विज्ञापन
विज्ञापन
जल्दी कीजिये, आर्थिक परेशानियों से छुटकारा पाने का आख़िरी मौका ! आज ही बुक करें महालक्ष्मी पूजन
Puja

जल्दी कीजिये, आर्थिक परेशानियों से छुटकारा पाने का आख़िरी मौका ! आज ही बुक करें महालक्ष्मी पूजन

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

अखिलेश पर मायावती का बड़ा हमला, कहा- सपा को हराने के लिए भाजपा को भी देंगे वोट

बसपा प्रमुख मायावती ने गुरुवार को बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी ने लोकसभा चुनाव के दौरान सांप्रदायिक ताकतों से लड़ने के लिए सपा से हाथ मिलाया था। लेकिन उनके परिवारिक अंतरकलह के कारण बसपा के साथ गठबंधन कर भी वो ज्यादा लाभ नहीं उठा पाए। मायावती ने स्पष्ट कहा है कि राज्यसभा चुनावों में हम सपा प्रत्याशियों को बुरी तरह हराएंगे। इसके लिए हम अपनी पूरी ताकत झोंक देंगे। इसके लिए अगर हमें भाजपा या किसी अन्य पार्टी के प्रत्याशी को अपना वोट देना पड़े तो हम वो भी करेंगे।
 

इसके साथ ही मायावती ने राज्यसभा चुनाव में बगावत करने वाले सात विधायकों के निलंबन का भी एलान किया है। मायावती ने विधायक असलम राइनी ( भिनगा-श्रावस्ती), असलम अली (ढोलाना-हापुड़), मुजतबा सिद्दीकी (प्रतापपुर-इलाहाबाद), हाकिम लाल बिंद (हांडिया- प्रयागराज) , हरगोविंद भार्गव (सिधौली-सीतापुर), सुषमा पटेल( मुंगरा बादशाहपुर) और वंदना सिंह -( सगड़ी-आजमगढ़) को पार्टी से निलंबित कर दिया है।

मायावती ने कहा कि लोकसभा चुनाव के बाद सपा ने हमसे संपर्क बंद कर दिया और इसीलिए हमने अपने रास्ता बदल लिया है। उन्होंने कहा कि मैं इस बात का भी खुलासा करना चाहती हूं कि जब हमने यूपी में लोकसभा चुनाव के लिए सपा के साथ चुनाव लड़ने का फैसला किया तो हमने इसके लिए बहुत मेहनत की, लेकिन जब से यह गठबंधन हुआ था तब से सपा प्रमुख की मंशा दिखने लगी थी।  ... और पढ़ें
मायावती मायावती

बसपा से बागी हुए इन सात विधायकों को मायावती ने पार्टी से किया निलंबित, सपा पर किए वार

प्रियंका गांधी ने सीएम योगी को लिखा खत, बुनकरों के साथ नाइंसाफी कर रही सरकार

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की महासचिव प्रियंका गांधी ने यूपी के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी को बुनकरों की समस्याओं को लेकर पत्र लिखा है। पत्र में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने बुनकरों को फ्लैट रेट पर बिजली देने की योजना को फिर से बहाल करने की मांग की है।
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने पत्र में लिखा है कि मेरी जानकारी में आया है कि पिछले कुछ समय से वाराणसी के बुनकर बहुत ही परेशान और हताश हैं। पूरी दुनिया में मशहूर बनारसी साड़ियों के बुनकरों के परिवार दाने-दाने को मोहताज हो गए हैं।

 


उन्होंने पत्र में लिखा है कि कोरोना महामारी और सरकारी नीतियों के चलते उनका पूरा कारोबार चौपट हो गया है जबकि उनकी हस्तकला द्वारा सदियों से उत्तर प्रदेश का नाम रौशन हुआ है। उत्तर प्रदेश सरकार को इस कठिन दौर में उनकी पूरी सहायता करनी चाहिए।
... और पढ़ें

मेरठ: तेज धमाके के साथ फटा विस्फोटक पदार्थ, कांग्रेस नगर अध्यक्ष समेत दो की मौत, कई दबे

प्रियंका गांधी वाड्रा ने लिखा मुख्यमंत्री योगी का पत्र
मेरठ जनपद के सरधना में गुरुवार सुबह एक मकान में तेज धमाके के साथ विस्फोटक पदार्थ फट गया। धमाके के साथ कई मकान भरभराकर ढह गए। मकान ढहने से मलबे में दबकर कांग्रेस के नगर अध्यक्ष समेत दो लोगों की मौत हो गई, जबकि कई लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका है। वहीं घटना की जानकारी लगते ही सरधना पुलिस व फायर ब्रिगेड की टीम मौके पर पहुंची। पुलिस और फायर ब्रिगेड की टीम राहत-बचाव कार्य में जुटी है।

बताया गया कि हादसा सुबह नौ बजकर 25 मिनिट पर हुआ। सरधना के मोहल्ला पीर जादगान में माबूत खां निवासी टेहरकी का मकान है। आज सुबह परिवार के लोग मकान में थे। इसी बीच तेज धमाका हुआ और मकान भरभराकर गिर गया। धमाका इतना तेज था कि आसपास के करीब आधा दर्जन मकान ढह गए। धमाके के बाद मकान में आग लग गई। इस दौरान परिवार के दो सदस्यों की मौत हो गई और कई लोग मलबे में दब गए। जिन्हें निकालने का प्रयास किया जा रहा है। वहीं चीख-पुकार सुनकर आसपास के लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। 

उधर, सूचना मिलने पर सरधना पुलिस के अलावा सीओ सरधना आरपी शाही और फायर ब्रिगेड की टीम मौके पर पहुंची। पुलिस लाइन स्थित फायर स्टेशन से भी फायर ब्रिगेड कि कई गाड़ियां मौके पर भेजी गई है। मकान ढहने से मलवा का ढेर लगा हुआ है। इसके अलावा आसपास के थानों की पुलिस भी मौके पर बुला ली गई है। फॉरेंसिक टीम भी मौके पर पहुंच गई है। 

यह भी पढ़ें: 
करोड़पतियों के शौक को मात दे रहा मन्नू कबाड़ी का घर, नजारा देखकर चौंक गए अफसर, तस्वीरें

पुलिस का कहना है कि अभी तक की जांच में सामने आया है कि मकान में विस्फोटक पदार्थ फटने से हादसा हुआ है। आसपास के लोग चुप्पी साधे हुए हैं। मकान में कितने लोग मौजूद थे। इसको लेकर पुलिस जांच कर रही। पुलिस के अनुसार हादसे में कांग्रेस नगर अध्यक्ष आसिम खान की मौत हो गई। इसके अलावा दो लोगों के दबे होने की आशंका है।

वहीं घटना की जानकारी लगने पर एसएसपी अजय साहनी भी मौके पर पहुंच गए हैं। पुलिस और फायर ब्रिगेड की टीम द्वारा राहत-बचाव कार्य जारी है।

एसएसपी अजय साहनी का कहना है कि अभी मामले की जांच की जा रही है। जांच पूरी होने के बाद ही हादसे का असली कारण सामने आ पाएगा।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें

यूपी में कोरोना की दूसरी लहर रोकने के लिए फोकस सैम्पलिंग आज से, पहले टैम्पो और रिक्शा चालकों की जांच

प्रदेश में त्योहारों और सर्दियों के चलते कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर को रोकने के लिए आज  से फोकस सैम्पलिंग का विशेष अभियान चलेगा। इसमें दुकानों, रेस्टोरेंट, ब्यूटी पार्लर, धर्म स्थलों के लोगों के नमूने लिए जाएंगे। हर जिले में रोजाना 30 प्रतिशत आरटीपीसीआर और 50 प्रतिशत एंटीजन टेस्ट किए जाएंगे। 15 दिन के विशेष अभियान के लिए सभी जिलाधिकारियों को दिशानिर्देश जारी कर दिए गए हैं। 

अपर मुख्य सचिव चिकित्सा स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि पड़ोस के राज्यों व कई देशों में कोरोना संक्रमण दोबारा फैल रहा है। यूपी में केस ज्यादा न बढ़ें, इसलिए ऐसे लोग जो लोगों से ज्यादा मिलते-जुलते हैं, उनकी जांच करने का फैसला किया गया है। इससे कोरोना संक्रमितों को बाजार से हटाया जा सकेगा, जिससे अन्य लोगों में संक्रमण फैलने से रोका जा सके। जून में भी इसी तरह का अभियान चलाया गया था। 

कब किसके लिए जाएंगे नमूने
29 अक्तूबर को टैम्पो, थ्री व्हीलर्स, रिक्शा चालक, 30 को मेहंदी व ब्यूटी पार्लर, 31 अक्तूबर को मिठाई की दुकानों, 1 नंवबर को रेस्टोरेंट, 2 को धर्म स्थलों, 3 को मॉल कर्मियों और सिक्योरिटी स्टाफ, 4 को गाड़ियों व इलेक्ट्रॉनिक्स की दुकानों, 5 को पटरी दुकानदारों, 6 को पटाखा बाजार, सब्जी व फल बेचने वालों, 7 को धर्म स्थलों, 8 को मिठाई की दुकानों, 9 को पटरी दुकानदारों, दीया, गिफ्ट बेचने वालों, 10 को पटाखा बाजार, फल व सब्जी विक्रेताओं, 11 को मॉल कर्मियों व सिक्योरिटी स्टाफ व 12 नवंबर को इलेक्ट्रॉनिक्स बाजार तथा गाड़ियों के शोरूम कर्मियों के नमूने लिए जाएंगे।

एंटीजन रिपोर्ट निगेटिव वालों की होगी आरटीपीसीआर जांच
स्वास्थ्य विभाग नवंबर-दिसंबर में कोविड संक्रमण को बढ़ने से रोकने के लिए स्वास्थ्यकर्मियों और कोविड हेल्प डेस्क पर पहचान किए गए लक्षणयुक्त लोगों की जांच कराएगा। एंटीजन रिपोर्ट निगेटिव मिलने पर लोगों की आरटीपीसीआर जांच भी प्रमुखता से कराए जाने के निर्देश दिए गए हैं। प्रत्येक पॉजिटिव केस के संपर्क में आने वाले 25 लोगों का पता लगाकर उनकी जांच की जाएगी। सरकारी व गैर सरकारी अस्पतालों में इन्फ्लुएंजा लाइक इलनेस (आईएलआई) और सीवियर एक्यूट रेस्पेरेटरी इलनेस (एसएआरई) के मामलों और गंभीर मरीजों की कोविड जांच होगी। बालगृहों, नारी निकेतनों, बंदीगृहों, वृद्धाश्रमों में भी नियमित जांच कराई जाएगी। कोविड टीकाकरण के लिए सरकारी और गैर सरकारी स्वास्थ्य कर्मियों की सूची तैयार करने तथा सभी जिलों में 15 दिसंबर तक कोल्ड चेन बनाने के भी निर्देश दिए गए हैं।

होम आइसोलेशन के मरीजों की होगी निगरानी
होम आइसोलेशन के रोगियों के संपर्क में आने वाले लोगों को आइवरमेक्टिन दवा दी जाएगी। पहले, चौथे और सातवें दिन रोगियों के घरों की विजिट भी की जाएगी। मौतें रोकने के लिए डेथ ऑडिट गंभीरता से करने के निर्देश दिए गए हैं।
... और पढ़ें

बाराबंकी: नहर में पड़े बोरे में भरा मिला लड़की का शव, दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका

आयकर विभाग ने बिजनौर में खंगाला बसपा सांसद का दो मंजिला मकान 

बसपा सांसद मलूक नागर के बिजनौर स्थित आवास पर बुधवार को मुरादाबाद के आयकर अधिकारियों की टीम ने छापा मारा। आवास पर बसपा नेता या उनका परिवार नहीं मिला। केवल मकान की देखरेख करने वाला एक व्यक्ति मौजूद था, जिससे टीम ने पूछताछ की। करीब एक दर्जन अफसरों की टीम ने बसपा नेता के दोमंजिला मकान के करीब सात-आठ कमरों को खंगाला। टीम ने कुछ दस्तावेज कब्जे में लिए हैं।

लखनऊ आयकर अफसरों से मिले निर्देश के बाद मुरादाबाद मंडल की आयकर विभाग की टीम बुधवार सुबह सवा आठ बजे बिजनौर पहुंची। डिप्टी कमिश्नर एमके पांडे के नेतृत्व में टीम ने बिजनौर से बसपा सांसद मलूक नागर के आवास पर छापा मारा। दिल्ली से भी आयकर विभाग के अधिकारी बिजनौर पहुंचे हुए थे। 

सूत्रों के मुताबिक सांसद के बिजनौर स्थित आवास पर केवल एक व्यक्ति मिला। उसने बताया कि बसपा सांसद और उनका परिवार यहां नहीं रहता। उनके दिल्ली, हापुड़ आदि स्थानों पर मकान हैं। वे लोग वहीं पर रहते हैं। बिजनौर के उनके मकान की वह देखरेख करता है। बिजनौर स्थित दोमंजिला मकान में करीब सात-आठ कमरे हैं। सभी खुले मिले। 

टीम ने सभी कमरों और उनमें बनी अलमारियों की गहनता से तलाशी ली और वहां मिले सामान की जांच पड़ताल की। आवास का एक-एक कोना चेक किया गया। टीम ने वहां मिले व्यक्ति से भी पूछताछ कर जानकारियां जुटाईं। सूत्रों के मुताबिक टीम रात में दस बजे के आसपास लौट गई। जांच के दौरान परिसर से कुछ दस्तावेज टीम ने कब्जे में लिए हैं। 
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X