विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा
Astrology Services

नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Lockdown In Uttarakhand Live Updates : लॉकडाउन के दौरान एंबुलेंस में स्मैक की तस्करी करते चार युवक गिरफ्तार

कोरोना वायरस को लेकर उत्तराखंड में लॉकडाउन आज भी जारी है। सोशल डिस्टेंसिंग को लेकर पुलिस चप्पे-चप्पे पर तैनात है।

29 मार्च 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

पिथौरागढ़

रविवार, 29 मार्च 2020

पिथौरागढ़ में लाक डाउन के दौरान सरेआम उड़ाई जा रहीं हैं नियमों की धज्जियां

पिथौरागढ़। पिथौरागढ़ में लॉककडाउन के दौरान सरेआम नियमों की धज्जियां उड़ाई जा रहीं हैं। बावजूद इसके शासन प्रशासन गंभीर नहीं दिख रहा है। ढील के दौरान गांधी चौक सहित कई अन्य स्थानों पर सामान खरीदारी करने को आने वाले लोग सामाजिक दूरी बना कर सामान की खरीदारी नहीं कर रहे हैं। लोगों की लापरवाही खुद पर भारी पड़ सकती है। शुक्रवार को ढील के दौरान गांधी चौक,सिमलगैर, टकाना सहित अन्य स्थानों पर सामान की खरीदारी करने आए लोग बिना डिस्टेंस के सामान खरीदते हुए नजर आए। इस कारण कुछ लोग सरेआम नियमों की धज्जियां उड़ा रहे हैं। लोगों में जागरूकता की कमी कोरोना वायरस को बढ़ावा देने का कार्य कर रही है। ... और पढ़ें

पिथौरागढ़ के ग्रामीण क्षेत्रों में होने लगी जरूरी सामान की किल्लत

कनालीछीना (पिथौरागढ़)। ग्रामीण क्षेत्र में जरूरी सामान की किल्लत होने लगी है। इससे लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। बावजूद इसके शासन-प्रशासन ग्रामीण क्षेत्रों में सामान पहुंचाने को लेकर गंभीर नहीं दिख रहा है, जिससे लोगों में आक्रोश है। भारत सरकार ने 21 दिन का लॉकडाउन किया है। लॉकडाउन के बाद ग्रामीण क्षेत्रों में खाद्यान्न से भरे वाहन नहीं पहुंच पाए हैं, जिस कारण ग्रामीण क्षेत्र में आटा ,चावल, चीनी और तेल आदि की कमी होने लगी है। पिछले कई दिनों से ग्रामीण क्षेत्रों में सब्जी के वाहन भी नहीं पहुंच पाए हैं। पलेटा के व्यापारी जगदीश कापड़ी और सतगढ़ के व्यापारी गोवर्धन कापड़ी का कहना है दुकान में सामान खत्म होने से वह ग्राहकों को सामान उपलब्ध नहीं करा पा रहे हैं, जिससे लोग परेशान हैं। उन्होंने शासन प्रशासन से ग्रामीण क्षेत्रों में राशन और सब्जी पहुंचाने की मांग की है, ताकि ग्रामीणों को राहत मिल सके। कोट ग्रामीण क्षेत्र में खाद्यान्न की कोई कमी नहीं होने दी जाएगी। पूर्ति विभाग को आदेशित कर दिया गया है कि ऐसे ग्रामीण क्षेत्रों में सामान पहुंचाया जाए। - तुषार सैनी ,एसडीएम पिथौरागढ़। ... और पढ़ें

लॉक डाउन से पिथौरागढ़ में मजदूर परेशान

पिथौरागढ़। कोरोना की आशंका को देखते हुए पिथौरागढ़ में प्रशासन ने शक्ति दिखानी शुरू कर दी है। शुक्रवार को आम लोगों की सुविधा के लिए दुकानें सुबह 7:00 बजे से दिन में 1:00 बजे तक खुली रहीं। इस दौरान लोगों ने घरों से निकलकर आटा, दाल चावल, सब्जी और फल सहित अन्य जरूरी वस्तुओं की खरीदारी की। 1:00 बजे बाद शहर की सड़कें फिर से सुनसान हो गईं। हालांकि, लॉकडाउन के चलते जो लोग घरों को नहीं लौट पाए थे, अब भी अपने अपने घरों को लौटने की उम्मीद लगाए हुए हैं। ऐसे लोग शुक्रवार को भी बड़ी तादाद में कलक्ट्रेट पहुंचे, जहां पर उन्होंने जिलाधिकारी के सामने वाहन परमिट के लिए गुहार लगाई। पिथौरागढ़ में अभी भी मजदूर बहुत बड़ी तादाद में फंसे हुए हैं। इनमें झारखंड बिहार और बहराइच के हजारों मजदूर हैं। इन मजदूरों को तमाम संगठनों के लोग भोजन करा रहे हैं लेकिन ये मजदूर घरों को लौटने को लेकर काफी चिंतित दिखाई दे रहे हैं। ... और पढ़ें

डीडीहाट में बढ़ने लगी राशन की किल्लत

नगर समेत ग्रामीण क्षेत्रों में राशन की किल्लत होने लगी है। थोक विक्रेताओं के पास अन्य सामान तो उपलब्ध हैं, लेकिन आटा और चावल काफी कम है। बाजार में राशन की दिक्कत को देखते हुए तहसीलदार एमसी पालीवाल ने अधिकारियों को जानकारी दी है।
लॉकडाउन की घोषणा के बाद संपन्न लोगों ने काफी संख्या में घरों में सामान एकत्र कर लिया। दुकानदारों का कहना है कि वह किल्लत को देखते हुए ग्राहकों को एक-दो किलो की ही आटा, चावल उपलब्ध करा रहे हैं। हल्द्वानी मंडी से सामान नहीं आने के चलते आने वाले दो-तीन दिनों में दिक्कत काफी बढ़ सकती है। वहां से राशन लेकर आने वाले ट्रक चालक भी सहमे हुए हैं।
उनका कहना है कि रास्ते में भोजन, चाय कुछ भी नसीब नहीं हो रहा है। तहसीलदार पालीवाल ने थोक विक्रेताओं से सामान मंगाने को कहा है। उन्होंने बताया कि राशन को पिकअप वाहनों के जरिए ग्रामीण क्षेत्रों में भी मुहैया कराया जाएगा। सहायक खाद्य निरीक्षक कमलेश बुधाकोटी ने बताया कि सस्ता गल्ला विक्रेताओं को राशन उपलब्ध कराया गया है। कहा कि जिन विक्रेताओं ने राशन नहीं उठाया है वह जल्द इसे उठा लें। कहा कि गोदाम में अगले तीन माह तक का राशन उपलब्ध है।
... और पढ़ें

कोरोना: सेना ने प्रशासन को दिलाया मदद का भरोसा

कोराना महामारी से प्रभावी ढंग से निपटने के लिए प्रशासन की मदद को सेना तैयार है। क्वारंटीन की व्यवस्था के लिए डीएम डॉ. विजय कुमार जोगदंडे के साथ 119 इंफेंट्री बटालियन के ब्रिगेडियर एसके मंडल, सेना मेडल ने निर्माणाधीन बेस अस्पताल का निरीक्षण किया। डीएम ने कार्यदायी संस्था को आवश्यक कार्य शीघ्र पूरा करने के निर्देश दिए।
कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए प्रशासन सजग है। शनिवार को जिलाधिकारी डॉ. जोगदंडे, ब्र्रिगेडियर एसके मंडल, सेना अस्पताल के इंचार्ज ने अधिकारियों के साथ बेस अस्पताल में कोरोना के संदिग्ध मरीजों के लिए क्वारंटीन की अस्थायी व्यवस्था बनाने का जायजा लिया। जिलाधिकारी ने बताया कि अभी निर्माणाधीन बेस अस्पताल में कई कार्य बचे हैं। उन्होंने कार्यदायी संस्था को बिजली, पानी आदि की व्यवस्था 15 दिन के भीतर पूरा करने के निर्देश दिए।
ब्रिगेडियर मंडल ने सेना की ओर से प्रशासन को हर संभव मदद का भरोसा दिलाया है। जिलाधिकारी ने कहा कि जरूरत पड़ी तो सेना से भी मदद ली जाएगी। कोरोना से निपटने के लिए हर संभव सुरक्षात्मक उपाय अपनाए जा रहे हैं। उन्होंने लोगों से भी लॉकडाउन का पालन करते हुए घरों पर ही बने रहने का अनुरोध किया है। बता दें कि विदेश और मैदानी क्षेत्रों में काम करने वाले लोग बड़ी संख्या में घरों को लौट आए हैं। ऐसे में किसी एक भी व्यक्ति में कोरोना के लक्षण मिलते हैं तो इससे मुश्किलें काफी अधिक बढ़ सकती हैं।
... और पढ़ें

अस्पताल, सिलिंडर वितरण स्पॉट में मदद के लिए तैयार रहेंगे स्काउट-गाइड

पिथौरागढ़। लॉकडाउन के दौरान जनता को किसी तरह की दिक्कत न हो इसके लिए स्काउट-गाइड मास्टर और रोवर-रैंजर्स भी मदद के लिए आगे आ गए हैं। पिथौरागढ़ जिला मुख्यालय में लोगों की मदद के लिए 50 स्काउट-गाइड और रोवर-रैंजर्स प्रतिदिन अस्पताल से लेकर सिलिंडर वितरण स्पॉट में तैनात रहेंगे।
शनिवार को प्रशासन को सहयोग देने के लिए स्काउट-गाइड मास्टर जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार से मिले। डीएम ने इस पहल के लिए सराहना की। डीएम से मिलने वालों में स्काउट गाइड जिला कमिश्नर रामलाल सागर, स्काउट मास्टर महेंद्र सिंह रावत, जिला स्काउट संस्था के विण ब्लाक के सचिव एआर दताल, जिला सचिव प्रकाश उप्रेती, अजय सार्की सचिव गंगोलीहाट, सतीश चंद्र भट्ट, भुवन चंद्र उप्रेती, हयात गिरी आदि शामिल रहे। जिला स्काउट संस्था के सचिव एआर दताल ने बताया कि स्काउट गाइड मास्टर लोगों की हरसंभव मदद करेंगे। जरूरी सामान की होम डिलीवरी भी की जाएगी।
... और पढ़ें

शनिवार को बाजारों में नहीं नजर आई खरीदारों की भीड़

शनिवार को बाजारों में नहीं नजर आई खरीदारों की भीड़
पिथौरागढ़। लॉकडाउन के दौरान खरीदारी के लिए दुकानें खुली रहने की समय सीमा बढ़ाने के दूसरे दिन शनिवार को बाजार में किसी तरह की अफरातफरी नहीं रही। अन्य दिनों की अपेक्षा बहुत कम लोग सामान खरीदने के लिए दुकानों में पहुंचे। फल सब्जी की दुकानों में भी अपेक्षाकृत कम भीड़ रही।
लॉकडाउन के बाद शुरुआत के दो दिन लोगों में सामान की खरीदारी को लेकर अफरातफरी का माहौल रहा था। सरकार की ओर से दुकानें खुली रहने की समय सीमा सुबह सात बजे से दिन के एक बजे तक करने के बाद शुक्रवार को दुकानों में बड़ी संख्या में लोग पहुंचे थे। लोगों ने दुकानों के पूरी तरह से बंद होने की आशंका को लेकर जरूरी सामान खरीदकर घरों में रख लिया था।
शनिवार को सुबह से ही किसी तरह की भीड़भाड़ दुकानों में नहीं दिखी। फल और सब्जियों की दुकानों में भी कम भीड़ नजर आई। डीएम डॉ.विजय कुमार जोगदंडे, एडीएम आरडी पालीवाल और एसडीएम तुषार सैनी ने नगर के विभिन्न क्षेत्रों का भ्रमण कर व्यवस्थाएं देखी। गैस एजेंसियां सिलिंडरों की होम डिलीवरी कर रही हैं। इसके लिए वितरण स्पॉट पर भरे हुए सिलिंडर रखे गए हैं। जहां से बुकिंग के अनुसार घर-घर सिलिंडर पहुंचाए जा रहे हैं।
... और पढ़ें

रात को पुल खुलते ही खिले नेपालियों के चेहरे

भारत-नेपाल दोनों देशों के स्थानीय प्रशासन और सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों के लगातार प्रयासों के बाद शुक्रवार रात अंतरराष्ट्रीय झूलापुल के गेट खोल दिए गए। गेट खुलते ही भारतीय सीमा में फंसे मजदूरों के चेहरे खिल उठे। इसके बाद आठ महिलाओं समेत 206 नेपाली मजदूरों को एक-एक कर नेपाल भेजा गया।
सीमा पर फंसे नेपाली मजदूरों को उनके वतन लौटाने के लिए पुलिस-प्रशासन, एसएसबी के साथ ही नेपाल व्यापार मंडल अध्यक्ष मंगल सिंह ठकुन्ना, धारचूला व्यापार मंडल अध्यक्ष भूपेंद्र थापा, दार्चुला मेयर हंस राज भट्ट के प्रयास सराहनीय रहे। उनके प्रयासों के बाद शुक्रवार रात सात बजे नेपाल की ओर से गेट खोला गया।
थानाध्यक्ष विजेंद्र शाह, नायब तहसीलदार मनीषा बिष्ट, एसएसबी पुल इंचार्ज एएसआई मोहन सिंह ने सभी मजदूरों को एक-एक कर नेपाल भेजा। वहां से तीन भारतीय भी धारचूला लौटे। इसी बीच, थानाध्यक्ष को सूचना मिली की 19 मजदूर और आ रहे हैं। इस पर वह मजदूरों को लेने कालिका पहुंचे। रात में 10: 30 बजे नेपाल प्रशासन से वार्ता के बाद उनकी भी झूलापुल का गेट खोल कर वतन वापसी कराई गई।
श्मशान घाट बना मजदूरों का विश्राम स्थल
धारचूला। भारत में काम करने वाले नेपाली बड़ी संख्या में लौट रहे हैं। नगर पालिका का काजी हाउस और शमशान घाट इन मजदूरों का विश्राम गृह बने हैं। शनिवार को डीडीहाट क्षेत्र से 80 किमी की दूरी पैदल चलकर भूखे-प्यासे 83 नेपाली मजदूर झूलापुल के पास पहुंचे। सभी काली नदी के किनारे बने काजी हाउस में बैठे हैं। वीरेंद्र सिंह ने बताया कि लॉकडाउन के चलते उन्हें काम भी नहीं मिल रहा है। बताया कि शाम तक 50 मजदूर और पहुंचने वाले हैं। मजदूरों के खाने-पीने की व्यवस्था स्थानीय लोगों की ओर से की जा रही है। रात में यह लोग गौशाला और काली नदी किनारे बने श्मशान घाट के विश्राम स्थल में सो रहे हैं। संवाद
बैतड़ी के सांसद भंडारी के प्रयास से 182 नेपाली पहुंचे वतन
झूलाघाट। भारत में लॉकडाउन के बाद फंसे 182 नेपालियों को शुक्रवार रात 10 :15 नेपाल भेजा गया। सभी लोगों को मेडिकल जांच के बाद बैतड़ी में बनाए गए क्वारंटीन केंद्रों में रखा गया है। दरअसल, झूलाघाट में फंसे लोगों ने नेपाल अपने गांव के लोगों से वार्ता की। ग्रामीणों ने बैतड़ी के सांसद दामोदर भंडारी को मामले की जानकारी दी। सांसद भंडारी ने नेपाल विदेश मंत्रालय में वार्ता की। इसके बाद ही कोरोना नियंत्रण उच्चस्तरीय कमेटी ने झूलाघाट और दार्चुला पुलों को खोलने की सहमति दी। झूलापुल रात में 11: 25 बजे बंद हुआ। एसएसबी के एएसआई जीवन सिंह ने बताया कि 182 नेपालियों को मेडिकल जांच के बाद नेपाल भेजा गया।
... और पढ़ें

बहराइच जा रहे श्रमिकों को प्रशासन ने गंगोलीहाट में रोका

गंगोलीहाट। बेड़ीनाग से पैदल आ रहे 16 श्रमिकों को प्रशासन ने गंगोलीहाट में रोक दिया। पयह मजदूर बेड़ीनाग में काम करते थे। लॉकडाउन होने के बाद से काम बंद हो गया जिस कारण ये लोग अपने घर बहराइच के लिए पैदल ही निकले। प्रशासन की ओर से नायब तहसीलदार दिनेश कुटोला, थानाध्यक्ष तारा सिंह राणा ने इन्हें समझाया। इन मजदूरों ने बताया कि बेड़ीनाग में जिस कमरे में रहते थे, उसे इन्होंने छोड़ दिया। इस पर प्रशासन ने मकान मालिक से इन्हें 14 अप्रैल तक कमरे में रखने और किराया न लेने को कहा गया है। 14 अप्रैल के बाद ही किराया लिया जाएगा। सभी मजदूरों के लिए भोजन आदि की व्यवस्था भी प्रशासन की ओर से की जा रही है। ... और पढ़ें

नेपालियों की मदद को आगे आए व्यास घाटी के प्रधान

नेपाल की ओर से अंतरराष्ट्रीय झूलापुल का गेट बंद होने से भारत में काम करने वाले नेपाली मजदूरों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। मजदूरों की परेशानियों को देखते हुए व्यास घाटी के प्रधान मदद को आगे आए हैं। उन्होंने मजदूरों के भोजन के लिए 40 हजार रुपये का राशन उपलब्ध कराया।
डीडीहाट, मदकोट, सेराघाट आदि जगहों से पैदल अपने गांव जाने के लिए पहुंचे करीब 180 नेपाली मजदूर बृहस्पतिवार से धारचूला में फंसे हैं। इन लोगों ने बृहस्पतिवार रात खुले में बिताई। भारतीय सुरक्षा एजेंसियों ने नेपाल गेट के इंचार्ज से पुल खोलने का अनुरोध किया। वहां के इंचार्ज ने गेट खोलने का आदेश नहीं होने की बात कही। इससे मजदूर काफी परेशान हैं।
मेट भीम बहादुर, महावीर भंडारी ने नेपाल सरकार की बेरुखी पर नाराजगी जताई। मजदूरों की समस्या को देखते हुए व्यास घाटी के कुटी गांव के प्रधान धर्मेंद्र कुमार, रौंगकौंग के अंजू रौंकली, गुंजी के सुरेश गुंज्याल, गर्ब्यांग के विजय गर्ब्याल, नपलच्यू के नरेंद्र सिंह और बूंदी के जगत सिंह बुदियाल ने आपस में करीब 40 हजार की धनराशि एकत्र कर पांच क्विंटल चावल, एक क्विंटल आटा, 50 किलो दाल, मासले, तेल आदि उपलब्ध कराया। पुलिस की ओर से लकड़ी, बर्तन उपलब्ध कराए। रं म्यूजियम की उर्मिला गुंज्याल ने टीम के साथ खाना बनाने में मदद की। मजदूरों के रात बिताने के लिए के पालिका ने नव निर्मित गौशाला खोल दी है।
... और पढ़ें

सफाई कर्मियों को बांटी 40 किलो मिठाई

कोरोना वायरस के खौफ के बीच नगर में सफाई व्यवस्था, दवाइयों के छिड़काव में लगे सफाई कार्मिकों के लिए पालिका प्रशासन को अन्नपूर्णा मिष्ठान प्रतिष्ठान की ओर से 40 किलो मिठाई उपलब्ध कराई गई।
नवरात्र को देखते हुए अन्नपूर्णा मिष्ठान के देवकीनंदन जोशी, दिनेश जोशी ने खोया और अन्य सामग्री मंगाई थी। इसी बीच लॉकडाउन के चलते बाजार बंद हो गई। प्रतिष्ठान स्वामियों ने मिठाई बनवाकर उसे कोरोना वायरस की जंग लड़ रहे कार्मिकों को उपलब्ध कराने का निर्णय लिया।
शुक्रवार को पालिका के अधिशासी अधिकारी मनोज दास, सभासद किशन खड़ायत ने सफाई कार्मिकों को मिठाई बांटी। इस मौके पर दिनेश जोशी, शंकर खड़ायत, विकास कुमार, सुंदर, रवि, गोलू, महेंद्र बिष्ट आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

निर्धारित मूल्य से अधिक कीमत पर सामान बेचा तो होगी कार्रवाई

जिले में शुक्रवार को लॉकडाउन का मिलाजुला असर रहा। राशन, फल एवं सब्जी की दुकानों के साथ ही आटा चक्की सुबह बजे से अपराह्न एक बजे तक खुली रही। रसोई गैस की होम डिलीवरी की गई। लोगों ने जरूरत का सामान खरीदा। डीएम डॉ.विजय कुमार ने निर्धारित कीमतों से अधिक में सामान बेचने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।
डीएम ने बताया कि जिले में आवश्यकीय सामग्री, राशन, सब्जी, कुकिंग गैस, दवाइयां वाहनों से यहां पहुंच रही हैं। इस सामग्री का विवरण रखने के लिए घाट, पनार और सेराघाट में कार्मिकों की तैनाती की गई है। वह प्रतिदिन जिले में आने वाले वाहन और आवश्यक सामग्री का विवरण संकलित कर प्रतिदिन की रिपोर्ट जिला मुख्यालय में स्थापित कंट्रोल रूम को उपलब्ध कराएंगे। इसके लिए डिप्टी कलेक्टर हिमांशु कफल्टिया को नोडल अधिकारी नामित किया गया है।
डीएम ने आवश्यक वस्तुओं को निर्धारित कीमत से अधिक बेचने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। राशन, एलपीजी गैस, सब्जियां फल, सैनेटाइजेशन किट, डीजल,पेट्रोल एवं मेडिकल स्टोर पर दवाइयों की उपलब्धता के साथ ही ओवर रेटिंग की रोकथाम और छापा मारने के निर्देश सभी उपजिलाधिकारियों को दिए गए हैं। मजदूरों को चिह्नित कर भोजन की आपूर्ति करने को कहा है।
शुक्रवार को पिथौरागढ़ में 90 राशन के पैकेट मजदूरों और गरीबों को बांटे गए। इसमें आटा, चावल, दाल, मसाला, तेल आदि दिया जा रहा है। एडीएम आरडी पालीवाल और एसडीएम तुषार सैनी ने भी नगर में जाकर व्यवस्थाओं का जायजा लिया।
बड़ी संख्या में पास के लिए पहुंचे लोग
पिथौरागढ़। लॉकडाउन के कारण बड़ी संख्या में लोग फंसे हुए हैं। इनमें छात्र भी शामिल हैं। जांच और उपचार के लिए पिथौरागढ़ आए मरीज भी परेशान हैं। शुक्रवार को बड़ी संख्या में लोग पास बनाने के लिए कलक्ट्रेट पहुंचे। लोगों की भीड़ को देखते हुए कलक्ट्रेट के गेट बंद कर सुरक्षा बल तैनात किया गया। बाद में तमाम जरूरतमंदों के साथ ही ट्रांसपोर्ट संचालकों को पास जारी किए गए।
पिथौरागढ़ में राशन और सब्जी खरीदने के लिए कतार में खड़ी महिलाएं।  संवाद
पिथौरागढ़ में राशन और सब्जी खरीदने के लिए कतार में खड़ी महिलाएं। संवाद- फोटो : PITHORAGARH
शुक्रवार को पिथौरागढ़ के डीएम डा.विजय कुमार ने कई घरों में जाकर लोगों से राशन या अन्य जरूरतों के ब?
शुक्रवार को पिथौरागढ़ के डीएम डा.विजय कुमार ने कई घरों में जाकर लोगों से राशन या अन्य जरूरतों के ब?- फोटो : PITHORAGARH
... और पढ़ें

मुनस्यारी के तीन मरीजों को क्वारंटीन में रखा

मुनस्यारी सीएचसी से रेफर एक ही परिवार के तीन मरीजों को प्राथमिक उपचार के बाद क्वारंटीन में रखा गया है।
मुनस्यारी के एक ही परिवार के लोग पांच मार्च को खटीमा शादी समारोह में गए थे। वहां से लौटने के बाद उन्हें सर्दी-जुकाम, बुखार की शिकायत हुई।
इस पर उन्होंने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में उपचार कराया। बृहस्पतिवार रात चिकित्सकों ने तीनों मरीजों को संदिग्ध मानते हुए जिला अस्पताल रेफर कर दिया। मरीज शुक्रवार सुबह अस्पताल पहुंचे। फिजीशियन डॉ. एसएस कुंवर ने तीनों मरीजों की जांच की। उन्होंने बताया कि तीनों मरीजों में सामान्य लक्षण पाए गए हैं। तीनों को राजकीय संग्रहालय में बनाए क्वारंटीन में रखा गया है।
बाहर से लोगों के आने से ग्रामीण भयभीत
मदकोट के ग्रामीण क्षेत्रों में कई लोग शहरी क्षेत्रों से आए हैं। इनमें से कई युवकों का स्वास्थ्य परीक्षण भी नहीं किया गया है। इससे ग्रामीण डरे हुए हैं। ढूनामानी गांव में भी एक युवक पुणे से जबकि एक युवक पंजाब से यहां आया है। दोनों की जांच नहीं की गई है। ग्राम प्रधान हर्ष सिंह भंडारी ने प्रशासन को सूचित कर दोनों युवकों के स्वास्थ्य की जांच करने की मांग की है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us