विज्ञापन
विज्ञापन
आज ही बनवाएं फ्री जन्मकुंडली, जानें कैसा है आपका भविष्य !
JANAM KUNDALI

आज ही बनवाएं फ्री जन्मकुंडली, जानें कैसा है आपका भविष्य !

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

एकता की शपथ दिलाई

31 अक्टूबर 2020

Digital Edition

उत्तराखंड में भी शुरू होंगी सी-प्लेन सेवाएं, पहले फेज में टिहरी को किया चिह्नित

गुजरात में साबरमती से केवड़िया के बीच शुरू हुई सी-प्लेन जैसी सेवा जल्द ही उत्तराखंड में भी मिल सकती है। पंतनगर एयरपोर्ट के डायरेक्टर एसके सिंह ने बताया कि सी-प्लेन सेवा के लिए टिहरी को भी चिह्नित किया गया है। वहां से अन्य स्थानों के बीच सी-प्लेन का संचालन किया जाना है।

एसके सिंह ने कहा कि इन प्लेनों के संचालन में रन-वे आदि के निर्माण में आने वाले भारी भरकम खर्च से बचा जा सकता है। इस लिहाज से देखा जाए तो गूलरभोज डैम और नैनी झील भी इसके लिए उपयुक्त है। इनका प्रस्ताव भी दूसरे फेज के लिए भेजा जाएगा। 

इससे पूर्व एएआई में 31 अक्तूबर राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनाया गया। इसके तहत एएआई चेयरमैन ने पंतनगर एयरपोर्ट डायरेक्टर एसके सिंह को एकता की प्रतिज्ञा दिलाई। बाद में पंतनगर एयरपोर्ट में आयोजित प्रतिज्ञा समारोह में डायरेक्टर एसके सिंह ने एयरपोर्ट, स्टेक होल्डर्स, सुरक्षा व एविएशन कर्मियों को एकता की प्रतिज्ञा दिलाई।

इधर उत्तराखंड बीज एवं तराई विकास निगम के हल्दी मुख्यालय पर महाप्रबंधक/ मुख्य कषि अधिकारी डॉ. अभय सशसेना ने टीडीसी कर्मियों को देश में अखंडता, संप्रभुता, व सौहार्द्रपूर्ण वातावरण कायम रखने की शपथ दिलाई। यहां डॉ. दीपक पांडे, सीके सिंह, डॉ. रजनीश कुमार सिंह, कमल श्रीवास्तव, सुनील श्रीवास्तव, योगेश पांडे, मुन्नी देवी, इंद्रावती, विजय शर्मा, महेश श्रीवास्तव सहित अनेक मौजूद रहे।
 
... और पढ़ें
प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

Coronavirus in Uttarakhand : बीते 24 घंटे में 12 कोरोना मरीजों की मौत, 413 नए संक्रमित मिले

प्रदेश में एक सप्ताह के बाद कोरोना से एक दिन में 10 से ज्यादा मरीजों की मौत हुई है। बीते 24 घंटे के भीतर 12 मरीजों की मौत हुई और 413 संक्रमित मामले सामने आए हैं। कुल संक्रमितों की संख्या 62 हजार के पार हो गई है।

यह भी पढ़ें: 
Unlock-5.0: उत्तराखंड के सरकारी मेडिकल कॉलेजों और अस्पतालों में एक नवंबर से शुरू होगी ओपीडी

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार शनिवार को 11750 सैंपल निगेटिव पाए गए। जबकि 413 लोग कोरोना संक्रमण की चपेट में आए हैं। देहरादून जिले में सबसे अधिक 96 कोरोना मरीज मिले हैं। रुद्रप्रयाग में 65, पौड़ी में 52, टिहरी में 45, हरिद्वार में 33, नैनीताल में 32, चमोली में 29, उत्तरकाशी में 20, ऊधमसिंह नगर में 17, बागेश्वर में 11, अल्मोड़ा में नौ, पिथौरागढ़ में तीन, चंपावत में एक कोरोना संक्रमित मामला मिला है। 

प्रदेश में 12 मरीजों की मौत हुई है। इसमें एम्स ऋषिकेश में पांच, दून मेडिकल कालेज में तीन, महंत इंद्रेश हास्पिटल में एक, सेना अस्पताल में एक, सुशीला तिवारी मेडिकल कालेज हल्द्वानी में दो मरीजों ने इलाज के दौरान दमतोड़ा है। प्रदेश में मरने वालों की संख्या 1023 हो गई है। वहीं, 152 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया। इन्हें मिला कर 56923 मरीज ठीक हो चुके हैं। 

231 दिनों में 10 लाख सैंपलों की जांच

प्रदेश में कोरोना काल के 231 दिनों में 10 लाख से ज्यादा सैंपलों की जांच की गई है। प्रति लाख आबादी पर 8770 लोगों की जांच की जा रही है। नौ पर्वतीय जिलों में 45 प्रतिशत और चार मैदानी जिलों में 55 प्रतिशत सैंपलों की जांच हुई है। वर्तमान में जांच के लिए भेजे गए 14 हजार से अधिक सैंपल लंबित हैं।
... और पढ़ें

National Unity Day: राष्ट्रीय एकता दिवस पर परेड का आयोजन, मुख्यमंत्री ने कहा - माफिया तंत्र से लड़ने को एक होना होगा

राष्ट्रीय एकता दिवस पर मुख्यमंत्री ने प्रदेश से हर तरह के माफिया तंत्र को उखाड़ फेंकने का संकल्प लिया। उन्होंने कहा कि देश के पहले गृहमंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल ने देश को अखंड बनाने के लिए जैसे प्रयास किए थे वैसे ही हम प्रदेश को भ्रष्टाचार मुक्त करने और माफिया तंत्र खत्म करेंगे। मुख्यमंत्री पुलिस लाइन में आयोजित रैतिक परेड की सलामी लेने के बाद बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे। 

पुलिस लाइन में पहले मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने रैतिक परेड का निरीक्षण किया और इसके बाद सलामी ली। परेड की अगुवाई परेड कमांडर के रूप में एसपी रेलवे टीसी मंजूनाथ कर रहे थे। कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने पदक विजेताओं को पदक भी प्रदान किए।

इसके बाद उन्होंने कहा कि सरदार वल्लभ भाई पटेल के विचारों को तभी आत्मसात किया जा सकता जब हम एक रहें। बीते दिनों कोविड के दौरान लगे लॉकडाउन में जनता ने जिस तरह एकता का उदाहरण दिया, उससे लगा कि हमारा देश किसी भी बड़ी चुनौती के लिए एकसाथ खड़ा है। इसके लिए उन्होंने पुलिस व्यवस्थाओं की भी प्रशंसा की। 

पुलिस महानिदेशक अनिल रतूड़ी ने कहा कि सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती पर हर साल राष्ट्रीय एकता दिवस मनाया जाता है। एकता शब्द की असली परिभाषा को सरदार पटेल ने आजादी के बाद गढ़ा था। देश में 500 से ज्यादा रियासतों को मिलाकर अखंड भारत की नींव के रूप में उन्होंने इस परिभाषा को कहा। सरदार पटेल के प्रयासों से ही आधुनिक भारत की पुलिस व्यवस्था इतनी सुदृढ़ हो सकी है।

इन्हें मिला पदक 

उत्कृष्ट विवेचना- साइबर थाना प्रभारी भारत सिंह (वर्ष 2017 में एक बड़े फ्रॉड में उनकी विवेचना के बाद एक नाइजीरियन नागरिक को पकड़ा गया था। उत्कृष्ट विवेचना के परिणाम से ही उस फ्रॉड को दो साल से अधिक की सजा हाल ही में न्यायालय ने सुनाई है।)

उत्कृष्ट अनावरण (घटना का खुलासा)- एसआई आशीष रावत, दिलबर सिंह नेगी, धर्मेंद्र रौतेला (पटेलनगर थाना क्षेत्र में हुई सराफ से लूट के आरोपियों को दिल्ली और बुलंदशहर से गिरफ्तार किया। करीब 10 दिन घटना के खुलासे में लगे थे। )

सत्य और असत्य की लड़ाई है चलती रहेगी 

मुख्यमंत्री ने कहा कि सत्य और असत्य की लड़ाई सदियों से चली आ रही है। यह आगे भी जारी रहेगी। इसमें जीत हमेशा से सत्य की होती है और आने वाले समय में भी सत्य ही जीतेगा। यह सब बातें उन्होंने पत्रकारों के सवालों पर कही। हालांकि, इस दौरान उन्होंने सारी बातों को अप्रत्यक्ष रूप से बिना किसी का नाम और घटना का जिक्र करते हुए किया।

... और पढ़ें

वन्यजीवों को बीमारियों से बचाने की कवायद तेज, खोले जाएंगे वाइल्डलाइफ रिहैबिलिटेशन एंड डिजीज सर्विस सेंटर

देश के सभी टाइगर रिजर्व व वन्यजीव अभयारण्यों में शेर, बाघ, हाथी, तेंदुआ, सांभर हिरण समेत तमाम प्रजातियों के वन्यजीवों को जानलेवा बीमारियों से बचाया जा सके।

इसके लिए केंद्रीय वन, पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय की ओर से तैयार किए गए नेशनल वाइल्डलाइफ एक्शन प्लान के तहत सभी टाइगर रिजर्व में इलाज की उच्च सुविधाओं से युक्त वाइल्डलाइफ रिहैबिलिटेशन एंड डिजीज सर्विलेंस सेंटर खोलने की तैयारी है। इन सेंटरों को खोलने के साथ ही यहां पर प्रशिक्षित पशु चिकित्सा अधिकारियों को भी तैनात किया जाना है।

मंत्रालय की ओर से तैयार किए गए प्लान के तहत सभी टाइगर रिजर्व में वाइल्डलाइफ रिहैबिलिटेशन एंड डिजीज सर्विलेंस सेंटर को साल 2023 तक खोला जाना है। मंत्रालय के निर्देश पर जिम कार्बेट और राजाजी टाइगर रिजर्व समेत देश के कई टाइगर रिजर्व में इस पर काफी काम भी कर लिया गया है। वाइल्डलाइफ रिहैबिलिटेशन कम डिजिटल सेंटर खोलने के साथ ही वहां डॉक्टरों की भी तैनाती कर दी गई है। 

बीमारियों का जीआईएस आधारित डाटाबेस तैयार होगा 

नेशनल वाइल्डलाइफ एक्शन प्लान में वन्यजीवों को बीमारियों से बचाने के लिए जो योजना बनाई गई है, उसके तहत वन्यजीवों में होने वाली बीमारियों का जीआईएस आधारित नेशनल डाटाबेस तैयार किया जाना है। योजना को धरातल पर उतारने के लिए मंत्रालय के अलावा भारतीय वन्यजीव संस्थान देहरादून और इंडियन वेटिनरी रिसर्च इंस्टीट्यूट समेत देश के कई अन्य संस्थानों के वैज्ञानिकों की मदद ली जाएगी। 
... और पढ़ें

रुद्रपुर : सियासी रंजिश में हुई पार्षद धामी की हत्या, चार लाख की दी थी सुपारी, एक शूटर गिरफ्तार

एक्सक्लूसिव :  होम आइसोलेशन के मॉडल ने सुधारी सेहत, 91.2 प्रतिशत कोरोना संक्रमित हुए स्वस्थ

दिल्ली की तर्ज पर हरिद्वार में भी कोरोना के संक्रमण पर लगाम लगाने के मकसद से शुरू हुआ होम आइसोलेशन मॉडल बेहद सफल साबित हुआ है। संक्रमित लोगों को होम आइसोलेशन की अनुमति मिलने के बाद संक्रमण का डबलिंग रेट बढ़कर 194 दिन तक पहुंच गया है। वहीं संक्रमितों का मौजूदा रिकवरी रेट 92.28 फीसदी है। वहीं होम आइसोलेट किए गए 91.2 प्रतिशत लोग स्वस्थ भी हो चुके हैं।

हरिद्वार में जुलाई के अंत तक कोरोना संक्रमण का डबलिंग रेट 20 दिन तक पहुंच गया था। वहीं मरीजों का रिकवरी रेट 33 फीसदी तक गिर गया था। ऐसे में अगस्त में जिलाधिकारी सी रविशंकर ने हरिद्वार में होम आइसोलेशन की व्यवस्था लागू करने का बड़ा निर्णय लिया।

मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. एसके झा और उनकी टीम ने होम आइसोलेशन का पूरा खाका तैयार किया। अब तक जिले में 10032 कोरोना संक्रमितों के मामले सामने आए। इनमें से 1738 संक्रमितों को होम आइसोलेट किया गया। इनमें से 1586 संक्रमित बिल्कुल स्वस्थ हो चुके हैं। केवल आठ लोगों को ही स्वास्थ्य बिगड़ने के बाद अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। जबकि अस्पतालों और कोविड सेंटर में भी अब 64 संक्रमित भर्ती हैं।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X