विज्ञापन

लॉकडाउन से प्रभावित परिवारों की मदद को बढ़े हाथ

Dehradun Bureauदेहरादून ब्यूरो Updated Sun, 29 Mar 2020 08:57 PM IST
विज्ञापन
नई टिहरी के बौराड़ी में गरीबों को खाद्य सामग्री वितरित करते आरएसएस के स्वयंसेवक।
नई टिहरी के बौराड़ी में गरीबों को खाद्य सामग्री वितरित करते आरएसएस के स्वयंसेवक। - फोटो : NEW TEHRI
ख़बर सुनें
कोरोना संक्रमण को चलते हुए लॉकडाउन से प्रभावित हुए मजदूरों और असहाय लोगों की मदद के लिए विभिन्न संगठनों ने हाथ बढ़ाए हैं। संगठनों ने नगरक्षेत्र में रहने वाले मजदूरों को भोजन कराकर राशन भी बांटा।
विज्ञापन

बौराड़ी में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की श्रीदेव सुमन शाखा ने निर्बल वर्ग के 30 परिवारों को 15-15 दिन का राशन दिया। इस मौके पर नगर संघ संचालक सतीश थपलियाल, जगतमणी पैन्यूली, संजीव भट्ट, दौलत बिजल्वाण, बेणी माधव शाह, राहुल जखमोला, कैलाश रमोला आदि मौजूद थे। डिप्लोमा इंजीनियर महासंघ के अध्यक्ष प्रमोद नेगी, पालिका के शिव सिंह सजवाण, सतीश चमोली समेत कई विभागों से जुड़े कर्मचारियों ने अपने संसाधनों से 30 मजदूरों, स्थानीय गरीब परिवारों को राशन बांटा। नगर के लक्ष्मी प्रसाद भट्ट, शीशराम थपलियाल, खुशी लाल, बिन्नी पंवार, संजय रावत, प्रवीन भट्ट, अमरीश पाल, पूर्व सैनिक रमेश रतूड़ी आदि ने बौराड़ी बस अड्डे में मजदूरों को भोजन करवाया। बीबीएस पब्लिक स्कूल बौराड़ी और नागरिक मंच के सहयोग से नगर क्षेत्र के ढुंगीधार, पिपली, केमसारी टिन शेड में रहने वाले 40 गरीब परिवारों को राशन बांटा। इस मौके पर बीबीएस स्कूल की प्रबंधक विनीता बिष्ट, नागरिक मंच के अध्यक्ष सुंदरलाल उनियाल, केएस महर, कर्म सिंह तोपवाल, भगवान चंद रमोला, महिपाल सिंह नेगी आदि मौजूद थे।
गोपेश्वर। नगर पंचायत नंदप्रयाग ने बदरीनाथ हाईवे से लगो बिरही गांव में बारह परिवारों को खाद्यान्न सामग्री उपलब्ध करवाई। पंचायत अध्यक्ष डा. हिमानी वैष्णव को ग्रामीणों ने फोन कर खाद्यान्न न होने की बात कही, जिस पर अध्यक्ष ने नगर पंचायत के कर्मचारियों के साथ ग्रामीणों को खाद्यान्न मुहैया कराया साथ ही ग्रामीणों को जरूरी वस्तुएं भी उपलब्ध कराई गई। वहीं, नंदप्रयाग में सब्जी व खाद्यान्न लेकर पहुंच रहे ट्रक चालकों को भी नगर पंचायत की ओर से लंच पैकेट वितरित किए जा रहे हैं।
दुगड्डा। दुगड्डा पुलिस ने दुगड्डा क्षेत्र में बिहार के 10 भूखे परिवारों को राशन सामग्री वितरित की। दुगड्डा चौकी इंचार्ज ओमप्रकाश ने बताया कि ये परिवार कहीं बाहर से मजदूरी करके आ रहे थे, यातायात साधन न मिलने पर ये परिवार दुगड्डा क्षेत्र में ही रुके हैं। उधर, राजस्व उपनिरीक्षक संगीता राज ने लोनिवि के सहयोग से दुगड्डा में लॉकडाउन के तहत घरों में कैद लोगों को जरूरी सामान पहुंचाया।
डिप्टी कलक्टर ने दिया एक माह का वेतन
रुद्रप्रयाग। कोरोना महामारी के चलते जनपद रुद्रप्रयाग में डिप्टी कलक्टर के पद पर तैनात दिनेश प्रताप सिंह ने प्रधानमंत्री राहत कोष में अपने एक माह की वेतन दिया। वहीं, ऊखीमठ विकासखंड के ग्राम पंचायत दैड़ा मस्तूरा के प्रधान योगेंद्र सिंह नेगी ने अपने पांच माह का वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा किया है।
कर्मियों ने राहत कोष में जमा किए 2.30 लाख
पौड़ी। उत्तराखंड जनरल ओबीसी इंप्लाइज एसोसिएशन कोरोना महामारी से जीवन सुरक्षा की लड़ाई में सरकार के साथ खड़ा है। एसोसिएशन से जुड़े कर्मचारियों ने मुख्यमंत्री राहत कोष में 2.30 लाख जमा कर दिए हैं। एसोसिएशन के मुख्य संयोजक सीताराम पोखरियाल व कोषाध्यक्ष जसपाल सिंह रावत का कहना है कि एसोसिएशन का जनपद पौड़ी से मुख्यमंत्री राहत कोष में 10 से अधिक धनराशि जमा किए जाने का लक्ष्य है। उन्होंने कहा कि आपदा की इस घड़ी में प्रत्येक कर्मचारी प्रदेश सरकार के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा है।
बाहरी राज्यों के मजदूरों एवं निराश्रितों को भोजन एवं खाद्यान्न वितरण का कार्य हुआ शुरू
उत्तरकाशी/पुरोला/चिन्यालीसौड़/बड़कोट। जनपद में विभिन्न स्थानों पर रहे बाहरी स्थानों के मजदूरों तथा निराश्रितों की मदद के लिए प्रशासन के साथ ही विभिन्न जनसंगठनों ने मदद के हाथ बढ़ाए हैं। जिले में जगह-जगह इस तरह के लोगों को चिन्हित कर उन्हें पके हुए भोजन के साथ ही खाद्यान्न के पैकेट भी मुहैया कराए जा रहे हैं। ताकि लॉक डाउन की अवधि में उन्हें भुखमरी का सामना न करना पड़े। इसके साथ ही सभी लोगों से लॉक डाउन में अपने स्थान पर ही बने रहने की अपील की जा रही है।
कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए जो जहां है उसे वहीं रोकने के उद्देश्य से पूरे देश में लॉक डाउन किया गया है। बीते कुछ दिनों से जिले में बाहरी जनपदों एवं राज्यों के फंसे हुए मजदूरों के साथ ही निराश्रितों के समक्ष दो वक्त की रोटी का संकट खड़ा हो गया था। इसे देखते हुए प्रशासन द्वारा इस तरह के लोगों को चिन्हित कर इन्हें पके हुए भोजन के साथ ही खाद्यान्न के पैकेट मुहैया कराए जा रहे हैं। इस कार्य में विभिन्न स्वयंसेवी संगठन भी आगे आए हैं। जिला मुख्यालय पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवकों ने करीब 200 मजदूरों को 20-20 दिन का राशन वितरित किया। आरएसएस के पूर्णानंद भट्ट, राजपुष्प, पूर्ण सिंह रावत, चंद्रवीर राणा, हरीश डंगवाल, मनोज वर्मा, चंदन आदि ने सभी लोगों से लॉक डाउन अवधि में अपने स्थान पर ही बने रहने की अपील की। बाड़ाहाट के वन क्षेत्राधिकारी रविंद्र पुंडीर के नेतृत्व में भी मजदूरों एवं निराश्रितों को भोजन पैकेट वितरित किए गए।
बड़कोट में पुलिस प्रशासन ने जय हो ग्रुप की मदद से 319 लोगों को भोजन एवं खाद्यान्न के पैकेट वितरित किए। चिन्यालीसौड़ में प्रशासन की ओर से नगर में 573 तथा ग्रामीण क्षेत्रों में 93 बाहरी मजदूरों को चिहिन्त कर उन्हें राशन किट वितरित किए। इस मौके पर नोडल अधिकारी सुरेश तोमर, बीडीओ श्रुति वत्स, तहसीलदार बीएस रावत, ईओ एचएस रौतेला, विनोद जगूड़ी, चंद्रविकास आदि मौजूद रहे। पुरोला में नगर पंचायत अध्यक्ष हरिमोहन नेगी ने मजदूरों एवं निराश्रितों को भोजन के पैकेट बांटे। जबकि स्थानीय प्रशासन ने मजदूरों को खाद्यान्न किट वितरित की। एसडीएम मनीष कुमार सिंह ने कहा कि लॉक डाउन के दौरान किसी को भी भूखा नहीं रहने दिया जाएगा। उन्होंने सभी लोगों से इसमें सहयोग की अपील की।
उत्तरकाशी से पंकज गुप्ता।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us