किसानों ने कड़ाके की ठंड में एनएच-87 किनारे काटी रात

Haldwani Bureauहल्द्वानी ब्यूरो Updated Sat, 28 Nov 2020 12:51 AM IST
विज्ञापन
बिलासपुर में हाइवे किनारे सोए किसान।
बिलासपुर में हाइवे किनारे सोए किसान। - फोटो : RUDRAPUR

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
ऊधमसिंह नगर से दिल्ली कूच कर रहे किसानों को शुक्रवार को भी प्रशासन और पुलिस ने बिलासपुर में रोके रखा। किसानों ने कड़ाके की ठंड में हाईवे किनारे रात काटी। दोपहर के समय हाईवे किनारे किसानों के लिए लंगर लगाया गया। किसान आंदोलन को समर्थन देने के लिए रुद्रपुर से पूर्व कैबिनेट मंत्री तिलकराज बेहड़ भी कार्यकर्ताओं के साथ बिलासपुर पहुंचे।
विज्ञापन

तीन कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली में आहूत देशव्यापी किसान आंदोलन में शामिल होने जा रहे रुद्रपुर, काशीपुर, नानकमत्ता, सितारगंज, किच्छा, गदरपुर और दिनेशपुर के हजारों किसानों को दूसरे दिन भी अनुमति नहीं मिली लेकिन अपनी मांग पर अड़े किसान हाईवे पर ही डटे रहे। कड़ाके की ठंड के बावजूद बृहस्पतिवार रातभर किसान हाईवे किनारे सोए। शुक्रवार सुबह किसानों ने प्रशासन से दोबारा दिल्ली जाने की अनुमति मांगी लेकिन अनुमति नहीं ली। इसके किसानों ने हाईवे किनारे सभा कर सरकार पर उनके उत्पीड़न का आरोप लगाया।

रुद्रपुर से पूर्व कैबिनेट मंत्री बेहड़ समेत व कांग्रेस कार्यकर्ता किसानों को अपना समर्थन देने पहुंचे। लेकिन दूसरे दिन भी प्रशासन की तरफ दिल्ली जाने की अनुमति नहीं मिलने पर किसान शुक्रवार रात भी हाईवे किनारे सोए। तराई किसान संगठन के अध्यक्ष तजिंदर विर्क ने कहा कि कुछ राज्यों के किसान दिल्ली पहुंच चुके हैं लेकिन उत्तराखंड के किसानों को अभी भी दिल्ली जाने की अनुमति नहीं मिल रही है।
विर्क ने चेतावनी देते हुए कहा कि जब तक उनकी मांग नहीं मानी जाएगी धरना जारी रहेगा। वहां पर सलविंदर सिंह, बलजीत सिंह, विक्रमजीत सिंह, सीपी शर्मा, जगरूप सिंह गिल, गुरजीत सिंह, हरपाल सिंह, कुंवरपाल सिंह दहिया, विजय मौर्या, रामप्रकाश, मोमिन खान, संजय चौधरी, जसबीर सिंह, संतोख सिंह, जितेंद्र संधू, अमनदीप सिंह, कांग्रेस प्रदेश सचिव नंदलाल, सुभाष बेहड़, प्रीत ग्रोवर, मोहन खेड़ा आदि थे।
रविवार को दिल्ली कूच करेंगे बाजपुर के किसान
बाजपुर। किसानों की बैठक में कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे आंदोलन को समर्थन देने के लिए रविवार को करीब 20-25 ट्रैक्टर-ट्रॉलियों से दिल्ली जाने का निर्णय लिया गया। शनिवार को बैठक में दिल्ली जाने की रणनीति बनाई जाएगी। शुक्रवार को श्री गुरुद्वारा साहिब में आयोजित बैठक में किसानों ने कहा कि दिल्ली आंदोलन में शामिल होने जा रहे किसानों को रोकना और बल प्रयोग करना न्यायोचित नहीं है।
दिल्ली आंदोलन को समर्थन देने के लिए बाजपुर क्षेत्र से भी किसान अपनी सहभागिता करेंगे। शनिवार को श्री गुरुद्वारा साहिब में फिर बैठक का आयोजन किया जाएगा। इसमें दिल्ली जाने के मार्ग सहित अन्य बिंदुओं की रणनीति बनाई जाएगी। किसानों ने कहा कि कृषि कानूनों को लेकर अब किसान चुप नहीं बैठेगा। वहां पर दलजीत सिंह रंधावा, जगतार सिंह बाजवा, अजीम प्रताप सिंह रंधावा, सतवंत सिंह, विक्रमजीत सिंह गिल, मंदीप सिंह नरवाल, सुखदेव सिंह, प्रताप सिंह संधू, शरणदीप सिंह, उपकार सिंह, विजेंद्र सिंह डोगरा, अमर सिंह संधू आदि थे। इधर, राष्ट्रीय सीमांत किसान यूनियन के अध्यक्ष केके शर्मा ने कहा कि कृषि कानून किसानों को गुलाम बनाने के लिए बनाया गया है। अन्नदाता की आवाज को दबाना सरासर गलत है। संवाद
युवक कांग्रेसियों ने फूंका केंद्र सरकार का पुतला
गदरपुर/बाजपुर। युवक कांग्रेसियों ने जन आक्रोश रैली निकालकर केंद्र सरकार का पुतला फूंका। उन्होंने मोदी सरकार को किसान विरोधी करार देते हुए जोरदार नारेबाजी की। शुक्रवार को युकां के प्रदेश प्रवक्ता वरुण कपूर के नेतृत्व में कार्यकर्ता मुख्य बाजार में एकत्र हुए। वहां पर कांग्रेस नगर अध्यक्ष सिद्धार्थ अरोरा, क्षेत्र पंचायत सदस्य पारस गुंबर, नितिन छाबड़ा, कन्हैया सिंह, कपिल कामरा, सुनबर अली सलमानी, इंद्र प्रीत सिंह, अभिमन्यु बाजपेई, साहिल गुंबर, पारस धवन,गुरबाज सिंह विर्क, वसीम अहमद आदि थे।
वहीं, बाजपुर में शुक्रवार शाम छह बजे बाजपुर बचाओ मुहिम के संयोजक जगतार सिंह बाजवा के नेतृत्व में युवा कांग्रेस कार्यकर्ता श्री गुरुद्वारा साहिब के सामने एकत्र हुए। यहां से रामलीला मैदान तक मशाल जुलूस निकाला। कहा कि भाजपा सरकार किसानों की आवाज को दबाने की कोशिश कर रही है। वहां पर अरुण भारती, रवि बरुआ, सुनील पाठक, संदीप, करन, पूरन, राजकिशोर, जगदीश, प्रिंसदास आदि थे। संवाद
बिलासपुर में किसान आंदोलन में शामिल पूर्व कैबिनेट मंत्री तिलकराज बेहड़।
बिलासपुर में किसान आंदोलन में शामिल पूर्व कैबिनेट मंत्री तिलकराज बेहड़।- फोटो : RUDRAPUR

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X