विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Uttarakhand Lockdown update Live: चंपावत में लॉकडाउन के दौरान लोगों का रूझान बागवानी की तरफ बढ़ा

कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमित मामलों के बीच गुरुवार का दिन स्वास्थ्य विभाग के लिए राहत लेकर आया। मेडिकल कॉलेज हल्द्वानी और एम्स ऋषिकेश से आई सैंपल जांच रिपोर्ट में कोई कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला। 

10 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

टिहरी

शुक्रवार, 10 अप्रैल 2020

बैंक ही नहीं अब डाकघर से भी मिलेंगे पैसे

कोरोना संक्रमण को देखते हुए केंद्र सरकार के निर्देश पर भारतीय डाक विभाग कि आधार इनेबल्ड पेमेंट सिस्टम के माध्यम से डाकघरों से भी धनराशि निकाल सकते हैं। डाकघर कर्मी घर-घर जाकर जरूरतमंद खाता धारक को भुगतान कर सकते हैं।
डाक अधीक्षक टिहरी एसके कंडवाल ने बताया की भारतीय डाक विभाग कि एक नई योजना आधार इनेबल्ड पेमेंट सिस्टम के तहत किसी भी ग्रामीण को बैंक जाने की जरूरत नहीं है। बल्कि वह अपने नजदीकी डाकघर में जाकर अपना आधार नंबर बता कर किसी भी बैंक के खाते से जिसमें उनका आधार नंबर चढ़ाया है। उसकी पेमेंट अपने नजदीकी ग्रामीण क्षेत्र में डाकघर से निकाल सकते हैं। साथ ही अगर कोई बुजुर्ग या दिव्यांग या अन्य व्यक्ति यह सेवा घर में भी लेना चाहे, तो डाक विभाग का पोस्टमैन सेवाएं ट्रांजेक्शन बायोमीट्रिक कर दे सकते हैं। इसके साथ ही केंद्र सरकार की विभिन्न योजनाओं का लाभ इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक के माध्यम से भी दी जा रही है।
... और पढ़ें

वन विभाग ने शुरू किया कंट्रोल बर्निंग का काम

वन विभाग ने गर्मी का सीजन शुरू होते हुए जंगलों को आग से बचाने की मुहिम शुरू कर दी है। विभाग ने इसकी शुरूआत टिहरी रेंज से कर दी है। फायर वॉचर सड़कों के किनारे और जंगलों के बीच पड़े कूड़ा करकट एकत्रित कर जला रहे हैं।
कोरोन संक्रमण के कारण हुए लॉकडाउन के बीच वन विभाग ने सोशल डिस्टेंस का पालन कर टिहरी रेंज के कमांद, मैंडखाल, सुरसिंगधार, जाखणीधार, टिपरी, अंजनीसैंण आदि स्थानों पर कंट्रोल बर्निंग शुरू कर दिया है। करीब 40 फायर वॉचर इन स्थानों पर 10-10 मीटर की दूरी बनाकर सड़कों के किनारे और जंगलों के बीच पड़े प्लास्टिक, खाली बोतलें, पिरुल समेत अन्य ज्वलंत शील वस्तुओं को एकत्रित कर उसे जला रहे हैं। इस मौके पर डिप्टी रेंज अधिकारी शशि भूषण उनियाल, लक्ष्मण सजवाण, पीएल डोभाल, रमेश थपलियाल, विनोद सिंह, हरिराम डबराल आदि मौजूद थे।
... और पढ़ें

इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक से भी हो रहे भुगतान

कोरोना संक्रमण को देखते हुए केंद्र सरकार के निर्देश पर इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक के माध्यम से प्रधानमंत्री जनधन योजना के महिला खाताधारकों, पीएम किसान सम्मान लाभार्थियों और सामाजिक सुरक्षा पेंशन धारकों को नकद भुगतान किया जा रहा है।
इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक के वरिष्ठ शाखा प्रबंधक राहुल गोयल ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान भी केंद्र सरकार की विभिन्न लाथार्थियों को इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक के माध्यम से तीन अप्रैल से सुबह आठ से एक बजे अपराह्न तक भुगतान किया जा रहा है। अभी तक करीब 40 लोगों को प्रधानमंत्री जनधन, पीएम किसान सम्मान, सामाजिक सुरक्षा आदि के भुगतान किए जा चुके हैं।
... और पढ़ें

प्रति यूनिट पांच-पांच किलो मिलेगा चावल

लॉकडाउन के दौरान केंद्र सरकार की ओर से दिए जाने वाले पांच-पांच किलो निशुल्क चावल का लाभ केवल राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा और अंत्योदय के कार्डधारकों को ही मिलेगा। राज्य खाद्य सुरक्षा और एपीएल कार्डधारकों को योजना का लाभ नहीं मिल पाएगा। प्रत्येक परिवार को प्रति यूनिट के हिसाब से पांच-पांच किलो चावल तीन माह के लिए दिया जाएगा। जिले के खाद्यान्न गोदामों में चावल उपलब्ध हो गया है। जल्द ही निशुल्क चावल का वितरण शुरू हो जाएगा।
लॉकडाउन के अवधि में जनता को राशन की दिक्कत न हो। इसके लिए केंद्र और राज्य सरकारें लगातार कार्य योजना बना रही हैं। केंद्र सरकार की ओर से भी प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत अंत्योदय कार्डधारक और राष्ट्रीय खाद्य योजना के लाभार्थी परिवारों को तीन माह का चावल निशुल्क दिया जाना है। जिलापूर्ति अधिकारी मुकेश पाल का कहना है कि इस योजना के तहत जिलेभर के कुल तीन लाख 92 हजार 149 लाभार्थी हैं। उन्होंने बताया कि इन सभी लाभार्थियों के राशन कार्ड ऑनलाइन हैं, जिनके सापेक्ष केंद्र सरकार ने चावल का कोटा निर्धारित किया है। उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार ने 28 मार्च 2020 तक ऑनलाइन हुए राशन कार्डधारकों को योजना में शामिल किया है। प्रत्येक यूनिट पर तीन माह के लिए पांच-पांच किलो के हिसाब से कुल 15 किलो चावल दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि घनसाली, लंबगांव, चंबा व नई टिहरी समेत कई गोदामों में योजना का चावल उपलब्ध हो गया है। विभागीय कर्मचारी अब सस्ता गल्ला दुकानों में राशन भेज रहे हैं। उन्होंने बताया कि अवशेष गोदामों में भी जल्द राशन उपलब्ध हो जाएगा। विभाग का लक्ष्य है कि इस माह के अंत तक तीन माह का चावल उपभोक्ताओं को दिया जाए।
... और पढ़ें

दो दिन बिस्कुट खाकर मिटाई भूख

लॉकडाउन में मजदूर वर्ग को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि मदद के लिए कई संस्थाएं, प्रशासन आगे आ रहा है फिर भी हर जरूरतमंद तक मदद नहीं पहुंच पा रहे हैं। जिला मुख्यालय में रह रहे नेपाली पल्लेदार खगेंद्र बहादुर, दिल बहादुर और तिल बहादुर को दो दिन तक भोजन नहीं मिल पाया। उन्होनें बताया कि वह एक माह पहले ही घर से आए थे, जो कुछ कमाया वह घर भेज दिया था। अब पैसा खत्म होने से खाने का संकट होने लगा। उन्होंने बताया कि कुछ और दिन अन्य मजदूर साथियों से मांगकर खाना खाया। अब दो दिन से खाना नहीं खाया बिस्कुट खाकर ही भूख मिटाई। जब इसकी सूचना नागरिक मंच और नगर पालिका को मिली तो उन्होंने मजदूरों को भोजन और राशन दिया। ... और पढ़ें

विधायक और संघ ने जरूरतमंदों को बांटी राशन

प्रतापनगर के विधायक विजय सिंह पंवार, भाजपा जिलाध्यक्ष विनोद रतूड़ी और आरएसएस ने लंबगांव नगर पंचायत में मजदूर, गरीब और निराश्रित महिलाओं को राशन बांटी।
प्रतापनगर विधायक पंवार ने नगर पंचायत के अधिकारियों को बाजार में कीटनाशक का छिड़काव करने, एसडीएम रजा अब्बास को ग्रामस्तर तक राशन की क्रॉस चेकिंग के निर्देश दिए। इस मौके पर रोशन लाल सेमवाल, हर्षमणी सेमवाल, जयेंद्र सेमवाल, परमवीर सिंह, संजू, मुरारी सहित कई मौजूद थे। सरस्वती शिशु मंदिर बौराड़ी में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की ओर से 18 जरूरतमंद परिवारों को राहत सामग्री दी। इस मौक पर जिला कार्यवाह संजीव भट्ट, देवी प्रसाद नौटियाल, वेणीमाधव शाह, दौलतराम बिजल्वाण, सतीश थपलियाल, जगतमणी पैन्यूली, राहुल जखमोला आदि मौजूद थे।
... और पढ़ें

टिहरीः चवाड़ बैंड में सील सीमा, ग्रामीणों की आवाजाही के लिए खुली

प्रतापनगर के चवाड़ बैंड में सील की गई उत्तरकाशी जिले की सीमा खुलने से गाजणा और उपली रमोली पट्टी के दर्जनों गांवों में निवासरत लोगों को राहत मिल गई। क्षेत्र के लोगों की मांग पर प्रशासन ने सील की गई सीमा स्थानीय लोगों की आवाजाही के लिए खोल दी है। गाजणा और उपली रमोली पट्टी के लोग अब लंबगांव बाजार खाद्यन्न, सब्जी और दवाइयों के लिए आ जा सकते हैं।
चार अप्रैल को उत्तरकाशी जिला प्रशासन ने लंबगांव से सटी उत्तरकाशी जिले की सीमा सील कर दी है थी, जिससे लंबगांव बाजार से सटी गाजणा और उपली रमोली पट्टी के गांवों के लोग बाजार खाद्य सामग्री और सब्जी खरीदने नहीं पहुंच पा रहे थे। जिला पंचायत सदस्य संगठन के प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप भट्ट और रेखा असवाल नेे टिहरी और उत्तरकाशी डीएम को ज्ञापन प्रेषित कर शीघ्र समस्या समाधान करने की मांग की थी। जनप्रतिनिधियों की मांग पर मंगलवार शाम को प्रशासन ने चवाड़ बैंड में सील की गई सीमा को आवाजाही के लिए खोल दिया है। सीमा खुलने से गढथाती, रमोली, बडेथ, न्यूगांव, भैंत, हुल्डियाण, गोरसाडा, मट्टी, धनेटी, श्रीकालखाल गांव के लोगों को राहत मिली है। गंगा प्रसाद नौटियाल, सुरेंद्र प्रसाद, प्रेम पोखरियाल ने जिला प्रशासन का आभार व्यक्त किया है।
... और पढ़ें

LockDown: अब श्रीदेव सुमन विवि के छात्र भी कर सकेंगे ऑनलाइन पढ़ाई, वेबसाइट पर उपलब्ध है पाठयक्रम

श्रीदेव सुमन विवि से संबद्ध 53 राजकीय महाविद्यालयों और 114 निजी कॉलेजों में अध्ययनरत छात्र-छात्राएं लॉकडाउन के दौरान घर बैठे ऑनलाइन पढ़ाई कर सकेंगे। विवि प्रशासन ने वेबसाइट पर विभिन्न एजुकेशलन साइट्स, प्रोफेशनल संस्थानों के लिंक शेयर किए हैं।

लॉकडाउन के चलते श्रीदेव सुमन विवि सेमेस्टर परीक्षाओं का केंद्रीय मूल्यांकन नहीं कर पा रहा है। कॉलेज बंद होने के कारण छात्र-छात्राएं भी पढ़ाई से वंचित हैं। कुलपति डा. पीपी ध्यानी और कुछ कर्मचारी लॉकडाउन पीरियड में सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुए कार्यालय में जरूरी कामकाज निपटाने पहुंच रहे है।

कुलपति डा. ध्यानी का कहना है कि लॉकडाउन में छात्र-छात्राओं को शैक्षणिक गतिविधियां संचालित करने में कोई दिक्कतें न हो, इसके लिए देश-दुनिया के टॉप विश्वविद्यालय, बिजनेस संस्थान, जॉब सीकर वेब, समाचार एजेंसियों के लिंक विवि की वेबसाइट-
www.sdsuv.ac.in पर विवि प्रशासन ने हाइपर लिंक कर दिया है। अब छात्र-छात्राएं घर बैठे पीसी, लैपटॉप, मोबाइल, टैबलेट पर इन लिंकस को खोलकर अपडेट रह सकते हैं।

उन्होंने कालेजों के प्राचार्यों और निदेशकों को लॉकडाउन के दौरान छात्र-छात्राओं से निरंतर संवाद बनाए रखने को कहा है। कहा कि छात्रों की कोई भी समस्या हो तो उन्हें सोशल नेटवर्किंग साइट्स, ई-मेल, व्हाट्स एप, ट्वीटर आदि माध्यम से हल करें। कुलपति का कहना है कि यदि लॉकडाउन पीरियड लंबा खिंचता है, तो सेमेस्टर परीक्षाओं की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन करने शिक्षकों के घरों पर ही भेजे जाएंगे।
... और पढ़ें

अब श्रीदेव सुमन विवि के छात्र भी कर सकेंगे ऑनलाइन पढ़ाई

श्रीदेव सुमन विवि से संबद्ध 53 राजकीय महाविद्यालयों और 114 निजी कॉलेजों में अध्ययनरत छात्र-छात्राएं लॉकडाउन के दौरान घर बैठे ऑनलाइन पढ़ाई कर सकेंगे। विवि प्रशासन ने वेबसाइट पर विभिन्न एजुकेशलन साइट्स, प्रोफेशनल संस्थानों के लिंक शेयर किए हैं।
लॉकडाउन के चलते श्रीदेव सुमन विवि सेमेस्टर परीक्षाओं का केंद्रीय मूल्यांकन नहीं कर पा रहा है। कॉलेज बंद होने के कारण छात्र-छात्राएं भी पढ़ाई से वंचित हैं। कुलपति डा. पीपी ध्यानी और कुछ कर्मचारी लॉकडाउन पीरियड में सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुए कार्यालय में जरूरी कामकाज निपटाने पहुंच रहे है।
कुलपति डा. ध्यानी का कहना है कि लॉकडाउन में छात्र-छात्राओं को शैक्षणिक गतिविधियां संचालित करने में कोई दिक्कतें न हो, इसके लिए देश-दुनिया के टॉप विश्वविद्यालय, बिजनेस संस्थान, जॉब सीकर वेब, समाचार एजेंसियों के लिंक विवि की वेबसाइट-www.sdsuv.ac.in पर विवि प्रशासन ने हाइपर लिंक कर दिया है। अब छात्र-छात्राएं घर बैठे पीसी, लैपटॉप, मोबाइल, टैबलेट पर इन लिंकस को खोलकर अपडेट रह सकते हैं। उन्होंने कालेजों के प्राचार्यों और निदेशकों को लॉकडाउन के दौरान छात्र-छात्राओं से निरंतर संवाद बनाए रखने को कहा है। कहा कि छात्रों की कोई भी समस्या हो तो उन्हें सोशल नेटवर्किंग साइट्स, ई-मेल, व्हाट्स एप, ट्वीटर आदि माध्यम से हल करें। कुलपति का कहना है कि यदि लॉकडाउन पीरियड लंबा खिंचता है, तो सेमेस्टर परीक्षाओं की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन करने शिक्षकों के घरों पर ही भेजे जाएंगे।
... और पढ़ें

चवाड़ बैंड के बजाय कौडार में हो सीमा सील

लॉकडाउन के चलते चवाड़ बैंड में टिहरी जिले के उपली रमोली और उत्तरकाशी जनपद के गाजणा पट्टी के लोगों की मुसीबत बढ़ गई है। सीमा सील होने के कारण आसपास के गांवों में निवासरत लोग पैदल भी लंबगांव बाजार खाद्य सामग्री और सब्जी खरीदने नहीं पहुंच पा रहे हैं।
चार अप्रैल को उत्तरकाशी जिला प्रशासन ने लंबगांव से सटी उत्तरकाशी जिले की सीमा सील कर दी है। जनप्रतिनिधियों ने प्रशासन से चवाड़ बैंड के बजाय कौडार में सीमा सील करने की मांग की है। जिला पंचायत सदस्य संगठन के प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप भट्ट और रेखा असवाल ने टिहरी और उत्तरकाशी डीएम को ज्ञापन प्रेषित कर शीघ्र समस्या समाधान करने की मांग की है। ज्ञापन में कहा गया है कि उत्तरकाशी गाजणा पट्टी के गढथाती, रमोली, बडेथ, न्यूगांव, भैंत, हुल्डियाण, गोरसाडा, मट्टी, धनेटी, श्रीकालखाल गांव लंबगांव बाजार से सटे हैं। गांव के लोग रोजमर्रा की जरूरत के सामान के लिए लंबगांव जाते हैं।
... और पढ़ें

21 बांड वाले डॉक्टर भी हुए नियमित

कोरोना संक्रमण के निपटने और स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर बनाने के लिए जिले को आठ नए एमबीबीएस चिकित्सक मिल गए हैं, जबकि वर्षों से बांड पर कार्यरत 21 डाक्टरों को नियमित कर दिया है।
जिले में वर्तमान में डाक्टरों के 226 पद सृजित है, जिनमें से अभी तक 113 नियमित और 67 संविदा/बांड पर तैनात थे। उनमें भी अधिकांश सुगम स्थानों पर ही तैनात हैं। अब सरकार ने कोरोना संक्रमण के बीच आठ एमबीबीएस डाक्टरों की नई तैनाती करते हुए पहले से बांड पर कार्यरत 21 डाक्टरों को भी नियमित कर दिया है। स्वास्थ्य विभाग ने सभी 29 डाक्टरों को स्वास्थ्य केंद्रों में तैनाती दे दी है। इनमें से सीएचसी चंबा में तीन, छाम, चौंड, थत्यूड़ में दो-दो, प्रतापनगर, खाड़ी में एक-एक एलोपैथिक चिकित्सालय नकोट, खंडोगी, कांडीखाल मगरौं, घनसाली में एक-एक, अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य न्यूली, बूढाकेदार, टकोली, धारकोट, लंबगांव, जाखणीधार, हिंसरियाखाल में एक-एक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नरेंद्रनगर, कीर्तिनगर में एक-एक, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र छेरपधार, पिलखी आदि शामिल हैं। साथ ही विभाग को उम्मीद है कि दो-तीन दिन के अंदर एक दर्जन और डाक्टरों के सरकार से मिलने की उम्मीद है। सीएमओ डा. मीनू रावत का कहना है कि नियुक्त किए गए डाक्टरों को रिक्त पदों के सापेक्ष नियुक्तियां दे दी गई है।
... और पढ़ें

विदेशों से जिले में लौट चुके हैं 397 लोग

छत से गिरे जवान की छाती में घुसा सरिया, मौत

मुनस्यारी (पिथौरागढ़)। मुनस्यारी के सेरासुरईधार ग्राम पंचायत में अवकाश पर घर आए 27 वर्षीय सैनिक की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। परिजन छत से गिरने और सीने में सरिया घुसने से मौत होने बता रहे हैं। पुलिस को मौके पर बंदूक भी मिली है। जानकारी के अनुसार, राजेन्द्र सिंह दसौनी पुत्र मंगल सिंह दसौनी कुमाऊं रेजिमेंट में कलकत्ता में कार्यरत था। वह छुट्टी पर घर आया था। सोमवार को दोपहर उसकी मौत हो गई। परिजनों के मुताबिक राजेंद्र छत से गिर गया था इस दौरान उसकी छाती में सरिया घुस गया। उसे मुनस्यारी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाए जहां पर डॉक्टरों ने मृत घोषित किया। घर में मृतक जवान के माता पिता, पत्नी और दो माह की बेटी है। सूचना पर प्रभारी थानाध्यक्ष मुनस्यारी महेश जोशी एवं टीम ने शव का पंचायतनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। थानाध्यक्ष के मुताबिक घटनास्थल पर कारतूस वाली एक बंदूक बरामद हुई है। जांच की जा रही है। पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आने पर अग्रिम कार्रवाई की जाएगी। ... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us