विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020
Astrology Services

हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

यूपी में 128 संक्रमित, 24 घंटे में 10 बढ़े, तब्लीगी जमात के 429 की रिपोर्ट आएगी आज

प्रदेश में 24 घंटे में कोरोना पॉजिटिव में दस नए केस समाने आए हैं।

3 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

उन्नाव

शुक्रवार, 3 अप्रैल 2020

एंबुलेंस चालकों को उपलब्ध कराए मास्क व सैनिटाइजर

उन्नाव। एंबुलेंस चालकों व ईएमटी के तीन घंटे की हड़ताल के बाद स्वास्थ्य विभाग ने उन्हें मास्क व सैनिटाइजर उपलब्ध कराए। जबकि दस्ताने अभी भी नहीं दिए। सीएमओ ने तीन दिन में इसकी भी व्यवस्था कराने का आश्वासन दिया है। जिसके बाद चालकों ने बाधित सेवाओं का संचालन कर दिया है।
जीवनदायिनी स्वास्थ्य विभाग 108, 102 व एएलएस के जिलाध्यक्ष विवेक कुमार के नेतृत्व में एंबुलेंस चालकों व ईएमटी ने तीन महीने का वेतन न मिलने के साथ ही ग्लब्स, मास्क, सैनिटाइजर जैसी सुरक्षा संबंधी चीजें उपलब्ध न होने से मंगलवार को एंबुलेंस का चक्का जाम कर दिया था। मौके पर एडीएम राकेश सिंह, सिटी मजिस्ट्रेट चंदन पटेल व सीओ सिटी यादवेंद्र यादव के साथ सीएमओ जिला अस्पताल पहुंचे थे और वाहन चालकों को कोरोना से बचाव की चीजें तत्काल उपलब्ध कराने के साथ ही वेतन के लिए विभागीय अधिकारियों से बात कर जल्द दिलाने का आश्वासन दिया था।
बुधवार को सीएमओ कैप्टन डॉ. आशुतोष कुमार ने जिले में दौड़ रही 87 एंबुलेंस में तैनात करीब 200 कर्मचारियों के लिए 250 मास्क व 37 सैनिटाइजर उपलब्ध कराए हैं। दस्तानों के लिए तीन दिन का समय मांगा है। महामंत्री संदीप कुमार पाल ने बताया कि फिलहाल हड़ताल समाप्त कर दी गई है। सैनिटाइजर कम हैं और दिलाने के लिए सीएमओ से कहा गया है।
... और पढ़ें

350 किमी का सफर तय करने को पैदल निकले पांच युवक

गंजमुरादाबाद(उन्नाव)। सात दिनों तक प्रयास करने के बाद भी जब प्रशासन ने कोई सहायता नहीं की तो कानपुर की एक कपड़ा दुकान में काम करने वाले पांच युवक 350 किमी दूर पैदल ही बरेली जाने के लिए निकल पड़े।
बरेली के मोहल्ला नियामतगंज निवासी सोनू, गुड्डू, इमरान, महफ ूज और हिमांशु कानपुर में एक कपड़ा दुकान में काम करते थे। उन्होंने बताया कि 25 मार्च को लॉकडाउन हो गया। उन पर मालिक घर चले जाने का दबाव डालने लगे। पैसे भी नहीं दिए। इसलिए वह मंगलवार की शाम कानपुर से अपने घर जाने के लिए पैदल ही निकल पड़े। मंगलवार की शाम से खाना भी नसीब नहीं हुआ है। भूखे पेट वह लगातार चल रहे हैं। पांच अप्रैल तक वह 350 किमी का पैदल सफ र तय करके अपने घर पहुंच जाएंगे।
... और पढ़ें

आइसोलेट कराए गए दोनों मौलवी हैं जीजा व साला

आसीवन(उन्नाव)। दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में शामिल हुए उन्नाव के मियागंज ब्लॉक के कुरसठ कस्बा निवासी दोनों मौलवी आपस में जीजा व साले हैं। दोनों को जिला अस्पताल में आइसोलेट कराए जाने के बाद से कस्बे के लोग दहशत में हैं। बुधवार को कस्बे में सन्नाटा पसरा रहा। दोनों की जांच रिपोर्ट अभी नहीं आई है। स्वास्थ्य विभाग रिपोर्ट का इंतजार कर रहा है।
मियागंज ब्लॉक के नगर पंचायत कुरसठ कस्बा निवासी मौलवी मो. ताहिर व मो. इलियास जीजा-साले हैं। मो. ताहिर सेवानिवृत्त पोस्टमैन हैं। वहीं, मो. इलियास कस्बे में स्थित ग्रामीण डाकघर में पोस्टमैन है। दिल्ली के निजामुद्दीन में आयोजित धार्मिक जलसे में दोनों 3 मार्च को शामिल होने गए थे और 7 मार्च को वापस लौटे थे। दोनों के नाम सामने आने पर मंगलवार शाम को सीएमओ कैप्टन डॉ. आशुतोष कुमार ने मेडिकल ऑफीसर डॉ. पुनीत तिवारी के नेतृत्व में टीम भेजकर दोनों को जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया था। रात डेढ़ बजे दोनों के ब्लड सैंपल जांच के लिए लखनऊ मेडिकल कॉलेज भेजे गए थे। बुधवार को रिपोर्ट नहीं आ सकी। स्वास्थ्य विभाग भी उनकी रिपोर्ट का इंतजार कर रहा है। कस्बे में दोनों मौलवियों के संदिग्ध मिलने के बाद सन्नाटा पसरा है। संक्रामक रोग प्रभारी डॉ. आरएस मिश्रा ने बताया कि अभी जांच रिपोर्ट नहीं आई है। रिपोर्ट आने के बाद ही आगे की कार्रवाई होगी।
देर शाम सफीपुर एसडीएम राजेंद्र प्रसाद कुरसठ कस्बा पहुंचे। उन्होंने लोगों से अपील की जो लोग भी विदेश या किसी दूसरे जिले से यहां आए हैं। वह स्वयं इसकी जानकारी दें ताकि उनका स्वास्थ्य परीक्षण कराया जा सके। इससे वह व उनका परिवार ही नहीं आसपास के लोग भी कोरोना वायरस के संक्रमण से बच सकेंगे।
... और पढ़ें

फोटो स्टूडियो में आग से पूरा सामान जला

गंजमुरादाबाद(उन्नाव)। नगर में सदर बाजार स्थित एक फ ोटो स्टूडियो में बुधवार आधी रात को अज्ञात कारणों से आग लग गई। नागरिकों के प्रयासों के बाद सफ लता न मिलने पर फ ायर ब्रिगेड की गाड़ी की मदद से दो घंटे बाद आग पर काबू पाया गया। आग के बुझने से पहले दुकान का सारा सामान जलकर राख में तब्दील हो गया। इस घटना में करीब 15 लाख रुपये तक का नुकसान होने की आशंका जताई जा रही है। मौके पर पहुंच कर लेखपाल ने नुकसान का आकलन किया।
मोहल्ला गढ़ी निवासी मुकेश कुमार कुशवाहा की नगर की सदर बाजार में फ ोटो स्टूडियो की बड़ी दुकान है। लॉकडाउन में दुकान बंद रह रही है। रात करीब 1 बजे इस दुकान के अंदर अज्ञात कारणों से आग लग गई। करीब डेढ़ बजे गश्त करते हुए नगर की चौकी पुलिस निकली। अंदर से तेज धुआं निकलते देख सामने के इश्तियाक के मकान की कुंडी खटखटाकर दुकान मालिक के नाम, पते की जानकारी ली। फिर मुकेश कुमार कुशवाहा को फ ोन पर बताया। उसके आने के बाद जेट पंप चलाकर नागरिकों ने आग बुझाने का प्रयास किया लेकिन घंटों मशक्कत के बाद भी आग पर जब काबू नहीं पाया जा सका तब लोगों ने फ ायर ब्रिगेड स्टेशन को सूचना दी।
फ ायर ब्रिगेड के जवानों और नगर चौकी पुलिस के अथक प्रयासों से करीब दो घंटे बाद किसी प्रकार आग पर काबू पाया जा सका लेकिन तब तक दुकान में रखा चार लैपटॉप, एक कंप्यूटर मशीन, पांच प्रिंटर, तीन डिजिटल कैमरा, दो वीडियो कैमरा, 60 एंड्रॉयड व कीपैड मोबाइल फ ोन, कई पेनड्राइव व दर्जनों मोबाइल चार्जर सहित सारा सामान जलकर राख हो गया। दुकान मालिक और चौकी प्रभारी विजय कुमार ने शार्टसर्किट से आग लगने की आशंका जताई है। आगजनी में करीब 15 लाख रुपये का नुकसान होने की संभावना दुकान मालिक ने जताई है। क्षेत्रीय लेखपाल विनोद कुमार ने मौके पर पहुंच कर नुकसान का आकलन किया। लेखपाल ने बताया कि जांच रिपोर्ट एसडीएम को देंगे।
उधर, औरास थानाक्षेत्र के रामपुर गढौवा गांव निवासी सुंदर मौर्य के घर के बाहर रखे छप्पर में बुधवार शाम 7 बजे आग लग गई। आग की लपटें देख ग्रामीणों ने आग बुझाने की कोशिश शुरू की लेकिन तब उसकी पूरी गृहस्थी जलकर राख हो गई। पीड़ित के अनुसार, अनाज, कपड़े और नगदी मिलाकर करीब 40 हजार की गृहस्थी जल गई। अनुमान है कि आग रास्ते में निकलते समय किसी के जलती बीड़ी फेंकने से लगी है।
... और पढ़ें
गंजमुरादाबाद कस्बा स्थित दुकान में आग लगने के बाद जला पड़ा सामान दिखाता दुकानदार। गंजमुरादाबाद कस्बा स्थित दुकान में आग लगने के बाद जला पड़ा सामान दिखाता दुकानदार।

खाते का अंतिम अंक बताएगा बैंक से भुगतान की तारीख

उन्नाव। प्रधानमंत्री जनधन योजना की महिला खाता धारकों के लिए 500-500 रुपये की धनराशि केंद्र सरकार ने रिलीज कर दी है। महीने के शुरुआती हफ्ते में इस राशि की निकासी के समय बैंकों में भीड़ रोकने के लिए खाता संख्या और बैंकिंग की तारीख का अनूठा तालमेल बनाया गया है। बैंक से भुगतान लेने के लिए खाते के आखिरी अंक को आधार बनाते हुए तारीखें तय की गई हैं।
तय फॉर्मूले के तहत जिन महिला खाताधारकों के बैंक खाते का अंतिम अंक 0 या 1 है, वे 3 अप्रैल यानि शुक्रवार को बैंक पहुंचकर पैसा निकाल सकेंगी। जिनके खातों का अंतिम अंक 2 या 3 है, उन्हें बैंक से 4 अप्रैल (शनविार) को भुगतान मिलेगा। जिन खातों का अंतिम अंक 4 या 5 है, उनको 7 अप्रैल (मंगलवार) को भुगतान किया जाएगा। जिन खातों का अंतिम अंक 6 या 7 है उन्हें 8 अप्रैल (बुधवार) को भुगतान किया जाएगा। जिन खातों का अंतिम अंक 8 या 9 है, उन्हें 9 अप्रैल (बृहस्पतिवार) को भुगतान की व्यवस्था की गई है।
अग्रणी जिला बैंक प्रबंधक पीके आनंद ने बताया कि सरकार ने भीड़ से बचाव के लिए यह व्यवस्था की है। महिला खाताधारकों से अनुरोध है कि अपने खाते का अंतिम अंक देखकर ही बैंक जाएं और भुगतान प्राप्त करें। नौ तारीख तक बैंक से भुगतान में चूकने वाली महिलाएं अन्य किसी भी दिन जाकर भुगतान ले सकती हैं।
प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत जिले में तीन लाख खाताधारक हैं। इनमें से एक लाख महिलाएं हैं। फिलहाल केंद्र सरकार ने महिलाओं के ही खाते में 500-500 रुपये भेजे हैं।
... और पढ़ें

क्वारंटीन सेंटर में न रुकने पर दंपति सहित 8 पर रिपोर्ट

उन्नाव। क्वारंटीन सेंटर में न रुकने पर दंपति सहित 8 पर रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। कोरोना वायरस से बचाव के लिए प्रशासन ने जिले हर गांव के बाहर क्वारंटीन सेंटर बनाए हैं। इनमें बाहर से आने वाले लोगों को एहतियात के लिए 14 दिन रोका जा रहा है। लेकिन लोग अपने साथ साथ परिवार व गांव के लोगों के लिए खतरा बन रहे हैं। दिन में क्वारंटीन सेंटर में रुकते हैं और रात को घर में रहते हैं। डीएम रवींद्र कुमार ने बताया कि बाहर से आए जो लोग बिना सूचना घर में रह रहे हैं उन्हें चिह्नित कर रिपोर्ट दर्ज कराई जाएगी।
पुरवा कोतवाली के नाथी खेड़ा गांव में दूसरे राज्यों व शहरों से आए 33 लोगों क्वारंटीन सेंटर में न रुकने और उन्हें वहां न रुकने के लिए उकसाने पर ग्राम विकास अधिकारी ने दंपति सहित आठ लोगों पर रिपोर्ट दर्ज कराई है। इनमें 23 मार्च को दिल्ली से लौटे अनूप कुमार, 28 मार्च को लौटे संजय व उनकी पत्नी रंजना, चचेरा भाई अखिलेश के अलावा संजय कुमार, अमन, विकास, रामप्रकाश शामिल हैं। ग्राम विकास अधिकारी पुत्तनलाल पाल की तहरीर पर पुलिस ने आईपीसी की धारा 188, 269 व 270 में रिपोर्ट दर्ज की है। वीडीओ ने बताया कि 33 में से 21 लोग क्वारंटीन सेंटर पहुंच गए हैं जबकि मजरा बड़ा खेड़ा निवासी चार लोग घर बंद कर कहीं चले गए हैं। उनका पता लगाया जा रहा है।
औरास थाना क्षेत्र में अलग-अलग गांवों में गुरुवार को 55 युवक यूपी के कई शहरों और अन्य प्रांतों से घर पहुंचे। जिनमें 12 उत्तर प्रदेश के अलग-अलग शहरों और 43 अन्य प्रांतों से गांव पहुंचे हैं। सूचना पर सीएचसी प्रभारी डॉ. सिद्धार्थ श्रीवास्तव टीम के साथ जांच की, सभी सामान्य मिले।
मौरावां थाना अध्यक्ष राजेंद्र सिंह रजावत ने बताया कि कस्बे में दिल्ली, झांसी, उड़ीसा, चेन्नई, कर्नाटक, हरियाणा आदि प्रांतों से लौटकर अपने घर आए 24 लोगों की जानकारी हुई है। उन्हें समझाकर पास के प्राथमिक विद्यालय में बनाए गए क्वारंटीन सेंटर में ठहराया गया है।
... और पढ़ें

प्रशासन ने जारी की खाद्य पदार्थों की रेट लिस्ट

उन्नाव। जिला प्रशासन ने एक सप्ताह तक खाद्य पदार्थों की निर्धारित रेट लिस्ट जारी कर दी है। लिस्ट जारी होने के बाद सिटी मजिस्ट्रेट चंदन पटेल ने आवास विकास, मोतीनगर, सिविल लाइन आदि क्षेत्रों में भ्रमण कर कई दुकानों पर जाकर कीमतों की जानकारी की। उन्होंने दुकानदारों को कड़े निर्देश दिए कि हर वस्तु निर्धारित कीमतों पर ही बेची जाएं। यदि बढ़ाकर रेट लिया गया तो सीधे एफआईआर दर्ज कराई जाएगी। सिटी मजिस्ट्रेट ने आम जनता से अनुरोध किया है कि यदि कोई तय कीमत से ज्यादा पैसा ले तो उसकी सूचना कंट्रोलरूम के नंबर पर दें। सफीपुर में एसडीएम राजेंद्र कुमार और सीओ एमपी शर्मा ने दुकानों का निरीक्षण कर दुकानदारों को बढ़ी कीमतों पर खाद्य वस्तुएं न बेचने की हिदायत दी।
यह है रेट लिस्ट
गेहूं-22 से 24 रुपये प्रति किग्रा, आटा-25 से 28 रुपये, चावल-25 से 35 रुपये, बेसन-100 से 105 रुपये, दूध-45 से 55 रुपये, सरसों तेल-100 से 110 रुपये, अरहर दाल-90 से 100 रुपये, उरद दाल-80 से 100 रुपये, मसूर दाल-65 से 70 रुपये, मूंग दाल-105 से 110 रुपये, मटर व चना दाल-65 से 70 रुपये, आलू-25 से 30 रुपये, प्याज-25 से 35 रुपये, टमाटर-20 से 25 रुपये, गोभी-15 से 20 रुपये, भिंडी-35 से 45 रुपये, लौकी-20 से 30 रुपये, कद्दू-20 से 25 रुपये, अंगूर-70 से 80 रुपये, अनार-95 से 100 रुपये व मौसमी-50 से 60 रुपये।
... और पढ़ें

जमातियों की तलाश में पुलिस ने खंगाली मस्जिदें

शहर के आवास विकास कालोनी में लोडर रखी खाद्य वस्तुओं के रेट की जानकारी लेते सिटी मजिस्ट्रेट चंदन ?
उन्नाव। दिल्ली की निजामुद्दीन की तब्लीगी जमात से वापस आए जमातियों की तलाश में गुरुवार को पुलिस और खुफिया टीमों ने मस्जिदों के अलावा मुस्लिम बहुल इलाकों में पहुंचकर जानकारी जुटाई। गुरुवार शाम तक पुलिस को इस तरह के जमाती नहीं मिले।
एसपी के निर्देश पर एलआईयू और थाना पुलिस की टीमों ने लगातार तीसरे दिन अपने-अपने क्षेत्र की मस्जिदों के अलावा मुस्लिम बहुल क्षेत्रों में जमातियों की तलाश की। हालांकि कोई भी जमाती नहीं मिला। हसनगंज, सफीपुर, बांगरमऊ, सदर के अलावा टीमें अन्य जगहों पर भी जमातियों के बारे में जानकारी जुटा रही हैं। एसपी विक्रांतवीर ने बताया कि दो लोग पूर्व में मिले थे, जिन्हें क्वारंटीन कराया गया था। उनकी जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है।
... और पढ़ें

ललऊखेड़ा में फिर लगी बाजार, जुटी भीड़

उन्नाव। लॉकडाउन के दौरान सदर कोतवाली की ललऊखेड़ा चौकी में फिर से साप्ताहिक बाजार लगी। जिसमें लगभग एक सैकड़ा लोगों की मौजूदगी रही। इससे पहले भी लॉकडाउन के बीच ही बाजार लगाई गई थी, जिस पर पुलिस ने दुकानदारों को खदेड़ा था। कोई कार्रवाई न किए जाने से दोबारा फिर से बाजार लगा लॉकडाउन का उल्लंघन किया गया। चौकी प्रभारी ने बताया कि छह लोगों को चिह्नित किया गया है। अन्य को चिह्नित कर रिपोर्ट दर्ज कराई जाएगी।
लॉकडाउन के दौरान लोग घरों से बाहर न निकले, इसके लिए एसपी विक्रांतवीर ने अधीनस्थों को कड़े निर्देश दे रखे हैं। जहां भी बाजार लगाई गई, पुलिस ने डंडा पटककर दुकानदारों के साथ भीड़ को खदेड़ा और रिपोर्ट दर्ज की। सदर कोतवाली के ललऊखेड़ा गांव में लगने वाली साप्ताहिक बाजार लगातार दूसरी बार लगी। गुरुवार को सुबह से ही लगभग एक सैकड़ा लोग पहुंच गए। सूचना पर चौकी पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दुकानदारों के साथ खरीदारी कर रहे लोगों को खदेड़ा। चौकी प्रभारी उमेश चंद्र पटेल ने बताया कि लॉकडाउन के उल्लंघन में रिपोर्ट दर्ज की जाएगी।
... और पढ़ें

आइसोलेट कराए गए दोनों मौलवी की रिपोर्ट निगेटिव

आसीवन(उन्नाव)। दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में धार्मिक जलसे में शामिल हुए कुरसठ कस्बा निवासी दोनों मौलवी की मेडिकल रिपोर्ट निगेटिव आई है। देर रात लखनऊ से रिपोर्ट आई तो अफसरों ने राहत की सांस ली है।
मियागंज ब्लॉक के नगर पंचायत कुरसठ कस्बा निवासी मौलवी मो. ताहिर व मो. इलियास जीजा-साले हैं। दोनों दिल्ली के निजामुद्दीन में आयोजित धार्मिक जलसे में 3 मार्च को शामिल होने गए थे और 7 मार्च को वापस लौटे थे। दोनों के नाम सामने आने पर मंगलवार देर शाम सीएमओ कैप्टन डॉ. आशुतोष कुमार ने मेडिकल ऑफीसर डॉ. पुनीत तिवारी के नेतृत्व में टीम भेजकर दोनों को जिला अस्पताल के आइसोलशन वार्ड में भर्ती कराया था। दोनों के ब्लड सैंपल जांच के लिए लखनऊ मेडिकल कॉलेज भेजे गए थे। बुधवार देर रात रिपोर्ट सीएमओ कार्यालय को मिली। संक्रामक रोग प्रभारी डॉ. आरएस मिश्रा ने बताया कि मेडिकल रिपोर्ट सामान्य आई है। दोनों को आइसोलेशन वार्ड से छुट्टी दे दी जाएगी।
वहीं, हसनगंज तहसील के गांव जैतीपुर निवासी युवक 14 मार्च को ओमान के मस्कट शहर वापस लौटा था। सर्दी, जुकाम व बुखार आने पर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने उसे मंगलवार रात जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया था। बुधवार देर रात मेडिकल कॉलेज से उसकी भी रिपोर्ट निगेटिव आई है।
... और पढ़ें

तीन दिन में 432 किलोमीटर पैदल चलकर पहुंचे उन्नाव

उन्नाव। दिल्ली, गुड़गांव समेत अन्य शहरों में नौकरी के लिए पहुंचे लोगों ने लॉकडाउन के बाद घर की ओर रुख किया। 30 मार्च को सीमाएं सील किए जाने के बाद पैदल निकलना भी लोगों के लिए मुश्किल हो गया। ऐसे में हर जिले की सीमा पर लगी पुलिस के हाथ-पैर जोड़कर लगभग 50 लोग गुड़गांव से उन्नाव तक लगभग 432 किमी का सफर पैदल तय कर बुधवार रात उन्नाव पहुंचे। बहराइच निवासी तीन चचेरे भाइयों को बुखार देख पुलिस के हाथ-पैर फूल गए। तुरंत मेडिकल टीम बुला सभी का परीक्षण कराया और दवा दिलवाई। सभी को पुलिस ने क्वारंटीन करना चाहा पर लोगों के गिड़गिड़ाने पर मानवता दिखा बस की व्यवस्था कर सभी को गंतव्य के लिए रवाना किया।
बहराइच के अड़गुड़वा मोतीपुर निवासी तीन चचेरे भाई वीरेंद्र, राजकुमार व अजय गुड़गांव में टाइल्स लगाने का काम करते हैं। 30 मार्च को सीमाएं सील किए जाने के बाद इन्हें घर जाने के लिए कोई साधन नहीं मिला। जिस पर सभी पैदल ही घर को निकल पड़े। रास्ते में अलग-अलग जिलों के लगभग 50 लोग इन्हें मिले। जगह-जगह पर पुलिस ने इन्हें रोका-टोका और वापस भेजने की पूरी कोशिश की पर सभी के हाथ-पैर जोड़ने पर पसीजी पुलिस ने उन्हें सीमा से निकाल दिया।
बुधवार रात अन्य लोगों के साथ तीनों चचेरे भाई उन्नाव के गदनखेड़ा चौराहा पहुंचे। यहां सीओ यादवेंद्र यादव, सदर कोतवाल दिनेश चंद्र मिश्र वाहनों की चेकिंग कर रहे थे। बड़ी संख्या में पैदल लोगों को आता देख पुलिस ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करा सभी को किनारे बैठाया और थर्मल स्कैनिंग से जांच की। चचेरे भाइयों को बुखार की समस्या होने पर मेडिकल टीम को बुलाकर जांच कराई और सभी से क्वारंटीन की बात कही। सभी ने घर जाने के लिए पुलिस ने मिन्नतें की तो मानवता दिखा पुलिस ने सभी को भोजन और दवा दिलवाने के बाद एआरटीओ अनिल कुमार त्रिपाठी की मदद से बस से सभी को गंतव्य तक रवाना किया।
... और पढ़ें

लॉकडाउन में खाकी सख्त भी, हमदर्द भी

उन्नाव। लॉकडाउन का पालन कराने के लिए दिन-रात मुस्तैद पुलिस बेवजह घूम रहे लोगों के साथ सख्ती भी दिखा रही है। तो वहीं सैकड़ों किमी दूर से सफर करके आ रहे मुसाफिरों और गरीबों को लंच पैकेट देकर पेट भर रहे हैं तो वहीं बीमारों और बुजुर्गों की मदद भी कर रही है।
कोरोना को लेकर लॉकडाउन का पालन कराने की जिम्मेदारी पुलिस के हाथ है। दिन-रात सड़कों पर मुस्तैद रहकर लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों सख्ती से पेश आ रही है। आठ दिन में 1382 वाहनों का चालान और 94 वाहन सीज किए हैं। लॉकडाउन उल्लंघन करने पर 342 लोगों के खिलाफ 246 मुकदमे भी दर्ज किए हैं। वहीं, दूसरे प्रांतों व जिलों से आने वाले व रोज कमाने खाने वाले परिवारों को लंच पैकेट देकर पेट भी भर रही है। रास्ते में फंसे असहाय व बीमारों की भी मदद कर रही है।
गुरुवार को शहर के मोहल्ला तालिब सरांय मोहल्ला निवासी बुजुर्ग मो. अकरम अपनी ट्राइसाइकिल से बड़ा चौराहा स्थित मेडिकल स्टोर से दवा लेने आए थे। बड़ा चौराहा पर ट्राइसाइकिल का ब्रेक खराब हो गया। बुजुर्ग को परेशान देख वहां ड्यूटी पर तैनात सिपाही रामकुमार यादव और होमगार्ड रामसेवक ने मदद कर ट्राइसाइकिल किनारे कर खुद ही ब्रेक ठीक करके उन्हें घर भेजा। वहीं, पुरवा के बैगांव निवासी दिव्यांग सोनू शुक्ला ने एसपी विक्रांतवीर को फोन करके बताया कि उसके पास राशन खत्म हो गया है। छोटे-छोटे बच्चे भूखे हैं। सूचना मिलते ही पुरवा कोतवाल केएन पांडेय सोनू के घर पहुंचे और आटा, चावल, सब्जी व अन्य राशन दिया।
... और पढ़ें

लॉकडाउन का पालन न करने वालों को सबक सिखाएगी पुलिस, भूलकर भी न करें ये गलती

उन्नाव- लॉकडाउन का मजाक उड़ाने वालों से अब पुलिस बेहद सख्ती से निपटेगी। सड़कों पर सन्नाटे के बाद मोहल्लों में जमघट लगाने वालों से अब पीआरवी के जवान सख्ती से निपटेंगे। एसपी के निर्देश पर बुधवार को पीआरवी जवानों ने गलियों में भ्रमण किया। इस दौरान जो भी सड़क पर नजर आया उसे दौड़ाया गया।

एसपी ने झुंड बनाकर घर या गलियों के बाहर खड़े होने वालों पर सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। कोरोना वायरस के संक्रमण से लोगों को बचाने के लिए पुलिस लॉकडाउन के अनुपालन की लगातार अपील कर रही है। इसके बाद भी सड़क व गली-मोहल्लों में लोग जमघट लगाने से बाज नहीं आ रहे हैं।

कंट्रोल रूम पर इस तरह की कई सूचनाएं आने के बाद एसपी विक्रांतवीर ने सभी डायल 112 पर तैनात जवानों को गलियों में भ्रमण कर ऐसे लोगों से सख्ती से निपटने के निर्देश दिए। बुधवार को पीआरवी बाइक व चौपहिया वाहन से पुलिस कर्मियों ने शहर के मोहल्ला आदर्श नगर, हिरन नगर, इंदिरा नगर, पीडी नगर, गदनखेड़ा व एबी नगर की गलियों में कई चक्कर लगाए।

इस दौरान जो मिला उसे डंडा पटककर खदेड़ा गया और हवालात में डालने तक की हिदायत दी गई। अजगैन के नवाबगंज क्षेत्र में भी पीआरवी जवानों ने बेवजह गलियों में घूम रहे लोगों को डंडा पटककर खदेड़ा। वहीं, लॉकडाउन के अनुपालन में एसपी ने जाजमऊ, सोहरामऊ समेत अन्य जिले की सीमा में लगे बैरियर का निरीक्षण कर तैनात पुलिस कर्मियों को लॉकडाउन का सख्ती से अनुपालन कराने का निर्देश दिया।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us