विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

आज आगरा में पांच और नए संक्रमित मिले, यूपी में संक्रमितों की संख्या 427 पहुंची

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के मरीज मिलने का सिलसिला थम नहीं रहा है। शुक्रवार की सुबह आगरा में पांच नए मामले सामने आए हैं। यूपी में संक्रमितों की संख्या 426 पहुंच गई है।

10 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

सिद्धार्थनगर

शुक्रवार, 10 अप्रैल 2020

कार्यकर्ताओं ने मनाया भाजपा का स्थापना दिवस

सामाजिक दूरी बना कर फहराया गया पार्टी का झंडा
जिला कार्यालय पर जिलाध्यक्ष की अगुवाई में मनाया गया स्थापना दिवस
कार्यकर्ताओं ने घरों पर फहराया झंडा, याद आए मुखर्जी और दीनदयाल
अमर उजाला ब्यूरो
सिद्धार्थनगर। लॉकडाउन के बीच भाजपा कार्यकर्ताओं ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए पार्टी का 40वां स्थापना दिवस मनाया। इस मौके पर जिले में कोई भी बड़ा कार्यक्रम आयोजित नहीं किया गया। सभी नेता, कार्यकर्ताओं ने अपने-अपने घरों पर पार्टी का झंडा फहराया। इसके बाद प्रेरणा पुरुष डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी और पंडित दीनदयाल उपाध्याय के चित्रों पर श्रद्धासुमन अर्पित किया।
भाजपा जिला कार्यालय पर जिलाध्यक्ष गोविंद माधव की अध्यक्षता में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए पार्टी का स्थापना दिवस मनाया गया। उन्होंने कहा कि मां भारती की सेवा में समर्पित भाजपा परिवार के समस्त कार्यकर्ता और समर्थक संकट की इस घड़ी में जरूरतमंद और गरीब परिवारों तक राहत सामग्री पहुंचाएं। पार्टी को सफल बनाने वाले नेता, कार्यकर्ताओं को श्रद्धांजलि अर्पित की। जिला मीडिया प्रभारी महेश वर्मा, रमेश मणि त्रिपाठी, रमेश पांडेय, कुलदीप की मौजूदगी रही। लखनऊ में बेसिक शिक्षा मंत्री डॉ. सतीश चंद्र द्विवेदी, सांसद जगदंबिका पाल ने अपने आवास पर पार्टी का झंडा फहराया। पंडित श्यामा प्रसाद मुखर्जी और पंडित दीनदयाल उपाध्याय के त्याग एवं समर्पण को आत्मसात करने के लिए कार्यकर्ताओं से आह्वान किया। जिला पदाधिकारी विपिन सिंह, विजय कांत चतुुर्वेदी, मधुसूदन अग्रहरि, घनश्याम मिश्रा, फतेह बहादुर सिंह, पूर्व जिलाध्यक्ष बृज बिहारी मिश्र, रामकुमार कुंवर, लालजी त्रिपाठी, नरेंद्र मणि त्रिपाठी के साथ ही सभी मंडल और बूथ पर कार्यकर्ताओं ने भी स्थापना दिवस मनाया। बर्डपुर प्रतिनिधि के मुताबिक मंडल अध्यक्ष नितेश पांडेय, राजकुमारी पांडेय, जिला कोषाध्यक्ष ओम प्रकाश यादव, मंत्री अजय उपाध्याय, मंडल उपाध्यक्ष अमित उपाध्याय, विवेक गोस्वामी आदि ने स्थापना दिवस मनाया।
... और पढ़ें

दवा विक्रेताओं को प्रतिदिन देना होगा बिक्री- उपलब्धता का हिसाब

दवा विक्रेताओं को देना होगा रोजाना हिसाब
कालाबाजारी रोकने के लिए शासन का निर्णय
औषधि निरीक्षक की ओर से मांगी जाएगी रिपोर्ट
अमर उजाला ब्यूरो
सिद्धार्थनगर। कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के मद्देनजर घोषित लॉक डाउन के दौरान आवश्यक दवाओं की किल्लत होने के कारण मांग बढ़ गई है। ऐसे में दवाओं की कालाबाजारी होने की शिकायतें भी मिल रही हैं। इसकी रोकथाम के लिए शासन ने दवा दुकानदारों की निगरानी बढ़ा दी है। अब दुकानदारों को प्रतिदिन औषधि निरीक्षक को दवाओं की बिक्री और बचे हुए स्टाक की रिपोर्ट देनी होगी।
लॉकडाउन के बाद सर्वाधिक मांग मास्क, सैनिटाइजर, हेयर कैप, बॉडी किट, ग्लव्स, हाईड्राक्सीक्लोरोक्विन की हो रही है। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने को लेकर पुलिस, राजस्व एवं स्वास्थ्य कर्मियों समेत अन्य आवश्यक सेवाओं में जुटे हुए लोगों में इन सामग्रियों को लेने के लिए दवा की दुकानों पर भारी भीड़ लग रही है। इस बीच बाजारों से उपरोक्त सामग्रियों का जबरदस्त अभाव हो गया है। यदि कहीं है भी तो कालाबाजारी की भी शिकायतें मिल रही है। शुरूआती दौर में जिला मुख्यालय पर एक दुकान पर एसडीएम सदर उमेश चंद्र निगम ने औचक निरीक्षण किया था। खामियां मिलने पर हिदायत भी दी थी। समझा जा रहा है कि मिल रही शिकायतों को शासन ने गंभीरता से लिया है। अब प्रतिदिन दवा दुकानदारों को बिक्री और उपलब्धता के बारे में जानकारी देना अनिवार्य कर दिया है। केमिस्टि एंड ड्रगिस्ट वेलफेयर एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष अफजाल अनवर खान ने शासन के निर्देश का अनुपालन करते हुए सभी से प्रतिदिन रिपोर्ट सौंपने की अपेक्षा की है।
... और पढ़ें

स्वास्थ्य कर्मियों ने लगाई सुरक्षा की गुहार

स्वास्थ्य कर्मियों ने लगाई सुरक्षा की गुहार
सिद्धार्थनगर। जिला अस्पताल के चिकित्सकों ने एक व्यक्ति पर धमकी देने का आरोप लगाया है। सिक नियोनेटल केयर यूनिट (एसएनसीयू) वार्ड में तैनात डॉक्टर और स्वास्थ्य कर्मियों ने सदर पुलिस को शिकायती पत्र देकर सुरक्षा की गुहार लगाई है। मामला शनिवार की रात का बताया जा रहा है।
सदर थाने में दिए गए तहरीर में डॉ. शैलेंद्र कुमार और डॉ. संजय चौधरी सहित स्वास्थ्य कर्मियों ने जानकारी दी है कि एसएनसीयू वार्ड में एक व्यक्ति आया था, उसके बच्चे की हालत ठीक नहीं थी। उसे यह बताया गया था, इसके बाद इलाज शुरू हुआ है। देर रात महिला का पति स्टाफ से अभद्र व्यवहार करने लगा और गाली देने लगा। जब स्वास्थ्य कर्मियों ने विरोध किया तो नेता का करीब बताते हुए जान से मार देने की धमकी दी और नौकरी से निकलवा देने की बात कह रहा था। मामले की जांच करते हुए कार्रवाई की जाए और सुरक्षा मुहैया कराई जाए। एसओ सदर राजेंद्र बहादुर सिंह ने बताया कि मामला संज्ञान में आया है। महिला ने भी शिकायती पत्र दिया है। मामले की जांच की जा रही है, सत्यता के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

खेत गई किशोरी से छेडख़ानी केस दर्ज

खेत गई किशोरी से छेड़खानी, केस दर्ज
ढेबरुआ थानाक्षेत्र के एक गांव का है मामला
अमर उजाला ब्यूरो
परसा। खेत गई किशोरी से छेड़खानी करने के मामले में ढ़ेबरुआ पुलिस ने बृहस्पतिवार को आरोपी के खिलाफ केस दर्ज करके उसे जेल भेज दिया है। पीड़िता की मां की तहरीर पर पुलिस ने केस दर्ज किया है।
क्षेत्र के एक गांव निवासी एक महिला ने ढेबरुआ पुलिस को दिए गए शिकायती पत्र में उल्लेख करते हुए आरोप लगाया कि उसकी नाबालिग बेटी खेती की ओर जा रही थी। इसी बीच उसी गांव के एक युवक ने उसके साथ छेड़खानी की। विरोध करने और शोर मचाने पर जब आसपास के लोग आने लगे तब वह आरोपी युवक वहां से भाग गया। मामले की जांच करते हुए आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की जाए। तहरीर के आधार पर पुलिस ने आरोपी पर छेड़खानी और पाक्सो एक्ट के आरोप में केस दर्ज किया। एसएचओ तहसीलदार सिंह ने बताया कि आरोपी युवक किस्मत अली पर केस दर्ज करके गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।
... और पढ़ें

बैंक से रुपये निकलने गई महिला की हादसे में मौत

बैंक से रुपये निकलने गई महिला की हादसे में मौत
खेसरहा थानाक्षेत्र के घोसियारी में बैंक से निकाले गई थी रुपये
अमर उजाला ब्यूरो
बांसी। खेसरहा थानाक्षेत्र के घोसियारी में बैंक से रुपये निकालने गई महिला की सड़क हादसे में मौत हो गई। बताया जा रहा है कि वह शासन की ओर से भेजे गए एक हजार रुपये लेने के लिए बैंक गई थी। लौटते समय लिफ्ट मांगकर बाइक पर बैठी और झटका लगने से गिरकर उसकी मौत हो गई।
क्षेत्र के ग्राम बरैनिया निवासी मीरा देवी (45) पत्नी मिश्रीलाल बृहस्पतिवार दोपहर 12 बजे मजदूरी का पैसा निकालने अपने गांव से घोसियारी स्थित पूर्वांचल बैंक पैदल जा रही थी। चर्चा है कि महिला रास्ते में किसी की बाइक पर लिफ्ट मांग कर बैठ गई। लोगों का अनुमान है कि सड़क खराब होने के कारण वह उछल कर बाइक से गिर गई, जिससे महिला के सिर में गंभीर चोट लग गई। महिला के बाइक से गिरते ही बाइक चालक भाग गया। घटना की सूचना मिलते ही परिजन घायल अवस्था में मीरा देवी को लेकर इलाज के लिए खेसरहा सीएचसी ले जा रहे थे कि मार्ग में नासिरगंज गांव पहुंचते ही महिला ने दम तोड़ दिया। परिजनों द्वारा घटना की सूचना पुलिस को नहीं दी। लॉकडाउन के कारण बंगलुरू में फंसे महिला के तीन बेटे रमेश, सुरेश, उमेश भी मां के साथ हुई दुर्घटना की खबर से बेचैन हैं जो बार-बार फोन कर हर बात जानने का प्रयास कर रहे हैं। घर पर मौजूद परिजनों का भी रो-रोकर बुरा हाल है। एसओ प्रदीप सिंह ने बताया कि मामले की जानकारी मिली है, जांच करके उचित कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

युवक की किराना दुकान के ग्राहकों के लार के लिए गए नमूने

100 की सघन स्वास्थ्य जांच व 20 ग्राहकों के लार के नमूने भेजे
स्वास्थ्य टीम ने युवक की किराने की दुकान के आसपास रहने वालों से की पूछताछ
टीम ने नौ हजार लोगों की स्क्रीनिंग की
अमर उजाला ब्यूरो
बिस्कोहर। कस्बे के युवक की जांच रिपोर्ट भले ही कोरोना निगेटिव आई हो फिर भी प्रशासन बृहस्पतिवार को पूरी तरह सतर्क नजर आया। जिला मुख्यालय से आई स्वास्थ्य टीम द्वारा फूलपुर में युवक की किराने की दुकान के आसपास रहने वालों करीब 100 लोगों की सघन स्वास्थ्य जांच की गई। वहीं, 20 ग्राहकों के लार के नमूने एकत्र कर जांच के लिए भेजा गया।
युवक की दुुकान से सामान खरीदने वालों को चिह्नित कि या गया। उनके लार के नमूने एकत्र करने की प्रक्रिया पूरी की गई। उधर, बुधवार की रात भी स्वास्थ्य विभाग की टीमों ने क्षेत्र के करीब नौ हजार लोगों की स्क्रीनिंग की।
बुधवार सुबह से छावनी में तब्दील कस्बा और आसपास के गांवों में सिर्फ प्रशासनिक अधिकारियों की आवाजाही जारी रही। बुधवार को जुटी 32 टीमों ने इलाके के करीब पंद्रह सौ घरों की सघन जांच की। टीमों के सदस्य घर-घर पहुंचे और परिवार के सदस्य, उनकी उम्र, कोई बीमार तो नहीं है। पिछली बार कौन और कब बीमार हुआ था आदि सवाल पूछ कर रिपोर्ट तैयार करते रहे। टीमों ने इलाके के नौ हजार से अधिक लोगों की स्क्रीनिंग कर डाली।
बृहस्पतिवार शाम को जिला मुख्यालय से स्वास्थ्य कर्मियों की टीम फूलपुर गांव पहुुंची। टीम के सदस्यों ने युवक की किराने की दुकान के आसपास रहने वालों से पूछताछ की। जानकारी इकट्ठा की गई कि कौन से लोग युवक की दुकान से रोजाना सामान खरीदते थे। जानकारी लेने के बाद टीमें उन लोगों के घर पहुंचीं जो युवक की दुकान केे स्थायी ग्राहक थे। करीब सौ लोगों की सघन स्वास्थ्य जांच गई। बीस से अधिक लोगों के लार के नमूने इकट्ठे किए गए। चिकित्सकों की टीम के सदस्य ने बताया कि लार का नमूना जांच के लिए बीआरडी मेडिकल कॉलेज गोरखपुर भेजा जाएगा।
अगले 14 दिन तक होगी सघन जांच
प्रशासन ने कस्बे को सील कर दिया है। अधिकारियों के अनुसार अगले 14 दिनों तक गांव की सघन निगरानी की जाएगी। इस दौरान लोगों को घर से बाहर निकलने की इजाजत नहीं होगी। लोगों की आवाजाही रोकने के लिए प्रशासन द्वारा ऑफलाइन पास अमान्य कर दिया गया। गांव की मुख्य सड़कें सील कर दी गईं। वाहनों की आवाजाही रोकने के लिए बैरिकेडिंग की गई थी। कस्बे में सब्जी और आवश्यक सामान लाने वालों को भी जांच के बाद भी अंदर भेजा गया। उन्हें सोशल डिस्टेंसिंग और सैनिटाइजेशन के बाद ही उपभोक्ताओं को सामान बेचने की इजाजत दी गई।
... और पढ़ें

सिद्धार्थनगर के युवक की अंतिम जांच रिपोर्ट निगेटिव

सिद्धार्थनगर के युवक की अंतिम जांच रिपोर्ट निगेटिव
18 वर्षीय युवक का स्क्रीनिंग रिपोर्ट पॉजिटिव आने से मचा था हड़कंप
बस्ती में कोरोना संक्रमित युवक की हो गई थी मौत, उसी का रिश्तेदार है युवक
महिला चिकित्सालय के क्वारंटीन वार्ड में भर्ती हैं उसके परिवार के 14 सदस्य
अमर उजाला ब्यूरो
सिद्धार्थनगर। महिला चिकित्सालय के क्वारंटीन वार्ड में भर्ती 18 वर्षीय कोरोना संदिग्ध युवक के जांच के अंतिम चरण की रिपोर्ट निगेटिव आई है। रिपोर्ट आने के बाद प्रशासन ने राहत की सांस ली है, लेकिन बिस्कोहर कस्बे में पुलिस का पहरा सख्त है। साथ ही परिवार के 14 अन्य सदस्यों की जांच और इलाज चल रहा है। यह बस्ती के उसी युवक का रिश्तेदार है जिसकी कोरोना के संक्रमित होने से मौत हो गई थी।
बता दें कि त्रिलोकपुर थानाक्षेत्र के बिस्कोहर कस्बे के एक मोहल्ले के निवासी एक परिवार के 15 सदस्यों को महिला चिकित्सालय के क्वारंटीन वार्ड में भर्ती किया गया हैं। यह बस्ती के उसी युवक के रिश्तेदार हैं, जिसकी गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान कोरोना वायरस से ग्रसित होने से मौत हो गई थी। बिस्कोहर से दो लोग जनाजे में शामिल होने गए थे। इसलिए प्रशासन ने परिवार के सभी 15 सदस्यों को क्वारंटीन वार्ड में भर्ती करा दिया था। बुधवार को उसी परिवार के एक 18 वर्षीय युवक की जांच रिपोर्ट में कोरोना स्क्रीनिंग रिपोर्ट पॉजिटिव आया था। इसके बाद प्रशासन ने बिस्कोहर कस्बे को सील कर दिया था। साथ ही बड़ी संख्या में फोर्स लगा दी गई है। दोबारा जांच के लिए रिपोर्ट भेजा गया तो अंतिम चरण में जांच रिपोर्ट निगेटिव आ गई। रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद प्रशासन और स्वास्थ्य महकमें ने राहत की सांस ली। सीएमओ डॉ. सीमा राय ने बताया कि जिले में अभी तक कोरोना का कोई मरीज पॉजिटिव नहीं मिला है। स्वास्थ्य विभाग की टीम अलर्ट है।
... और पढ़ें

हर घर की जांच में जुटीं स्वास्थ्य विभाग की 32 टीमें

बिस्कोहर कस्बे में पसरा सन्नाटा।
हर घर की जांच में जुटीं स्वास्थ्य विभाग की 32 टीमें
कस्बे सहित पास के पांच गांवों के प्रत्येक घर का तैयार कर रहीं रिकॉर्ड
कोरोना संदिग्ध परिवार के सदस्य से कब मिले थे इन घरों में रहने वाले लोग इसका भी रिकॉर्ड किया जा रहा तैयार
संतोष कौशल
बिस्कोहर। युवक के स्क्रीनिंग में कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने बिस्कोहर कस्बा और फूलपुर गांव के प्रत्येक घर की डेटाशीट बनानी शुरू कर दी है। बुधवार को प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की ओर से 32 टीमों का गठन किया गया। प्रत्येक टीम के चार सदस्य घर-घर जाकर परिवार वालों से उस परिवार से संपर्क करने की जानकारी बटोर रहे हैं जिस परिवार का युवक कोरोना संदिग्ध पाया गया है।
बिस्कोहर कस्बे के लोगों की आंखें बुधवार सुबह अचानक वाहनों के आवागमन और पुलिस बूटों की थाप से खुलीं। लोग कुछ समझने के लिए दरवाजे पर पहुंचे तो पहले से ही पुलिस बल तैनात मिला और उन्हें अंदर जाने का आदेश सुना दिया गया। कस्बे में लोग एक दूसरे से फोन कर पुलिस के आने का कारण जानते रहे। दोपहर बाद लोगों ने दस्तक सुन कर दरवाजा खोला तो चार सरकारी कर्मचारी दिखाई दिए। इन लोगों ने परिवार के सदस्यों की संख्या, उनके नाम, उम्र आदि नोट कीं। परिवार के प्रत्येक सदस्य को बुलाकर एक फार्म भरवाया गया, इस फार्म में लिखवाया गया कि वह उस कोरोना संदिग्ध व्यक्ति के परिवार वालों से 28 मार्च के बाद कब मिला था। अधिकारियों ने बताया कि 32 टीमें बिस्कोहर कस्बे के साथ ही गांव फूलपुर राजा, डेगहर, दलपतपुर, बेलवा और मझौवा के प्रत्येक घर का रिकॉर्ड तैयार कर रही हैं। इन परिवारों के सभी सदस्यों के स्वास्थ्य पर अगले दो सप्ताह तक नजर रखी जाएगी।
... और पढ़ें

बिस्कोहर कस्बा और आसपास का इलाका किया गया सील

बिस्कोहर कस्बा और आसपास का इलाका सील
दिन भर पुलिस-पीएसी जवान प्रमुख मार्गों पर करते रहे गश्त
बैरिकेडिंग लगाकर रोक दिया गया सभी वाहनों का आवागमन
अमर उजाला ब्यूरो
बिस्कोहर। युवक के कोरोना संदिग्ध पाए जाने के बाद प्रशासन ने बुधवार सुबह ही बिस्कोहर कस्बा और आसपास के इलाके को सील कर दिया। चप्पे- चप्पे पर तैनात पुलिस और पीएसी बल ने सुबह आठ बजे से बिस्कोहर तिराहे से सिंगारजोत जाने वाला मार्ग, मेन मार्केट में जाने वाला मार्ग, मझौवा से बिस्कोहर आने वाला मार्ग और बलरामपुर बॉर्डर को सील कर दिया। मुख्य मार्गों पर बैरिकेड लगाकर वाहनों की आवाजाही पूरी तरह बंद कर दी गई। यहां तक लोगों को भी घर से बाहर निकलने से रोक दिया गया। सुबह लगभग दस बजे डीएम दीपक मीणा और एसपी विजय ढुल पहुंच गए। दोनों अधिकारियों ने कस्बे की सुरक्षा, स्वच्छता आदि का निरीक्षण किया। लोगों को बहुत ही जरूरी काम पर ही घर से निकलने की नसीहत दी गई।
डीएम दीपक मीणा के निर्देश पर बिस्कोहर बस स्टाप पर स्थित पूर्वांचल बैंक और एसबीआई की शाखा को अग्रिम आदेश तक बंद करवा दिया गया। मनरेगा खाते से धन निकालने पहुंचे लोगों को घर लौटने की नसीहत देते हुए कुछ दिन बाद आने की सलाह दी गई। पुलिस-पीएसी के जवान कस्बे और आसपास के गांवों की सड़कों पर दिन भर गश्त करते रहे। गांवों की गलियों में सन्नाटा छाया रहा। मीडिया के सवाल पर जवाब देते हुए डीएम ने कहा कि आप लोग भी अब अपने-अपने घर चले जाएं, जो भी समाचार होगा जानकारी दे दी जाएगी। मीडिया से दूरी बना रहे डीएम स्थानीय सत्ताधारी नेताओं के साथ घूमते हुए नजर आए।
स्वास्थ्य कर्मियों ने डाला डेरा
सुबह नौ बजे स्थानीय प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर सीएमओ डॉ. सीमा राय भी बिस्कोहर कस्बे में पहुंच गईं। इसके बाद मौके पर मौजूद स्वास्थ्य कर्मियों को दिशा-निर्देश दिया। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने कस्बे में फॉगिंग की और सभी लोगों को घर से बाहर नहीं निकलने की हिदायत सख्ती से दी गई।
किराना दुकान चलाता है युवक
युवक बिस्कोहर के पास फूलपुर राजा गांव में किराने की दुकान भी करता है। गांव वालों के मुताबिक बस्ती से आने के बाद युवक बीते बृहस्पतिवार सुबह फूलपुर की दुकान पर गया सामान भी बेचा। प्रशासनिक अधिकारियों को यह जानकारी हुई तो उन लोगों की तलाश शुरू कर दी गई जिन्होंने बीते बृहस्पतिवार को युवक से सामान खरीदा था। एहतियात के तौर पर डीएम ने पूरे गांव को सील करने का आदेश दे दिया। अधिकारियों के अनुसार गांव के सभी लोगों के स्वास्थ्य की 14 दिन तक निगरानी की जाएगी। बिस्कोहर व फूलपुर राजा गांव में सफाई कर्मियों की ड्यूटी लगा कर पूरे गांव में साफ -सफाई शुरू करा दिया।
दूसरे दिन ही 37 परिवारों को किया था होम क्वारंटीन
बृहस्पतिवार शाम परिवार के 15 सदस्यों को महिला चिकित्सालय के क्वारंटीन वार्ड में भेजने के बाद दूसरे दिन मोहल्ले के 37 परिवारों को 21 दिनों के लिए होम क्वारंटीन में रखा गया था। प्रशासन का मामना था कि यह लोग उस परिवार के संपर्क में आए थे। तभी से स्वास्थ्य विभाग की टीम लगातार मॉनिटरिंग में लगी थी।
... और पढ़ें

संदिग्ध हाल में विवाहिता की जलकर मौत

संदिग्ध अवस्था में विवाहिता की जलकर मौत
महिला के पिता की तहरीर पर पति और सास पर दहेज हत्या का केस दर्ज
पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा
अमर उजाला ब्यूरो
सिद्धार्थनगर/गोल्हौरा। बांसी कोतवाली क्षेत्र के रैनाजोत गांव में बुधवार दोपहर एक 20 वर्षीय विवाहिता की संदिग्ध अवस्था में जलकर मौत हो गई। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। वहीं, विवाहिता के पिता की तहरीर पर पुलिस ने पति और सास पर दहेज के लिए जलाकर मारने के आरोप में केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।
जोगिया कोतवाली क्षेत्र के सिंगिया गांव निवासी विजय प्रताप यादव ने बांसी कोतवाली में तहरीर देकर बताया कि उसकी बेटी अनिता (20) की शादी डेढ़ वर्ष पूर्व बांसी कोतवाली क्षेत्र के रैनाजोत गांव निवासी अनिल के साथ हुई थी। शादी के बाद परिवार के लोग दहेज के लिए उसे प्रताड़ित करते थे। बेटी ने कई बार मारने-पीटने की शिकायत भी की थी। बुधवार को उसे जलाकर मार दिया गया। मामले की जांच करते हुए कार्रवाई की जाए। वहीं, मामले की जानकारी मिलने के बाद कोतवाल बांसी शैलेश कुमार सिंह टीम के साथ गांव पहुंचे जहां शव का पंचनामा कराया गया व उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। कोतवाल शैलेश कुमार सिंह ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजवाया गया है। साथ ही विवाहिता के पिता की तहरीर पर पति अनिल और सास के खिलाफ दहेज हत्या का केस दर्ज कर लिया गया है। मामले की जांच की जा रही है, जल्द ही दोनों को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया जाएगा।
... और पढ़ें

सिद्धार्थनगर के युवक की कोराना स्क्रीन रिपोर्ट पॉजिटिव

सिद्धार्थनगर के युवक की कोरोना स्क्रीनिंग रिपोर्ट पॉजिटिव
कस्बे को सील किया गया, कस्बे में जुटे रहे प्रशासनिक अधिकारी
त्रिलोकपुर थानाक्षेत्र बिस्कोहर कस्बे एक मोहल्ले का है युवक
अमर उजाला ब्यूरो
सिद्धार्थनगर। महिला चिकित्सालय के क्वारंटीन वार्ड में भर्ती एक 18 वर्षीय युवक की स्क्रीनिंग रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। युवक के परिवार के 14 अन्य सदस्य भी क्वारंटीन में हैं। यह युवक बस्ती में कोरोना संक्रमण से मौत का शिकार हुए युवक का रिश्तेदार है और उसके अंतिम संस्कार में शामिल हुआ था। इधर, प्रशासन ने युवक की स्क्रीनिंग रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद बिस्कोहर कस्बे को सील कर दिया गया है। त्रिलोकपुर थाने सहित अन्य थानों की पुलिस और पीएसी गांव में तैनात है। हालांकि डीएम दीपक मीणा और सीएमओ डॉ. सीमा राय ने युवक के कोविड-19 पॉजिटिव होने की पुष्टि नहीं की है।
बस्ती निवासी एक युवक की कोरोना संक्रमण से एक अप्रैल को मौत हो गई थी। स्थानीय प्रशासन को दो अप्रैल की शाम जानकारी हुई थी कि परिवार के दो सदस्य बस्ती में युवक के जनाजे में शामिल होने गए थे। इसके बाद एसडीएम की मौजूदगी में परिवार के सभी 15 सदस्यों को महिला चिकित्सालय के क्वारंटीन वार्ड में रखवाया गया था। परिवार के सात सदस्यों के लार का नमूना चार दिन पूर्व गोरखपुर मेडिकल कॉलेज की लैब में जांच के लिए भेजा गया था जिसकी रिपोर्ट निगेटिव आई थी। जनाजे में शामिल होकर लौटे 18 वर्षीय युवक के लार की स्क्रीनिंग रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। युवक के संदिग्ध कोरोना संक्रमित होने की खबर पर प्रशासनिक अमला सक्रिय हो गया। डीएम दीपक मीणा और एसपी विजय ढुल भोर से ही बिस्कोहर कस्बे में डेेरा जमाए रहे। प्रशासनिक अमले की चहल-पहल और कस्बे को सील किए जाने से लोगों में चर्चाओं का बाजार भी गर्म रहा। इस बाबत डीएम दीपक मीणा ने बताया कि जांच रिपोर्ट नहीं आई है, रिपोर्ट से ही युवक के कोविड-19 संक्रमित होने या न होने की पुष्टि होगी।
... और पढ़ें

बैंकों में उमड़ी भीड़, सोशल डिस्टेंस का पालन नहीं

बैंकों में उमड़ी भीड़, सोशल डिस्टेंस का पालन नहीं
कोरोना से बचाव के लिए घरों में रहने को दिया जा रहा सुझाव, पर बैंकों पर बढ़ी भीड़
जिले के अधिकांश बैंकों पर पेंशन व मनरेगा मजदूरी के लिए लगी लंबी कतारें
श्याम सुंदर तिवारी
सिद्धार्थनगर। लॉकडाउन के बाद मजदूर तबके के समक्ष रोजी का संकट खड़ा हो गया है। ऐसे में शासन की ओर से मजदूरों के खाते में रुपये भेजा देना, उनके लिए संजीवनी जैसा हो गया है। लॉकडाउन के बाद उपजी बेरोजगारी उनके लिए दर्द हो चुकी है। ऐसे में मजदूरों के खाते में रुपये आने के बाद वह बैंकों की ओर चल पड़े। करें भी क्या रोज कमाने और खाने वाले व्यक्ति 12 दिनों से खाली पड़े हैं। ऐसे में उनके पास रुपये नहीं रह गए हैं। परिवार का पेट भरने के लिए बीमारी की परवाह किए बिना बैंकों पर जुट गए। उन्हें न तो सामाजिक दूरी ख्याल था और न ही उन्हें संक्रमित होने का डर। जिले के अधिकांश बैंकों पर भीड़ की तस्वीरें सामने आईं जो बीमारी को न्यौता देने जैसी लगीं। मगर कोई करे भी क्या, रुपये की जरूरत है तो बैंक जाना ही पड़ेगा।
कोरोना वायरस महामारी को रूप ले चुका है। हर दिन मरीजों की संख्या बढ़ रही है। लॉकडाउन के साथ ही लोगों से घरों में रहने की अपील की जा रही है। ऐसे में रोजगार के साधन बंद हो गए। मजदूर तबके जो हर दिन कमाकर खाने वाला था, उसके समक्ष बेरोजगारी आ गई। समस्या को देखते हुए शासन ने अंत्योदय और पात्र गृहस्थी के उन उपभोक्ताओं को मुफ्त राशन की देने का निर्णय लिया जो मनरेगा के मजदूर हैं या फिर श्रम विभाग में पंजीकृत मजदूर हैं। राशन को मिल गया, लेकिन सब्जी और दवाई की जरूरत को पूरा करने के लिए शासन ने मनरेगा खाते में एक हजार रुपये के अलावा, जिन लोगों को पेंशन मिलता था, उन्हें पेंशन की राशि भेज दी। जिससे लोगों को दिक्कत नहीं होने पाए। रुपये आने के बाद 12 दिनों से खाली पड़े मजदूर वर्ग के लोग सोमवार से बैंकों पर पहुंचने लगे। जिला मुख्यालय से लेकर हर चौराहों पर बैंकों पर भीड़ दिखी। लोग कतारों में तो थे लेकिन एक-दूसरे से सटे खड़े हुए दिखे। जबकि चिकित्सकों का यह मानना है कि वायरस से बचने के लिए कम से कम एक मीटर की दूरी बनाकर खड़े हों। मगर जब सामने परिवार के जिम्मेदारी हो तो इंसान हर दूरी को छोड़कर जरूरत पूरी करने में जुट जाता है। जैसे की बैंकों पर खड़े हुए लोग कर रहे हैं। असावधानी खुद के साथ-साथ परिवार के लिए भी घातक हो सकती है। लिहाजा जिम्मेदारों को ध्यान देने की जरूरत है। लीड बैंक मैनेजर ओमप्रकाश अग्रहरि ने बताया बैंक पूरी तरह से सतर्कता बरत रहा है। लोगों से सामाजिक दूरी बनाने की अपील की जा रही है। बैंक पर आने वाले उपभोक्ताओं का हाथ धुलवाया जा रहा है।
बैंकों के पड़ताल में सामने आई बात
नगर इलाहाबाद बैंक पर जब कतार में लगे लोगों से बात की गई तो कुछ इस प्रकार लोगों का जवाब था। कतार में लगे एक शख्स से जब पूछा गया कि क्यों भीड़ में खड़े हैं तो उनका जवाब था कि बसर करे के लिए रुपये तो निकाल ही के पड़ी न। यह समय रोजगार ठप बा, 12 दिनों कहीं काम नहीं किए। जो रुपये मिले थे वह खर्च हो गया। इस वक्त रुपये आ गया वह हमारे लिए बहुत है। अब भीड़ की फिक्र करें तो परिवार भूखा मरे। क्या करें परिवार के लिए सब कुछ करना पड़ता है। इसी प्रकार की प्रतिक्रिया यूनियन बैंक और सेंट्रल बैंक पर कतार में खड़े लोगों से मिली।
... और पढ़ें

आग से झोपड़ी जली, दो भैंस झुलसी

आग से झोपड़ी जली, दो भैंसें झुलसीं
चिल्हिया थानाक्षेत्र के सिरवत गांव की घटना
अमर उजाला ब्यूरो
सिद्धार्थनगर। चिल्हिया थानाक्षेत्र के सिरवत गांव के टोला उत्तर डिहवा में सोमवार की देर शाम एक झोपड़ी में आग लग गई। ग्रामीणों की मदद से आग पर काबू पाया गया। आगजनी की इस घटना में झोपड़ी में बंधी दो भैंसें गंभीर रूप से झुलस गईं। साथ ही साइकिल सहित एक लाख रुपये से अधिक का सामान जलकर नष्ट होने का अनुमान है।
क्षेत्र के सिरवत गांव के टोला उत्तर डिहवा निवासी बुचुन गांव के बगल में एक झोपड़ी बना रखी थी। झोपड़ी में सामान के अलावा दो भैंसें भी बांधी जाती थीं। सोमवार की देर शाम अज्ञात कारण से झोपड़ी में आग लग गई। जब तक परिवार के लोग कुछ समझ पाते आग भड़क चुकी थी। ग्रामीणों ने किसी तरह आग पर काबू पाया और भैंसों को बाहर निकाला मगर तब तक दोनों गंभीर रूप से झुलस चुकी थीं। साथ ही पंपिंग सेट, एक क्विंटल चावल, गेहूं, साइकिल सहित अन्य सामान जलकर नष्ट हो गया। पीड़ित के अनुसार आगजनी से एक लाख रुपये से अधिक का नुकसान हुआ है। वहीं भैंस की स्थिति नाजुक बनी हुई है। मामले की जानकारी मिलने के बाद एसओ चिल्हिया सभाशंकर यादव ने मौके पर पहुंचकर घटना का जायजा लिया। आर्थिक सहायता दिलाने का भरोसा दिलाया।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us