विज्ञापन
विज्ञापन
कब और कैसे अवतरित हुई थी माँ दुर्गा ? जानें पौराणिक कथा
Kundali

कब और कैसे अवतरित हुई थी माँ दुर्गा ? जानें पौराणिक कथा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

आजाद हिंद सरकार का स्थापना दिवस पर इंद्रेश कुमार ने कही बड़ी बात, सुभाष होते तो देश विभाजन का दर्द नहीं झेलता 

आजाद हिंद सरकार का स्थापना दिवस बुधवार को वाराणसी के लमही स्थित सुभाष मंदिर में मनाया गया। विशाल भारत संस्थान की ओर से आयोजित कार्यक्रम में आजाद हिंद बाल बटालियन ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस को सलामी दी। सुभाष कथा सुनाई और आजाद हिंद सरकार का राष्ट्रगान गाया।

मुख्य अतिथि आरएसएस के वरिष्ठ प्रचारक इंद्रेश कुमार ने कहा कि नेताजी को पता था कि अंग्रेज जाते समय देश का विभाजन कर सकते हैं, उन्होंने गांधी जी को चेताया भी था। इतिहासकारों ने उनके साथ न्याय नहीं किया। सुभाष होते तो देश विभाजन का दर्द नहीं झेलता।

सुभाषवादी विचारक तपन कुमार घोष ने कहा कि पंचवर्षीय योजना से लेकर राष्ट्रभाषा हिंदी ही हो ऐसी योजना सुभाष सरकार की ही थी। इस दौरान संगोष्ठी को डॉ. राजीव श्रीवास्तव चट्टो बाबा, ऋषि द्विवेदी, आत्म प्रकाश सिंह, रमेश शर्मा, आनंद मिश्रा, नजमा, नाजनीन, डॉ. मृदुला ने संबोधित किया। संचालन अर्चना भारतवंशी और धन्यवाद मो.अजहरूद्दीन ने दिया।
... और पढ़ें

यूपी: नगर विकास मंत्री ने अखिलेश और राहुल गांधी पर साधा निशाना, बोले- दोनों को कोई गंभीरता से नहीं लेता

प्रदेश के नगर विकास एवं जिले के प्रभारी मंत्री आशुतोष टंडन ने कहा कि दीपावली से पहले वाराणसी नगर निगम की सभी सड़कें बन जाएंगी। मंत्री ने कहा कि शहर की सड़कों को गड्ढामुक्त करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दुर्गा पूजा से पहले पूरा करने का निर्देश दिया था। इसमें काफी काम हुआ है, बाकी कार्य हर हाल में दीपावली से पूरा हो जाएगा। 

नगर विकास मंत्री ने पत्रकारों के सवाल पर सपा और कांग्रेस पर निशाना साधा। कहा कि उपचुनाव में भाजपा सभी सीटें जीत रही है। विपक्षी पार्टी हताश और निराश हैं। विपक्ष के पास कोई मुद्दा नहीं है। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव विदेश में रहते हैं और पार्टी की ओर से ट्वीट करते हैं। वह केवल ट्वीट की राजनीति जानते हैं।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्हें कोई गंभीरता से नहीं लेता।  पेयजल के सवाल पर पत्रकारों से कहा कि पिछली सरकारों के पाप हैं जिसे धोया जा रहा है। जल्द ही सभी सुविधाएं बेहतर होंगी। सदन की बैठक के लिए नए भवन बनाने के सवाल पर कहा कि प्रस्ताव बनाया जा रहा है।

पत्रकारों से बातचीत से पूर्व मंत्री ने बुधवार को सर्किट हाउस में नगर विकास के कार्यों की समीक्षा की। इस दौरान मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना में नगरी क्षेत्र में 17727 पात्रों को आवास दिए गए। अमृत योजना के अधिकांश कार्य पूर्ण हो चुके हैं। शहर में 2300 सर्विलांस कैमरा मार्च, 2021 तक लग जाएंगे।
 
... और पढ़ें

अनुप्रिया पटेल का 'लेटर वॉर' जारी, जानिए सारे विवाद की असली वजह

पूर्व केंद्रीय मंत्री व मिर्जापुर सांसद अनुप्रिया पटेल और जिलाधिकारी सुशील कुमार पटेल के बीच चल रहे लेटर वॉर में एक और प्रकरण जुड़ गया। राजकीय इंटर कालेज परिसर में संचालित केंद्रीय विद्यालय की बिजली काट दी गई है। इस पर प्रधानाचार्य रूपाली ने पत्र लिखकर इस समस्या से सांसद को अवगत कराया।

विद्यालय की प्रधानाचार्य के पत्र का संज्ञान लेते हुए सांसद ने डीएम को पत्र लिखकर बिजली काटने का कारण पूछा। साथ ही केंद्रीय विद्यालय की बिजली काटने को शिलान्यास प्रकरण से जोड़ते हुए सवाल भी किया। पूछा कि इस मामले को शिलान्यास से क्यों जोड़ा जा रहा है। इस संबंध में जिला प्रशासन की ओर से कुछ भी बताने से बचा जा रहा है। 

बता दें कि विकास कार्यों को लेकर सांसद अनुप्रिया पटेल लगातार जिलाधिकारी सुशील कुमार पटेल को पत्र लिखकर जवाब मांग चुकी हैं। अदलहाट में जलशक्ति मिशन परियोजना के शिलान्यास पर भी डीएम से जवाब मांगा है। इस बीच केंद्रीय विद्यालय की बिजली काटने का मामला आग गया। सांसद के ड्रीम प्रोजेक्ट में भी केंद्रीय विद्यालय है।

राजकीय इंटर कालेज परिसर में केंद्रीय विद्यालय का संचालन डेढ़ वर्ष से हो रहा है। सांसद के ड्रीम प्रोजेक्ट में से एक इस विद्यालय को डेढ़ वर्ष से नि:शुल्क बिजली दी जा रही थी। अचानक मंगलवार की रात इस विद्यालय की बिजली काट दी गई और कहा गया कि अब उनको बिजली के लिए शुल्क देना होगा।
 
... और पढ़ें

बलिया हत्याकांड : सात महिलाओं ने वीडियो जारी कर दी आत्मदाह की चेतावनी, आज तक का अल्टीमेटम

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

ज्ञानवापी प्रकरण: सेंट्रल सुन्नी वक्फ बोर्ड की निगरानी याचिका विचारार्थ स्वीकार, अगली सुुनवाई 12 नवंबर को

वाराणसी के प्राचीन मूर्ति स्वयंभू ज्योतिर्लिंग भगवान विश्वेश्वरनाथ से संबंधित ज्ञानवापी मामले में गुरुवार को जिला जज यूसी शर्मा की अदालत ने सेंट्रल सुन्नी वक्फ बोर्ड की निगरानी याचिका विपक्षियों की आपत्ति खारिज करते हुए विचारार्थ स्वीकार कर लिया। अदालत ने इस पर विस्तृत सुनवाई के लिए 12 नवंबर की तिथि नियत की है।

जिला जज की अदालत ने कहा कि अधीनस्थ अदालत ने अवधारित किया है कि वर्ष 1991 से लंबित इस मामले में उसे सुनवाई का अधिकार है। प्रकरण को सेंट्रल सुन्नी वक्फ बोर्ड लखनऊ को संदर्भित करने की आवश्यकता नही है।

इस आदेश के खिलाफ सत्र अदालत को सुनवाई का अधिकार है। विपक्षी भगवान विश्वेश्वरनाथ के वाद मित्र की तरफ से पेश की गई नजीरें लागू नही होती हैं। ऐसे में इस निगरानी को सिविल निगरानी के रूप में स्वीकार किया जाता है। इसे निगरानी याचिका दर्ज करते हुए निस्तारण के वास्ते और अग्रिम आदेश हेतु 12 नवंबर की तिथि नियत की जाती है।

अदालत का आदेश आने के बाद वक्फ बोर्ड के अधिवक्ता तौहीद खान अहमद ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि सत्र अदालत ने पहले ही देर से याचिका दाखिल करने पर तीन हजार का जुर्माना लगाते हुए निगरानी की ग्राह्यता पर सुनवाई के लिए विपक्षी से आपत्ति मांगी थी।
 
... और पढ़ें

वाराणसी: सात लोग कोरोना पॉजिटिव मिले, कल बंद रहेगी दीवानी कचहरी

वाराणसी जिला एवं सत्र न्यायालय में फास्ट ट्रैक कोर्ट के सिविल जज सहित सात लोग गुरुवार को जांच में कोरोना पॉज़िटिव पाए गए हैं। इसे देखते हुए सैनिटाइजेशन के लिए शुक्रवार को दीवानी कचहरी बंद रहेगी। 

अदालत परिसर में 43 लोगों के कोविड-19 की जांच (एंटीजन टेस्ट) की गई थी। इसमें सिविल जज फास्ट ट्रैक कोर्ट, एसीजेएम पंचम के पेशकार, सिविल जज जूनियर डिवीजन का अर्दली, मुंसिफ मजिस्ट्रेट-पंचम का अर्दली, मुंसिफ मजिस्ट्रेट और दो अधिवक्ता कोरोना पॉज़िटिव पाए गए।

कोरोना रोकथाम उपचार उपचार समिति के अध्यक्ष विशेष न्यायाधीश लोकेश राय की रिपोर्ट के बाद जिला जज उमेश चंद्र शर्मा ने 23 अक्टूबर को न्यायालय परिसर बंद रखने का आदेश दिया है। इस अवधि में पूरे न्यायलय परिसर का सैनिटाइजेशन कराया जाएगा।

उन्होंने संबंधित अधिकारियों और कर्मचारियों को हिदायत दी है कि अदालत परिसर में कोरोना महामारी को लेकर किसी तरह की लापरवाही न बरती जाए। उधर, अधिवक्ताओं ने आरोप लगाया कि कलक्ट्रेट में लापरवाही बरती जा रही है और सैनिटाइजेशन भी नही कराया जा रहा है।
... और पढ़ें

बलिया हत्याकांड: मुख्य आरोपी को थाने लाकर पुलिस ने शुरू की पूछताछ, घर ले जाकर की असलहा की तलाश

पुलिस की रिमांड में मुख्य आरोपी धीरेंद्र।
बलिया जिले के दुर्जनपुर हत्याकांड के मुख्य आरोपी धीरेंद्र प्रताप सिंह उर्फ डब्लू को पुलिस ने अपनी कस्टडी में ले लिया है। उसे जिला कारागार से सीधे रेवती थाना ले जाया गया है। वहां इस वक्त उससे एक बंद कमरे में थाना प्रभारी/विवेचक प्रवीण कुमार सिंह पूछताछ कर रहे हैं।
पुलिस ने धीरेंद्र को 48 घंटों के रिमांड पर लेने के बाद मेडिकल चेकअप कराया। उसके बाद आरोपी को 11 बजे रेवती थाना लेकर आई। अधिवक्ता बृजेश सिंह थाने पर साथ रहे। बंद कमरे में आवश्यक पूछताछ करने के बाद पुलिस धीरेंद्र को दुर्जनपुर स्थित उसके आवास पर ले गई। आवास पर पहुंचते ही घर की महिलाएं आरोपी से लिपट कर रोने लगीं। अभी पुलिस आरोपी के घर में आरोपी के साथ बातचीत में लगी हुई है।


कोर्ट ने पुलिस रिमांड की अर्जी स्वाकीर
बलिया के सीजेएम कोर्ट ने बुधवार को मुख्य आरोपी धीरेंद्र प्रताप सिंह डब्लू की पुलिस कस्टडी रिमांड कोर्ट ने स्वीकार कर ली थी। कोर्ट ने 48 घंटे की रिमांड की अनुमति देते हुए आरोपी को अधिवक्ता साथ रखने की छूट दी, जो पुलिस कार्रवाई में हस्तक्षेप किए बिना दूर से कार्रवाई को देख सकता है।

थानाध्यक्ष रेवती प्रवीण कुमार सिंह की ओर से अभियोजन अधिकारी अधिवक्ता ओंकार त्रिपाठी व शिवबचन राम ने कोर्ट सीजेएम रमेश कुशवाहा की कोर्ट में सात दिन की रिमांड की मांग करते हुए कहा कि 15 अक्तूबर को दुर्जनपुर गांव में जयप्रकाश पाल की हत्या के बाद आरोपी शस्त्र समेत फरार था।
... और पढ़ें

काशी की असि नदी को पुनर्जीवित करने की तैयारी में प्रशासन, जमीन पर अवैध कब्जे होंगे ध्वस्त

पौराणिक महत्व वाली असि नदी को पुनर्जीवित करने के लिए वाराणसी जिला प्रशासन बड़े अभियान की तैयारी में है। नदी की जमीन को कब्जा मुक्त कराने के लिए जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा की पहल पर सर्वे शुरू किया गया है। जिलाधिकारी ने चार विभागों की संयुक्त टीम बनाई है और यह टीम सर्वे के बाद रिपोर्ट देगी।
इसके बाद विकास प्राधिकरण सरकारी जमीनों पर बने अवैध भवनों को ध्वस्त करेगा। वहीं, नदी किनारे ग्रीन बेल्ट में बने अवैध भवनों को चिह्नित कर इन पर भी कार्रवाई की जाएगी।


असि नदी को पुनर्जीवित करने की मांग लंबे समय से उठाई जा रही है। पिछले दिनों बीएचयू के शोध छात्रों और विशेषज्ञों ने असि नदी को पुनर्जीवित करने के लिए रिपोर्ट जिला प्रशासन को सौंपी थी। अब असि नदी के क्षेत्र का सर्वे कराकर सरकारी जमीनों को चिह्नित किया जाएगा।
... और पढ़ें

यूपी: वाराणसी में एक किशोरी का आपत्तिजनक फोटो सोशल मीडिया पर पोस्ट करने से परिवार परेशान, मुकदमा दर्ज

वाराणसी में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। कुछ युवकों ने एक किशोरी की आपत्तिजनक फोटो सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दी। इससे परिजनों में हड़कंप मच गया है। किशोरी के परिजनों ने इसकी सूचना पुलिस को दी है।
पुलिस ने सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक फोटो भेजने के मामले में अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। जंसा थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी व्यक्ति ने तहरीर देकर पुलिस को बताया कि उनकी 15 वर्षीय भतीजी की फोटो के साथ कुछ युवकों की फोटो को जोड़ कर सोशल मीडिया के अलग-अलग प्लेटफार्म पर पोस्ट किया जा रहा है।


भतीजी की आपत्तिजनक फोटो के चलते पूरा परिवार परेशान है। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर प्रकरण की जांच शुरू कर दी है।
... और पढ़ें

वाराणसी: परिजनों पर देखभाल न करने का आरोप लगाकर प्रेमी से शादी पर अड़ी

वाराणसी: बुनकरों के साथ कांग्रेस का प्रदर्शन, शास्त्री घाट पर बैठकर सरकार से कर रहे ये मांग

वाराणसी में बुनकर गुरुवार को फिर से अपनीं मांगों को लेकर धरना-प्रदर्शन पर उतर आए हैं। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के आह्वान पर शास्त्री घाट पर बड़ी संख्या में बुनकर जुट आए हैं। बिजली रेट पर मिलने वाली पुरानी सब्सिडी की व्यवस्था को फिर से बहाल करने की मांग कर रहे हैं।
घाट की सीढ़ियों पर भी प्रदर्शन चल रहा है। उन्होंने अपर नगर मजिस्ट्रेट चतुर्थ को अपनीं मांगों को लेकर ज्ञापन सौंपा है।


इससे पहले बुधवार को जवाहर नगर स्थित प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय कार्यालय पर बुनकरों ने मानव श्रंखला बनाकर विरोध कर रहे थे। उन्होंने बिजली रेट पर सरकार द्वारा लाई गई नई व्यवस्था को हटाने की मांग की थी।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X