विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा
Astrology Services

नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Uttarakhand Lockdown update Live: होम क्वारंटीन का पालन न करने पर पांच लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मुकदमा

सोमवार को भी रोजाना की तरह सुबह सात बजे से दुकानें खुली। लेकिन आज गिने-चुने लोग ही सड़कों पर नजर आए। 

30 मार्च 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

कोटद्वार

सोमवार, 30 मार्च 2020

कण्वाश्रम स्थित क्वारंटीन सेंटर में एक संदिग्ध भर्ती

लोगों से सख्ती से निपटा पुलिस प्रशासन

लॉकडाउन के पहले दिन सोमवार को ढिलाई बरतने वाली कोटद्वार पुलिस और प्रशासन मंगलवार को फुल एक्शन में रहा। सुबह सात से दस बजे तक पूरा सरकारी अमला जहां बाजार में उतरकर खरीदारी को उमड़ी भीड़ को नियंत्रित करने में जुटा रहा, वहीं दस बजते ही दुकानें बंद करवा दी गई।
मंगलवार को लॉकडाउन को सख्ती से लागू करने के लिए अपर पुलिस अधीक्षक (एएसपी) प्रदीप कुमार रॉय, एसडीएम योगेश मेहरा, पुलिस क्षेत्राधिकारी अनिल जोशी और कोतवाल मनोज रतूड़ी मय पुलिस फोर्स मोर्चा संभालते हुए सड़क पर उतर गए। एसडीएम योगेश मेहरा ने बताया कि मंगलवार को दस बजे के बाद पूरे तहसील क्षेत्र में सख्ती से लॉकडाउन लागू करवा दिया गया है।
उधर, लैंसडौन में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए सरकार के लॉकडाउन को सख्ती से लागू करवाने के लिए लैंसडौन प्रशासन को भी कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। प्रशासन की सख्ती के बाद लॉकडाउन का लैंसडौन से चैलूसैंण तक व्यापक असर दिखाई दिया। छावनी परिषद ने सुबह 7 से 10 बजे तक आवश्यक वस्तुओं की दुकानें खोलने के आदेश जारी किए थे। जयहरीखाल व गुमखाल मार्ग पर मौजमस्ती के लिए वाहनों पर निकले युवकों को पुलिस ने लाठियां फटकारते हुए भगाया। पुलिस ने खुली हुई दुकानों को भी बंद कराया। मुख्य अधिशासी अधिकारी भूपति रोहित व एसडीएम अपर्णा ढौंडियाल ने बेवजह घर से बाहर निकल रहे लोगों को घर में रहने की सलाह दी।
मनमाने रेड लेने वालों की करें शिकायत
कोटद्वार। कोटद्वार के प्रमुख बाजार गोखले मार्ग पर खरीदारों ने एसडीएम योगेश मेहरा, सीओ अनिल जोशी से पूजा का सामान मनमाने रेट पर बेचने की शिकायत की। एसडीएम ने एक दुकान का चालान काटते हुए उसकी दुकान दस दिन के लिए बंद रखने के निर्देश दिए। झंडाचौक-सिनेमा रोड पर स्थित एक दुकान पर भी पूजा का सामान मनमाने रेट पर बिकने की शिकायत सामने आई। एसडीएम योगेश मेहरा ने बताया कि मनमाने रेट लेते समय उसकी वीडियो बनाकर प्रशासन को दें। कार्रवाई की जाएगी। वहीं पूर्व सैनिक सेवा परिषद के अध्यक्ष गोपाल कृष्ण बड़थ्वाल ने कहा कि शहर की जनता कोरोना वायरस के संक्रमण को समझे और इस संक्रमण को बढ़ने न दें।
अति आवश्यक कार्य से बाहर जाने की ले अनुमति
सतपुली। जिलाधिकारी पौड़ी गढ़वाल डीएस गर्ब्याल ने कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए लागू लॉकडाउन के दौरान अस्पताल समेत अति आवश्यक कार्यों के लिए आने जाने वाले लोगों को अनुमति प्रदान करने के लिए परगना मजिस्ट्रेटों को अधिकृत किया है।
जिलाधिकारी पौड़ी धीराज गर्ब्याल ने बताया कि लोगों की परेशानियों को देखते हुए ऐसे लोगों को अनुमति प्रदान करने के लिए संबंधित परगना मजिस्ट्रेट को अधिकृत किया गया है। उन्होंने इस संबंध में सभी परगना मजिस्ट्रेटों को पत्र निर्गत किया है। पत्र में परगना मजिस्ट्रेटों को निर्देश दिए गए हैं कि वे अनुमति प्रदान करने से पूर्व यह सुनिश्चित कर लें कि संबंधित व्यक्ति का जनपद अथवा जनपद से बाहर जाना अति आवश्यक है।
सुबह सात बजे खुले बैंक
कोटद्वार। लॉक डाउन के दूसरे दिन कोटद्वार के सभी बैंक सुबह सात बजे से दस बजे तक खुले। लोगों के घरों से बाहर नहीं निकलने के कारण बैंकों में भीड़ न के बराबर रही। स्टेट बैंक के मुख्य प्रबंधक राकेश भट्ट ने बताया कि मंगलवार को भीड़ अधिक नहीं होने के कारण करीब डेढ़ करोड़ का ट्रांजेक्शन हुआ। कहा कि अगले आदेश तक बैंकों का समय यही रहेगा।
... और पढ़ें

सीमा सील होने बाद भी वाहनों से कोटद्वार पहुंचे प्रवासी

अघोषित कर्फ्यू के दौरान यूपी बार्डर से लगी नगर की सभी सीमाएं सील रही। इस दौरान यूपी बार्डर पर पुलिस और स्वास्थ्य विभाग की टीमें मुस्तैद रही। सीमाएं सील होने के बावजूद बड़ी संख्या में प्रवासी लोग अपने वाहनों से कोटद्वार पहुंचे। यूपी पुलिस ने मैदानी क्षेत्रों से लौट रहे प्रवासी उत्तराखंडियों को ही कोटद्वार में प्रवेश करने दिया। इस दौरान लोगों की आईडी भी चेक की गई। 28 प्रवासियों का स्वास्थ्य विभाग की टीम ने स्वास्थ्य परीक्षण किया। जांच के दौरान सभी लोगों का स्वास्थ्य सामान्य मिला। सनेह और चिलरखाल बैरियर को भी पुलिस ने सील कर दिया है। संवाद
रास्ते में फंसे परिचितों को दुपहिया वाहनों से ला रहे लोग
कोटद्वार। कई प्रदेशों में लॉकडाउन के बीच मैदानी क्षेत्रों से प्रवासियों के आने का सिलसिला जारी है। कई प्रवासी नजीबाबाद में ही फंसे हैं। परिवहन सेवाएं ठप होने से लोग अपने परिचितों को लाने के लिए दुपहिया वाहनों से नजीबाबाद जा रहे हैं। परिस्थितियों को देखते हुए पुलिस भी ऐसे लोगों को बार्डर पर आवाजाही करने दे रही है, ताकि लोग सुरक्षित अपने घरों तक पहुंच सके। स्वास्थ्य कर्मी रुचि रावत ने बताया कि दोपहर दो बजे तक नगर पहुंचने वाले 28 लोगों का कौड़िया चैक पोस्ट पर स्वास्थ्य परीक्षण किया गया।
... और पढ़ें

लॉकडाउन में दौड़ रही हैं कार, ऑटो और दो सावारी बैठाकर बाइक

कोटद्वार। लॉकडाउन के दौरान पुलिस प्रशासन की तमाम सख्ती के बाद भी लोग कार व ऑटो चालक सवारियां ढोते रहे। इसके अलावा बाइक-स्कूटी भी सड़कों पर दौड़ते नजर आए। पुलिस ने इस दौरान 40 कार व 20 डबल सवारी लेकर घूम रहे दो पहिया वाहनों का चालान किया।
सरकार की ओर से लोगों की सुविधा और बाजार में बढ़ रही भीड़ में कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए सुबह सात से एक बजे तक आवश्यक वस्तुओं को खरीदने के लिए बाजार खोले जाने के निर्देश जारी किए हैं, लेकिन कोटद्वार नगर में तय समय के बाद भी सड़कों पर लोगों की भीड़ उमड़ने के साथ ही खूब वाहन दौड़ते दिखे। रविवार को पुलिस ने ऐसे लोगों पर कार्रवाई करते हुए कोटद्वार के देवी मंदिर, नजीबाबाद चौक व झंडाचौक पर वाहनों को रोका। कोतवाल मनोज रतूड़ी ने बताया कि बार-बार चेतावनी के बाद भी लोग सड़कों पर नियम तोड़ने से बाज नहीं आ रहे हैं। सोमवार से और भी सख्त कार्रवाई की जाएगी।
बाजार में कम ही दिख रही है चहल कदमी
उत्तरकाशी। बाजार बंद होने व खुलने का समय बढ़ने से लोगों को खरीदारी के लिए काफी समय मिल रहा है, जिससे जनपद में अब कम ही लोग सड़कों पर दिख रहे हैं। साथ ही प्रशासन द्वारा रसोई गैस के साथ ही दूध, सब्जी, राशन आदि की होम डिलीवरी की जा रही है। इतना ही नहीं व्यापारियों ने भी लोगों से फोन पर ही घर बैठे जरूरत का सामान मंगाने की अपील की है। डीएम डा. आशीष चौहान ने बताया कि लॉकडाउन अवधि में भी मैदानी मंडियों से जिले में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति सुचारु है। अभी तक सामान की किल्लत की शिकायत नहीं आई है। साथ ही जिला मुख्यालय समेत जनपद के विभिन्न नगरों के व्यापारियों एवं एजेंसियों के फोन नंबर प्रचारित किए जा रहे हैं। ताकि लोग फोन कर अपनी जरूरत का सामान घर पर ही मंगा सके।
गोपेश्वर। लॉकडाउन के दौरान रविवार को भी दोपहर एक बजे बाद बाजार में सन्नाटा दिखा। लोग सुबह जरूरी सामान लेने बाजार पहुंचे, लेकिन जल्दी ही घरों को निकल गए। दोपहर एक बजे तक दुकानें तो खुली रही, लेकिन ग्राहक नहीं दिखे। गोपेश्वर के साथ ही जोशीमठ, पीपलकोटी, घाट, नंदप्रयाग, पोखरी क्षेत्रों के बाजारों में भी दिनभर सन्नाटा रहा।
लोगों को बांटी फड़ वालों की सब्जी फ्री
कोटद्वार। लॉकडाउन का पालन नहीं करने पर गोखले मार्ग और गाड़ीपड़ाव में सड़कों पर फड़ लगाने वालों के खिलाफ प्रशासन ने कड़ी कार्रवाई की। पुलिस ने उनकी सब्जियां लोगों में मुफ्त में बांट दी और कई व्यापारियों के बाट-तराजू भी जब्त किए। रविवार को छूट के दौरान एसडीएम योगेश मेहरा और सीओ अनिल जोशी के नेतृत्व में टीम ने गोखले मार्ग का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने नियम विरुद्ध गोखले मार्ग पर सब्जी की फड़ लगाने पर दो सब्जी व्यापारियों की सब्जियां लोगों को मुफ्त में ही बांट दी। नजीबाबाद व देवीरोड में एसडीएम योगेश मेहरा ने नियम विरुद्ध सड़क पर फड़ लगाकर सब्जियां बेचने पर तीन व्यापारियों की सब्जियां लोगों को मुफ्त में बांटी। बांट दीं, वहीं दो व्यापारियों के बाट-तराजू जब्त कर लिए।
रुद्रप्रयाग में ड्रोन की नजर में प्रवासी
रुद्रप्रयाग। कोरोना महामारी के दौरान बाहर से आए लोगों की निगरानी के लिए अब प्रशासन ड्रोन के जरिए गांवों में नजर रखे हुए है। बाहरी क्षेत्रों से आए लोगों द्वारा होम क्वारंटीन की सलाह न मानने व गांव व अन्य क्षेत्रों में घूमने वाले 15 लोगों का चालान किया।
जनपद में अभी तक विदेशों में रह रहे कुल 153 लोगों में से 119 लोग गांव लौटे हैं, जिसमें से 51 लोगों को जीएमवीएन के क्वारंटीन व 68 को होम क्वारंटीन किया गया। इसके अलावा बाहरी राज्यों से 4013 लोग गांव लौटें हैं। सभी लोगों को होम क्वारंटीन रखने के निर्देश दिए गए हैं। इन लोगों पर नजर रखने के लिए 11 टीम बनाई गई है।
... और पढ़ें

कोरोना पॉजिटिव युवक का इलाज करने वाले डाक्टरों की रिपोर्ट नेगेटिव, राहत

कोटद्वार। स्पेन से दुगड्डा पहुंचे कोरोना पॉजिटिव पाए गए युवक का इलाज कर रहे डॉक्टरों की रिपोर्ट निगेटिव आ गई है। हालांकि डॉक्टरों को अभी नौ दिन और होम क्वारंटीन में रखना पड़ेगा। क्वारंटीन के 14 दिन का समय पूरा करने के बाद ही वे अस्पताल में अपनी सेवाएं दे सकेंगे। स्पेन से गत 17 मार्च को दुगड्डा अपने घर लौटे 26 वर्षीय युवक को पीएचसी दुगड्डा में प्रारंभिक जांच करने के बाद 19 मार्च को बेस अस्पताल कोटद्वार में भर्ती कराया गया था। कोटद्वार बेस अस्पताल के कोरोना आइसोलेशन वार्ड में डॉक्टरों ने युवक का एक सप्ताह तक इलाज किया। 25 मार्च को उसकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई। बिना पीपीई किट धारण किए कोरोना पॉजिटिव युवक के उपचार में लगे तीन डॉक्टरों, चार नर्स और दो सफाई कर्मियों को 14 दिन के लिए होम क्वारंटीन पर भेज दिया गया था।
गत शनिवार को उनका सैंपल हल्द्वानी भेजा गया, जिसकी तत्काल जांच की गई। इसमें देर शाम को डॉक्टरों की रिपोर्ट निगेटिव आने की पुष्टि कर दी गई। बेस अस्पताल के पीएस डॉ. बीसी काला ने बताया कि एक अन्य डॉक्टर, चार नर्स और सफाई कर्मियों का सैंपल नहीं भेजा जाएगा। वे 14 दिन होम क्वारंटीन का समय पूरा कर अपनी ड्यूटी पर आएंगे।
सीएमओ पौड़ी डॉ. मनोज बहुखंडी ने बताया कि स्पेन से पहुंचे युवा का कोरोना पॉजिटिव होने पर कोटद्वार बेस अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में उपचार किया जा रहा है, वह अब स्वस्थ है। युवक को पॉजिटिव रिपोर्ट आने से पहले उपचार में जुटे डॉक्टरों की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई है, लेकिन उन्हें होम क्वारंटीन के 14 दिन का समय पूरा करना होगा।
... और पढ़ें

Uttarakhand Lockdown: अब होम क्वारंटीन लोगों के घर के आगे लगेगा बोर्ड

स्पेन से दुगड्डा लौटे युवक के कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद उसके और उसके परिजनों के संपर्क में आए लोगों की सूची प्रशासन ने तैयार कर ली है। इसके तहत दुगड्डा और कोटद्वार के तीन अन्य लोगों को होम क्वारंटीन कर दिया गया है।

अब कोटद्वार में क्वारंटीन लोगों की संख्या बढ़कर 17 हो गई है, जिसमें छह लोग क्वारंटीन सेंटर जबकि 11 लोग होम क्वारंटीन किए गए हैं। इन सभी लोगों की नियमित निगरानी के लिए प्रशासन की ओर से वरिष्ठ अधिकारियों की टीम गठित की गई है। साथ ही होम क्वारंटीन लोगों के घर के आगे सूचना बोर्ड भी लगाया जाएगा।

स्पेन से गत 17 मार्च को दुगड्डा अपने घर लौटे 26 वर्षीय युवक को पीएचसी दुगड्डा में प्रारंभिक जांच करने के बाद गत 19 मार्च को बेस अस्पताल कोटद्वार में भर्ती कराया गया था। 25 मार्च को हल्द्वानी से आई रिपोर्ट में युवक कोरोना पॉजिटिव पाया गया था। इसके बाद उसे आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करते हुए उसके माता, पिता, बहन, काम वाली बाई, चाचा, ताऊ को कण्वाश्रम स्थित क्वारंटीन सेंटर भेज दिया गया।

युवक के उपचार करने वाले तीन डॉक्टर, चार नर्स और दो सफाई कर्मियों को भी स्वास्थ्य विभाग ने होम क्वारंटीन कर दिया था। इसके बाद प्रशासन ने युवक के संपर्क में आए दुगड्डा और कोटद्वार के 2 अन्य लोगों को चिह्नित करते हुए उन्हें भी होम क्वारंटीन करने के निर्देश दिए। बेस अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा. वीसी काला ने बताया कि क्वारंटीन लोगों की निगरानी के लिए बनी टीम को अलर्ट कर दिया गया है।

चमोली में विदेशों से पहुंचे 29 लोग होम क्वारंटीन

चमोली जिले में विदेश से पहुंचे 56 लोगों में से 29 को होम क्वारंटीन किया गया है, जबकि 27 लोगों के होम क्वारंटीन की अवधि 28 दिन होने के कारण उन्हें निगरानी से बाहर कर दिया गया है। जिले में देश के विभिन्न जिलों से लगभग 1800 लोग पहुंचे। सीएमओ डा. केके सिंह ने बताया कि आठ लोगों को स्वास्थ्य विभाग की ओर से कर्णप्रयाग और कालेश्वर में क्वारंटीन किया गया है। जिले में स्थिति पूरी तरह काबू में है।
... और पढ़ें

अब कोटद्वार में मोबाइल ऐप से होगी आवश्यक सामान की होम डिलीवरी

कोटद्वार। घर से बाहर निकलने में कोरोना वायरस के संक्रमण के खतरे को देखते हुए अब कोटद्वार में प्रशासन की पहल पर आवश्यक खाद्य सामान की होम डिलीवरी शुरू की जा रही है। इसके लिए कोटद्वार के दो युवकों के द्वारा बनाया गया ‘ग्रोसरीज’ नाम का मोबाइल एप लांच किया गया है। रविवार दोपहर के बाद से लोग इस एप पर आवश्यक सामान अपने घर पर मंगवा सकते हैं।
कोटद्वार के अनुभव गुप्ता और रिषभ गुप्ता ने बताया कि उन्होंने प्रशासन की पहल पर लोगों की सुविधा के लिए ‘ग्रोसरीज’ एप बनाया है। इसे प्ले स्टोर से अपलोड किया जा सकता है। इसमें खाद्य वस्तुएं, फल और सब्जी का ऑर्डर दिया जा सकता है।
एसडीएम योगेश मेहरा ने बताया कि कोरोना संक्रमण के खतरे को देेखते हुए लॉकडाउन के दौरान बाजार में उमड़ रही भीड़ से संक्रमण फैलने का खतरा बना हुआ है। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए मोबाइल एप बनाया गया है। मोबाइल ऐप पर मिले ऑडर को संस्कार सामाजिक संस्था के 10 वालंटियर बाइकों के माध्यम से लोगों के घर तक पहुंचाएंगे। बाइकों के पेट्रोल की व्यवस्था वन मंत्री डा. हरक सिंह करेंगे।
-फोटो
... और पढ़ें

कोरोना वायरस को रोकने में दें अपना महत्वपूर्ण योगदान: डा. हरक सिंह

कोटद्वार। वन एवं पर्यावरण मंत्री डा. हरक सिंह रावत ने कोरोना वायरस के संक्रमण से लोगों को बचाने के लिए स्वास्थ्य, नगर निगम और पुलिस कर्मियों को कोरोना सुरक्षा किट वितरित की। उन्होंने डीएम और एसएसपी पौड़ी से कोरोना वायरस की स्थिति की जानकारी मांगी और उन्हें संक्रमण को रोकने के लिए हरसंभव प्रयास करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कोरोना को रोकने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दें।
शुक्रवार देर शाम कोतवाली में आयोजित कार्यक्रम में वन मंत्री डा. हरक सिंह रावत ने बेस अस्पताल के चिकित्सकों, नगर निगम और पुलिस कर्मियों को एंटी वायरस प्रोटेक्टिव सूट, 5000 मास्क, 2500 सैनिटाइजर और हैंड ग्लब्स बांटे।
इस अवसर पर वन मंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमण जानलेवा है। विश्व के कई देशों में कोरोना का कहर छाया हुआ है। उत्तराखंड में कोरोना की रोकथाम के लिए सरकार कार्य कर रही है। इस संक्रमण से रोकथाम के लिए चिकित्सकों और पुलिस कर्मियों की महत्वपूर्ण भूमिका है। ऐसे में सबसे पहले इन लोगों को अपनी सुरक्षा करनी आवश्यक है। कहा कि कोरोना की रोकथाम में संसाधनों में कमी नहीं आने दी जाएगी। इसके लिए प्रदेश सरकार वचनवद्ध है।
इस अवसर पर एसडीएम योगेश मेहरा, राजकीय बेस अस्पताल के पीएस वीसी काला, प्रबंधक बलवीर सिंह रावत, एएसपी प्रदीप राय, सीओ अनिल जोशी, कोतवाल मनोज रतूड़ी, एसएसआई प्रदीप नेगी, सहायक नगर आयुक्त राजेश नैथानी, सफाई निरीक्षक सुनील कुमार सिंह के अलावा पुलिस के अधिकारी कर्मचारी आदि मौजूद थे।
-फोटो
... और पढ़ें

कोरोना के डर से बिजनौर पुलिस प्रशासन ने रोके खाद्यान्य के ट्रक

कोटद्वार। कोटद्वार में एक कोरोना मरीज की पुष्टि होने के बाद से यूपी के बिजनौर पुलिस प्रशासन ने कोटद्वार की ओर आने वाले आवश्यक वस्तुओं के ट्रक भी रोक दिए। यूपी के जाफरा में बड़ी संख्या में खाद्यान्न और फल सब्जियों के ट्रक रोके जाने की खबर मिलते ही कोटद्वार में डेरा डाले पौड़ी के एडीएम डा. एसके बरनवाल मौके पर पहुंचे। उन्होंने बिजनौर के अधिकारियों से बात की, लेकिन कोई बात नहीं बन सकी। आखिर में लखनऊ सचिवालय से निर्देश मिलने के बाद ही कोटद्वार के खाद्यान्न के वाहनों को छोड़ा गया।
शुक्रवार तड़के उत्तराखंड के कुमाऊं मंडल, बिजनौर और अन्य प्रांतों से आटा, चावल, दालें और फल सब्जियां लेकर कोटद्वार आ रहे ट्रकों को यूपी के बिजनौर पुलिस ने एक-एक कर जाफरा में खड़ा करवा दिया। मौके पर वाहनों की संख्या 60 तक पहुंच गई तो पौड़ी जिला प्रशासन हरकत में आया। एडीएम पौड़ी डा. एसके बरनवाल जाफरा चौकी पहुंचे और स्थानीय अधिकारियों से वार्ता की। नजीबाबाद के एसडीएम से लेकर बिजनौर के डीएम और एसपी ने कोटद्वार में कोरोना बीमारी का हवाला देते हुए वाहनों को छोड़ने से हाथ खड़े कर दिए। काफी देर तक वार्ता के बाद जब कोई नतीजा नहीं निकला तो बात लखनऊ सचिवालय तक पहुंची। जहां अधिकारियों ने आवश्यक वस्तुओं के वाहनों को रोकने पर घोर आपत्ति जताई। करीब दो घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद लखनऊ सचिवालय से बिजनौर पुलिस प्रशासन को दिशा निर्देश मिले और वाहनों को छोड़ा गया। एडीएम डा. बरनवाल ने बताया कि बिजनौर पुलिस ने जाफरा में करीब 20 ट्रक खाद्यान्न के और 35 से 40 ट्रक फल और सब्जियों के रोक लिए थे।
-फोटो
... और पढ़ें

कोटद्वार में मिला एक ओर कोरोना संदिग्ध

डाडामंडी क्षेत्र के एक गांव के एक किशोर में कोरोना के लक्षण पाए जाने पर स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा हुआ है। किशोर को पीएचसी दुगड्डा से पर्सनल प्रोटेक्शन इक्विपमेंट (पीपीई) किट पहनाकर कोटद्वार बेस अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है।
डाडामंडी के एक गांव का किशोर ऋषिकेश के एक आश्रम में संस्कृत की शिक्षा ले रहा है। वहां वह विदेशी पर्यटकों के संपर्क में आया। क्षेत्र में कोरोना का कहर होने और लॉकडाउन के कारण वह 21 मार्च को गांव लौट आया। गांव पहुंचने के बाद युवक ने पीएचसी डाडामंडी और बेस अस्पताल में अपना चेकअप कराया, तब कोई लक्षण नहीं होने पर डाक्टरों ने उसे घर भेज दिया। बृहस्पतिवार को उसे खांसी, जुखाम और बुखार होने पर वह अपनी मां के साथ पीएचसी दुगड्डा पहुंचा, जहां प्रारंभिक जांच में किशोर में कोराना के लक्षण मिले हैं।
पीएचसी के चिकित्साधिकारी डा. फिरोज आलम ने बताया कि प्रारंभिक जांच में किशोर में कोरोना के लक्षण मिले हैं। सूचना पर पीपीई किट लेकर पहुंची बेस अस्पताल की टीम किशोर को कोटद्वार ले आई। बेस अस्पताल के पीएस डा. वीसी काला ने बताया कि कोरोना के संदिग्ध किशोर को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया है।
... और पढ़ें

लॉकडाडन में छूट का लोगों ने उठाया फायदा, जमकर की खरीददारी

कोटद्वार/लैंसडौन। 21 दिन के लॉकडाउन के तीसरे दिन शुक्रवार को दोपहर एक बजे तक बाजार खुले रहे। इस दौरान लोगों ने खाद्यान्न, सब्जी और फल की खूब खरीदारी की। स्थानीय प्रशासन ने दुकानों में अनावश्यक भीड़ न करने और सोशल डिस्टेंस बनाए रखने की अपील की। दुकानों में राशन की कमी के कारण लोगों को पूरा सामान नहीं मिल पाया।
शुक्रवार को लॉकडाउन में आवश्यक वस्तुओं की खरीद के लिए सरकार ने छूट का समय सुबह 10 बजे से बढ़ाकर दोपहर एक बजे करने की घोषणा की। साथ ही दोपहिया वाहन के संचालन की अनुमति भी प्रदान की। सरकार की घोषणा के बाद सुबह से ही लोग अपने वाहनों से बाजार पहुंचने लगे। इस दौरान लोगों ने गोखले मार्ग, बद्रीनाथ मार्ग, पटेल मार्ग, आमपड़ाव में फुटकर व्यापारियों से जहां आटा, चावल, दालें, तेल समेत अन्य राशन खरीदा, वहीं गाड़ीपड़ाव, गोखले मार्ग पर लोगों ने सब्जियां और फल खरीदे। मेडिकल स्टोरों पर भी दवाइयां खरीदने के लिए लोगों की भीड़ लगी रही। सुबह आठ से 10 बजे तक बाजार में खासी भीड़ लगी रही। 10 बजे से बारिश शुरू होने के बाद लोग वापस अपने घरों को लौटने लगे। दुकानों में गोखले मार्ग पर भीड़ को देखते हुए पुलिस प्रशासन की ओर से सभी गलियों में बैरिकेडिंग की गई, वहीं गोखले मार्ग पर दोपहिया वाहनों की आवाजाही को भी बंद किया गया। कोतवाल, एएसपी, एसडीएम की गाड़ियां नगर में घूमती रहीं। शुक्रवार को भी लोगों को दुकानों में आटा कम ही मिल पाया। उधर, लैंसडौन में कोराना संकट से बचाव के लिए लॉकडाउन के तीसरे दिन शुक्रवार को आवश्यक सेवाओं की दुकानों में ग्राहकों की भीड़ काफी कम रही। लॉकडाउन में छूट की अवधि बढ़ने से लोगों को राहत मिली। एसडीएम अपर्णा ढौंडियाल के दिशा-निर्देश पर खाद्य आपूर्ति निरीक्षक अभिषेक कर्णवाल ने क्षेत्र की खाद्य आपूर्ति व्यवस्थाओं का जायजा लिया।
बेवजह घूम रहे दो वाहनों के खिलाफ जुर्माना
लैंसडौन। पुलिस ने बेवजह सड़कों पर दौड़ रहे दो वाहन चालकों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए उन पर एमवी एक्ट के तहत जुर्माना लगाया है। कोतवाल एसएन गैरोला ने बताया कि बाजार में बेवजह सड़कों पर दौड़ रहे दो वाहन चालकों को रोककर उनका एमवी एक्ट के तहत जुर्माना वसूला गया है।
-फोटो
... और पढ़ें

Coronavirus in Uttarakhand: बिना पीपीई किट पहने कोरोना संदिग्ध का इलाज करते रहे डॉक्टर, मरीज पॉजिटिव निकला तो मचा हड़कंप

कोरोना वायरस के खतरे के बीच उत्तराखंड के कोटद्वार में बेस अस्पताल के कोरोना आइसोलेशन वार्ड में भर्ती दुगड्डा के युवक के उपचार के दौरान डॉक्टरों की लापरवाही का मामला संज्ञान में आने से स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा है। डाक्टरों की ओर से बिना पर्सनल प्रोटेक्शन इक्विपमेंट (पीपीई) किट पहने ही स्पेन से लौटे कोरोना के संदिग्ध मरीज का सात दिन तक उपचार किया।

अब युवक के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद अस्पताल के स्टाफ से लेकर पूरे क्षेत्र में कोरोना संक्रमण की दहशत बनी हुई है। एहतियात के तौर पर युवक के उपचार में शामिल तीन डॉक्टर, चार नर्स और दो सफाई कर्मियों को 14 दिन के लिए होम क्वारंटीन किया गया है।

स्पेन से गत 17 मार्च को दुगड्डा अपने घर लौटे 26 वर्षीय युवक को पीएचसी दुगड्डा में प्रारंभिक जांच करने के बाद 19 मार्च को बेस अस्पताल में भर्ती कराया गया था। कोटद्वार बेस अस्पताल के कोरोना आइसोलेशन वार्ड में युवक का एक सप्ताह तक इलाज किया गया, लेकिन डाक्टरों ने कोरोना के संदिग्ध मरीज को हल्के में लेते हुए बिना सुरक्षा के उपकरणों के उसका उपचार शुरू कर दिया।
... और पढ़ें

Coronavirus in Uttarakhand: कोरोना संक्रमित के पिता के संपर्क में आए चार और लोगों को किया क्वारंटीन, एक और संदिग्ध भर्ती

स्पेन से लौटे कोटद्वार के दुगड्डा में युवक के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद पुलिस, प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग हरकत में आ गया है। कोरोना वायरस के फैलने से रोकने के लिए दुगड्डा के मोती बाजार को सील कर दिया गया है।

बुधवार शाम को एसडीएम योगेश मेहरा ने नगरपालिका और दुगड्डा पुलिस को नगर में कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए मोती बाजार क्षेत्र को सील करने के निर्देश दिए थे। बृहस्पतिवार को पुलिस ने मोती बाजार को सील कर दिया। जिसके कारण लॉकडाउन के दौरान मिलने वाली ढील में भी दुकानें नहीं खोली गई।

नगर में सन्नाटा पसरा रहा। लोगों में कोरोना का खौफ व्याप्त है। उधर, प्रशासन ने कोरोना संक्रमण के फैलने के खतरे को देखते हुए दुगड्डा के कोरोना संक्रमित युवक और उसके परिजनों के सीधे संपर्क में आने वाले अन्य परिजनों को भी कण्वाश्रम कोटद्वार में बनाए गए क्वारंटीन सेंटर में भेज दिया है। पुलिस प्रशासन की ओर से युवक और उसके परिजनों के संपर्क में आए अन्य लोगों की सूची तैयार की जा रही है।

दुगड्डा चौकी प्रभारी एसआई ओमप्रकाश ने बताया कि बृहस्पतिवार को प्रशासन के निर्देश पर दुगड्डा पुलिस ने युवक के पिता के संपर्क में आए उसके चाचा, ताऊ और खाना बनाने वाली आया को पीएचसी दुगड्डा में बुलाया। यहां उनकी प्रारंभिक जांच की गई। उसके बाद बेस अस्पताल कोटद्वार की टीम एंबुलेंस के माध्यम से उनको कण्वाश्रम स्थित जीएमवीएन क्वारंटीन सेंटर लेकर चली गई। जहां उन्हें निगरानी में रखा गया है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us