विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा
Astrology Services

नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Coronavirus in UP Live Updates: प्रदेश में 80 संक्रमित, लखनऊ में 9 दिनों से नहीं मिला कोई मरीज

शासन और प्रशासन संक्रमण के चेन को तोड़ने के लिए लगातार कोशिश कर रहा है। लोगों से भी हर वक्त घरों में रहने की अपील की जा रही है।

30 मार्च 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

प्रतापगढ़

सोमवार, 30 मार्च 2020

प्रतापगढ़ में फंसे हैदराबाद के 225 मजदूर

जिले में मेडिकल कालेज, पुल समेत अन्य सरकारी निर्माण कार्यों में लगे बाहर से आए मजदूर अब पलायन करने लगे हैं। मेडिकल कालेज के निर्माण में हैदराबाद के 225 मजदूर लगे थे। जिनके पास अब खाने का इंतजाम नहीं रह गया है। भूखों मरने की नौबत आई तो सभी घर जाने के लिए डीएम की चौखट पर दस्तक देने पहुंचे। पूरे हुड़हा में पुल बना रहे मजदूर भी सीतापुर जाने के लिए पैदल ही चल पड़े हैं। महोबा व झांसी के लोग भी अपने परिवार के साथ शहर के अलग-अलग मोहल्लों में ठहरे हुए हैं। रोजी रोटी बंद होने के बाद सभी को भोजन की समस्या का सामना करना पड़ रहा है।
नगर कोतवाली के पूरे केशवराय में मेडिकल कालेज का निर्माण हो रहा था। हैदराबाद के शिवांस कंपनी ने ठेका ले रखा है। जिसके निर्माण में करीब 225 पुरुष व महिलाएं लगी हुई थी। लाक डाउन के बाद अब उन्हें खाने पीने की समस्या पैदा होने लगी है। अब तो कई परिवार फांका कर रहा है। कंपनी के जिम्मेदारों का मोबाइल फोन भी बंद हो गया है। ऐसी दशा में मजदूरों के सामने जीवन यापन की समस्या पैदा हो गई है। शनिवार को मजदूर जिलाधिकारी आवास आकर घर भेजने की व्यवस्था कराने की मांग करने लगे। हालांकि उनकी बात सुनने के लिए कोई भी अफसर सामने नहीं आया। जिससे निराश होकर सभी निर्माणाधीन मेडिकल कालेज लौट गए।
दूसरी ओर झांसी व महोबा के पंकज कुमार, भानु प्रताप, राघवेंद्र, शिवम, गजेंद्र, बच्चा समेत करीब 187 युवक जिले के सभी तहसीलों में अपने परिवार के साथ किराए पर रहते हैं। सभी फुल्की पानी बेचकर परिवार का गुजर बसर करते थे। लाकडाउन के बाद जीविकोपार्जन की समस्या पैदा हो गई है। इस वजह से हर कोई परेशान हो उठा है। उनका परिवार 5-6 साल से किराए पर रहता है। अब सभी परिवार को दिक्कत उठानी पड़ी रही है। ऐसे में कुछ लोग शनिवार को जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचे। वह घर जाने के लिए संसाधन की व्यवस्था कराने की मांग करने लगे। हालांकि यहां भी उन सभी को निराशा ही हाथ लगी।
इसी तरह से पूरे हुड़हा में सेतु निगम का पुल बना रहे सीतापुर के मजदूरों के सामने भी समस्या आ खड़ी हुई है। ठेकेदार भी अब नहीं आ रहा है। जिससे सभी को खर्च चलाना भारी पड़ रहा है। जिससे परेशान होकर सीतापुर जनपद के मानपुर थाना क्षेत्र के बहादुरपुर के रहने वाले अजीत, लक्ष्मण, दिलीप, कौशल, सुनील समेत अन्य सदस्य घर जाने के लिए रोडवेज बस डिपो आ गए। हालांकि यहां संसाधन न मिलने के कारण सभी पैदल ही घर चल पड़े। अंबेडकर चौराहे पर खड़ी एंबुलेंस के कर्मचारियों ने सभी को फल देकर भूख मिटाने का प्रयास किया।
... और पढ़ें

CoronaVirus: कालाबाजारी रोकने के लिए तय हुए खाद्य पदार्थों के दाम

 कोरोना महामारी से बचाव के लिए जिले में 21 दिनों के लिए घोषित लॉकडाउन में कालाबाजारी रोकने के लिए जिला प्रशासन ने थोक और फुटकर विक्रेताओं के लिए बिक्री की दर निश्चित कर दी है।

21 वस्तुओं को निर्धारित दर पर ही दुकानदार बेच सकेंगे। अगर किसी ग्राहक से निर्धारित दर से अधिक धनराशि लेते हैं तो उनके खिलाफ धारा 188 के तहत कार्रवाई होगी।
 

आज से होम डिलेवरी की सुविधा, घर बैठे मंगाइए दवा और सामान

शहर के लोगों को परेशान होने की जरूरत नहीं है। जिला प्रशासन की पहल पर दुकानदारों ने आज से होम डिलेवरी की सुविधा प्रारंभ कर दी है। आप घर बैठे फोन घुमाइए और अपनी जरूरत के सामान और दवाएं लीजिए।

दूध और किराना के सामानों की खरीद के लिए इन नंबरों पर फोन कर सकते हैं

दुकानदार का नाम    मोबाइल नंबर
अनिकेत किराना स्टोर    7800030063
रुपेश किराना स्टोर    9838532784   
बच्चा किराना स्टोर    9554340664
पवन प्रविजन    9598379897
दयाल स्टोर    9839483742
छोटेलाल किराना स्टोर    9918374806
अरविंद कसौंधन    9120902136
अभिनंदन जैन    8765007096
सहनंदन जैन    8115385632
अंकित किराना स्टोर    9005143981
राजीव किराना स्टोर    8299029260
निर्मल जैन    9506758331
बच्चा उमरवैश्य किराना स्टोर    9889182250
रंजीत जायसवाल किराना स्टोर    8960141112


होम डिलेवरी दवा के लिए इन नंबरों पर संपर्क कर सकते हैं

पवन मेडिकल स्टोर    8543980415
संजय मेडिकल स्टोर    9415628405
शारदा मेडिकल स्टोर    9451822228
मीरा मेडिकल स्टोर     8795097892
रतन मेडिकल स्टोर    9919688555
गेएंड मेडिकल स्टोर    9415628003
रमेश मेडिकल स्टोर    9415229016
जमजम मेडिकल स्टोर    9670752990
भारत मेडिकल स्टोर    8896241330
रायल मेडिकल स्टोर    9452222469
... और पढ़ें

व्यापारियों ने बढ़ाए मदद के हाथ, जरूरतमंदों के लिए दिया अनाज

कोरोना महामारी से बचाव के लिए 21 दिन के लॉकडाउन में गरीब मजदूरों को राहत सामग्री बांटने के लिए व्यापारियों ने जिला प्रशासन को राशन मुहैया कराया है। एडीएम और एसडीएम की मौजूदगी में राशन मुहैया कराने वाले व्यापारियों ने कहा है कि अगर वह वितरण करने में सहयोग चाहते हैं तो व्यापारी तैयार हैं।
चिलबिला में समाजसेवी रोशनलाल ऊमरवैश्य की अगुवाई में व्यापारियों ने आटा, चावल, चीनी, दाल, मसाला, चायपत्ती, सरसों तेल, सोयाबीन, नमक जिला प्रशासन को मुहैया कराया है।
एडीएम शत्रोहन वैश्य और एसडीएम सदर मोहनलाल गुप्ता की मौजूदगी में राशन प्रदान करते हुए व्यापारियों ने भरोसा दिया है कि आगे भी वह हरसंभव मदद के लिए तैयार हैं। इस मौके पर संतोष कुमार, सुरेश अग्रवाल, दयाराम मौर्य, छेदीलाल, अशोक अग्रवाल, दयाशंकर प्रमुख रूप से मौजूद रहे।
... और पढ़ें

 कोरोना से बचाव के लिए कौशाम्बी में ग्राम प्रधान ने गांव में लगा दिया कर्फ्यू

गांव में घुसने पर प्रतिबंध का पोस्टर लगाया गांव में घुसने पर प्रतिबंध का पोस्टर लगाया

भुपिया मऊ की सब्जी मंडी बंद होने से रही परेशानी

अवैध तरीके से संचालित हो रही भुपियामऊ मंडी को रविवार को एसडीएम के आदेश पर स्थानीय पुलिस ने बंद करा दिया। इससे महुली मंडी में सब्जी व्यापारियों की भीड़ उमड़ पड़ी। खरीदारी को लेकर मारीमारी होने लगी। सूचना पर एसडीएम सदर फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। लोगों को सोशल डिस्टेंस बनाकर खरीदारी करने का निर्देश दिया। इससे अफरातफरी का माहौल रहा।
शहर से सटे भुपियामऊ पुलिस चौकी के समीप अवैध तरीके से सब्जी मंडी का संचालन हो रहा था। इसकी जानकारी होने पर एसडीएम सदर ने रविवार को पुलिस को इसे बंद कराने का निर्देश दिया। स्थानीय पुलिस सुबह जैसे ही ग्राहकों की भीड़ उमड़ी तो मंडी को बंद करा दिया। इससे सभी व्यापारी महुली मंडी चल दिए। इससे महुली मंडी में भीड़ बढ़ गई। खरीदारी को लेकर मारामारी होने लगी। अव्यवस्था बढ़ने से महुली मंडी में अफरातफरी मच गई। स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना एसडीएम मोहन लाल गुप्ता को दी। वह फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने भीड़ को नियंत्रित करने के लिए लाठियां पटकी। एसडीएम के निर्देश पर व्यापरियों ने सोशल डिसटेंस बनाकर खरीदारी की। इससे महुली मंडी में अफरातफरी का माहौल रहा।
... और पढ़ें

महानगरों में फंसे लोगों को लाने के लिए प्रतापगढ़ डिपो से भेजी गईं चार बसें

दिल्ली, कानपुर और लखनऊ जैसे महानगरों में फंसे लोगों को लाने के लिए प्रतापगढ़ डिपो से चार बसों का संचालन किया गया। दिल्ली-कानपुर के लिए एक-एक और लखनऊ के लिए दो बसों को रवाना किया गया। रविवार को महानगरों में रहने वाले सैकड़ों लोग घर पहुंचे।
जिले के हजारों लोग अभी भी दिल्ली, मुंबई, सूरत, बदौड़ा और कानपुर आदि शहरों में फंसे हैं। लॉकडाउन के चलते कंपनियां बद हो गई हैं। ऐसे में उनके सामने दो जून की रोटी का संकट खड़ा हो गया है। ऐसे में लोग पैदल ही घरों के लिए निकल पड़े हैं। महानगरों से लौटने वाले लोगों में सबसे ज्यादा संख्या दिल्ली में रहने वाले लोगों की है। शासन के आदेश पर जिलाधिकारी डा. रुपेश कुमार ने रविवार सुबह एक बस को दिल्ली वाया कानपुर के लिए रवाना किया। यह बस झांसी के करीब 40 यात्रियों को लेकर गई। दूसरी बस को दिल्ली रवाना किया गया। इसी तरह दो बसें लखनऊ के लिए भेजी गईं।
... और पढ़ें

प्रधानमंत्री राहतकोष में सांसद विनोद ने दिए एक करोड़ रुपये

कोरोना वायरस से बचाव के लिए शनिवार को सांसद कौशाम्बी और अनुसूचित मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं संसदीय आचार समिति के चेयरमैन विनोद सोनकर ने प्रधानमंत्री राहत कोष में सांसद निधि से एक करोड़ रुपये की सहायता राशि दी है। बीते 26 मार्च को ही सांसद विनोद ने कौशाम्बी लोकसभा के लिए 50 लाख रुपये एवं एक माह का वेतन प्रधानमंत्री राहत कोष में दिया था। मीडिया प्रभारी भूपेंद्र पांडेय ने बताया कि सांसद का पूरा प्रयास है कि हर संभव मदद आम लोगों तक पहुंचे।
इसके अलावा उन्होंने लोकसभा क्षेत्र के लिए हेल्पलाइन नंबर 9120087934 भी जारी किया है। इस पर फोन करने पर लोगों को भोजन पहुंचाया जाएगा। इसके अलावा पिंटू सिंह ने कुंडा सीएचसी में जरूरी संसाधनों की खरीद के लिए एक लाख रुपये दिए हैं। इसके अलावा कुंडा व्यापार मंडल के पूर्व अध्यक्ष शिवकुमार त्रिपाठी, कुंडा के सरदार हर्षदीप सिंह साके, शिक्षक रवींद्र सिंह ने आम लोगों को जरूरी सुविधाओं को पहुंचाने का भी बीड़ा उठाया है। उधर, बाबागंज के फतूहाबाद निवासी शिक्षक विजय सिंह ने अपने एक माह का वेतन प्रधानमंत्री राहत कोष में देने का फैसला किया है।
... और पढ़ें

किसी तरह से घर पहुंच ही जाएंगे

साहब अब निकले हैं तो किसी तरह से घर पहुंच ही जाएंगे। वहां खाने का राशन खत्म हो रहा था। राशन भी उनको दिया जा रहा था जो वहां के राशनकार्ड वाले थे। ऐसे में वहां कितने दिन गुजारते। हम तो दिहाड़ी वाले हैं। यह बातें बिहार के कंसा नामक महिला ने पुलिस को बताई। वह कई महिला, पुरुषों और बच्चों के साथ दिल्ली से बिहार के लिए निकली है।
हथिगवां थाना क्षेत्र से होकर कानुपर बनारस हाइवे गया है। इससे लगातार दिल्ली से लौटने वाले यात्री गुजर रहे हैं। इसमें कुछ लोग प्राइवेट वाहन लेकर जा रहे हैं तो कुछ साइकिल से ही जा रहे हैं। हालांकि कुछ ने ट्रकों से लिफ्ट ली है। जिन्हें कुछ नहीं मिला वह पैदल ही अपने आशियाने की तरफ निकल पड़े हैं। रविवार को पुलिस ने हाइवे पर ऐसे लोगों को रोका। उनकी बात सुनी और उन्हें नाश्ता करवाने के साथ पानी पिलाया इसके बाद आगे भेजा। पुलिस ने करीब दर्जन भर महिला, बच्चों और पुरुषों का एक झुंड मिला जो पैदल ही दिल्ली से बिहार के लिए जा रहा था।
पुलिस ने उसे रोका और पूछताछ की तो महिला ने पूरी कहानी बताई। उसने बताया कि वह अपने साथियों के साथ दिल्ली में एक बिल्डिंग में काम कर रही थी। लाकडाउन होने के बाद काम बंद हो गया। पैसे खत्म होने लगे तो ठेकेदार को फोन किया। ठेकेदार ने एक बार तो राशन दिलवाया लेकिन बाद में उसने भी हाथ खड़े कर दिए। अब कुछ ही दिनों का राशन बचा था और पैसे भी नहीं थे। ऐसे में घर जाना मजबूरी बन गई है।
क्षेत्र में परदेशियों के आने का क्रम जारी है। बल्कि अब उनकी संख्या बढ़ती जा रही है। इनमें ज्यादातर संख्या दिल्ली से आने वालों की है। लोग निजी बसों को बुक करके, ट्रकों, पिकअप सहित जो भी साधन मिल रहे हैं उससे ही घर पहुंचने का प्रयास कर रहे हैं। हालांकि आने वालों को पुलिस अस्पताल जरूर भेज रही है। रविवार को कुंडा सीएचसी में 300 से अधिक लोगों ने अपना परीक्षण कराया। अस्पताल में आने वाले परदेशियों की संख्या बढ़ती जा रही है। अकेले कुंडा सीएचसी में ही रविवार को 300 से अधिक लोगों ने अपना परीक्षण कराया। यहां आने वाले लोग ज्यादातर दिल्ली के हैं जो वहां राशन खत्म होने के डर से घरों को लौट रहे हैं।
साधन बंद हैं लेकिन यह लोग बिना साधन के ही घरों के लिए निकल पडे़े। रास्ते में लिफ्ट ली। थानों में पकड़े गए। वहां जांच के बाद पुलिस ने उन्हें पिकअप और ट्रकों का इंतजाम किया। रविवार को कुंडा में 50 से अधिक महिला और पुरुष एक पिकअप पर सवार होकर कुंडा सीएचसी पहुंचे। इसके पहले भी भारी संख्या लोगों ने अस्पताल पहुंचकर अपनी जांच कराई। लोगों की संख्या 300 के पार रही। अधिक भीड़ हो जाने के कारण अस्पातल में दो काउंटर लगाए गए। उधर महेशगंज सीएचसी में भी बस से काफी लोग अपनी जांच कराने पहुंचे। जांच के बाद उन्हें उनके घर भेजा गया।
... और पढ़ें

कटरागुलाब सिंह पहुंची स्वास्थ्य विभाग की टीम

कटरागुलाब सिंह बाजार में मुंबई से आए सब्जी विक्रेता की मौत के बाद उसके दोस्त के घर पहुंचकर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने छानबीन की। ब्लड सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा। इससे फिर बाजार में हड़कंप मचा रहा।
कटरागुलाबसिंह बाजार में एक सप्ताह पूर्व मुंबई से आए सतीश अग्रहरि की बीमारी के चलते मौत हो गई थी। लोग मृतक सतीश को कोरोना संदिग्ध बता रहे थे। उसके साथ बाजार का ही संतोष कौशल पुत्र छेदीलाल भी आया था। शनिवार को जिले से एपेडमिक टीम व पीएचसी कटरागुलाबसिंह के प्रभारी डा. नलिनेश संतोष के घर पहुंचे। परिवार के लोगों की जांच करने के बाद संतोष का रक्त नमूना जांच के लिए लिया। इस मामले में डा. नलिनेश पांडेय ने बताया कि एहतियात के तौर पर जिले के अफसर संतोष की जांच करा रहे हैं। फिलहाल संतोष पूरी तरह स्वस्थ हैं। वहीं मृतक सतीश की पत्नी शशि के बीमार होने की बात भी लोगों ने बताई। बताया गया कि शशि सोरांव के एक अस्पताल में इलाज कराकर अपने घर आ गई हैं।
... और पढ़ें

लाकडाउन का उल्लंघन करने पर 17 लोगों के विरुद्ध दर्ज हुआ मुकदमा

राशन की दुकानों पर रेटबोर्ड लगाना अनिवार्य

जिले की राशन की दुकानों पर रेटबोर्ड लगाना अनिवार्य कर दिया गया है। ग्राहकों से अधिक दाम वसूलने पर जिला प्रशासन ने यह कदम उठाया है। इधर शनिवार को एसडीएम सदर, तहसीलदार ने चिलबिला और शहर की दुकानों पर छापेमारी कर ओवररेटिंग करने वाले व्यापारी को दबोच लिया। हालांकि देर शाम तक व्यापारी के खिलाफ मुकदमा नहीं दर्ज किया गया था।
जिले में लॉकडाउन के दौरान थोक और फुटकर विक्रेता ग्राहकों का शोषण करने पर उतारू हैं। जिला प्रशासन के रेट निश्चित करने के बाद भी अधिक दाम वसूल रहे हैं। शनिवार को जिला प्रशासन ने सभी दुकानदारों के लिए रेटबोर्ड लगाना अनिवार्य कर दिया है। शनिवार की सुबह निर्धारित मूल्य से अधिक धनराशि वसूलने की खबर पर पहुंचे एसडीएम सदर मोहनलाल गुप्ता और तहसीलदार मनीष कुमार ने पहुंचकर थोक विक्रेता को रंगेहाथ दबोच लिया।
आश्चर्य की बात तो यह रही कि थोक विक्रेता ने दो दिन पहले जो स्टाक की सूची दी थी, उसमें वह सामग्री ही नहीं थी। एसडीएम ने व्यापारी को फटकार लगाते हुए कार्रवाई करने की बात कही थी, मगर देर शाम तक व्यापारी के खिलाफ मुकदमा नहीं दर्ज किया गया था। इधर जिला प्रशासन ने मेडिकल स्टोर, पेट्रोलपंपों को 24 घंटे खुले रहने और किराना, सब्जी, फल की दुकानों को सुबह छह से दस बजे तक खोलने का आदेश जारी किया है। इस अवधि में लोग अपनी जरूरत की सामग्री खरीद सकते हैं।
... और पढ़ें

32 साल बाद गांव में फिर टीवी पर गूंजा मंगल भवन अमंगल हारी...

दूरदर्शन के नेशनल चैनल पर लोकप्रिय धारावाहिकों में शामिल रामायण 32 साल बाद शनिवार को एक बार फिर शुरू हुआ। 74 एपिसोड वाला रामायण 1988 में खत्म हुआ था। शनिवार की सुबह नौ बजे प्रारंभ हुए पहले एपिसोड को देखने के लिए लोग सुबह से तैयारी कर रहे थे। उधर, डीडी भारती पर वीआर चोपड़ा कृत महाभारत भी प्रारंभ हो गया है।
वैश्विक महामारी कोरोना का संक्रमण रोकने के लिए हुए 21 दिनों के लॉकडाउन में भगवान राम के आदर्शों को प्रकट करने वाले निर्माता निर्देशक रामानंद सागर के रामायण सीरियल की शुरुआत शनिवार से फिर हो गई। 74 एपिसोड वाले सीरियल में प्रतिदिन दो भाग दिखाए जाएंगे। सुबह नौ से दस बजे और दूसरा भाग रात में नौ से दस बजे तक प्रसारित किया जाएगा। घरों में कैद रहने वाले लोग शनिवार की सुबह ही स्नान-पूजा करके परिवार के सभी सदस्य सीरियल देखने के लिए बैठ गए। छोटे पर्दे का बेहद लोकप्रिय सीरियल रामायण 1988 में समाप्त हुआ था। इधर, डीडी भारती ने दोपहर बारह बजे से एक बजे तक और शाम को सात से आठ बजे तक महाभारत धारावाहिक प्रारंभ किया है। निर्माता निर्देशक वीआर चोपड़ा के धारावाहिक महाभारत ने काफी लोकप्रियता हासिल की थी।
... और पढ़ें

युवक की हत्या में प्रधान समेत 5 पर केस

श्राद्ध में शामिल होने आए युवक की गोली मारकर हत्या करने के मामले में ग्राम प्रधान समेत आठ लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। बाघराय थाना क्षेत्र के कोडराजीत गांव में शुक्रवार की शाम कमलेश बहादुर सिंह के पिता कुंवर बहादुर सिंह का श्राद्ध था। इसमें गांव का मनोज सिंह (30) पुत्र स्व. भोला सिंह भी मौजूद था।
इसकी जानकारी होने पर सिंटू सिंह पुत्र मनोज सिंह को हुई तो वह भी अपने समर्थकों संग श्राद्ध में पहुंच गया। आमना सामना होते ही सिंटू सिंह ने असलहा निकाल लिया। यह देख मनोज वहां से भागने लगा। इस पर सिंटू सिंह ने उसे दौड़ाकर पेट में गोली मार दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने उसे एसआरएन प्रयागराज भेजवाया। जहां इलाज के दौरान मनोज की मौत हो गई। शनिवार को मृतक की मां शकुंतला सिंह पत्नी स्व. भोला सिंह की तहरीर पर बाघराय पुलिस ने सिंटू सिंह, रिंकू सिंह पुत्र मनोज सिंह, पूनम सिंह पत्नी स्व. राजेश सिंह, मनोज सिंह पुत्र अवधेश सिंह, मिथुन सिंह पुत्र शंकर सिंह, मोहित सिंह पुत्र राजेश सिंह, विनय सिंह जौनपुर, ओमप्रकाश सरोज वर्तमान सेक्त्रस्ेटरी ग्राम पंचायत कोडराजीत व दो अज्ञात के विरुद्ध केस दर्ज कर लिया।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us