में खुलासा हुआ है कि सीवरेज ट्रीटमेंट प्लान में अभी तक 16 करोड़ रुपये खर्च हो चुके हैं।

मगर योजना अभी तक पूर्ण नहीं हुई है। आश्चर्य की बात तो यह है कि ट्रीटमेंट प्लान 15 मार्च 2010 को प्रारंभ होना था, मगर दस साल का समय बीतने के बाद भी नेताओं और अफसरों ने अभी तक कोई पहल नहीं की है। 

सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट के लिए पूर्व में जो बजट मिला था, वह खत्म हो गया है। 13 करोड़ रुपये की डिमांड की गई है। बजट मिलते ही निर्माण कार्य प्रारंभ किया जाएगा।  घनश्याम द्विवेदी, अधिशासी अभियंता, जलनिगम 

सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट के निर्माण की जिम्मेदारी जलनिगम को दी गई थी, मगर अभी तक निर्माण कार्य पूरा नहीं हो पाया है। निर्माण कार्य पूरा होने के बाद नगरपालिका को हैंडओवर करना था। निर्माण कार्य से हमारी कोई जिम्मेदारी नहीं है। मुदित सिंह, ईओ, नगर पालिका
 
... और पढ़ें

LockDown In Pratapgarh: लॉकडाउन के दिन दूसरे दिन भी कर्फ्यू जैसा माहौल 

pratapgarh news pratapgarh news

महानायक के जल्द स्वस्थ होने के लिए पैतृक गांव बाबूपट्टी में हवन-पूजन

पिछली सदी के महानायक अमिताभ बच्चन व परिवारीजनों के कोरोना संक्रमित पाए जाने की खबर से उनके पैतृक गांव बाबूपट्टी के लोग परेशान हो गए हैं। गांव के लोगों ने रविवार को हवन-पूजन व अनुष्ठान का आयेाजन कर बिग बी के जल्द स्वस्थ्य होने के लिए ईश्वर से प्रार्थना की। गांव में घर-घर अमिताभ बच्चन की ही चर्चा रही। 

रविवार को सुबह टीवी पर अमिताभ बच्चन, अभिषेक बच्चन व उनके परिवारीजनों के कोरोना पाजिटिव होने की खबर मिलने के बाद लोग परेशान हो उठे। घर-घर अमिताभ बच्चन के स्वास्थ्य को लेकर लोग चिंतित दिखे। गांव के मनोज श्रीवास्तव, महिला श्रीवास्तव, अमिताभ श्रीवास्तव आदि ईश्वर से जल्द उनके स्वस्थ होने की कामना करते रहे।
... और पढ़ें

Pratapgarh News: शहीद दरोगा अनूप सिंह के नाम पर बनेगी सड़क और प्रवेशद्वार, मंत्री ने परिजनों को सौंपा एक करोड़ का चेक 

शहीद दरोगा के घर सांत्वना देने प्रतापगढ़ पहुंचे राज्यसभा सांसद संजय सिंह, बोले- यूपी मेें जंगलराज

pratapgarh news: शहीद दरोगा अनूप सिंह की पत्नी को चेक प्रदान करते कैबिनेट मंत्री डॉ. महेंद्र सिंह।

सावन के पहले सोमवार को बेल्हा में हर-हर महादेव का जयघोष

Kanpur Encounter: शहीद दरोगा अनूप सिंह पंचतत्व में विलीन,एसपी, सीडीओ ने पार्थिव शरीर को दिया कंधा

सिपाही को गोली मारने वाले इनामी बदमाश को पुलिस ने दबोचा

चेकिंग के दौरान भुपियामऊ में डायल 112 के सिपाही को गोली मारने वाले 25 हजार के इनामी बदमाश को पुलिस ने मुठभेड़ में दबोचने का दावा किया है। पुलिस का दावा है कि बदमाश ने पुलिसकर्मियों को देखते ही फायरिंग शुरू कर दी। जवाबी फायरिंग में उसके पैर में गोली लग गई। उसके पास से पिस्टल व चोरी की बाइक बरामद हुई है। उधर, लोगों में उसके रविवार दोपहर में ही गिरफ्तार करने की चर्चा है।

पुलिस अधीक्षक अभिषेक सिंह ने बताया कि मानधाता के अकोढ़िया निवासी रणजीत सिंह (30) पुत्र धर्मराज सिंह के ऊपर 10 मुकदमे दर्ज हैं। उसकी तलाश में स्वॉट टीम, नगर कोतवाली व मानधाता पुलिस लगातार दबिश दे रहीं थी। भुपियामऊ में सिपाही भोला सिंह पर जानलेवा हमला करने, एटीएम कार्ड का क्लोन तैयार कर लोगों के खाते से रुपये उड़ाने, व्यापारी को अगवा कर पीटने के साथ ही अन्य आपराधिक मुकदमा दर्ज होने के कारण रणजीत पर 25 हजार का इनाम घोषित किया गया था।

मानधाता से भागते समय रणजीत सिंह का एसओ प्रवीण कुशवाहा ने पीछा कर लिया। जानकारी के बाद स्वॉट टीम व नगर कोतवाली पुलिस भी उसे दबोचने के लिए घेराबंदी करने सिटी पहुंचीं। सामने पुलिस को देख वह नरवा की ओर भागा। खुद को पुलिस से घिरा देख रणजीत फायरिंग करने लगा।

जवाबी फायरिंग में उसके पैर में गोली लग गई। इससे वह गिर पड़ा। उसके पास से पिस्टल व चोरी की बाइक बरामद हुई। घायल बदमाश को उपचार के लिए जिला अस्पताल लाया गया। पूछताछ में रणजीत सिंह ने स्वीकार किया कि भुपियामऊ में डायल 112 के सिपाही भोला को उसने गोली मारी थी। 12 सितंबर 2019 को भगवतगंज बाजार के पास से युवा व्यापार मंडल के अध्यक्ष को अगवा कर मारापीटा और अकारी पुल के पास फेंक दिया। सहिजनपुर के प्रधान के साथ एटीएम कार्ड की क्लोनिंग करके लोगों के पैसे खाते से उड़ा देते हैं। रणजीत के खिलाफ कुल दस मुकदमे विभिन्न थानों में दर्ज हैं।

आननफानन में रणजीत पर रखा गया 25 हजार इनाम

मानधाता के अकोढिय़ा निवासी रणजीत सिंह की पुलिस को काफी दिनों से तलाश थी। पुलिस की रिपोर्ट पर उसे जिला बदर भी किया जा चुका था। कुछ दिनों पहले मानधाता थानाध्यक्ष प्रवीण कुशवाहा ने उसे पकड़ने के लिए इलाके में मुनादी कराई। उस समय उसके ऊपर इनाम की घोषणा नहीं की गई। रविवार शाम तक उस पर इनाम होने की जानकारी पुलिस महकमे के अफसरों को नहीं थी। मुठभेड़ के बाद शातिर बदमाश रणजीत के ऊपर 25 हजार का इनाम घोषित होने की बात सामने आ सकी। फिलहाल पुलिस मुठभेड़ को लेकर जिले में खासी चर्चा है।

कानपुर में शहीद पुलिसकर्मियों को दी श्रद्धांजलि

कानपुर में बदमाशों से हुई मुठभेड़ के दौरान शहीद पुलिसकर्मियों को लोगों ने मौन धारण कर श्रद्धांजति अर्पित की। लोगों ने बाजार में कैंडिल जुलूस भी निकाला। चमरूपुर शुक्लान तिराहे पर सोमवार को कैंडिल मार्च निकाल कर लोग पहुंचे। लोगों ने दो मिनट का मौन धारण किया। लोगों ने श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि ईश्वर शहीद पुलिसकर्मियों के परिवार वालों को दुख सहन करने की शक्ति प्रदान करे। नसीब नेता ने कहा की पूरा देश शहीदों के परिवार के साथ खड़ा है। तुलसीराम मिश्रा ने कहा कि विकास दुबे जैसे लोगों को इस समाज में रहने का कोई अधिकार नहीं है। इस मौके पर प्रधान जवाहरलाल मौर्य, जय प्रकाश शुक्ला, तफज्जुल हसन, इखलाक, राजू मिश्रा, हफीज, फरदीन, सेबू आदि लोग मौजूद रहे।

भाजपा नेता पहुंचे शहीद अनूप के घर

भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष ओमप्रकाश त्रिपाठी सोमवार को बेलखरी पहुंचे। शहीद दरोगा अनूप कुमार सिंह के परिजनों से मुलाकात कर सभी को सांत्वना दी। उन्होंने कहा कि कानून की रक्षा के लिए अनूप ने अदम्य साहस का परिचय देते हुए अपने प्राणों को बलिदान कर दिया। जिले के लोगों को हमेशा उसके बलिदान पर गर्व रहेगा।
... और पढ़ें

Pratapgarh: चमरौधा नदी में नहाने गए युवक की डूबने से मौत, दो बचाए गए

चमरौधा नदी में नहाने गए तीन युवक गहरे पानी में डूबने लगे। शोरशराबा सुनकर पहुंचे चरवाहों ने दो युवकों को बचा लिया। जबकि एक युवक नदी में डूब गया। कई घंटे की मशक्कत के बाद उसका शव कुछ दूर नदी में मिला। शव देखकर परिजन बिलखने लगे। 

नगर कोतवाली के बिहारगंज भोजपुर से आगे पूरेहुड़हा गांव में चमरौधा नदी में गुरुवार दोपहर आसपास के गांवों के युवक नहाने गए थे। अंतू थाना क्षेत्र के जैतीपुर कठार निवासी सचिन पटेल (23) पुत्र त्रिभुवन पटेल, सूरज वर्मा (25) पुत्र अमर बहादुर वर्मा और आकाश सिंह (25) पुत्र अरविंद सिंह भी नहाने पहुंचे। तीनों नदी में कूद पड़े। नहाने के दौरान गहरे पानी में जाने से तीनों डूबने लगे।

आसपास के लोगों के शोर मचाने पर चरवाहे दौड़ पड़े और नदी में छलांग लगा दी। चरवाहों ने सचिन व सूरज को बचा लिया, लेकिन आकाश डूब गया। सूचना मिलने पर आकाश के परिजन रोते बिलखते मौके पर पहुंचे। कुछ देर बाद नगर कोतवाल व अंतू पुलिस भी आ गई।

घटनास्थल पर लोगों की भीड़ लग गई। पुलिस की मौजूदगी में स्थानीय गोताखोर आकाश की खोजबीन करते रहे। करीब तीन घंटे की मशक्कत के बाद कुछ दूरी पर नदी में आकाश का शव मिला। शव देखते ही परिजन बिलखने लगे। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

मौत के आगोश से बचकर निकले सूरज व सचिन की नहीं निकल रही थी आवाज
नगर कोतवाली के पूरे हुड़हा में चमरौधा नदी में नहाने के दौरान गहरे पानी में जाने से डूब रहे सूरज व सचिन को चरवाहों ने बचा लिया। मौत के आगोश से बचकर निकले सचिन व सूरज पूरी तरह से सहमे रहे। परिवार के लोगों के सवाल पर उनकी आवाज नहीं निकल रही थी।

फर्जी मुकदमे से बचाने की लगाई गुहार
जानलेवा हमले के फर्जी मुकदमे से बचाने की महिला ने पुलिस अफसरों से गुहार लगाई है। कोहड़ौर थाना क्षेत्र के पूरे क्षमा निवासी प्रेमलता पांडेय का आरोप है कि रंजिश वश पट्टीदार ने उसके लड़कों के खिलाफ जानलेवा हमले का मुकदमा दर्ज कराया। 

तमंचा के साथ प्रधान पुत्र को भेजा जेल
सोशल मीडिया पर असलहों के साथ वायरल तस्वीर के मामले में छानबीन के बाद पुलिस ने प्रधान पुत्र को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। कंधई पुलिस ने सरखेलपुर के प्रधान पुत्र सुहैल अहमद पुत्र खलील अहमद को नहर पुलिया के पास से तमंचा कारतूस के साथ गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us