विज्ञापन
विज्ञापन
घर बैठें निशुल्क जन्मकुंडली बनवाने हेतु अभी क्लिक करें !
Kundali

घर बैठें निशुल्क जन्मकुंडली बनवाने हेतु अभी क्लिक करें !

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

यूपीः हाईकोर्ट का आदेश- पार्कों और खेल के मैदानों से हटाया जाए अतिक्रमण, तीन महीने में मांगी रिपोर्ट

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने प्रदेश के सभी सार्वजनिक पार्कों और खेल के मैदानों से अतिक्रमण हटाने का निर्देश दिया है। कोर्ट ने मुख्य सचिव को इस संबंध में दिशा निर्देश जारी कर आदेश के अनुपालन की रिपोर्ट तीन माह में प्रस्तुत करने का निर्देश दिया है। आदेश पारित करते हुए अदालत ने टिप्पणी की कि पर्यावरण संरक्षण राज्य का वैधानिक दायित्व है। रोजगार और राजस्व पर लोक स्वास्थ्य, जीवन एवं पर्यावरण को वरीयता दी जानी चाहिए।

राम भजन सिंह की जनहित याचिका पर सुनवाई कर रही न्यायमूर्ति अभिनव उपाध्याय और न्यायमूर्ति प्रकाश पाडिया की पीठ ने कहा है कि सभी पार्कों का स्थानीय निकायों की मार्फत ठीक से रखरखाव किया जाए ताकि आम लोग पार्कों का उपयोग कर सकें। कोर्ट ने कहा कि पार्कों में किसी को भी कूड़ा  डालने, इकट्ठा करने या अन्य उपयोग में लाने की अनुमति न दी जाए।

कोर्ट ने प्रदेश के मुख्य सचिव को सभी पार्कों, खेल मैदानों का सही रखरखाव करने के लिए सक्षम प्राधिकारियों को दिशानिर्देश जारी करने का निर्देश दिया है। याची का कहना है कि उसके आवास के सामने सेक्टर 11 विजय नगर ,गाजियाबाद में स्थित नगर निगम के पार्क का अतिक्रमण कर लिया गया है। उसका उपयोग वाहन खड़ा करने के लिए किया जा रहा है, जबकि जिलाधिकारी ने कहा कि पार्क के स्वरूप में कोई बदलाव नहीं किया गया है। इस पर कोर्ट ने कहा कि निगम या प्राधिकरण पार्क के रखरखाव करने के लिए कानूनी तौर पर बाध्य है। वे अपने वैधानिक दायित्व से बच नहीं सकते।

कोर्ट ने कानून एवं सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों का हवाला देते हुए कहा कि पार्कों, खेल मैदानों के अतिक्रमण पुलिस से हटवाए जाएं और उनका रखरखाव किया जाए। कोर्ट ने कहा कि पार्क में कूड़ा फेंकना कानूनन अपराध है। ऐसा करने वाले पर अर्थ दंड और एक माह के जेल की सजा दी जा सकती है।

पार्कों, खेल मैदानों की देखभाल स्थानीय निकायों की जिम्मेदारी

हाईकोर्ट ने कहा कि स्थानीय निकायों की वैधानिक जिम्मेदारी है कि वह पार्कों खेल मैदानों की देखभाल करें। देश के स्वस्थ पर्यावरण के लिए यह जरूरी भी है। संविधान का अनुच्छेद 21 प्रदूषण मुक्त जीवन का अधिकार देता है। विकास के नाम पर उद्योग लगाकर इस अधिकार में कटौती नही की जा सकती है। कोर्ट ने कहा कि संविधान का अनुच्छेद 51ए नागरिकों के कर्तव्य बताता है। प्रत्येक नागरिक का कर्तव्य है कि वह पार्कों, खेल मैदानों की स्वच्छता का ध्यान रखे। 
... और पढ़ें
Allahabad High Court Allahabad High Court

काशी के सांसद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी फेरी, पटरी, ठेला-खोमचा वालों से करेंगे संवाद

काशी के सांसद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 27 अक्तूबर को अपने संसदीय क्षेत्र के फेरी, पटरी, ठेला खोमचा वालों से संवाद करेंगे। इस दौरान पीएम स्व निधि योजना के तहत फेरी, पटरीवालों को व्यापार करने के लिए 10000 रुपये का ऋण देंगे जिसे फेरी वाले धीरे-धीरे करके चुकाएंगे और व्यापार बढ़ाएंगे। इस दौरान पीएम कुछ फेरी पटरी वालों से बातचीत करेंगे और उनका दुख दर्द बांटेंगे। इसकी तैयारी जोरों पर चल रही है।

नगर आयुक्त गौरांग राठी ने बताया कि प्रधानमंत्री से बातचीत करने वालों में 3 नाम अभी फाइनल किए गए हैं। इनमें दुर्गाकुंड के मोमो विक्रेता अरविंद मौर्या, इंग्लिशिया लाइन के चाट विक्रेता शशि गुप्ता और सिगरा के रोल विक्रेता आनंद कुशवाहा शामिल हैं। बाकी अभी और नाम जोड़े जाएंगे।
... और पढ़ें

भक्तों के लिए अच्छी खबर, जल्द खुलेंगे बांकेबिहारी मंदिर के पट, अदालत ने दिया आदेश

ठाकुर बांकेबिहारी के भक्तों के लिए अच्छी खबर है। वृंदावन के बांकेबिहारी मंदिर के पट श्रद्धालुओं के लिए फिर से खुलेंगे। याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए अदालत ने शुक्रवार को पूर्व आदेश के अनुसार मंदिर खोलने के निर्देश दिए। इस आदेश से मंदिर खोलने की मांग को लेकर धरना-प्रदर्शन कर रहे साधु-श्रद्धालु और दुकानदारों को राहत मिली है। 

कोरोना के कारण 22 मार्च से बंद बांकेबिहारी मंदिर के पट बंद थे। सिविल जज जूनियर डिवीजन की अदालत के आदेश पर 15 अक्तूबर को मंदिर के पट श्रद्धालुओं के लिए खोले गए, लेकिन भीड़ उमड़ने के कारण मंदिर प्रबंधक मुनीश शर्मा ने 19 अक्तूबर से फिर मंदिर बंद करने के आदेश दे दिए। इससे श्रद्धालुओं में रोष पैदा हो गया। 


हिमांशु गोस्वामी, प्रदीप गोस्वामी और छह अन्य ने अदालत में मंदिर को खोलने के लिए प्रार्थनापत्र दिया। अधिवक्ता महेंद्र प्रताप सिंह और अधिवक्ता राजेंद्र माहेश्वरी ने सिविल जज जूनियर डिवीजन की अदालत में मंदिर खोलने के लिए याचिका दायर की। जज ने सुनवाई की तारीख चार नवंबर तय की। 
... और पढ़ें

बीएससी की छात्रा बनी एक दिन की विधायक, लगाया जनता दरबार, महिला अस्पताल पहुंचकर जाना मरीजों का हाल

1
मिशन शक्ति अभियान के तहत डिग्री कालेज की छात्रा एक दिन के लिए विधायक बनी। विधायक के रूप में छात्रा ने सपा कार्यालय पर जनता दरबार लगाया। तहसील, ब्लॉक, कोतवाली और महिला अस्पताल का भी दौरा किया। 

लोगों की समस्याएं जानीं। मोहम्मद इरफान रॉयल गर्ल्स डिग्री कालेज में शुक्रवार की सुबह मिशन शक्ति अभियान के तहत गोष्ठी हुई। गोष्ठी में मुख्य अतिथि के तौर पर पहुंचे सपा विधायक और डिग्री कालेज के अध्यक्ष मोहम्मद फहीम इरफान ने सुझाव रखा कि कालेज की बीएससी फाइनल ईयर की मेधावी छात्रा चंद्रिका डांगुर को नारी सशक्तीकरण अभियान के तहत एक दिन का विधायक नामित किया जाए। वह सरकारी अस्पतालों में जाकर व्यवस्थाएं देखें।

छात्रा चंद्रिका डांगुर ने सफेद लिबास पहनकर अपने साथ छात्रा कनिष्का तोमर को पीआरओ और छात्रा पारखी सिंह को पीए के रूप में लेकर सबसे पहले विधायक द्वारा सपा कार्यालय पर लगाए गए जनता दरबार में विधायक के रूप में पहुंचकर जनता की समस्याएं सुनीं। इन सभी समस्याओं को सूचीबद्ध करके चंद्रिका डांगुर तहसील पहुंचकर एसडीएम से मिलीं और जन समस्याओं का ज्ञापन दिया।

तहसील के पास विधायक के रूप में छात्रा नगर के राजकीय महिला अस्पताल पहुंची। यहां महिला स्टाफ से मिलकर व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी ली। बाद में अस्पताल में भर्ती मरीजों और तीमारदारों से वार्ता की। अस्पताल के बाद चंद्रिका डांगुर कोतवाली पहुंचीं। 

यहां प्रभारी निरीक्षक से मिलकर कोतवाली के जन शिकायत रजिस्टर देखे और महिला हेल्प डेस्क के बारे में जानकारी ली। कोतवाली के बाद ब्लॉक कार्यालय पहुंचकर बीडीओ और एडीओ  से मिलीं और विकास कार्यों की स्थिति जानी। छात्रा चंद्रिका डांगुर के इस अभियान के दौरान बिलारी के सपा विधायक मोहम्मद फहीम इरफान भी उनके साथ रहे।
... और पढ़ें

हाथरसः पुलिस ने छापे में 4.20 करोड़ रुपये का 840 किलो अवैध गांजा किया बरामद

पुलिस क्षेत्राधिकारी के नेतृत्व में कोतवाली सादाबाद पुलिस और एसओजी की टीम हाथरस ने संयुक्त रूप से कार्रवाई करते हुए सुबह करीब चार बजे हाथरस रोड पर भार्गव कॉलोनी के सामने एक प्लॉट पर छापा मारा। पुलिस ने मौके से 840 किलो अवैध गांजे के अलावा एक ट्रक, एक होंडा अमेज कार और दो मोबाइल फोन भी बरामद किए हैं। पुलिस के मुताबिक अंतर्राष्ट्रीय बाजार में इस गांजे की कीमत 4.20 करोड़ रुपये है। जिस समय पुलिस टीम वहां पहुंची, उस समय कुछ लोग वहां ट्रक और कार से पैकेट उताकर प्लॉट की नींव में रख रहे थे। पुलिस को देखकर यह लोग अंधेरे का फायदा उठाकर भागने में सफल रहे।

 पुलिस अधीक्षक हाथरस विनीत जायसवाल के आदेशानुसार चलाए जा रहे अभियान के तहत सीओ सादाबाद ब्रह्मा सिंह के नेतृत्व में सादाबाद पुलिस और एसओजी की टीम ने मुखबिर की सूचना पर भार्गव कॉलोनी में हंसराज के मकान के सामने निमार्णाधीन प्लॉट पर दबिश दी। पुलिस टीम ने जब मौके पर छानबीन की तो वहां काफी मात्रा में गांजा बरामद हुआ। कुछ अवैध गांजा ट्रक और कार में और कुछ अवैध गांजा निमार्णाधीन प्लॉट की नींव में रखा था। पुलिस टीम ने मौके से कुल 840 किलोग्राम अवैध गांजा व एक ट्रक यूपी 83 टी-6519 व एक होंडा अमेज कार संख्या यूपी 80 ईएल-1331 व दो मोबाइल फोन मौके से बरामद किए। एसपी ने बताया कि पुलिस ने मौके से फरार अभियुक्तों को चिन्हित करने की कार्यवाही शुरू कर दी गई है। शीघ्र ही उनकी गिरफ्तारी की जाएगी।

तीन नामजद, एक अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज
पुलिस ने ट्रक नंबर को मोबाइल एप डालकर देखा तो पता चला कि उसका पंजीकृत स्वामी अमर सिंह पुत्र पूरन सिंह निवासी मीर कटरा शिकोहाबाद जिला फिरोजाबाद है। होंडा अमेज कार का नंबर डालकर देखा तो उसकी पंजीकृत स्वामी संगीता अग्रवाल पत्नी विशाल अग्रवाल निवासी सिकंदरा आगरा निकलीं। पुलिस ने आसपास के लोगों से जानकारी की तो लोगों ने बताया कि यह प्लॉट शौर्य कुमार अग्रवाल पुत्र विशाल अग्रवाल निवासी द्वारिकापुरी शास्त्रीपुरम सिकंदरा 

ट्रक से 69, कार से 17, प्लॉट से 54 पैकेट हुए बरामद 
पुलिस ने 69 पैकेट ट्रक की केबिन से, 17 पैकेट होंडा अमेज कार की डिग्गी से और 54 पैकेट निर्माणाधीन प्लॉट की नींव से बरामद किए। इस तरह कुल 140 पैकेट गांजा बरामद किया गया, जिसका कुल वजन आठ क्विंटल 40 किलो पाया गया। 

टीम में ये रहे शामिल 
कार्रवाई करने वाली पुलिस टीम में निरीक्षक मुनीश चंद्र एसओजी प्रभारी हाथरस, उपनिरीक्षक रामदास यादव थाना सादाबाद, उपनिरीक्षक मुन्नालाल थाना सादाबाद, हेड कांस्टेबल जवाहर एसओजी टीम हाथरस, कांस्टेबल रिंकू थाना सादाबाद, कांस्टेबल सचिन शर्मा एसओजी टीम हाथरस, कांस्टेबल शीलेश कुमार एसओजी टीम हाथरस, कांस्टेबल सोनवीर सिंह एसओजी टीम हाथरस, कांस्टेबल जोगेंद्र सिंह एसओजी टीम हाथरस और कांस्टेबल चेतन राजौरा एसओजी टीम हाथरस शामिल रहे। 

पुलिस टीम को 15 हजार रुपये का ईनाम
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि भारी मात्रा में अवैध गांजे की बरामदगी करने वाली पुलिस टीम को इस सराहनीय कार्य के लिए 15,000 रुपये के नगद पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा।
... और पढ़ें

ताजनगरी में धुंध ने दी दस्तक, एक डिग्री लुढ़का पारा, हवा में घुले खतरनाक धूल कण

सीएम योगी ने मिशन शक्ति का किया आगाज, 6 महीने 500 बेटियों को इंसाफ दिलाएगी पुलिस

प्रदेश भर में शुक्रवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मिशन शक्ति का आगाज किया। इसके तहत महिलाओं पर होने वाले अपराध को रोकना और उन्हें न्याय दिलाना है। इसकी शुरुआत के साथ ही गोरखपुर के एसएसपी जोगेंद्र कुमार ने कहा कि जिले के हर सीओ, थानेदार और दरोगा को एक-एक महिला अपराध से जुड़े एक-एक मामलें में सौंपे जाएंगे। इन मामलों में गवाही से लेकर पैरवी तक पुलिस करेगी। पुलिस वालों को टारगेट दिया गया है कि छह महीने के भीतर कम से कम हर विवेचक अपने एक मामले में सजा करा दें।

शुक्रवार को खोराबार थाने के साथ ही जिले के सभी थानों पर महिलाओं, छात्राओं को बुलाकर सीएम की बात को ऑनलाइन सुनाया गया। खोराबार थाने में इसका भव्य आयोजन किया गया था। यहां पर एडीजी दावा शेरपा, डीआईजी राजेश डी मोदक, कमिश्नर जयंत नार्रिकर, डीएम विजेंद्र पांडियन, एसएसपी जोगेंद्र कुमार, एसपी सिटी डॉ. कौस्तुभ समेत सभी अधिकारी मौजूद थे।

महिलाओं को सम्मान व स्वालंबन के विषय में सरकार द्वारा चलाए जा रहे अभियान व कानून तथा सुविधाओं के बारे में जागरूक किया गया। पूरे प्रदेश के 1535 थानों पर महिला हेल्प डेस्क की शुरूआत शुक्रवार से की गई। इसमें प्रदेश के 18 थानों पर सीएम से वर्चुअल मीटिंग के जरिए महिलाओं से सीधे बात करने की व्यवस्था की गई थी।

 
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X