विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
फ्री में पाएं अपनी जन्म कुण्डली और बनाएं अपने जीवन को आसान
Kundali

फ्री में पाएं अपनी जन्म कुण्डली और बनाएं अपने जीवन को आसान

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

फर्जी कागजात वाले 10 शिक्षकों पर मुकदमा दर्ज, सभी शिक्षकों की सेवाएं पहले ही की जा चुकी हैं समाप्त 

मिर्जापुर जिले में फर्जी डिग्री पर शिक्षक की नौकरी करने वाले 10 आरोपियों के खिलाफ बृहस्पतिवार को मुकदमा दर्ज कराया गया। विभिन्न विकास खंडों में संबंधित खंड शिक्षाधिकारी ने केस कराया। इन सभी शिक्षकों की सेवाएं पहले ही समाप्त की जा चुकी हैं।

वर्ष 2010 में इन 10 शिक्षकों ने फर्जी कागजात लगाकर नौकरी प्राप्त की थी। इन्होंने आगरा के डॉ. भीमराव अंबेडकर विश्वविद्यालय की बीएड की डिग्री लगाई थी, जो कूटरचित निकली। उप शिक्षा निदेशक की जांच में यह खुलासा हुआ था। बृहस्पतिवार को इनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई गई। इनसे वेतन की रिकवरी का भी प्रयास हो रहा है। जमालपुर क्षेत्र में दो अध्यापिकाओं के खिलाफ  प्राथमिकी दर्ज कराई गई।

इसमें प्राथमिक विद्यालय मठना की रामदुलारी देवी और प्राथमिक विद्यालय पिडिखिर की मालती सिंह हैं। खंड शिक्षा अधिकारी प्रदीप सिंह ने बताया कि दोनों पर केस जमालपुर थाने में दर्ज हुआ है। सीखड़ के प्राथमिक विद्यालय की शिक्षिका अर्चना देवी पर मुकदमा दर्ज कराया गया। कछवां क्षेत्र के केवटाबीर के पूर्व माध्यमिक विद्यालय के अध्यापक उमेशचंद्र  के खिलाफ कछवां थाने में केस दर्ज हुआ है।

कोटवा घीसाराम गांव निवासी दिव्या सिंह व रितु सिंह ने दस वर्ष पूर्व आगरा स्थित डाक्टर भीमराव अंबेडकर विवि से बीएड डिग्री ली थी, जो फर्जी पाई गई। बीईओ राममिलन यादव ने कन्या कर्मोत्तर जमुई में नियुक्त रितु सिंह व प्रदीप कुमार ने लहास में नियुक्त दिव्या सिंह के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। 
सभी शिक्षकों की बर्खास्तगी के साथ ही प्राथमिकी दर्ज कराने के निर्देश दिए गए थे। बृहस्पतिवार को प्राथमिकी दर्ज हुई। शासन के निर्देश पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। 
 वीरेंद्र कुमार सिंह, बीएसए।
... और पढ़ें

जौनपुर: मां के संपर्क में आए छह माह के बच्चे व स्वास्थ्य कर्मी समेत सात कोरोना पॉजिटिव मिले , सीएमओ कार्यालय सील

जौनपुर जिले में गुरुवार को कोरोना के सात पॉजिटिव केस मिले हैं। इसमें पांच प्रवासी हैं। पीड़ितों में छह माह और तीन वर्ष की मासूम भी शामिल हैं। इसके अलावा सीएमओ कार्यालय का कर्मचारी और बदलापुर सीएचसी के सामने जनरल स्टोर की दुकान चलाने वाले युवक की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। डीएम ने सीएमओ कार्यालय के दो तल को 24 घंटे के लिए सील करने के निर्देश दिए हैं। इस दौरान वहां किसी को भी प्रवेश की इजाजत नहीं रहेगी। सिर्फ सैनिटाइजेशन का कार्य होगा। जिले में अब कुल पॉजिटिव केस की संख्या 551 हो गई है। इसमें 66 एक्टिव केस हैं।

शहर के धरनीपुर सब्जी मंडी मोहल्ला निवासी युवक (38) सीएमओ कार्यालय में कोल्ड चेन हैंडलर के पद पर कार्यरत है। रैंडम जांच में 27 जून को उसका सैंपल लिया गया था। आज शाम आई रिपोर्ट में वह कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। उसमें कोरोना के कोई लक्षण स्पष्ट नहीं है। बदलापुर सीएचसी के सामने जनरल स्टोर की दुकान चलाने वाले सरोखनपुर गांव निवासी युवक (37) के भी सैंपल 27 जून को ही रैंडम जांच के दौरान लिए गए थे। वह भी पॉजिटिव पाया गया है।

सोंधी ब्लाक के बड़ागांव सरायमोहद्दीनपुर निवासी 20 वर्षीय युवती गाजियाबाद से 20 जून को ट्रेन से जौनपुर आई थी। स्वास्थ्य टीम ने उसका भी सैंपल लेकर 27 जून को जांच के लिए भेजा था। इसी गांव में 20 जून को ही मुंबई से आए दंपती की जांच रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है।
डीएम दिनेश कुमार सिंह ने बताया कि सीएमओ कार्यालय के कर्मचारी की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद कार्यालय के भूतल और प्रथम तल को सील कराया जा रहा है। कोरोना पीड़ित मिले कर्मचारी की इन दोनों तलों पर ही बराबर आना-जाना रहा है। कार्यालय परिसर में 24 घंटे तक सैनिटाइजेशन कार्य कराया जाएगा। उसके संपर्क में आए 26 लोगों का भी सैंपल कराया जा रहा है। धरनीपुर सब्जी मंडी का क्षेत्र भी कंटेनमेंट जोन घोषित करते हुए सील करने के निर्देश दिए गए हैं।

जिले में कोरोना का सबसे उम्र का मरीज भी गुरुवार को मिला। मुंबई से आए मड़ियाहूं के काजीपुर निवासी परिवार के छह माह के मासूम की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। उसकी मां पहले ही कोरोना से संक्रमित पाई गई थी। उसे पूविवि में बने कोविड-19 के एल-1 अस्पताल में रखा गया है। उसके साथ मासूम भी रह रहा था। जांच में वह पॉजिटिव पाया गया है। हालांकि अब उसकी मां की रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है। एक अन्य तीन साल की बच्ची भी कोरोना से संक्रमित पाई गई है। बरसठी के रसूलहां निवासी बच्ची मुंबई से 25 जून को परिवार के साथ गांव आई थी।
... और पढ़ें

आंध्र प्रदेश से वाराणसी लेकर आए थे 18 क्विंटल गांजा, एसटीएफ की टीम ने तीन को किया गिरफ्तार 

वाराणसी के जगतपुर इंटर कॉलेज के समीप से बुधवार की रात एसटीएफ की टीम ने दो ट्रक से 18.68 क्विंटल गांजा बरामद किया। बरामद गांजा के साथ बिहार के मुजफ्फरनगर के पागहिया रामपुर डोमन के शिवनाथ कुमार राम उर्फ सूरज व मोहम्मद साकिब और सीवान के बलिया पोखरा निवासी अमित कुमार सिंह को गिरफ्तार कर रोहनिया थाना की पुलिस को सौंप दिया गया।

तीनों के पास से तीन मोबाइल और 16 हजार रुपये भी बरामद हुए। एसटीएफ की वाराणसी इकाई के डिप्टी एसपी विनोद सिंह ने बताया कि सूचना मिली थी कि बिहार की ओर से जीटी रोड से दो ट्रकों से गांजा की बड़ी खेप बनारस आ रही है। इसके बाद गांजा को बनारस के साथ ही पूर्वांचल के अन्य जिलों में भेजा जाएगा।

सूचना के आधार पर इंस्पेक्टर अमित श्रीवास्तव, पुनीत परिहार व अरविंद सिंह, दरोगा आलोक सिंह और अभय विक्रम सिंह की टीम गठित की गई। मुखबिर की सूचना के आधार पर टीम ने नॉरकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के अधिकारियों के साथ जगतपुर इंटर कॉलेज के समीप छापा मारा तो दो ट्रक खड़े मिले। दोनों ट्रकों की तलाशी ली गई तो उसमें सामान के नीचे अलग से गांजा रखने के लिए जगह बनाई गई थी।

तीनों ने बताया कि बरामद गांजा आंध्र प्रदेश के सालूर निवासी माठी दादा के पास से लाया गया है। कोलकाता निवासी डब्बू सिंह और प्रेम सिंह ने कहा था कि सालूर से गांजा लेकर बनारस पहुंचो। बनारस में बताया जाएगा कि कैसे और किसको गांजा देना है। दोनों ट्रक पश्चिम बंगाल निवासी राम मनोहर यादव और रवींद्र की है। डिप्टी एसपी ने बताया कि तीनों अंतरराज्यीय मादक पदार्थ तस्कर गिरोह के सदस्य हैं। तीनों के आपराधिक इतिहास का पता लगाया जा रहा है।

किराए  के साथ अतिरिक्त 80 हजार देने की तय थी बात 

गिरफ्त में आए तीनों आरोपियों ने बताया कि उन्हें सालूर से बनारस तक गांजा लाने के लिए किराया के साथ ही 80 हजार रुपये अतिरिक्त देने की बात कही गई थी। 80 हजार रुपये के लालच में ही तीनों गांजा लेकर आए और पकड़े गए।
... और पढ़ें

सावन माह में लगने वाले कांवरिया शिविरों की तरफ से अपील ...घर में भजें विश्वनाथ, महादेव करेंगे कल्याण

भगवान विश्वेश्वर के प्रिय भक्तों, आप प्रतिवर्ष अटूट विश्वास के साथ काशी विश्वनाथ के दरबार में जल अर्पित करने आते हैं। हम आपकी सेवा के लिए सदैव तत्पर रहते हैं। हम तो इस साल भी सेवा के लिए तैयार हैं, लेकिन कोरोना संक्रमण इसकी इजाजत नहीं दे रहा है। विषम परिस्थितियों में हम आपसे अनुरोध करते हैं कि इस साल भी उसी विश्वास के साथ घर से भगवान विश्वनाथ का ध्यान करें।

घर पर ही पार्थिव शिवलिंग का निर्माण करें और सावन के सोमवार को उनका जलाभिषेक करें। बाबा से यह प्रार्थना करें कि अगले साल पुन: परंपरानुसार काशी आने का सौभाग्य मिले और हम आप की सेवा करके अनुगृहीत हों...

यह शिवभक्तों को भेजे जा रहे संदेश पत्र का मजमून है। श्री बाबा काशी विश्वनाथ भक्त सेवा समिति की ओर से देशभर के हजारों भक्तों को भेजा जा रहा है। कांवरिया सेवा शिविर संचालित करने वाले समिति के अध्यक्ष शिवशंकर वर्मा ने बताया कि संस्था ने तीन लाख से अधिक कांवरियों के नाम पते सुरक्षित रखे हैं। उन फोन नंबरों पर व्हाट्सएप के जरिए संदेश भेजे जा रहे हैं।
 
... और पढ़ें
कांवड़ यात्री कांवड़ यात्री

सोपोर आतंकी हमले के जांबाज पवन ने कहा- बच्चे को बचाने की खुशी पर साथी की शहादत का गम

कश्मीर घाटी में आतंकवादियों से मुठभेड़ के बीच मासूम बच्चे की जान बचाने वाले सीआरपीएफ के जवान पवन कुमार चौबे ने जिस बहादुरी का परिचय दिया वह बेहद प्रशंसनीय है। पवन ने "अमर उजाला" से बातचीत में कहा कि बच्चे को बचाने की खुशी के साथ ही साथी की शहादत का बहुत गहरा दुख है। 

अपने शुरुआती दिनों को याद करते हुए पवन ने बताया कि वह 2010 में सीआरपीएफ में भर्ती हुए। केरल में ट्रेनिंग पूरी करने के बाद 2011 से 2016 तक छतीसगढ़ और झारखंड में तैनात रहे। 2016 से जम्मू-कश्मीर के अलग-अलग इलाकों में तैनात हैं। बुधवार की सुबह साढ़े सात बजे सीआरपीएफ की टीम नाका के लिए आई थी। हर जगह पोस्ट पर दो-दो जवानों को बुलेटप्रूफ गाड़ी उतारकर आगे बढ़ रही थी।

बीपी मोर्चा के लिए बुलेटप्रूफ गाड़ी खड़ी हुई, तभी आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी। फायरिंग में साथी हेड कांस्टेबल दीपचंद वर्मा शहीद हो गए और तीन जवान घायल हो गए। इसी दौरान एक सिविलियन की भी मौत हो गई।

उनके शव पर बैठकर मासूम बालक रो रहा था। मैंने जवानों के सहयोग से छिपते हुए नजदीक जाकर बच्चे को इशारा कर बुलाया तो वह आ गया। गोद में लेकर उसकी जान बचाई। फिर, घायल साथियों को अस्पताल भिजवाया। तब तक सीआरपीएफ के तमाम बड़े अधिकारी भी आ गए। 

 

... और पढ़ें

गोली की आवाज से हुई चंदौलीवासियों की सुबह, पुलिस मुठभेड़ में 25 हजार का अंतर्जनपदीय इनामिया गिरफ्तार

चंदौली जिले के मुगलसराय कोतवाली में स्थित सपा कार्यालय के पास शुक्रवार की भोर में जांच के दौरान हुई मुठभेड़ में 25 हज़ार के अंतरजनपदीय इनामिया बदमाश को गिरफ्तार में पुलिस को सफलता मिली। मुठभेड़ में बदमाशों की ओर से चलाई गई गोली पुलिस की गाड़ी के शीशे को छेदते हुए पिछली सीट पर जा लगी।

बाद में अलीनगर और मुग़लसराय कोतवाली पुलिस की मुठभेड़ में बदमाश हाथ आया। इस दौरान एक गोली उसके पैर में जा लगी। बाद में पुलिस ने घायल बदमाश को उपचार के लिए राजकीय महिला अस्पताल में भर्ती कराया। जहां से उसे ट्रामा सेंटर के लिए भेज दिया गया। 

एडिशनल एसपी प्रेमचंद्र ने बताया मुगलसराय कोतवाली प्रभारी निरीक्षक शिवानंद मिश्रा, एसआई सतेंद्र विक्रम सिंह फोर्स के साथ सपा कार्यालय के पास शुक्रवार की भोर में लगभग तीन बजे वाहनों की जांच कर रहे थे। इस दौरान एक बाइक से दो संदिग्ध वाराणसी की ओर से आते दिखाई दि । इस पर पुलिस ने जब उन्हें रोकने का प्रयास किया, तो बदमाशों ने पुलिस की गाड़ी पर फायर कर दिया।
 
... और पढ़ें

गाजीपुर में मेडिकल फार्मा कंपनी के एरिया मैनेजर समेत दो मिले कोरोना पॉजिटिव

गाजीपुर जिले में शुक्रवार को नंदगंज थाने क्षेत्र के के बनगामा गांव निवासी मेडिकल फार्मा कंपनी के एरिया मैनेजर समेत दो की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने से हड़कंप मचा हुआ है। दोनों संक्रमितों को उपचार के लिए कोविड केयर सेंटर शम्मे गौसिया सहेड़ी में भर्ती कराया गया। 15 संक्रमितों के स्वस्थ होने पर उन्हें घर भेजा गया। अब जनपद में संक्रमितों की संख्या जहां 360 हो चुकी है। वहीं एक्टिव 48 तथा 308 स्वस्थ हो चुके हैं। अब तक संक्रमण की वजह से चार लोगों की मौत हो चुकी है।

उरांव निवासी एक प्रवासी महिला की रिपोर्ट गुरुवार की देर रात पॉजिटिव आई। महिला घर पर ही होम क्वारंटीन थी, जबकि नंदगंज के बनगांवा निवासी युवक मेडिकल फार्मा कंपनी में एरिया मैनेजर के पद पद पर तैनात है।

वह अक्सर वाराणसी की सप्तसागर दवा मंडी  जाता है और दो दिन पहले वाराणसी दवा मंडी गया था। इनके आरोग्य सेतु एप पर मैसेज आया कि आप किसी कोरोना मरीज के संपर्क में आए हैं। दो जुलाई को उसने जिला चिकित्सालय में ट्रू नेट मशीन पर अपना जांच कराई। 
... और पढ़ें

थाने आई महिला और लेडीज इंस्पेक्टर के बीच हुए विवाद में बीचबचाव करना युवक को पड़ा महंगा, जमकर हो गई पिटाई

फाइल फोटो
आजमगढ़ शहर कोतवाली परिसर में शुक्रवार को उस समय हंगामा हो गया जब मुख्य गेट के पास ही सादी वर्दी में मौजूद एक महिला सिपाही ने युवक की लाठी व थप्पड़ से पिटाई शुरू कर दी। हंगामे के दौरान काफी संख्या में राहगीरों की भीड़ कोतवाली गेट पर जुट गई। बाद में शहर कोतवाली व महिला थाने के सिपाहियों ने हस्तक्षेप कर मामला शांत कराया और युवक को कोतवाली के भवन में ले जाकर बैठा दिया गया। 

शहर कोतवाली परिसर में गेट के बगल में वादकारियों के बैठने की जगह निर्धारित है। शुक्रवार को एक महिला अपने भाई के साथ इसी जगह मौजूद थी। इसी दौरान सादी वर्दी में एक महिला सिपाही वहां पहुंची। सिपाही की किसी बात को लेकर भाई के साथ आई महिला से कहासुनी होने लगी। दोनों महिलाओं में कुछ हाथापाई की भी नौबत आयी तो भाई ने बीच बचाव किया।

इसी दौरान युवक का हाथ महिला सिपाही को लग गया। इसी बात पर सादी वर्दी में मौजूद महिला सिपाही भड़क उठी और हाथ पकड़े जाने का आरोप लगाते हुए युवक की पिटाई शुरू कर दिया। पहले तो थप्पड़ मारा और फिर एक सिपाही की लाठी लेकर उससे उसकी पिटाई करने लगे। कोतवाली गेट पर महिला सिपाही द्वारा युवक की पिटाई को देखकर काफी संख्या में राहगीर जुट गए।

भीड़ ज्यादा होने पर शहर कोतवाली व महिला थाने की सिपाहियों ने भीड़ को खदेडना शुरू किया। इसके साथ ही शहर कोतवाली पुलिस युवक को अपने साथ अपने परिसर में लेकर चली गई तो वहीं युवक की बहन को महिला थाना पुलिस ने अपने परिसर में ले जाकर बैठा दिया।

घटना का वास्तविक कारण क्या था यह न तो शहर कोतवाल ही बता रहे है न ही महिला थाना प्रभारी को ही इसकी जानकारी है। दोनों उस समय थाने पर मौजूद नहीं थे और पता करने के बाद ही कुछ कह पाने की बात कह रहे थे। वैसे शहर कोतवाल ने घटना होने की बात स्वीकार किया है और प्रकरण की जानकारी व जांच के बाद कार्रवाई की भी बात कही है। 
... और पढ़ें

जौनपुर: आम के बाग में लगाई गई बाड़ में उतरा करंट, बालिका की मौत

वाराणसी में एक बैंक अधिकारी समेत 20 लोग मिले कोरोना पॉजिटिव, एक की मौत 

वाराणसी में गुुरुवार को कोरोना से एक बेकरी शॉप चलाने वाले व्यक्ति की मौत हो गई। बुलानाला निवासी 65 वर्षीय मरीज की मौत के साथ अब कोरोना से मरने वालों की संख्या 21 पहुंच गई है। इसके अलावा 20 नए मरीजों में कोरोना की पुष्टि भी हुई है। इसमे बैंक अधिकारी, बीएचयू के पास रहने वाला युवक और चोलापुर में पांच लोग शामिल हैं। 

सीएमओ डॉक्टर वीबी सिंह ने बताया कि बुलानाला के ग्वालदास साहू लेन निवासी  65 वर्षीय  जिस मरीज की मौत हुई है वह हृदय रोग से पीड़ित थे और घर पर 1 जुलाई को मौत देर शाम हुई। जिसके बाद देर रात रिपोर्ट पाजिटिव आई है। बनकट हनुमान मंदिर निवासी 24 वर्षीय महिला, मिसिर पोखरा निवासी 33 वर्षीय, हनुमानपुर में 24 वर्षीय और खोजवा के किरिहिया निवासी 24 वर्षीय युवक भी संक्रमित हुआ है।

इसके अलावा बिल्डिंग वर्कर महावीर नगर टकटकपुर निवासी 42 वर्षीय, मिसिर पोखरा निवासी 62 वर्षीय और रामापुरा निवासी 25 वर्षीय महिला में कोरोना की पुष्टि हुई है। सीएमओ ने बताया कि पांडेयपुर नई बस्ती में रहने वाले 19 वर्षीय छात्र और महमूरगंज के शील नगर में रहने  वाली 42 वर्षीय और 17 वर्षीय महिला की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है।

इसके अलावा मंडुआडीह के गायत्री नगर कॉलोनी निवासी 26 वर्षीय युवक, शिवपुरवा के गोविंद नगर निवासी 50 वर्षीय और सिगरा के सिखा अपार्टमेंट में रहने 30 वर्षीय बैंक अधिकारी, बीएचयू के रहने वाले 29 वर्षीय युवक की कोरोना रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है।

गंगा प्रदूषण में 52 वर्षीय कांट्रेक्टर के साथ ही दानगंज चोलापुर से 29-55 26 और 19 वर्षीय पुरुष के साथ ही 26 वर्षीय महिला भी संक्रमित हुई है। बताया कि 10 मरीजों की लगातार दूसरी रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद उन्हें डिस्चार्ज किया गया। जिले में अब तक संक्रमित हुए 546 मरीजों में 317 डिस्चार्ज, 21 की मौत के बाद आइसोलेशन वार्ड में 208 का आईशोलेशन वार्ड में इलाज चल रहा है।
... और पढ़ें

घर बैठे लें दाखिला, पाठ्य सामग्री भी पहुंचेगी घर, इस यूनिवर्सिटी में कोरोना के बारे में सर्टिफिकेट और डिग्री कोर्स है उपलब्ध

कोरोना संक्रमण को देखते हुए विश्वविद्यालयों व कॉलेजों में अभी प्रवेश की प्रक्रिया नहीं शुरू हो पाई है। हालांकि इंटरमीडिएट की परीक्षा पास करने वाले अभ्यर्थियों के पास सर्टिफिकेट कोर्स के साथ ही डिप्लोमा कोर्स और डिग्री कोर्स के अवसर हैं। उत्तर प्रदेश राजर्षि टंडन मुक्त विश्वविद्यालय में 105 ऐसे कोर्स हैं जिसमें अभ्यर्थियों को घर बैठे न केवल दाखिला मिल सकता है, बल्कि उन्हें पाठ्यक्रम सहित अन्य पाठ्यपुस्तक सहित अन्य मटेरियल भी घर पर ही उपलब्ध हो जाएंगे।

विश्वविद्यालयों, महाविद्यालयों में प्रवेश की प्रक्रिया कब से शुरू होगी इस पर अभी कोई फैसला नहीं हो पाया है। ऐसे में इंटरमीडिएट परीक्षा पास करने वाले अभ्यर्थी आगे की पढ़ाई को लेकर चिंतित हैं। उत्तर प्रदेश राजर्षि टंडन मुक्त विश्वविद्यालय की ओर से एडमिशन की प्रक्रिया शुरू हो गई है।

छात्र- छात्राओं को इसकी जानकारी भी दी जा रही है। वाराणसी स्थित क्षेत्रीय कार्यालय के समन्वयक डॉ. सीके सिंह के मुताबिक इंटरमीडिएट के बाद बीए, बीएससी, बीकॉम के साथ ही अभ्यर्थी बीसीए, बीबीए और स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम के अलावा बहुत से कोर्स में दाखिला ले सकते हैं।

फूड प्रोसेसिंग, डेयरी टेक्नोलॉजी सहित कई पाठ्यक्रम में अवसर

राजर्षि टंडन मुक्त विश्वविद्यालय में इंटर के बाद बहुत सी संभावनाएं हैं। समन्वयक ने बताया कुलपति प्रो. केएन सिंह के निर्देशन में विश्वविद्यालय में डेयरी टेक्नोलॉजी, फूड प्रोसेसिंग, फॉरेंसिक साइंस, डिप्लोमा इन कंप्यूटर, जीआईएस सहित अन्य कोर्सों के अलावा अवेयरनेस सहित 105 पाठ्यक्रम  चलाए जा रहे हैं।

इसमे कोविड-19 जागरूकता पाठ्यक्रम, नागरिकता संशोधन अधिनियम पाठ्यक्रम, जीएसटी, एग्रीबिजनेस, बागवानी फॉरेंसिक साइंस सहित छह महीने के अवेयरनेस सर्टिफिकेट प्रोग्राम भी चलाए जा रहे हैं। इसके लिए अभ्यर्थियों को कहीं भाग दौड़ करने की जरूरत नहीं है। प्रवेश संबंधी जानकारी विश्वविद्यालय की वेबसाइट से प्राप्त की जा सकती है।
... और पढ़ें

ऑस्कर अवॉर्ड की ज्यूरी में शामिल होगा पूर्वांचल के इस जिले का होनहार, कई डाक्यूमेंट्री फिल्मों का सफल निर्देशन कर पाई शोहरत

फ्रांस के कॉन शहर में आयोजित होने वाले फिल्मी दुनिया का नोबल माने जाने वाले 93वें ऑस्कर अवॉर्ड कार्यक्रम के आयोजन को भले ही कोरोना के प्रकोप के चलते आगे खिसका दिया गया है। पर इस बार प्रतिष्ठित ऑस्कर अवॉर्ड में आने के लिए जिन 819 कलाकारों को  न्योता भेजा है उनमे यूपी के मऊ शहर के निवासी अमित मद्धेशिया भी  हैं। अमित की इस सफलता से परिवार वालों के साथ ही शहर के लोगों में खुशी है। लोग अमित के पिता डॉ. रामगोपाल गुप्ता को बधाई दे रहे हैं। 

दरअसल, अमित को कई इंटरनेशनल व दर्जनों राष्ट्रीय स्तरीय पुरस्कारों से नवाजा जा चुका है। 2017 में राष्ट्रपति पुरस्कार भी मिला। अमित की माता मंजू मद्धेशिया से कहा कि अमित के ज्यूरी में शामिल होने से जिले का नाम रोशन हुआ है। अमित अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष डा. राम गोपाल के पुत्र हैं।
 
... और पढ़ें

महामारी के संकट में जरूरतमंदों को खाना खिलाने वालों से पीएम मोदी होंगे रूबरू 

लॉकडाउन के दौरान काशी की जनता को भोजन बनाकर पहुंचाने और खिलाने में महती(महत्वपूर्ण) भूमिका निभाने वाले काशी के 103 लोगों से पीएम संवाद करेंगे। पीएमओ ने ऐसे लोगों की लिस्ट मांगी है। डीएम कौशल राज शर्मा ने ऐसे लोगों की जानकारी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष राहुल पांडेय से मांगी है।
वीडीए के सूत्र बताते हैं कि फौरी तौर पर 103 लोगों के नाम सामने आए हैं, जिन्होंने काशी की जनता को विषम परिस्थितियों में खाना खिलाने के लिए एड़ी-चोटी एक कर दी। व्यापारियों के अलावा होटल मालिकों और समाजसेवी संगठनों ने इसमें अपनी महती भूमिका निभाई। सर्वाधिक योगदान सिंधी समाज का रहा।


कईयों ने तो पब्लिक को भोजन कराने के लिए अपने घर, गोदाम व कार्यालय का पूरा खजाना ही खोल दिया। वीडीए के सूत्रों का कहना है कि 103 लोगों में से 30 लोग ऐसे हैं, जिनसे पीएम सीधा संवाद स्थापित करेंगे और जानेंगे। बाकी लोग भी लाइव रहेंगे लेकिन वह सिर्फ ऑनलाइन संवाद देखेंगे।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us