कश्मीर पर पाकिस्तान की एक और कूटनीतिक हार, कश्मीर के अंतरराष्ट्रीयकरण में हुआ फेल

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला Updated Sat, 08 Feb 2020 08:31 PM IST
विज्ञापन
सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
कश्मीर मुद्दे को लेकर पाकिस्तान वैश्विक मंच पर लगातार मुंह की खा रहा है। इस मुद्दे के अंतरराष्ट्रीयकरण की हर कोशिश में उसे कूटनीतिक हार का सामना करना पड़ा है। यह दावा यूरोपीय थिंक टैंक यूरोपियन फाउंडेशन फॉर साउथ एशियन स्टडीज (इफ्सास) ने किया है। थिंक टैंक ने सीआरएस रिपोर्ट में दावा किया है कि जम्मू-कश्मीर के लोगों को मुख्यधारा से जोड़ने के इरादे से अनुच्छेद 370 हटाने के बाद से पाकिस्तान बौखलाया है। 
विज्ञापन

उसने कश्मीर मुद्दे को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के मंच पर कई बार उठाने की कोशिश की लेकिन हर बार अकेला पड़ गया। इस कवायद में उसे तुर्की और चीन का साथ जरूर मिला लेकिन इसका खास फायदा नहीं हुआ। कई कोशिशों के बाद भी वैश्विक मंच पर विफल होने से पाकिस्तान की कश्मीर को लेकर हताशापूर्ण कूटनीति तेजी से बेनकाब हुई है।
इमरान ने भी माना वैश्विक मंच पर अकेले पड़े
रिपोर्ट में दावा किया कि पाकिस्तानी पीएम इमरान खान ने इस साल 16 जनवरी को जर्मनी के चैनल को दिए साक्षात्कार में माना था कि कश्मीर मुद्दे पर वह वैश्विक मंच पर अकेले पड़ गए। इमरान ने कश्मीर मुद्दे पर दखल न देने पर दुनिया को अंजाम भुगतने तक की धमकी दे डाली थी। उन्होंने कहा था कि दो एटमी शक्तियां टकराईं तो पूरी दुनिया खामियाजा भुगतेगी। हालांकि इसके बावजूद इमरान को सफलता नहीं मिली।

सीमा पर सेना लगाना एकमात्र पैंतरा
रिपोर्ट में कहा गया कि पाकिस्तान द्वारा सीमा पर सेना की तैनात करना भारत के खिलाफ उसका एक पैंतरा है। इसके अलावा उसके पास कोई विकल्प नहीं है। भारत ने 1972 में स्पष्ट कर दिया था कि कश्मीर उसका आंतरिक मामला है और इसमें बाहरी दखल बर्दाश्त नहीं होगा। तब से संयुक्त राष्ट्र, अमेरिका सहित सभी बड़े देश इस मामले में दखल से बचते हैं। वहीं, पाकिस्तान हमेशा इस मुद्दे को अंतरराष्ट्रीय मंच पर उठाने की कोशिश करता रहा है।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

खाड़ी देशों ने भी नहीं दिया पाक का साथ

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us