विज्ञापन
विज्ञापन
राहु - केतु राशि परिवर्तन, फ्री जन्मकुंडली बनवाएं और जानें कैसे होंगे प्रभाव
Kundali

राहु - केतु राशि परिवर्तन, फ्री जन्मकुंडली बनवाएं और जानें कैसे होंगे प्रभाव

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

एक्सक्लूसिव: युवा हो जाएं तैयार, अगले दो महीने में समूह ग के पदों पर होगी बंपर भर्ती

अगर आप भी नौकरी की तलाश में हैं तो तैयार हो जाएं। अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के माध्यम से उत्तराखंड में समूह ग के पदों पर बंपर भर्ती शुरू होने वाली है। आगामी दो माह के भीतर चार हजार से ज्यादा खाली पदों पर आवेदन प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

चयन वर्ष 2019-20 से लेकर अब तक डेढ़ साल में आयोग को 7200 पदों के प्रस्ताव मिले हैं। इसमें ढाई हजार पदों की विज्ञप्ति जारी कर आवेदन प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। अनलॉक-4 में भर्ती सरकार की अनुमति के बाद चयन आयोग ने भर्ती प्रक्रिया में तेजी लाने की कवायद शुरू कर दी है।

अक्टूबर और नवंबर माह में आठ भर्ती परीक्षाएं कराने के लिए आयोग तैयारियों में जुट गया है। वहीं आगामी दो माह में चार हजार से अधिक पदों की आवेदन प्रक्रिया शुरू की जाएगी।
... और पढ़ें

उत्तराखंड: यहां तैयार हो रहा राष्ट्रीय स्तर का पक्षी संग्रहालय, 80 से ज्यादा प्रजातियां होंगी संरक्षित

उत्तराखंड पर्यटन विभाग की ओर से जिला मुख्यालय रुद्रप्रयाग में राष्ट्रीय स्तर का पक्षी संग्रहालय (बर्ड म्यूजियम) तैयार किया जा रहा है। इस म्यूजियम में 80 से अधिक पक्षी प्रजातियों को संरक्षित किया गया है, जो रुद्रप्रयाग नगर के आसपास के क्षेत्र में पाई जाती हैं। विभाग की इस अनूठी पहल से बर्ड वॉचिंग के साथ ही पर्यटन को भी नया आयाम मिलने की उम्मीद जगी है।

रुद्रप्रयाग में तीन हजार फीट से लेकर उच्च हिमालय में 11 से 12 हजार फीट ऊंचाई तक रुद्रप्रयाग के पुनाड़ गदेरा क्षेत्र से लेकर मक्कू, मस्तूरा, पलद्वाड़ी, काकड़ागाड़, चिरबटिया, चोपता से लेकर तुंगनाथ तक विभिन्न प्रजातियों की पक्षियां पाई जाती हैं।


यहां रेड हेडेड बुलफिंच, डार्क बिस्टेड रोजफिंच, स्त्रकालेट फिंच, पिंक ब्रॉड रोज फिंच, स्पॉट फिंच, हिमालयन ग्रीन फिंच, चीर फीजेंट, माउंटेन हॉक इगल, स्टेपी इगल, नट कैकर, हिमालयन गिद्ध, यूरीशन ग्रीफॉन, यूरीशन जे, बर्फीला तीतर समेत 300 से अधिक पक्षी प्रजातियां प्रवास करती हैं। ग्रीष्मकाल, चौमास व सर्दियों में पक्षियों की इन प्रजातियों में कई निचले इलाके में आते हुए मैदानी क्षेत्रों तक भी पहुंच जाती हैं।

अब, इन पक्षियों के बारे में स्थानीय के साथ देश-विदेश से आने वाले पर्यटकों को जानकारी आसानी से मिल जाएगी। जिला मुख्यालय में पर्यटन विभाग द्वारा पर्यटन परामर्श केंद्र में बर्ड म्यूजियम तैयार किया जा रहा है, जिसे राष्ट्रीय स्तर का माना जा रहा है।
 
... और पढ़ें

हरिद्वार कुंभ 2021: तय समय पर सीमित श्रद्धालुओं के साथ होगा कुंभ, केवल पास पर ही मिलेगा प्रवेश 

कोविड-19 महामारी के संकट को देखते हुए हरिद्वार कुंभ मेले में श्रद्धालुओं को पास पर प्रवेश मिलेगा। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने यह खुलासा किया। उन्होंने कहा कि कुंभ मेले के स्वरूप और आयोजन को लेकर अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के संतों के साथ लगातार विचार-विमर्श हो रहा है। मेले का स्वरूप पारंपरिक होगा और वह अपने लगन राशि के अनुरूप आयोजित होगा।

मुख्यमंत्री वर्चुअल प्रेस कांफ्रेस में पत्रकारों के सवालों के जवाब दे रहे थे। इस दौरान जब उनसे कुंभ मेले के आयोजन के संबंध में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि कोविड से उपजे हालातों को देखते हुए संख्यात्मक दृष्टि से इसे नियंत्रित करना होगा। तात्कालिक परिस्थितियों के अनुसार इसके लिए पास जारी होंगे। 

यह भी पढ़ें: 
उत्तराखंड : साढ़े तीन साल में 7.12 लाख को दिया रोजगार, 85 फीसदी वायदे पूरे किए- सीएम त्रिवेंद्र

बता दें कि कोविड 19 महामारी का असर कुंभ मेले की तैयारियों पर भी पड़ा है। सरकार अभी तक यह उम्मीद कर रही थी कि कुंभ के आयोजन से पहले तक कोरोना को नियंत्रित करने वाली दवा आ जाएगी, लेकिन अभी इसके आसार नहीं है।

यही वजह है कि अब सरकार ने कुंभ मेले की तैयारियों को लेकर अपनी कार्ययोजना में स्वास्थ्य संबंधी सुरक्षा उपायों को भी शामिल किया है। पुलिस की भीड़ नियंत्रण कार्ययोजना की बैठक में भी पास पर प्रवेश का सुझाव आ चुका है।
... और पढ़ें

उत्तराखंड: तीन-चार दिन के आने पर कोविड टेस्ट जरूरी नहीं, पर्यटकों को मिलेगा कूपन योजना का लाभ

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने एक बार फिर साफ किया कि तीन, चार दिन तक के लिए यदि कोई उत्तराखंड आ रहा है तो उसे कोविड टेस्ट कराने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि ऐसे लोग बेरोक टोक उत्तराखंड में प्रवेश कर सकते हैं।

उत्तराखंड की सीमा पर प्रवेश के लिए कोविड टेस्ट की अनिवार्यता को मुख्यमंत्री पहले ही खारिज कर चुके हैं। शुक्रवार को एक बार फिर उन्होंने कहा है कि जो लोग तीन, चार दिन के लिए आ रहे हैं, उनके लिए कोविड टेस्ट की कोई जरूरत नहीं है। बताया कि उन्होंने इस बारे में अधिकारियों को आदेश दे रखे हैं। उन्होंने कहा कि लोगों की आवाजाही को सरल बनाना चाहिए। लेकिन बीच में संक्रमित रोगियों की संख्या बढ़ी है।

यह भी पढ़ें: 
Corona in Uttarakhand: शुक्रवार को मिले 868 संक्रमित, ठीक होने वाले मरीजों का बना रिकॉर्ड

जनता का भी सरकार और अधिकारियों पर दबाव बना। जिसके चलते लगा कि लोगों को नियंत्रित करना चाहिए। लेकिन अधिकारियों को साफ कर दिया गया है कि जो लोग उत्तराखंड आना चाहते हैं तो उन्हें आने दें, उनका स्वागत करें।

बता दें कि केंद्र सरकार की गाइड लाइन में साफ है कि कोविड हाईलोडेड क्षेत्रों को छोड़कर बाकी स्थानों से आने वाले लोग यदि पांच दिन तक के लिए आ रहे हैं तो उन्हें कोविड टेस्ट की जरूरत नहीं है।
... और पढ़ें

वायु सेना के जेट फाइटर ने लिपुलेख-मिलम सीमा पर भरी उड़ान, 24 घंटे गश्त कर रहे जवान

लद्दाख में चीनी सैनिकों की घुसपैठ की कोशिश और सीमा पार चल रहीं गतिविधियों को देखते हुए भारतीय सुरक्षा एजेंसियां चौकन्नी हैं। भारतीय वायु सेना के जेट फाइटर ने दुश्मन की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए शुक्रवार को भी लिपुलेख-मिलम सीमा पर उड़ान भरी। 

सीमा पार चीनी सैनिकों का जमावड़ा बढ़ने और वहां पर तमाम तरह की सैन्य गतिविधियों की जानकारी के बाद भारतीय सुरक्षा एजेंसियां भी सतर्क हैं। सुरक्षा एजेंसियों के जवान मिलम से लिपुलेख तक चौबीस घंटे गश्त कर रहे हैं। चीन की किसी भी हरकत का मुंहतोड़ जवाब देने के लिए कालापानी से लेकर लिपुलेख तक पर्याप्त संख्या में सेना और अर्द्धसैनिक बलों के जवान तैनात किए गए हैं। 


यह भी पढ़ें: 
उत्तराखंड से लगी चीन सीमा पर भारतीय सेना की पहुंच हुई आसान, रिमखिम तक पहुंचाई सड़क

भारतीय सुरक्षा एजेंसियों के अधिकारी भी समय-समय पर सीमा पर स्थित बॉर्डर आउट पोस्टों और चौकियों का निरीक्षण कर रहे हैं। लिपुलेख सीमा पर चीन की ओर से अभी तक किसी तरह की कोई भी हरकत नहीं की गई है। भारतीय सुरक्षा एजेंसियों के जवान जमीनी गश्त तो कर ही रहे हैं, वायु सेना के जेट फाइटर भी दुश्मन की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए सीमा पर उड़ान भर रहे हैं। 
... और पढ़ें

Coronavirus in Uttarakhand: नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश की रिपोर्ट पॉजिटिव, आज मैक्स में होंगी भर्ती

Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन