इमरान खान ने कहा- शब-ए-बरात पर अल्लाह से मांगें माफी, ट्रोल होने पर हटाया ट्वीट

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, इस्लामाबाद Updated Thu, 09 Apr 2020 02:59 PM IST
विज्ञापन
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (फाइल फोटो)
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (फाइल फोटो) - फोटो : Twitter
ख़बर सुनें
दुनियाभर में मौजूद मुस्लिम समुदाय के लोग आज शब-ए-बारात मना रहे हैं। इस मौके पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपने देशवासियों से दुआ करने के लिए कहा है। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा, 'मैं दुनियाभर के मुसलमानों से अनुरोध करता हूं कि वे आज रात शब-ए-बारात खासतौर पर नाफिल नमाज के मौके पर अल्लाह से दुआ करें और उनसे क्षमा और आशीर्वाद प्राप्त करें।' हालांकि ट्रोल होने के बाद घंटे भर के अंदर ही उन्होंने अपने इस ट्वीट को डिलीट कर दिया है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि उनकी सरकार भारत समेत अन्य देशों में कोरोना वायरस की स्थिति का आकलन कर रही थी। उन्होंने कहा ऐसा कोरोना के प्रसार की तुलना करने के लिए किया गया
विज्ञापन




पाकिस्तान में कोरोना संक्रमितों की संख्या हुई 4,489
पाकिस्तान में गुरुवार को कोरोना वायरस के संक्रमण के 383 नए मामले सामने आए हैं। जिसके साथ ही वहीं कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 4,489 हो गई है। दो हफ्ते के आंशिक बंद के बाद भी तेजी से फैल रहे वायरस को रोकने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा मंत्रालय के अनुसार इस संक्रमण से देश में अब तक 63 लोगों की मौत हो चुकी है जिनमें से पांच की मौत तो एक ही दिन में हुई। अब तक कुल 572 लोग इस वायरस के संक्रमण से मुक्त हुए हैं। वहीं 31 लोगों की हालत नाजुक है।

पर्याप्त अस्पताल नहीं
पंजाब में 2,171, सिंध में 1,036 और खैबर पख्तुनख्वा में 560, गिलगित बाल्टिस्तान में 213, बलूचिस्तान में 212, इस्लामाबाद में 102 और पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में 28 मामले सामने आए हैं। प्रधानमंत्री इमरान खान ने बुधवार को देश की स्थिति पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि आगे स्थिति और भी खराब हो सकती है और मरीजों की बढ़ती संख्या से निपटने में हमारे अस्पताल पर्याप्त नहीं होंगे। खान ने लोगों से सामाजिक दूरी बनाए रखने के आधिकारिक दिशा-निर्देश को मानने के लिए कहा है।

पाकिस्तान में नहीं है पूरा लॉकडाउन नहीं
हालांकि इमरान ने पूर्णतया बंद लागू नहीं करने के अपने फैसले का बचाव करते हुए कहा कि पांच करोड़ से ज्यादा लोग गरीबी रेखा के नीचे हैं और अगर इस तरह के कदम उठाए जाते हैं तो ये लोग भूख से मर जाएंगे। इसी बीच प्रधानमंत्री ने 'एहसास आपात नकद कार्यक्रम’ शुरू किया है जिसके अंतर्गत 14 करोड़ 40 लाख रूपये की राशि कोरोना वायरस संकट की वजह से प्रभावित 1.2 करोड़ परिवारों में वितरित की जाएगी। बायोमेट्रिक सत्यापन के बाद ढाई सप्ताह के दौरान इन गरीब परिवारों में यह राशि वितरित की जाएगी।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us