विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा
Astrology Services

नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Lockdown Update : कोरोना की जंग में लोगों की मदद के लिए उतरी सेना, स्कूल बसें भी लगीं

लॉकडाउन में लोगों की मदद के लिए अब सेना उतर आई है।

29 मार्च 2020

विज्ञापन

Sp baghpat said

28 मार्च 2020

विज्ञापन

सहारनपुर

रविवार, 29 मार्च 2020

नूना बड़ी में बारिश से मकान की छत गिरी, परिवार के तीन लोग घायल

बड़गांव (सहारनपुर)। बड़गांव क्षेत्र के नूना बड़ी गांव में तेज हवा के साथ हुई बारिश के चलते एक मकान की छत अचानक भरभराकर नीचे गिर गई। मकान की छत गिरने सेे मकान के अंदर बैठे एक ही परिवार के तीन लोग छत का मलबा भर भराकर गिरने से गंभीर घायल हो गए। उन्हें इलाज के लिए सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया।
शुक्रवार की रात में नूना बड़ी निवासी गफ्फार, मुज्जमिल, तैय्यब अपने मकान में बैठे के कोरोना वायरस को लेकर आपस में चर्चा कर रहे थे। इसी बीच अचानक तेज हवा के साथ हुई बारिश शुरू हो गई। कुछ समय बाद उनके मकान की कच्ची छत भरभराकर नीचे गिर गई। मकान के अंदर बैठे ये तीनों लोग गंभीर घायल हो गए। घायलों को आसपास के लोगों ने अन्य ग्रामीणों की मदद से देर रात देवबंद के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया, वहां सभी घायलों का इलाज चल रहा है।
... और पढ़ें

कॉल करते ही राशन देने पहुंची पुलिस

विदेशियों की निगरानी में हो रही चूक

विदेशियों की निगरानी में हो रही चूक
सहारनपुर। कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए केंद्र और राज्य सरकार सबसे ज्यादा दूसरे देशों से आ चुके लोगों को लेकर गंभीर है। गृह मंत्रालय ने भी माना है कि यहां विदेशों से आने वालों की संख्या निगरानी करने वालों से कहीं ज्यादा है। जिले में भी दूसरे देशों से आ चुके लोगों की निगरानी में चूक हो रही है। यहां हाल यह है कि कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए कुछ लोगों की सूचनाओं के बाद ही पता चल पाया कि जिले में काफी संख्या में ऐसे विदेशी हैं जो अलग-अलग देशों से आए हैं। वे यहां की मस्जिदों सहित अन्य जगहों पर रह रहे हैं।
जिले में लॉकडाउन के दौरान ही अब तक ऐसे 100 से भी ज्यादा विदेशियों के यहां होने का पता चला है। शुक्रवार को ही कुछ सूचनाएं मिलने के बाद तीन मस्जिदों में रह रहे 60 से अधिक विदेशियों के होने की जानकारी मिली थी। इससे जिला प्रशासन से लेकर स्वास्थ्य विभाग के अफसरों में हड़कंप मचा रहा। स्वास्थ्य विभाग की कोरोना सर्विलांस टीमों से थर्मल स्क्रीनिंग कराई गई। इनमें ज्यादातर लोग कजाखस्तान और सूडान के रहे। इससे पहले देवबंद सहित अन्य क्षेत्रों में भी सऊदी अरब सहित अन्य देशों से पहुंचे लोगों के बारे में जानकारियां मिल चुकी हैं।
संक्रमित होते तो क्या होता...
- गनीमत रही कि कोरोना सर्विलांस की टीमों के चिकित्सीय परीक्षण में कोई संक्रमित नहीं मिला है। यदि ऐसा होता तो जाहिर है कि यह कितना बड़ा खतरा हो सकता था। इन मामलों के सामने आने के बाद अब पुलिस प्रशासन से लेकर खुफिया विभाग की टीमें ऐसे विदेशियों को गोपनीय तरीके से ढूंढने में जुट गईं हैं।
आला अफसरों ने किया अलर्ट
- कमिश्नर संजय कुमार और डीआईजी उपेंद्र अग्रवाल ने भी इन मामलों पर पुलिस और खुफिया टीमों के साथ ही कोरोना नियंत्रण अभियान में जुटीं टीमों को बाहरी देशों या संक्रमण से प्रभावित बाहरी राज्यों के लोगों पर सबसे अधिक नजर रखने के लिए अलर्ट किया है ताकि कोरोना वायरस का खतरा न बढ़े।
... और पढ़ें

लॉकडाउन का उल्लंघन, पांच साल के बेटे संग चर्च की चोटी पर चढ़ा युवक, पुलिस की पिटाई था नाराज, तस्वीरें

चर्च पर चढ़े युवक को नीचे उतारती पुलिस चर्च पर चढ़े युवक को नीचे उतारती पुलिस

नागल राजपूत से लापता व्यक्ति का भी शव मिला

गंगोह(सहारनपुर)। एक पखवाड़े पूर्व यूपी के सीमावर्ती गांव से लापता एक महिला सहित तीन लोगों में से तीसरे व्यक्ति कभी शव भी बरामद हो गया है। हरियाणा पुलिस ने शव का पीएम कराकर परिजनों के सुपुर्द कर दिया है। बता दें कि गंगोह कोतवाली क्षेत्र के गांव नागल राजपूत निवासी किसान इंतजार अपने खेत में मजदूरी करने के लिए गांव बुड्ढाखेड़ा निवासी इंसार और उसकी पत्नी फातिमा निवासी बुड्ढाखेड़ा को ले गया था। 12 मार्च को इंतजार, इंसार और उसकी पत्नी फातिमा संदिग्ध परिस्थितियों में अचानक लापता हो गए थे। 16 मार्च को इंतजार और इंसार की पत्नी फातिमा के शव हरियाणा के कमालपुर के यमुना क्षेत्र में पड़े मिले थे। शनिवार को इंसार का शव भी क्षत-विक्षत अवस्था में हरियाणा के गांव दबकोली खुर्द क्षेत्र में पड़ा मिला। थाना इंद्री की चौकी बयाना इंचार्ज राजेंद्र कुमार का कहना है की पूरे प्रकरण की जांच जा रही है। ... और पढ़ें

बाजार बंद कराया, होम डिलीवरी के निर्देश दिए

तेज हवा के साथ आई बारिश ने गिराई फसलें

तेज हवा के साथ आई बारिश ने गिराईं फसलें
सहारनपुर। जिले के देहात में तेज हवा के साथ शुक्रवार की देर शाम हुई बारिश ने किसानों की धड़कने बढ़ा दी हैं। तेज हवा से गेहूं की लगभग तैयार फसलें गिर गई हैं। किसानों ने कहा फसल के गिरने से उत्पादन में कमी आएगी।
शाम तेज हवा के साथ झमाझम बरसात हुई। बड़गांव क्षेत्र के खुदा बक्शपुर माजरा निवासी किसान दुष्यंत ने बताया गेहूं की फसल में बाली निकल रही हैं, इनमें दाना बनना शुरू हो गया। फसलों के गिरने से गेहूं का दाना बनने के बजाय सूख कर खराब जाएगा। ऐसे में गेहूं की पैदावार कम होगी। किसान रिषीपाल सिंह, श्याम सिंह, सुखपाल सिंह ने बताया कि तेज हवा से पांच बीघा गेहूं की फसल गिर गई है। इससे आधे से अधिक पैदावार कम होगी। आगे बारिश हुई तो गेहूं के अलावा राई, सरसों, चना की फसल में नुकसान होगा।
छुटमलपुर क्षेत्र में भी तेज हवा के साथ रात नौ बजे तक बारिश हुई। गदरहेडी के पंकज सैनी, संदीप, राम खेड़ी के सोनू, कुशल पाल, हलवाना के नीटू आदि ने कहा हवा से गेहूं की फसल गिरी है, इससे उत्पादन पर असर होगा। गंगोह और अंबेहटा क्षेत्रों में भी हवा के साथ आई तेज बारिश ने किसानों के अरमानों पर पानी फेर दिया। उमरपुर के देशपाल सिंह, लखनौती जनेश्वर प्रसाद, अख्तर खान, गंगोह के नौशाद, ओमपाल सिंह आदि ने बताया लगातार बिगड़ रहे मौसम से गेहूं उत्पादन में कमी आएगी।
बेहट में तेज हवा के साथ आई बारिश से आम का बौर नीचे गिरा है। आम उत्पादकों पवन कुमार, जरीफ अहमद, हाजी जहीर अहमद, उमेश काम्बोज आदि ने कहा बार बार मौसम ठंड का बन रहा है, इससे आम में मौल फूटने की संभावना बन गई है। इससे बौर भी कम होगा। उन्होंने बताया कि जिन पेड़ों पर बौर आया भी है, वह बार बार चल रही तेज हवा से गिर रहा है। साढौली कदीम क्षेत्र में भी हवा और बारिश से गेहूं, सरसों और सब्जी की फसलों को नुकसान पहुंचा है।
... और पढ़ें

उत्तराखंड से आ रहे 29 मजदूर पकड़े

उत्तराखंड से आ रहे 29 मजदूरों को पकड़ा
बेहट (सहारनपुर)। लॉक डाउन के दौरान पुलिस ने 29 मजदूरों से भरी पिकअप गाड़ी पकड़ी। पुलिस पूछताछ में अलीगढ़ के बल्ला थाने निवासी अखिलेश, विवेक, चंदौसी के भवानी राम, बुलंदशहर के बुढ़नपुर कलां निवासी चंद्रपाल, प्रेमपाल एवं पुरकाजी के मांडला गांव निवासी राकिब ने बताया कि वह उत्तराखंड में मजदूरी करते हैं। लॉक डाउन के कारण उनके सामने रोजी रोटी का संकट पैदा हो गया, न तो उनके पास खाने के लिए खाना है और न ही पैसे हैं। इस कारण वह पैदल ही अपने घर जाने के लिए निकल पड़े। उन्होंने बताया उत्तराखंड की दर्रारीट पुलिस चैक पोस्ट एवं थाना मिर्जापुर की बादशाही बाग पुलिस चौकी पर तैनात पुलिसकर्मियों ने उन्हें इस पिकअप में बैठाया था। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक आनंद देव मिश्रा ने बताया सभी मजदूरों के नाम व पते का सत्यापन करा कर उन्हें उनके घर भेजने की व्यवस्था कराई जा रही है।
... और पढ़ें

होम डिलीवरी सिस्टम शूरू होने के बाद भीड हुई कम

होम डिलीवरी शुरू होने के बाद भीड़ हुई कम
सहारनपुर। प्रशासन की ओर से विभिन्न वार्डों में शुरू किए गए खाद्य सामग्री के होम डिलीवरी सिस्टम के बाद शहर की मंडियों और बाजार में दुकानों पर शनिवार को अपेक्षाकृत कम भीड़ रही। थोक व्यापारियों से सामान लेकर नगर निगम के वार्डों में चिह्नित दुकानों के माध्यम से खाद्य सामग्री उपलब्ध कराई गई। चिलकाना रोड स्थित सब्जी मंडी में भी भीड़ कम रही। फुटकर विक्रेताओं ने वहां से सब्जी लेकर मोहल्लों में बेची। इसके चलते शनिवार को बाजारों और सब्जी मंडी में भीड़ कम रही। दवाओं की दुकानों पर भी अपेक्षाकृत कम लोग पहुंचे। इसके चलते पुलिस प्रशासन को राहत मिली। शनिवार को दिल्ली रोड, शुगर मिल रोड एवं फव्वारा चौक स्थित सब्जी मंडियों और खाद्यान्न की थोक की दुकानों और फुटकर विक्रेताओं के यहां लोगों की भीड़ कम रही। लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन भी करते दिखे। चिलकाना रोड स्थित सब्जी मंडी में शनिवार को 755 क्विंटल आलू, प्याज 427 क्विंटल, लहसुन 10 क्विंटल, टमाटर 270 क्विंटल, सेब 45 क्विंटल और केला 55 क्विंटल आवक रही। सब्जी मंडी का कार्य देख रहे निरीक्षक जगपाल सिंह पुंडीर ने बताया कि मंडी में पर्याप्त मात्रा में सब्जियों का स्टॉक है।
... और पढ़ें

जिला जेल से 349 बंदी पैरोल पर होंगे रिहा

जिला जेल से 349 बंदी पैरोल पर होंगे रिहा
सहारनपुर। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के मद्देनजर जिला कारागार में 349 बंदियों को पैरोल पर रिहा किया जाएगा। इनमें से 301 अंडर ट्रायल हैं। इनके अलावा 48 सजायाफ्ता कैदी हैं। इन बंदियों में वे अपराधी शामिल हैं जो सात साल तक की सजा वाले अपराधों में जेल में बंद हैं। इनके अलावा देवबंद उप कारागार से 12 सजायाफ्ता और 35 विचाराधीन बंदी को पैरोल पर रिहा किया जाएगा।
इससे पहले डीआईजी रेलवे लव कुमार के निरीक्षण के बाद जिला कारागार में बंदियों से परिजनों की मुलाकात को बंद किया गया था। जिला कारागार के वरिष्ठ जेल अधीक्षक डॉ. वीरेश शर्मा ने बताया कि इन कैदियों को पेरोल पर रिहा करने के निर्देश पहुंचने वाले हैं। उन्होंने दावा किया कि अभी तक कारागार में मौजूद बंदियों में कोई भी कोरोना के लक्षण या संक्रमण से जुड़ा नहीं मिला है।
... और पढ़ें

पुलिस सख्ती तो करे, किसी को परेशान न करे : डीआईजी

सख्ती करें, किसी को परेशान न करें : डीआईजी
सहारनपुर। डीआईजी उपेंद्र अग्रवाल ने मंडल के सहारनपुर, मुजफ्फरनगर और शामली जिलों में लॉकडाउन तोड़ने वालों पर कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी है। इसके साथ ही पुलिस कर्मचारियों को निर्देशित किया है कि सड़कों से गुजरने वाले लोगों पर पुलिस सख्ती तो करें लेकिन किसी को परेशान न किया जाए। चेकिंग के दौरान यह जरूर देखा जाए कि कोई व्यक्ति पीड़ित या जरूरतमंद तो नहीं है। पुलिस टीमों ने बैरियरों पर चेकिंग कर 9946 वाहनों की जांच की। इसमें 3321 वाहनों का चालान किया गया। इसके साथ ही 897 वाहन सीज किए गए। पुलिस टीमों ने 3764100 रुपये का जुर्माना वसूला गया। इसके अलावा विभिन्न धाराओं में 202 एफआईआर दर्ज कर 2000 से अधिक लोगों पर कार्रवाई की गई।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us