विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
एक माह तक वृंदावन बिहारी जी मंदिर में कराएं चन्दन तुलसी इत्र सेवा , मिलेगा नौकरी व व्यापार से जुड़े समस्याओं का समाधान
Puja

एक माह तक वृंदावन बिहारी जी मंदिर में कराएं चन्दन तुलसी इत्र सेवा , मिलेगा नौकरी व व्यापार से जुड़े समस्याओं का समाधान

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

Lockdown 4.0 :  देहरादून की गलियों और संकरे रास्ते में सैनिटाइजेशन करेगा रोबोट सानी

सब कुछ ठीक रहा तो जल्द ही शहर की गलियों में रोबोट सैनिटाइजेशन करता नजर आएगा। यूनिवर्सिटी ऑफ पेट्रोलियम एंड एनर्जी स्टडीज (यूपीईएस) के स्कूल ऑफ कंप्यूटर साइंस के छात्र ऐसे ही एक रोबोट को विकसित करने में लगे हुए हैं। यह छोटी गलियों और संकरे रास्तों में आसानी से सैनिटाइजेशन कर सकेगा।

Coronavirus In Uttarakhand: प्रदेश में 17 हुई कंटेनमेंट जोन की संख्या, सभी गतिविधियों पर पूर्ण प्रतिबंध 

विश्वविद्यालय के इन्फॉर्मेटिक्स डिपार्टमेंट में सहायक प्रोफेसर शुभी शर्मा इस काम में प्रमुख आविष्कारक की भूमिका निभा रही हैं। बीटेक अंतिम वर्ष के छात्र नीला आडवाणी सह आविष्कारक के रूप में उनका साथ दे रहे हैं। आविष्कारों ने इस रोबोट का नाम सानी रोबो रखा है। 
  ... और पढ़ें

Coronavirus in Uttarakhand : दस दिन पहले जांच को भेजे पांच सैंपल ‘गायब’

श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल से राजकीय दून मेडिकल कॉलेज भेजे गए पांच भर्ती मरीजों के सैंपल ‘गायब’ हो गए हैं। जबकि मरीज और उनके परिजन रिपोर्ट के इंतजार में परेशान हैं। विरोध जताने पर स्वास्थ्य महकमा हरकत में आया है। 16 मई को श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल से पांच मरीजों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे। जिनकी रिपोर्ट सोमवार तक भी नहीं आई है।

पांचों मरीज दस दिन से आइसोलेशन वार्ड में भर्ती हैं। इस अस्पताल में भर्ती रहे निरंजनपुर मंडी के आढ़ती के साथ उनके पिता की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आ चुकी है। उसके बाद से आइसोलेट दस मरीज सहमे हुए हैं। परिजनों ने जब इसे संबंध में अधिकारियों के सामने नाराजगी जताई तो स्वास्थ्य महकमा हरकत में आया।

दून मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. आशुतोष सयाना ने बताया कि इसके बारे में पता चला है कि सैंपल सही तरीके से नहीं लिए गए थे। जिसके कारण सैंपलों की जांच नहीं हो पाई है। अस्पताल प्रबंधन को इस संबंध में हमसे बात करनी चाहिए थी। उन्हें अब दोबारा सैंपल भेजने के लिए कहा है। 

श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल के वरिष्ठ जनसंपर्क अधिकारी भूपेंद्र रतूड़ी ने बताया कि अस्पताल से सैंपल 16 मई को भेजे गए थे। इसके बाद विभाग को पत्र भी भेजा गया था कि अभी तक रिपोर्ट नहीं आई है, लेकिन कोई जवाब नहीं मिला। अब दोबारा सैंपल कराए जा रहे हैं।
... और पढ़ें

Coronavirus in Uttarakhand :  बोर्डिंग स्कूल भी बनाए जा सकते हैं क्वारंटीन सेंटर

राजधानी दून के बोर्डिंग स्कूलों को भी क्वारंटीन सेंटर बनाया जा सकता है। इसके लिए सरकार बोर्डिंग स्कूलों का अधिग्रहण करने की तैयारी कर रही है। हालांकि, इनका इस्तेमाल तभी किया जाएगा, जब अन्य सभी क्वारंटीन सेंटर फुल हो जाएंगे।

राजधानी में बड़ी संख्या में बोर्डिंग स्कूल हैं। इनमें कई ऐसे भी हैं, जिनके पास कई सौ बच्चों के लिए हॉस्टल की सुविधा उपलब्ध है। इन हॉस्टल में टॉयलेट-बाथरूम अटैच रूम भी हैं। ऐसे में सरकार ने इन्हें भी अधिग्रहण की सूची में रखा है। अभी प्रशासन ने पर्याप्त मात्रा में हॉस्टल और होटल का अधिग्रहण किया हुआ है, लेकिन उसके बावजूद कोरोना संदिग्ध लोगों की संख्या  बढ़ने पर इनकी कमी पड़ सकती है।

ऐसे में इमरजेंसी के लिए प्रशासन ने पहले ही स्कूल संचालकों को सूचना दे दी है। मुख्य शिक्षा अधिकारी आशारानी पैन्यूली ने बताया कि आपदा में सभी लोग सहयोग दे रहे हैं। बोर्डिंग स्कूलों के हॉस्टल में बच्चे रहते हैं, जिनके लिए वहां अच्छी सुविधाएं होती हैं। जरूरत पड़ने पर इन हॉस्टल में भी प्रवासियों को ठहराया जा सकता है। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन के निर्देश पर सभी
चिह्नित स्कूल संचालकों को सूचित कर दिया गया है।
... और पढ़ें

Coronavirus in Utttarakhand : मंगलवार को प्रदेश में मिले कोरोना के 44 नए मामले, कुल संक्रमितों की संख्या हुई 401

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण का ग्राफ तेजी से आगे बढ़ रहा है। मंगलवार को 44 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। इन्हें मिला कर उत्तराखंड में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 401 पहुंच गया है। सैंपल जांच के आधार पर प्रदेश में संक्रमण की दर 2.14 प्रतिशत हो गई है।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार सोमवार को आई सैंपल रिपोर्ट में 729 निगेटिव मिले हैं। जबकि 44 कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। पिथौरागढ़ जिले में 14 संक्रमित मरीजों में छह दिल्ली, चार जालंधर, तीन चंडीगढ़ और एक मुंबई से आया है। नैनीताल जिले में दिल्ली से लौटे 10 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। हरिद्वार जिले में छह संक्रमित हैं। इसमें एक सरकारी अस्पताल की स्टाफ नर्स और चार स्थानीय मजदूर है। छठा संक्रमित 9 साल का बच्चा है, जो मुंबई से ट्रेन से आया था।

Coronavirus In Uttarakhand: प्रदेश में 17 हुई कंटेनमेंट जोन की संख्या, सभी गतिविधियों पर पूर्ण प्रतिबंध 

देहरादून में निजी पैथोलॉजी लैब से तीन सैंपलों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसमें एक मरीज मेरठ का है। जबकि एक मरीज निजी अस्पताल में भर्ती था। तीसरा मरीज संक्रमित के संपर्क में आया है। ऊधमसिंह नगर में दो संक्रमित मरीज मुंबई से आए थे। टिहरी जिले में छह नए संक्रमित मरीज मिले हैं। इन सभी की ट्रेवल हिस्ट्री मुंबई की है। वहीं, अल्मोड़ा में मुंबई से आए तीन मरीज संक्रमित मिले हैं।

अपर सचिव युगल किशोर पंत ने बताया कि 44 नए संक्रमित मरीज मिलने से प्रदेश में संक्रमित मामलों की संख्या 401 पहुंच गई है। वहीं, सोमवार को देहरादून से छह संक्रमित मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया है। इन्हें मिला कर अब तक 64 मरीज ठीक हो चुके हैं। प्रदेश के 13 जिलों में सक्रिय संक्रमित मरीजों की संख्या 329 हैं। जो इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती हैं।
... और पढ़ें
Coronaindia, Coronavirus Test Coronaindia, Coronavirus Test

चारधाम परियोजना: चंबा शहर के नीचे सुरंग बनकर तैयार, केंद्रीय मंत्री गडकरी ने किया ऑनलाइन निरीक्षण

बीआरओ(सीमा सड़क संगठन) ने प्रतिष्ठित चारधाम परियोजना(ऑलवेदर रोड) के तहत ऋषिकेश-धरासू हाईवे (एनएच-94) पर घनी आबादी वाले चंबा शहर के नीचे सुरंग निर्माण में सफलता हासिल कर ली है। केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने टनल के दोनों छोर आर-पार होने पर वीडियो कॉन्फेंसिंग के माध्यम से बीआरओ के अधिकारियों और कर्मचारियों को बधाई दी है।

उन्होंने कहा कि चारधाम परियोजना से उत्तराखंड में दुनिया भर के सैलानियों की सालभर चहलकदमी बनी रहेगी, जिससे राज्य वासियों के लिए रोजगार के नए द्वार खुलेंगे। नितिन गडकरी ने कहा कि ऑल वेदर रोड परियोजना का काम जल्द पूरा होने के बाद चारधाम यात्रा सुगम हो सकेगी। केंद्रीय मंत्री ने बीआरओ को निर्माण कार्य तय तिथि तक पूरा करने के भी निर्देश दिए।
... और पढ़ें

उत्तराखंड: सीएम त्रिवेंद्र की घोषणा, कोरोना से बचे रहे डॉक्टर-स्टाफ तो अस्पताल को मिलेंगे 50 लाख रुपये

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने घोषणा की है कि कोरोना पीड़ितों के इलाज में जुटे किसी अस्पताल में चिकित्सक, पैरामेडिकल सहित अन्य स्टाफ कोरोना संक्रमण की चपेट में नहीं आता है तो सरकार उस संस्थान को 50 लाख रुपये प्रोत्साहन राशि देगी। उन्होंने कहा कि इससे कोरोना के खिलाफ लड़ाई में अग्रिम पंक्ति में डटे हमारे चिकित्सकों और स्वास्थ्य कर्मियों का मनोबल बढ़ेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वैसे तो सभी अस्पतालों में कोरोना वॉरियर्स को मानकों के अनुरूप संक्रमण से बचने के लिए आवश्यक सुरक्षात्मक उपकरण उपलब्ध करवाए जा रहे हैं, फिर भी इस प्रोत्साहन राशि से अस्पताल अपने यहां कार्यरत चिकित्साकर्मियों और स्वास्थ्यकर्मियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए और प्रेरित होंगे। राज्य सरकार अपने हर कोरोना वॉरियर्स के साथ है।


यह भी पढ़ें: 
हाय रे सिस्टम: कोरोना रिपोर्ट के इंतजार में तीन दिन सड़ता रहा युवती का शव, उधार के पैसों से बदलीं बर्फ की सिल्लियां

उन्होंने कहा कि कोविड अस्पतालों में हर तरह की सावधानी रखी जाए। चिकित्सक व स्वास्थ्यकर्मी की सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता से लिया जाए। चिकित्सक और स्वास्थ्यकर्मी कोविड-19 से संक्रमित व्यक्तियों का इलाज तभी कर सकते हैं, जब वे स्वयं सुरक्षित रहें। कोरोना वॉरियर्स स्वयं के जीवन को खतरे में डालते हुए पूरी निष्ठा और तत्परता से अपने दायित्वों का निर्वहन कर रहे हैं। हमें अपने इन वारियर्स पर गर्व है हमारा भी दायित्व है कि ये स्वस्थ रहें और सुरक्षित रहें।
... और पढ़ें

उत्तराखंड: दिनभर भीषण गर्मी के बाद शाम को ठंडी हवाओं से मिली राहत, पहाड़ों में आंधी-तूफान के साथ बारिश

मंगलवार को राजधानी देहरादून समेत उत्तराखंडके कई इलाकों में दिन भर गर्मी और उमस से आफत के बाद शाम को ठंडी हवाओं से लोगों को राहत मिली। शाम को काफी देर तक ठंडी हवाएं चलती रहीं, जिससे गर्मी और उमस कुछ देर के लिए कम हो गए। वहीं, पहाड़ों में हल्की बारिश हुई। मौसम विभाग ने बुधवार को भी कुछ क्षेत्रों में हल्के बादल छाए रहने और बारिश की संभावना जताई है।

मंगलवार को सुबह से ही राजधानी दून और आसपास के इलाकों में जबरदस्त गर्मी होने लगी। दोपहर बाद गर्मी और उमस में इजाफा हुआ और अधिकतम तापमान 39.8 डिग्री तक पहुंच गया। इससे लोगों को खासी गर्मी और उमस झेलनी पड़ी। सूरज की तेज गर्मी पड़ने के कारण सड़कों पर भीड़ भाड़ काफी कम हो गई।

मौसम केंद्र निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि बुधवार को प्रदेश के कुछ इलाकों में हल्की बारिश हो सकती है। ज्यादातर क्षेत्रों में बादल छाए रह सकते हैं। विशेषकर उत्तरकाशी, चमोली, रुद्रप्रयाग, बागेश्वर और पिथौरागढ़ के कई हिस्सों में बारिश होने का अनुमान है। प्रदेश के अन्य क्षेत्रों में मौसम साफ रहने का अनुमान है।
... और पढ़ें

Lockdown 4.0: जून में जंगल सफारी के लिए खुल सकता है कॉर्बेट पार्क, प्रशासन की तैयारियां पूरी

कोरोना संक्रमण को देखते हुए कॉर्बेट पार्क को 18 मार्च को पूर्ण रूप से बंद कर दिया गया था। अब पार्क को खोलने की तैयारी चल रही है। शासन स्तर पर इसकी कवायद तेज हो गई है। उम्मीद है कि जून में कॉर्बेट पार्क जंगल सफारी के लिए खोल दिया जाएगा।

कोरोना संक्रमण के चलते इस साल पर्यटन सीजन लगभग चौपट गया है। कॉर्बेट पार्क बंद होने से जिप्सी और होटल व्यवसाय को भी भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है। लॉकडाउन-4 में रियायतें बढ़ने के साथ सरकार पर्यटन कारोबार को फिर से पटरी पर लाने की कवायद कर रही है।


कॉर्बेट टाइगर रिजर्व निदेशक राहुल ने बताया कि कॉर्बेट पार्क को खोलने का फैसला शासन स्तर पर होना है। उम्मीद है कि जून में पार्क पर्यटकों के लिए खुल जाए। कॉर्बेट पार्क ने तैयारियां कर ली हैं। आदेश आते ही पर्यटक दोबारा पार्क की सैर कर सकेंगे।
... और पढ़ें

हरिद्वार: लिव इन में रह रही युवती की हत्या के मामले में फरार सहेली और प्रेमी के खिलाफ मुकदमा दर्ज

हरिद्वार के सिडकुल में मध्यप्रदेश की युवती की गला दबाकर हुई हत्या के मामले में भवन स्वामी की तरफ से सिडकुल पुलिस ने मृतका के प्रेमी व उसकी सहेली के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस की प्रारंभिक पड़ताल में युवक की लोकेशन दिल्ली के आसपास आई है। तीन पुलिस टीमें आरोपियों की धरपकड़ के लिए रवाना हो गई है। इधर, सिडकुल पुलिस को पोस्टमार्टम रिपोर्ट का भी इंतजार है।

रविवार की देर रात सिडकुल की महादेवपुरम कालोनी में एक चार मंजिला भवन में ग्वालियर, मध्यप्रदेश निवासी युवती का शव बरामद हुआ था। सामने आया था कि वह अपने प्रेमी के साथ लिव इन रिलेशनशिप में रह रही थी। रविवार की देर रात जब किराना कारोबारी अपनी बकाया रकम लेने पहुंचा था तब युवती के प्रेमी से उसकी मुलाकात भवन कैंपस में ही हुई थी।


युवक ने बकाया देने में टाल मटोल की थी तो किराना कारोबारी सीधे कमरे में जा पहुंचा था। कमरे पर लगा तोड़कर किराना कारोबारी ने अंदर प्रवेश किया था तो अंदर बाथरूम में युवती का शव बरामद हुआ था। युवती के हाथ पैर बांधे हुए थे और उसके शव केा प्लास्टिक के बोरे एवं गर्म कपड़े में बांधकर अटैची में डाला हुआ था।
... और पढ़ें

Lockdown 4.0: ट्रेन रिजर्वेशन कराने के साथ ही टिकट रिफंड की सुविधा शुरू, इस समय तक पैसा ले सकेंगे वापस

लॉकडाउन में ढील और ट्रेनों का संचालन शुरू करने के साथ ही अब आरक्षण काउंटरों पर टिकट रिफंड की सुविधा भी शुरू कर दी गई है। सुबह 10 से शाम छह बजे तक यात्री टिकट निरस्त करा सकेंगे।

दून रेलवे स्टेशन के वरिष्ठ वाणिज्य निरीक्षक एसके अग्रवाल ने बताया कि दो माह बाद मुख्यालय के निर्देश पर टिकट वापसी की सुविधा शुरू कर दी गई है। जिन यात्रियों ने पहले आरक्षण कराया है और अब वह टिकट निरस्त करना चाहते हैं तो वह सुबह 10 से शाम छह बजे तक आरक्षण निरस्त कराने के साथ ही टिकट रिफंड वापस ले सकते हैं।


बता दें, पिछले दिनों रेल मंत्रालय ने देश में 200 ट्रेनों के संचालन करने के साथ ही बड़े स्टेशनों पर आरक्षण केंद्रों को खोलने के आदेश जारी किए गए थे। रेल मंत्रालय के निर्देश पर दून रेलवे स्टेशन पर भी आरक्षण केंद्र खोल गया है। अभी तक यहां सिर्फ आरक्षण की सुविधा थी, लेकिन अब आरक्षण के साथ टिकट रिफंड भी कराए जा सकेंगे।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन