विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020
Astrology Services

हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

उत्तराखंड: देवभूमि ने जमीन पर दीये तो आसमान में आतिशबाजी से दिया सुरक्षित भारत का संदेश, तस्वीरें...

कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में उत्तराखंड की जनता एक बार फिर एकजुट नजर आई।

5 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

टिहरी

रविवार, 5 अप्रैल 2020

कोरोना से शुरू हुई जंग, लोग आए संग

लॉकडाउन की वजह से परेशान मजदूरों, बेसहारा लोगों की मदद के लिए विभिन्न संगठनों से जुड़े लोग मदद के लिए आगे आए हैं। जहां कई संगठनों की ओर से राशन, भोजन वितरित किए जा रहे हैं, वहीं लोगों को बीमारी से बचाने के लिए मास्क व सैनिटाइजर भी दिया जा रहा है।
नई टिहरी। गजा, नरेंद्रनगर, सदड़गांव, भागीरथीपुरम में लोगों ने राहत सामग्री बांटी। गजा में नगर पंचायत अध्यक्ष मीना खाती, ईओ मंजू चौहान, तहसीलदार हरिहर उनियाल ने 70 मजदूरों को राशन के पैकेट दिए। प्रगतिशील जन विकास संगठन ने 35 हजार जुटाई। डिप्लोमा इंजीनियर महासंघ ने 70 लोगों को राशन दिया। खेमड़ा की ग्राम स्वास्थ्य स्वच्छता एवं पोषण समिति की सचिव व आशा कार्यकर्ता रजनी गुसाईं ने 400 मास्क बांटे। प्रतापनगर के सदड़ गांव मुखेम में इंटक कांग्रेस, नरेंद्रनगर के कुम्हारखेडा, आशा किरण आश्रम में आरएसएस ने राशन बांटा।
मास्क और सैनिटाइजर बांटे
जोशीमठ/गोपेश्वर/कर्णप्रयाग/देवाल/ऊखीमठ। नगर पालिका जोशीमठ के अध्यक्ष शैलेंद्र पंवार की ओर से लोगों को मास्क और सैनिटाइजर बांटे गए। वहीं, गोपेश्वर में पालिकाध्यक्ष सुरेंद्र लाल ने व्यवस्थाएं देखी। उधर, कर्णप्रयाग में पालिका ने फॉगिंग की और पालिकाध्यक्ष दमयंती रतूड़ी ने मास्क बांटे। इधर, देवाल में चिकित्साधिकारी डॉ. मनोज कुमार ने बताया कि दुबई से पहुंचे तीन लोगों का क्वारंटीन किया गया है। ऊखीमठ के ग्राम पंचायत मक्कूमठ और पाव-जगपुड़ा ने कोराना वायरस संक्रमण से बचाव और व्यवस्थाओं के लिए प्रधानमंत्री राहत कोष में दो लाख देंगे।
जरूरतमंदों को कराएं राशन उपलब्ध: मेयर
कोटद्वार/दुगड्डा। मेयर हेमलता नेगी ने कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव को लेकर नगर निगम के अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने सफाई कर्मचारियों को प्रत्येक वार्ड में कीटनाशक दवाइयों का नियमित छिड़काव करने एवं अधिकारियों को मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए।
मेयर ने अधिकारियों से मजदूरों को राशन उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। वहीं, डू समथिंग सोसाइटी के अध्यक्ष मयंक प्रकाश कोठारी बताया कि दो लाख 21 हजार का चेक एसडीएम को दिया गया है। संत निरंकारी मंडल की ओर से 110 परिवारों को राशन बांटा गया। पूर्वी झंडीचौड़ निवासी गृहणी हेमू पंवार ने मजदूरों को 50 हजार का राशन बांटा। यमकेश्वर की विधायक ऋतु खंडूड़ी और दुगड्डा चौकी प्रभारी उप निरीक्षक ओमप्रकाश ने गोदी छोटी गांव में छह-छह परिवारों को राशन दिया। वहीं, उपजिलाधिकारी योगेश मेहरा ने बताया कि आईटाई ट्रेडिंग जंक्शन प्राइवेट लिमिटेड के-प्राइड मॉल को व्हाट्स एप पर जरूरी सामान की सूची देकर घर पर सामान मंगा सकते हैं।
निशुल्क भंडारे होंगे बंद : धन सिंह
श्रीनगर/रुद्रप्रयाग/पौड़ी। उच्च शिक्षा एवं राज्य मंत्री डा. धन सिंह रावत ने बताया कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए भंडारे बंद कर दिए जाएंगे। वहीं, श्रीकोट जागरूक मंच ने मजदूरों, राहगीरों और मरीजों के तीमारदारों के लिए प्रतिदिन लंगर का आयोजन किया गया है। उधर रुद्रप्रयाग में प्रशासन की ओर मजदूरों को इंदिरा अम्मा भोजनालय में निशुल्क भोजन कराया जा रहा है। जन सेवा केंद्र की ओर से जरूरतमंदों को निशुल्क भोजन कराया जा रहा है। उधर, पौड़ी के पोखरी गांव में गढ़वाल विवि के उन्नत भारत अभियान के तहत 25 परिवारों को खाद्य सामग्री वितरित की।
गंगोत्री समिति ने दिया एक लाख का चेक
उत्तरकाशी/नौगांव/बड़कोट/पुरोला/चिन्यालीसौड़। जिला मुख्यालय पर व्यापार मंडल के सहयोग से मजदूरों को प्रतिदिन भोजन कराया जा रहा है। वहीं, गंगोत्री मंदिर समिति के अध्यक्ष सुरेश सेमवाल, दीपक सेमवाल, राजेश सेमवाल ने समिति की ओर से डीएम को राहत कोष के लिए एक लाख का चेक दिया। चिन्यालीसौड़ में अभाविप ने पुलिस कर्मियों, पुरोला में पुलिस ने मजदूरों को, बड़कोट में जय हो ग्रुप ने मजदूरों को खाद्यान्न किट बांटी।
... और पढ़ें

ड्यूटी आवश्यक सेवा में, संक्रमण से बचाव के इंतजाम नहीं

आवश्यक सेवा में लगे पूर्ति विभाग के टिहरी, उत्तरकाशी और पौड़ी जिले के कर्मचारियों को कोरोन से बचने के लिए मास्क, ग्लब्स और सैनिटाइजर जैसी आवश्यक सामग्री के लिए भी जूझना पड़ रहा है। स्थिति यह है कि रसद लेकर गांवों में जाने वाले ट्रकों में तकनीकी खराबी आने पर मैकेनिक भी नहीं मिल पा रहे हैं। साथ ही राशन को अनलोड करने के लिए मजदूर नहीं मिलने से खासी दिक्कतें हो रही है।
नई टिहरी। कोरोना महामारी से निपटने के लिए जहां आवश्यक सेवा में लगे विभागों के अधिकारियों-कर्मचारियों को बीमा सहित कई सुविधाएं दी जा रही है, वहीं टिहरी में स्वास्थ्य विभाग की ओर से पूर्ति विभाग को महज 10 पीस सैनिटाइज, 50 ग्लब्स और 10 मास्क ही दिए गए, जबकि विभाग की ओर से 30 पीस सैनिटाइजर की डिमांड की गई थी। जिला पूर्ति अधिकारी मुकेश पाल का कहना है कि कर्मचारी स्वयं ही जरूरी सामान खरीद रहे हैं। जिले में 35 पूर्ति निरीक्षकों के सापेक्ष 26, 13 कनिष्ठ सहायकों के सापेक्ष 11 कर्मचारी कार्यरत हैं। 27 गोदामों में सिर्फ छह ही चौकीदार हैं। जिला पूर्ति निरीक्षक ने बताया कि जिले में 1058 सस्ते गल्ले की दुकानें हैं। सभी दुकानों में तीन माह का एडवांस राशन वितरण किया जा रहा है।
टिहरी जिले में 1014 मीट्रिक टन गेहूं और 1716 मीट्रिक टन चावल का स्टॉक उपलब्ध है, लेकिन लॉकडाउन के चलते जिला पूर्ति विभाग को संसाधनों की कमी से जूझना पड़ रहा है। रसद लेकर गांवों में जाने वाले ट्रकों में तकनीकी खराबी आने पर मैकेनिक उपलब्ध नहीं हो पा रहे हैं। गेहूं और चावल ढुलान के लिए मजदूर नहीं मिल पा रहे है।
कोटद्वार। खाद्य आपूर्ति विभाग की ओर से कोटद्वार और भाबर की 76 सरकारी सस्ता गल्ला दुकानों में लोगों के लिए राशन उपलब्ध करा दिया गया है। राशन डीलरों ने बताया कि सरकार ने उन्हें कोरोना के खतरे के बीच राशन बांटने की जिम्मेदारी तो दी है, लेकिन उन्हें न तो मास्क और न ही सैनिटाइजर ही उपलब्ध कराए गए हैं। कोटद्वार के पूर्ति निरीक्षक करन क्षेत्री का कहना है कि अप्रैल का राशन भेज दिया है। मई, जून का राशन एक साथ भेजा जाएगा।
चमोली में तैनात किए अतिरिक्त कर्मी
उत्तरकाशी/गोपेश्वर। जिला पूर्ति अधिकारी गोपाल सिंह मटूड़ा ने बताया कि जनपद में कुल 79 हजार राशन कार्ड धारक हैं, जिनमें कुल 3.20 लाख यूनिट हैं। ऋषिकेश और विकासनगर डिपो से अप्रैल का राशन जिले के सभी 16 गोदामों तक पहुंच चुका है। जल्द जून तक का राशन पहुंच चुका है। अभी सरकार द्वारा घोषित निशुल्क वितरित किए जाने वाला खाद्यान्न नहीं पहुंचा है। जनपद के लिए 24 हजार क्विंटल गेहूं, 42 हजार क्विंटल चावल, 16 हजार क्विंटल दाल, 5 हजार क्विंटल चीनी, 1600 क्विंटल मसाले और 1600 क्विंटल नमक की डिमांड भेजी गई है। उधर, चमोली जिले में काम की अधिकता को देखते हुए जिला प्रशासन ने अतिरिक्त कर्मचारियों की तैनाती की है। जिला पूर्ति अधिकारी केएल शाह ने बताया कि सभी सस्ते गल्ले की दुकानों में अप्रैल तक का खाद्यान्न उपलब्ध करा दिया गया है। जिला प्रशासन से खाद्यान्न गोदामों और कार्यालयों में सैनिटाइजर और मास्क उपलब्ध करवाए गए हैं।
... और पढ़ें

ुलिस के आश्वासन पर पलायन करने से थमे मजूदरों के पैर

नई टिहरी। पर्वतीय क्षेत्र के अलग-अलग हिस्सों से लॉकडाउन के दौरान उत्तर प्रदेश, बिहार और नेपाल के मजदूरों का पलायन रोकने के लिए पुलिस प्रशासन ने कमर कस ली है। पुलिस मजदूरों को उनके निवास स्थलों पर ही जरूरी संसाधन देने का भरोसा देकर गांव लौटने से रोक रही है।
मजदूरों का कहना है कि वह नई टिहरी-बौराड़ी में ठेकेदार बबलू के साथ काम करते हैं। वर्तमान में पिपली गांव में रहते हैं। हालांकि उनके पास अभी खाने-पीने का जरूरी सामान और एक-एक हजार कैश है, लेकिन वह घर जाना चाहते हैं। सलमान के दो छोटे-छोटे बच्चे गांव में है। परिवार के सदस्य उन्हें घर बुला रहे है। मजदूरों ने बताया कि पुलिस ने उनका मोबाइल नंबर नोट किया है। थाने का फोन नंबर भी उन्हें लिखकर दिया है। पुलिस ने आश्वासन दिया है कि यदि उन्हें आटा, चावल और अन्य किसी जरूरी सामान की आवश्यकता होगी फोन करना। पुलिस की ओर से मदद का भरोसा मिलने पर तीनों मजदूर पिपली गांव कमरे पर लौट गए हैं।
... और पढ़ें

स्कूल व्हाट्स एप से दे रहे छात्रों को होमवर्क

लॉकडाउन के दौरान आनलाइन एजुकेशन के जरिए विभिन्न स्कूल व्हाट्स एप से छात्र-छात्राओं को होम वर्क दे रहे हैं। ताकि घर पर ही रहकर वे लॉकडाउन का पालन करते हुए पढ़ाई भी कर सके। स्टेट होटल मैनेजमेंट संस्थान आनलाइन पढ़ाई करवा रहे हैं।
कोरोना वैश्विक महामारी के चलते 24 मार्च से संपूर्ण लॉकडाउन चल रहा है। मार्च में अधिकांश स्कूलों के होम एग्जाम पूरे हो चुके थे। नए शैक्षणिक सत्र शुरू होने से पूर्व ही लॉकडाउन हो गया, जिसके चलते छात्र-छात्राएं भी घर में रहने को मजबूर हैं। ऐसे में स्कूलों ने छात्र-छात्राओं को घर पर रहकर ही पाठ्यक्रम के अनुसार होम वर्क देने की प्रक्रिया शुरू की है। इससे एक ओर जहां उनका समय भी व्यतीत होगा, वहीं नए पाठ्यक्रम से भी रूबरू हो सकेंगे। सेंट एंथोनी पब्लिक स्कूल, डीकेजी, एनटीआईएस, बीवीएस आदि स्कूलों के शिक्षक-शिक्षिकाएं विभिन्न कक्षाओं के छात्र-छात्राओं को व्हाट्स एप से हिंदी, अंग्रेजी, जीके, हिस्ट्री आदि विषयों के नोट्स जारी कर उन्हें होम वर्क करवा रहे हैं।
सेंट एंथनी पब्लिक स्कूल के प्रधानाचार्य गौतम बिष्ट का कहना है कि अब तक नए शैक्षणिक सत्र का दो सप्ताह का समय निकल चुका है। ऐसे में पाठ्यक्रम को पूरा करने के लिए फिल वक्त आनलाइन तरीके से छात्र-छात्राओं को घर पर ही सोशल नेटवर्किंग साइट्स के जरिए होमवर्क दिया जा रहा है। स्टेट होटल मैनेजमेंट संस्थान के निदेशक डा. यशपाल नेगी ने बताया कि स्काइप के जरिए संस्थान के शिक्षक छात्रों को आनलाइन पढ़ाई करवा रहे हैं। नोट्स, लेक्चर, एसाइनमेंट आदि की जानकारी आनलाइन साझा की जा रही है। आनलाइन लाइब्रेरी से भी छात्रों को मदद मिल रही है।
... और पढ़ें

आग की भेंट चढ़ा बेटी की शादी का सामान

थौलधार विकास खंड के नगुन पट्टी के गैर लोल्दी गांव में भादी देवी पत्नी स्व. मोहन सिंह के घर में अचानक आग लगने से घर के अंदर रखा लाखों का सामान जल गया। आग लगने से बेटी की शादी के लिए रखी खाद्य सामग्री और कपड़े भी जलकर राख हो गए। आग लगने के कारणों का स्पष्ट पता नहीं चल पाया है।
घटना रविवार सुबह पांच बजे की है। भादी देवी सुबह जब चाय बनाने के लिए उठी, तो देखा कि घर के कोने में कुछ कपड़ों में आग लगी हुई थी। आग लगने से घर में रखा सारा सामान और बेटी की शादी के लिए रखे कपड़े भी जलकर राख हो गए। भादी देवी की बेटी की शादी 16-17 अप्रैल को होनी थी। 2009 में पति की मौत के बाद भादी देवी किसी तरह तीन बेटियों और एक बेटा का पालन पोषण कर रही थी। उन्होंने बमुश्किल बेटी की शादी के लिए जरूरी सामान जुटाया था, लेकिन आग में जलकर सब खत्म हो गया। चंदन सिंह, महिपाल पडियार और राय सिंह पडियार ने शासन-प्रशासन से प्रभावित परिवार को शीघ्र आर्थिक सहायता देने की मांग की है। राजस्व उपनिरीक्षक बयाड़गांव रविंद्र ने बताया कि घटनास्थल का निरीक्षण कर डीएम को आग से हुए नुकसान की रिपोर्ट भेजी जाएगी।
... और पढ़ें

वन विभाग ने शुरू किया कंट्रोल बर्निंग का काम

वन विभाग ने गर्मी का सीजन शुरू होते हुए जंगलों को आग से बचाने की मुहिम शुरू कर दी है। विभाग ने इसकी शुरूआत टिहरी रेंज से कर दी है। फायर वॉचर सड़कों के किनारे और जंगलों के बीच पड़े कूड़ा करकट एकत्रित कर जला रहे हैं।
कोरोन संक्रमण के कारण हुए लॉकडाउन के बीच वन विभाग ने सोशल डिस्टेंस का पालन कर टिहरी रेंज के कमांद, मैंडखाल, सुरसिंगधार, जाखणीधार, टिपरी, अंजनीसैंण आदि स्थानों पर कंट्रोल बर्निंग शुरू कर दिया है। करीब 40 फायर वॉचर इन स्थानों पर 10-10 मीटर की दूरी बनाकर सड़कों के किनारे और जंगलों के बीच पड़े प्लास्टिक, खाली बोतलें, पिरुल समेत अन्य ज्वलंत शील वस्तुओं को एकत्रित कर उसे जला रहे हैं। इस मौके पर डिप्टी रेंज अधिकारी शशि भूषण उनियाल, लक्ष्मण सजवाण, पीएल डोभाल, रमेश थपलियाल, विनोद सिंह, हरिराम डबराल आदि मौजूद थे।
... और पढ़ें

इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक से भी हो रहे भुगतान

कोरोना संक्रमण को देखते हुए केंद्र सरकार के निर्देश पर इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक के माध्यम से प्रधानमंत्री जनधन योजना के महिला खाताधारकों, पीएम किसान सम्मान लाभार्थियों और सामाजिक सुरक्षा पेंशन धारकों को नकद भुगतान किया जा रहा है।
इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक के वरिष्ठ शाखा प्रबंधक राहुल गोयल ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान भी केंद्र सरकार की विभिन्न लाथार्थियों को इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक के माध्यम से तीन अप्रैल से सुबह आठ से एक बजे अपराह्न तक भुगतान किया जा रहा है। अभी तक करीब 40 लोगों को प्रधानमंत्री जनधन, पीएम किसान सम्मान, सामाजिक सुरक्षा आदि के भुगतान किए जा चुके हैं।
... और पढ़ें

पालिकाध्यक्ष और अन्य संगठनों ने भी बांटी सामग्री

लॉकडाउन के दौरान निराश्रित और बुजुर्ग लोगों का चूल्हा जलाने में घनसाली पुलिस मददगार बनी है। पुलिस के जवान गांव-गांव में बुजुर्ग लोगों के बीच जाकर जरूरतमंदों को निशुल्क राशन वितरित कर रहे हैं।
थानाध्यक्ष प्रदीप रावत ने बताया कि भिलंगना ब्लाक के थार्ती, भटवाड़ा, ठेला, अखोड़ी, मुंडेती, बजियालगांव, पंगरियाणा और मंडेती गांव में जरूरतमंद लोगों को करीब 50 पैकेट राशन के वितरित किए गए हैं। टीम में एसआई राकेेश चौधरी, कांस्टेबल अमित, महेश और उपेंद्र भंडारी आदि शामिल थे।
नई टिहरी में तरंगिनि टीएचडीसी ऑफिसर्स लेडीज क्लब की अध्यक्ष अनुराधा बडोनी, उपाध्यक्ष ऊषा श्रीनिवास, कोषाध्यक्ष निशी सिंघल ने भागीरथीपुरम, खांडखाला, कुट्ठा गांव में घर-घर जाकर 50 परिवारों को आटा, चावल, दाल, तेल, साबुन आदि सामग्री वितरित की। इस मौके पर टीएचडीसी के अपर महाप्रबंधक अभिषेक गौड़, सेवा-टीएचडीसी के वरिष्ठ प्रबंधक अरविंद वर्मा, उप प्रबंधक शक्ति चमोली, वरिष्ठ अभियंता शशि रंजन, सीता राम आदि मौजूद थे। वहीं नगर पालिकाध्यक्ष सीमा कृषाली के नेतृत्व में पालिका ने टीनशेड, निर्बल वर्ग आदि कालोनियों में करीब 200 परिवारों को राशन दिया। इस मौके पर सभासद अनीता थपलियाल, मीना भट्ट, साजिदा, उर्मिला राणा, सतीश चमोली, प्रदीप रावत आदि मौजूद थे। एकता मंच के संयोजक आकाश कृषाली के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने भी 50 लोगों को खाद्य सामग्री वितरित की। शिक्षक संगठन ने सुशील तिवारी, भगवान चंद रमोला, मनोज असवाल आदि ने पांगरखाल, बालमा गांव में 40 परिवारों को राशन किट दिए।
... और पढ़ें

गीत के जरिए कर रहे जागरूक

तेंदुए का शव बरामद

मेडिकल स्टोर और किराना की दुकानों का किया निरीक्षण

खाद्य सुरक्षा और ड्रग कंट्रोलर विभाग के अधिकारियों ने मेडिकल स्टोर, किराना और सब्जी की दुकानों का निरीक्षण किया। इस दौरान अधिकांश दुकानों पर रेट लिस्ट चस्पा मिली। उन्होंने मेडिकल स्टोरों पर भी जीवन रक्षक दवाइयां, शुगर, बीपी की दवाइयां भी स्टॉक के अनुसार उपलब्ध मिलीं।
खाद्य सुरक्षा विभाग के जिला अभिहित अधिकारी एमएन जोशी, ड्रग इंस्पेक्टर चंद्रप्रकाश नेगी ने चंबा स्थित मेडिकल स्टोर का निरीक्षण किया। उन्होंने संचालकों को दुकानों पर सामाजिक दूरी बनाने और इसके लिए बनाए गए सफेद गोलों में खड़ा रहकर सामान लेने की अपील की। उन्होंने कहा कि प्रत्येक दिन का स्टॉक रजिस्टर मेंटेन किया जाए, ताकि आवश्यकता पड़ने पर ट्रांसपोर्टरों से दवाइयां मंगाई जा सकें। उन्होंने सब्जी की दुकानों का भी निरीक्षण किया। बताया कि किराना के दुकानों पर दाल, आटा, चावल, तेल, मसाले पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हैं। किसी भी दुकान संचालक को यदि समस्या है तो वह कंट्रोल रूम में सूचना दे सकता है। संवाद
... और पढ़ें

लॉकडाउन के दौरान दोपहर एक बजे तक खुले रहेंगे बैंक

लॉकडाउन के दौरान अब सब्जी, दूध और किराना की दुकान की भांति समस्त बैंक, एटीएम और पोस्टल बैंक भी दोपहर एक बजे तक खुले रहेंगे। इससे लोगों को सुविधा मिलेगी।
लॉकडाउन के चलते प्रशासन ने बैंकों, एटीएम, भारतीय डाक भुगतान बैंक और बिजनेस कॉरेसपोंडेंस आदि को केवल सुबह सात से 10 बजे तक ही खुले रहने की छूट दी थी, लेकिन अब जिलाधिकारी डा. वी षणमुगम ने आदेश जारी करते हुए बताया कि समस्त बैंक, एटीएम और पोस्टल बैंक आदि सुबह आठ से दोपहर एक बजे तक खुले रहेंगे। इसके बाद तीन बजे तक कर्मी अपना विभागीय काम निपटाएंगे।
लॉकडाउन में फंसे लोगों की हो घर वापसी
उत्तराखंड कामगार कल्याण समिति ने पीएम को भेजा ज्ञापन
नई टिहरी। उत्तराखंड कामगार कल्याण समिति के संयोजक राजेश्वर प्रसाद पैन्यूली ने प्रधानमंत्री को ज्ञापन भेजकर कहा कि लॉकडाउन के कारण उत्तराखंड के प्रवासी और कामगार से लेकर छात्र-छात्राएं हजारों की संख्या में देश के विभिन्न हिस्सों में फंसे हैं। होटलों, रेस्टोरेंट, कॉल सेंटर, कंपनियां के बंद होने से उनके सामने रोजी रोटी का संकट खड़ा हो गया है। उन्होंने कहा कि वे लगातार घर वापसी की गुहार लगा रहे हैं, लेकिन अभी तक इस दिशा में कोई भी कदम नहीं उठाए गए हैं। उन्होंने पीएम से गुहार लगाई कि राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन कानून के तहत केंद्र सरकार को ही इस संदर्भ में दिशा-निर्देश का अधिकार है। ऐसे में पीएमओ को तत्काल फंसे लोगों की घर वापसी की व्यवस्था सुनिश्चित करनी चाहिए। संवाद।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us